Connect with us

देश

लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे भाजपा सांसद व अभिनेता परेश रावल, कहा- बना रहूंगा मोदी समर्थक

Published

on

फ़ाइल फोटो

अहमदाबाद। पूर्वी अहमदाबाद लोकसभा सीट से भाजपा सांसद व बाॅलीवुड अभिनेता परेश रावल ने आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान किया है। भाजपा सांसद ने ट्वीट करके साफ कर दिया है कि वो आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे। परेश रावल ने ट्वीट कर कहा कि मेरा मीडिया और दोस्तों से अनुरोध है कि लोकसभा चुनाव के लिए मेरे नामांकन की अटकलें न लगाएं। मैंने पार्टी को कई महीने पहले बता दिया था कि मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा। हालांकि, मैं भाजपा का वफादार सदस्य और मोदी समर्थक बना रहूंगा। आपको बता दें कि 2014 लोकसभा चुनाव में परेश रावल ने कांग्रेस प्रत्याशी दीपकभाई बाबरिया को 85 हजार से भी अधिक मतों से पराजित किया था। परेश रावल को 53 फीसदी से अधिक मत मिले थे, जबकि कांग्रेस प्रत्याशी को 38.97 फीसदी मत मिले थे।

परेश रावल के ट्वीट पर साहिल जोशी नाम के एक यूजर ने सवाल करते हुए ट्वीट किया कि इसका मतलब है कि आपको टिकट नहीं मिल रही है? इसपर परेश रावल ने कहा, जोशी जी आपका ये ट्वीट एक व्यंग्य है इसलिए मैं हंस रहा हूं।

परेश रावल ने अपने ट्वीट का मतलब समझाते हुए कहा कि इसका मतलब ये है कि मुझे टिकट मिलने पर भी मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा। मैं अपने सभी बयानों और साक्षात्कार आदि में लगातार यह कहता रहा हूं कि मुझे राजनीतिक करियर में अब कोई दिलचस्पी नहीं है। उम्मीद है कि मेरे इस ट्वीट से मेरे लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर संशय के बादल छंट जाएंगे।    http://www.satyodaya.com

अपना शहर

पीएम मोदी की प्रशंसा के बाद अब इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज हुआ श्री शिशु बाल रामलीला समिति का नाम

Published

on

लखनऊ। चौक के फूल वाली गली के नेपाली पार्क में होने वाली श्री शिशु बाल रामलीला की ख्याति यूं तो दूर-दूर तक है। इस रामलीला ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का दिल जीतने के अलावा एक और कीर्तिमान स्थापित कर दिया है। अक्टूबर 2018 में भव्य आयोजन के लिए रामलीला समिति का नाम इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज हो गया है। अपने स्वर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर श्री शिशु बाल रामलीला में इस बार रावण के 50 पुतले दहन किए गए थे, जो एक रिकार्ड है।

इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड के डाॅ. विश्वरूप राय चौधरी ने समिति को एक प्रमाण जारी करते हुए कहा कि दशहरा पर श्री शिशु बाल रामलीला ने 50 रावण दहन कर एक रिकार्ड बनाया है। इतनी बड़ी संख्या में और विशालकाय रावण के पुतलों का दहन अब तक पूरे भारत की किसी भी रामलीला में नहीं हुआ है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी चौक की श्री शिशु राम लीला समिति को इस भव्य आयोजन के लिए अपना बधाई संदेश भेजा था और शुभकामनाएं दी थीं।
बता दें कि अक्तूबर 2018 में चौक की इस रामलीला ने अपनी स्वर्ण जयंती मनाई थी। इस मौके पर आयोजन को और भव्य और मनोरम बनाते हुए रामलीला में पहली बार एक साथ 50 रावणों का दहन किया गया था। जिसमे दो पुतले 35 फुट के और बाकी 18 फुट के थे।

नेपाली कोठी पार्क में होने वाली इस रामलीला को यादगार बनाने के लिए कृष्ण लीला भी पेश की गयी थी। रामलीला का शुभारम्भ 10 अक्टूबर 2018 से हुआ था। इस मौके पर स्वर्ण जयंती स्मारिका का विमोचन भी हुआ था। कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री डाॅ. दिनेश शर्मा, महापौर संयुक्ता भाटिया सहित यूपी सरकार के कई मंत्री व शहर के गणमान्य अतिथि उपस्थित थे।

शिशु बाल रामलीला समिति के अध्यक्ष पंकज अग्रवाल ने बताया कि रामलीला का 50वां आयोजन 10 अक्टूबर से बाग टोला फूलवाली गली, नेपाली पार्क चौक में भव्य स्तर पर हुआ था।
श्री शिशु बाल रामलीला समिति के महामंत्री व मीडिया प्रभारी राहुल गुप्ता ने बताया कि जयंती वर्ष में आयोजित रामलीला में मथुरा की स्वमी लेखराज ओम प्रकाश मंडली ने लीला पेश की थी। उन्होंने बताया कि 21 अक्तूबर 2018 को खुनखुनजी डिग्री कॉलेज परिसर में रावण वध, 22 को भरत मिलाप और 23 अक्तूबर को राजगद्दी का प्रसंग पेश किया गया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

अंधविश्वास के नाम पर ली महिला की जान, त्रिशूल से शरीर को गोदा, निकाली आंख

Published

on

प्रतिकात्मक फोटो

21वीं सदी में भी लोग अंधविश्वास की बेड़ियों में जकड़े हुए हैं। यही कारण है कि कभी काला जादू  तो कभी टोना-टोटका के नाम पर निर्दोष लोगों की बली चढ़ा देते हैं। ऐसा ही एक मामला झारखंड में सामने आया है। जो इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला है। यहां के गढ़वा क्षेत्र के कोंदिरा गांव में एक तांत्रिक दंपती ने अधेड़ महिला को इलाज के नाम पर त्रिशूल से गोदा और फिर उसकी आंख निकाल ली। इस घटना की सूचना पाकर पुलिस ने तांत्रिक दंपती को गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी पढ़े- यूपी: बहू ने धारदार हथियार से सास की गला रेतकर की हत्या

जानकारी के मुताबिक अधेड़ महिला रूदनी देवी पिछले कई दिनों से बीमार थी। इस महिला को उसके परिजन डॉक्टर को दिखाने की जगह तांत्रिक दंपती के पास ले गए। दंपती ने रूदनी देवी के परिजनों को बताया कि उस पर किसी बुरी आत्मा का साया है। जिसके बाद उसे तांत्रिक दंपती के पास इलाज के लिए ले गए। तांत्रिक ने त्रिशूल से गोदकर उसकी आंखे निकाल ली। महिला इस क्रूरता को अधिक देर नहीं झेल पाई और दम तोड़ दिया। महिला की मौत के बाद परिजनों ने उसके शव को ठिकाने लगाने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला के घरवालों और तांत्रिक दंपती को गिरफ्तार कर लिया है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

गुलाम नबी आजाद नहीं पहुंच पाए जम्मू, एयरपोर्ट से ही दिल्ली भेजे गए

Published

on

जम्मू। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद मंगलवार को जम्मू एयरपोर्ट पर रोक लिए गए। उन्हें वहां से सीधे दिल्ली रवाना कर दिया गया। यह दूसरी बार है जब गुलाम नबी आजाद जम्मू-कश्मीर में प्रवेश नहीं कर पाए हैं। इसके पहले भी वह श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोक लिए गए थे।

बताया जा रहा है कि गुलाम नबी आजाद जम्मू में कांग्रेस कार्यालय पर आयोजित प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में हिस्सा लेने जा रहे थे। लेकिन प्रशासन के आदेश पर उन्हें एयरपोर्ट पर ही हिरासत में ले लिया गया और वहां से सीधे उन्हें वापस दिल्ली भेज दिया गया।

ये भी पढ़ें: Chandrayaan2: ISRO की ‘दुल्हन’ चांद की सतह से महज चार कदम दूर…

बता दें, आर्टिकल 370 हटने के बाद से ही कई नेता घाटी में जाना चाह रहे थे लेकिन प्रशासन ने किसी को भी इजाजत नहीं दी थी। नबी के बाद सीताराम येचुरी भी कश्मीर जाना चाह रहे थे तब उन्हें भी श्रीनगर एयरपोर्ट पर रोक लिया गया था। इतना ही नहीं, पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती भी नजरबंद हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 20, 2019, 8:51 pm
Fog
Fog
27°C
real feel: 34°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 93%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:10 am
sunset: 6:09 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending