Connect with us

Breaking News:

बड़ी खबरः अयोध्या मामले में आया ‘सुप्रीम’ फैसला, जानिए क्या आदेश दिया सर्वोच्च न्यायालय ने…

Published

on

फ़ाइल फोटो

नई दिल्ली। देश के सबसे चर्चित अयोध्या भूमि विवाद पर आज सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया। सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि अयोध्या विवाद में मध्यस्थता होगी। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय पीठ ने कहा कि इस मामले का हल मध्यस्थता के जरिए हो। इसके लिए मध्यस्थता कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी की अध्यक्षता रिटायर्ड जस्टिस इब्राहिम खलीफुल्लाह करेंगे। इसके अलावा इस कमेटी में श्रीश्री रविशंकर और श्रीराम पंचू शामिल हैं। बता दें कि अयोध्या मामले में इससे पहले भी पहले भी चार बार मध्यस्थता के प्रयास किए गए लेकिन असफल रहे।

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने विवादास्पद 2.77 एकड़ भूमि तीन पक्षकारों- सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और रामलला के बीच बराबर-बराबर बांटने के इलाहाबाद हाई कोर्ट के 2010 के फैसले के खिलाफ दायर 14 अपीलों पर सुनवाई के दौरान मध्यस्थता के माध्यम से विवाद सुलझाने की संभावना तलाशने का सुझाव दिया था।

सुप्रीम कोर्ट के इस सुझाव के निर्मोही अखाड़ा और मुस्लिम पक्ष मामले की मध्यस्थता के समर्थन में हैं जबकि हिन्दू पक्ष मध्यस्थता से इनकार कर रहा है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के अलावा जस्टिस एसए बोबडे, डीवाई चंद्रचूड, अशोक भूषण और एस अब्दुल नजीर की पांच सदस्यीय बेंच इस मामले की सुनवाई कर रही है। इस 5 सदस्यीय बेंच में शामिल हैं।

वहीं, इससे पहले बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने इस बात को प्रमुखता से कहा था कि मुगल शासक बाबर ने जो किया उसपर उसका कोई नियंत्रण नहीं है और उसका सरोकार सिर्फ मौजूदा स्थिति को सुलझाने से है। शीर्ष अदालत ने कहा कि उसका मानना है कि मामला मूल रूप से तकरीबन 1,500 वर्ग फुट भूमि भर से संबंधित नहीं है बल्कि धार्मिक भावनाओं से जुड़ा हुआ है।

निर्मोही अखाड़ा जैसे हिंदू संगठनों ने सेवानिवृत्त जजों – जस्टिस कुरियन जोसफ, जस्टिस एके पटनायक और जस्टिस जीएस सिंघवी के नाम मध्यस्थ के तौर पर सुझाए थे जबकि स्वामी चक्रपाणी धड़े के हिंदू महासभा ने पूर्व चीफ जस्टिस- जस्टिस जेएस खेहर और जस्टिस दीपक मिश्रा और जस्टिस (सेवानिवृत्त) एके पटनायक का नाम प्रस्तावित किया था।

पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों से मध्यस्थों के नाम सुझाने को कहा था। मुस्लिम पक्षों और निर्मोही अखाड़े ने अलग-अलग नाम सौंप दिए हैं। हालांकि अन्य हिंदू पक्षों ने मध्यस्थता का विरोध किया है और इस कारण उन्होंने कोई नाम भी नहीं सौंपे हैं।   http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Breaking News:

कर्नाटक: रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने बेंगलुरु के जयनगर में किया मतदान 

Published

on

कर्नाटक: रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने बेंगलुरु के जयनगर में किया मतदान

Continue Reading

Breaking News:

छत्तीसगढ़: धनिकारका के जंगलों में DRG के साथ मुठभेड़ में 2 नक्सली ढेर 

Published

on

छत्तीसगढ़: धनिकारका के जंगलों में DRG के साथ मुठभेड़ में 2 नक्सली ढेर

Continue Reading

Breaking News:

J-K: चुनाव के मद्देनजर किश्तवाड़ जिले में कर्फ्यू में ढील दी गई 

Published

on

J-K: चुनाव के मद्देनजर किश्तवाड़ जिले में कर्फ्यू में ढील दी गई

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 18, 2019, 3:54 pm
Partly sunny
Partly sunny
31°C
real feel: 30°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 32%
wind speed: 4 m/s NW
wind gusts: 4 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 5:10 am
sunset: 6:02 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 7 other subscribers

Trending