Connect with us

देश

बड़ी खबर : कांग्रेस खेल सकती है बड़ा दांव, सोनिया की जगह उनकी बेटी बनी पहली पसंद

Published

on

लखनऊ। लोकसभा के चुनाव को लेकर तमाम राजनीति दल लगातार अपनी रणनीति में बदलाव कर रहे हैं। दरअसल बीजेपी को रोकने के लिए कांग्रेस एक ओर अन्य दलों के साथ मिलकर रोकने की तैयारी में है तो दूसरी ओर सपा-बसपा भी एक साथ मिलकर बीजेपी को हराने का सपना देख रहे हैं लेकिन कांग्रेस के खेमे से बड़ी जानकारी ये मिलकर आ रही है कि वह अगले साल होने वाले चुनाव में बड़ा बदलाव करने की तैयारी में है। कांग्रेस से मिली जानकारी के अनुसार 2019 चुनावों को लेकर उसकी तैयारी अंतिम दौर में है और वह बड़ा दांव खेलने का मन बना चुकी है।

बंगले में तोड़फोड़ बनी अखिलेश यादव के गले की फांस, नये खुलासे से छूटेगा पसीना

ऐसे में खबरों के मुताबिक वह लोकसभा चुनाव में इस बार प्रियंका गांधी को मैदान में उतारने की तैयारी में है। कांग्रेस के सूत्र बता रहे हैं कि रायबरेली से इस बार सोनिया गांधी को नहीं बल्कि उनकी बेटी प्रियंका गांधी को मैदान में उतार जाये, हालांकि इसका आखिरी फैसला राहुल गांधी सोनिया से बातकर ले सकते हैं। मोदी को रोकने के लिए कांग्रेस के पास कोई और विकल्प भी नजर नहीं आ रहा है। बीजेपी भी इस बार कांग्रेस को हराने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रही है। आलम तो यह है कि मोदी लगातार कांग्रेस पर हमला बोल रहे हैं। कुल मिलाकर अगर प्रियंका चुनाव में उतरती हैतो कांग्रेस को बड़ा फायदा मिल सकता है। satyodaya.com

 

देश

अपने इस्तीफे पर अड़े राहुल, मनाने के लिए घर के बाहर डटे सैकड़ों कार्यकर्ता

Published

on

नई दिल्ली। लगता है कि राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने का पूरा मन बना लिया है। पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं की लाख मनौतियों के बाद भी राहुल मानने को तैयार नहीं हैं, वह अपने निर्णय पर अडिग हैं। जानकारी के मुताबिक राहुल को मनाने के लिए दिल्ली स्थित उनके आवास के बाहर सैकड.ों पार्टी कार्यकर्ताओं की भीड. जुट चुकी है। कोशिश चल रही है वह इस पद पर बने रहें। हालांकि राहुल किसी की भी सुनने को तैयार नहीं हैं, उन्होंने किसी भी पार्टी नेता से मिलने से भी मना कर दिया है।
दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, दिल्ली कांग्रेस के तीनों कार्यकारी अध्यक्ष, जगदीश टाइटलर, बॉक्सर विजेंदर समेत कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता राहुल गांधी के घर के बाहर डटे हुए हैं। इन कांग्रेसी दिग्गजों की इच्छा है कि राहुल अपने अध्यक्ष पद से इस्तीफा न दें। इस बीच शीला दीक्षित ने कहा कि राहुल गांधी से उनकी मुलाकात नहीं हो सकी लेकिन इस्तीफा न देने का संदेश उन तक पहुंच चुका है। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी का कोई भी व्यक्ति नहीं चाहता कि राहुल इस्तीफा दें। उन्हें अध्यक्ष के तौर पर फिर से काम शुरू करना चाहिए। शीला ने आगे कहा कि हार-जीत तो चलती रहती है, लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि कोई एक कदम पीछे हटे और छोड़ कर चला जाए। हम चाहते हैं कि वो पार्टी का नेतृत्व करें, इसमें किसी और को ढूंढने की कोई बात नहीं है।#Resignation

यह भी पढ़ें-ई-कचरा से बढ़ रहा खतरा, बेकार मोबाइल फोन भी कर सकता बड़ा काम

बता दें कि पार्टी राहुल गांधी को मनाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रही है। लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद राहुल ने अपने इस्तीफे की बात कही थी। कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में राहुल ने अपना इस्तीफा का प्रस्ताव रखा लेकिन समिति ने राहुल का प्रस्ताव स्वीकार नहीं किया। बल्कि राहुल को ऐसा करने से मनाने के लिए उनके घर पर कांग्रेस के नेताओं का तांता लगा रहा। मंगलवार सुबह भी राहुल से मिलने उनके घर पर प्रियंका गांधी, रणदीप सुरजेवाला, सचिन पायलट जैसे बड़े नेता पहुंचे थे। सबने राहुल को मनाने का काफी प्रयास किया लेकिन राहुल लगातार इस्तीफा देने की अपनी जिद्द पर अड़े हुए हैं।
वहीं दूसरी ओर राजस्थान सरकार में उपमुख्यमंत्री के साथ-साथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने भी अपने पद से इस्तीफा देने की बात कही है। सचिन पायलट ने कहा कि अगर राहुल गांधी पार्टी में अपना सर्वोच्च पद छोड़ते हैं तो वह भी राजस्थान के उप मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस प्रमुख का पद छोड़ देंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

प्रधानमंत्री शपथ ग्रहण के दौरान मेहमानों को परोसी जाएंगी राष्ट्रपति भवन की ये खास डिश, जानिए क्या…

Published

on

लोकसभा चुनाव

फाइल फोटो

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में भाजपा की शानदार जीत की वजह से मानों देशभर में खुशी की लहर दौड़ गई हो। पूरा देश जश्न में डूबा हुआ है। ऐसे में 30 मई को नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री की कमान संभालने के लिए शपथ ग्रहण करेंगे। पीएम मोदी के शपथ ग्रहण की तैयारियां बड़े जोर-शोर से चल रही हैं।

आपको बता दें इस भव्य शपथ ग्रहण समारोह में बिमस्टेक देशों के मेहमान शामिल होंगे। बिमस्टेक  में बंगाल की खाड़ी से जुड़े हमारे 7 पड़ोसी देश शामिल हैं। इतना ही नहीं इस दौरान बिमस्टेक के अलावा अन्य देशों के मेहमान भी शामिल होंगे। ऐसा कहा जा रहा है इस शाही समारोह में लगभग 6,500 मेहमान शामिल हो सकते हैं।

2014 शपथ ग्रहण से ज्यादा शामिल होंगे मेहमान

इस भव्य समारोह में पिछली बार से ज्यादा मेहमान हो सकते हैं शामिल। बिमस्टेक समेत 14 देशों के प्रमुख, कई देशों के राजनायिक, बुद्धिजीवी, राजनीतिक कार्यकर्ता, सिनेमा जगत की हस्तियां और कई दिग्गज शमिल हो सकते हैं।

आपको बता दें इस बार भी पिछली बार की तरह राष्ट्रपति भवन के फोरकोर्ट में शपथ ग्रहण समारोह होगा। फोरकोर्ट राष्ट्रपति भवन के मेन गेट और मेन बिल्डिंग के बीच का रास्ता है। इस जगह को राष्ट्रपति भवन में आने वाले अतिथि और  सरकार के कुछ खास लोगों और चेंज ऑफ गार्ड सेरेमनी के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

ये भी पढ़े:भाजपा की इस चाल से बिदक गईं दीदी, मोदी के दूसरे शपथ ग्रहण समारोह से किया किनारा

ऐसा चौथी बार होगा जब किसी प्रधानमंत्री का शपथ ग्रहण समारोह दरबार हॉल में न होकर फोरकोर्ट में होगा। ऐसे सबसे पहली बार पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के शपथ ग्रहण समारोह (1990) में इस जगह का इस्तेमाल किया गया था। 1998 में अटल बिहारी वाजपेयी और 2014 में नरेंद्र मोदी के के शपथ ग्रहण समारोह के लिए फोरकोर्ट का इस्तेमाल किया गया था।

इस शाही समारोह में शामिल होने ये लजीज पकवान

शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने आए मेहमानों के लिए हल्के खाने और नाश्ते की व्यवस्था की जाएगी। नाश्ता में वेजिटेरियन डिश ही शामिल होंगी। मेहमानों को समोसा और राजभोग आदि परोसा जाएगा। वहीं खाने में शाकाहारी और मांसाहारी दोनों तरह के पकवान शामिल होंगे। लजीज खाने की सभी तैयारियां राज भवन में ही की जाएंगी।

राष्ट्रपति भवन की खास डिश ‘दाल रायसीना’ भी परोसी जाएगी

भोजन में राष्ट्रपति भवन का खास व्यंजन ‘दाल रायसीना’ भी परोसा जाएगा। ‘दाल रायसीना’ को बनाने के लिए कम से कम 48 घंटे का समय लग जाता है। बता दें 2014 में शपथ समारोह के दौरान पानी का भी इंतजाम नहीं किया गया था, हालांकि इस बार पानी की भी उचित व्यवस्था की गई है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

बाराबंकी शराब कांड का मुख्य आरोपी निकला विभाग के दरोगा का करीबी

Published

on

फाइल फोटो

लखनऊ । बाराबंकी रानीगंज शराब कांड में उजागर हुआ आबकारी विभाग में फैला जंगलराज । शराब कांड का मुख्य आरोपी निकला विभाग के दरोगा का करीबी बाराबंकी पुलिस की पूछताछ में खुलने लगी आबकारी विभाग के गड़बड़झाले की परतें । पुलिस मुठभेड़ में घायल पप्पू जायसवाल अपने को बता रहा है आबकारी विभाग के दरोगा हरिकेश शुक्ला का गुर्गा । हरकेश शुक्ला की सरपरस्ती में ही सरकारी ठेके से बेची जा रही थी कच्ची जहरीली शराब ।

37 सालों से बाराबंकी में तैनात हरकेश शुक्ला ट्रांसफर के बावजूद संबद्धता कराकर बाराबंकी में जमा रहे ट्रांसफर के बाद जहां-जहां गए हरिकेश शुक्ला वहां-वहां हुआ शराब कांड । लखनऊ में आया तो कैसरबाग में हुआ जहरीली शराब कांड, दर्जनों मौतें बाराबंकी में तैनाती के दौरान देवा का स्पिरिट कांड और जबरीकला का शराब कांड भी हरकेश शुक्ला के इलाके में हुआ ।

यह भी पढ़ें: बीजेपी के नवनिर्वाचित सांसद भोज के लिए पहुंचे सीएम आवास

दरोगा बनने के बाद हरकेश शुक्ला बन गया जिले की फ्लाइंग स्क्वायड का प्रभारी मौजूदा वक्त में हरकेश शुक्ला कागजों में लखीमपुर की गन्ना मिल मे है । घायल पप्पू जायसवाल और सेल्समेन सुनील ने कबूला हरकेश शुक्ला का नाम आबकारी विभाग के फ्लाइंग स्क्वाड का प्रभारी बनकर पूरे जिले में अवैध शराब कारोबारियों से वसूली का जिम्मा हरिकेश शुक्ला के पास था । रानीगंज में दानवीर सिंह के सरकारी ठेके की सरपरस्ती भी हरकेश शुक्ला पर थी । पुलिस ने शराब कांड के आरोपियों से की पूछताछ तो खुल रही है आबकारी विभाग में फैले जंगलराज की परतें ।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 30, 2019, 1:21 am
Clear
Clear
29°C
real feel: 28°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 36%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:43 am
sunset: 6:25 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending