Connect with us

देश

मार्केट से कम रेट में आरबीआई से खरीदें सोना, जल्द जाएं बैंक जानें स्कीम…

Published

on

सोना

फाइल फोटो

नई दिल्ली। नई मोदी सरकार में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने 5 जुलाई को पहला बजट पेश किया था। इस बजट पेशी के दौरान सीतारमन ने सोने पर आयत शुल्क 10 प्रतिशत बढ़ाकर 12.5 प्रतिशत कर दिया। ऐसा करने के बाद सोने की कीमतों में इजाफा हुआ है। लेकिन इस बीच अब मोदी सरकार आपको सस्ता सोना खरीदने का मौका दे रही है।

बता दें  मोदी सरकार की सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड  स्‍कीम के तहत आप सस्‍ता सोना खरीद सकते हैं। डिजिटल मोड की यह स्‍कीम साल 2015 में शुरू की गई थी। इस स्‍कीम के तहत समय-समय पर लोगों को सस्‍ता सोना खरीदने का मौका दिया जाता है। वहीं इस दौरान आरबीआई की तरफ से सोने की कीमत भी तय की जाती है।

8 जुलाई से शुरू हुई सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्‍कीम की नई सीरीज 12 जुलाई तक चलेगी। बता दें कि 10 जुलाई के हिसाब से सोना का बाजार कीमत 3,487 रुपये प्रति ग्राम है। वहीं स्‍कीम के तहत आप सोना 3,443 रुपये प्रति दस ग्राम खरीद सकते हैं।

ये भी पढ़े:राम मंदिर मामला: मध्यस्थता पर सुप्रीम कोर्ट ने पैनल से एक हफ्ते के अंदर मांगी रिपोर्ट…

वहीं अगर ग्राहक डिजिटल मोड में पेमेंट करता है तो उसे 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट मिलेगी। इस तरह सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में ऑनलाइन निवेश करने वाले ग्राहकों के लिए एक ग्राम सोने की कीमत 3,393 रुपये रह जाएगी। ऐसे में आप गोल्ड को मार्केट वैल्यू से 94 रुपये कम कीमत पर खरीद सकते हैं।

जानिए शर्तें:

हालांकि सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्‍कीम के तहत ऑनलाइन सोना खरीदने की कुछ शर्तें भी हैं। पहली शर्त है कि कोई भी व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने का बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं इस बॉन्ड में न्यूनतम निवेश एक ग्राम है।

वहीं अगर इस स्कीम की बात करें तो आप सोना खरीदकर टैक्‍स बचा सकते हैं। इसके अलावा स्‍कीम के जरिए बैंक से लोन भी लिया जा सकता है।

इस स्कीम का क्‍या है मकसद:

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्‍कीम का मकसद सोने की फिजिकल डिमांड को कम करना है। लेकिन आप स्कीम के तहत गोल्ड खरीदकर घर में नहीं रख सकते हैं। बल्कि बॉन्‍ड में निवेश के तौर पर इस्‍तेमाल करना होता है। http://www.satyodaya.com

देश

Maharashtra Election 2019: सांगली में शाह के निशाने पर रही कांग्रेस और एनसीपी

Published

on

नई दिल्ली। हरियाणा विधानसभा चुनाव के साथ महाराष्ट्र में भी चुनाव का बिगुल बज चुका है। 21 अक्टूबर नजदीक आते ही राजनीतिक पार्टियों का सियासी परा चढ़ने लगा है। बीजेपी और कांग्रेस के साथ ही अन्य दलों के शीर्ष नेता लगातार चुनाव प्रचार कर रहे हैं। इसी के चलते गुरुवार को बीजेपी सरकार के गृह मंत्री अमित शाह महाराष्ट्र के सांगली में रैली की। यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले के बहाने कांग्रेस और राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि भारत को दो देश से मुक्ति मिल गई है। राहुल को आड़े हाथ लेते हुए शाह ने कहा राहुल कहते थें कि कश्मीर में खून की नदियां बहेंगी, लेकिन अब पूरा कश्मीर शांत है।

एक जवान मारे तो बदले में 10 दुश्मन मारेंगे

सांगली में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि पीएम ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाकर भारत को अखंड किया है। शाह ने कहा, जब मोदी जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 खत्म करने का फैसला किया। तो कांग्रेस और एनसीपी ने इसका कड़ा विरोध किया। जब पूरा देश कश्मीर का एकीकरण चाहता था। तब कांग्रेस-एनसीपी ने विरोध किया। कश्मीर में खून की नदियां बहेंगी लेकिन 5 अगस्त से 5 अक्टूबर एक महीना हो गया, एक भी गोली नहीं चलानी पड़ी। पीएम मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित की है। अगर एक भी भारतीय जवान शहीद हुआ तो उसके बदले में 10 दुश्मन मारे जाएंगे।

यह भी पढ़ें :- कांग्रेस प्रतिनिधियों से मिलने के बाद जेरेमी कॉर्बिन का कश्मीर पर विवादित बयान

गृह मंत्री अमित शाह ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यहां की जमीन पशु मेले के लिए जानी जाती है। उन्होंने नाना पाटिल को भी प्रणाम किया। इसके बाद उन्होंने मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को आड़े हाथ लिया। बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले का कांग्रेस और एनसीपी ने विरोध किया था, लेकिन इस मुद्दे पर आज पूरी दुनिया भारत के साथ है। पाकिस्तान अकेला पड़ गया है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में चुनावी शंखनाद हो चुका है। एक तरह भाजपा और शिवसेना देवेंद्र फणनवीस के नेतृत्व में चुनाव लड़ रहे हैं और दूसरी ओर कांग्रेस और एनसीपी जैसी परिवारवादी पार्टियां चुनावी मैदान में हैं। शाह कहा कि अभी-अभी लोकसभा का चुनाव हुआ है। जिसमें महाराष्ट्र की महान जनता ने मोदी जी की झोली में कमल ही कमल भर दिए। इसके कारण मोदीजी प्रधानमंत्री बने और 300 से ज्यादा सीटों के साथ भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय

कांग्रेस प्रतिनिधियों से मिलने के बाद जेरेमी कॉर्बिन का कश्मीर पर विवादित बयान

Published

on

नई दिल्ली। राफेल विमान की पूजा को लेकर कांग्रेस पार्टी लोगों के निशाने से अभी उतरी ही नही थी। अब उस पर एक और मुसीबत बनकर टूट पड़ी है। कांग्रेस पार्टी अब एक नई मुसीबत में फंस गई है। दरअसल ब्रिटेन की लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन ने कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की। कांग्रेस पार्टी की प्रतिनिधि के तौर पर गुरमिंदर रंधावा भी मौजूद थीं। इस मुलाकात में कश्मीर का मुद्दा उठाया गया है। इस मीटिंग में ब्रिटेन के कॉर्बिन ने कहा कि क्षेत्र में तनाव कम करने की कोशिश होनी चाहिए और हिंसा का दौर खत्म होना चाहिए। बीजेपी ने इस पूरे मामले पर ट्वीट कर कहा है कि कांग्रेस पार्टी को जवाब देना चाहिए कि उनके नेताओं ने विदेशी नेताओं से चर्चा के दौरान क्या बात कही है।

ब्रिटेन की लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन ने कहा, ‘भारत की कांग्रेस पार्टी के ब्रिटिश प्रतिनिधियों के साथ काफी अच्छी मीटिंग हुई है। इस मीटिंग में हमने कश्मीर में मानवाधिकार की स्थिति पर चर्चा की। कश्मीर में तनाव को तुरंत कम किए जाने की जरूरत है और क्षेत्र में लंबे समय से चल रहा हिंसा और डर का दौर खत्म होना चाहिए।

यह भी पढ़ें :- मानहानि के मामले में कोर्ट में पेश हुए राहुल गांधी, खुद को बताया बेकसूर

भारतीय जनता पार्टी ने कॉर्बिन के इस बयान को बेहद कड़ाई से लिया है। बीजेपी ने ट्वीट कर कांग्रेस पार्टी से इसका जवाब मांगा है। बीजेपी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘भय उत्पन्न करने वाला! देश की जनता कांग्रेस पार्टी से सफाई चाहती है कि उनके नेताओं ने विदेशी नेताओं से क्या बात की है? देश की जनता कांग्रेस पार्टी को उनकी इस धोखेबाजी के लिए करारा जवाब देगी।’http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

पश्चिम बंगाल: आरएसएस कार्यकर्ता की गर्भवती पत्नी और बच्चे समेत हत्या

Published

on

मुर्शिदाबाद। पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में अज्ञात बदमाशों ने शख्स, गर्भवती पत्नी और उनके 8 साल के मासूम बच्चे की हत्या कर दी। बदमाशों ने घर में घुसकर धारदार हथियार से इस पूरी वारदात को अंजाम दिया है। यह घटना मुर्शिदाबाद के जियागंज इलाके की है। मृतक की पहचान बंधु प्रकाश पाल (35), पत्नी ब्यूटी मोंडल पाल (30) और बेटे अंगन बंधु पाल (8) के रूप में हुई है। वहीं, आरएसएस का दावा है कि मृतक हमारा कार्यकर्ता था।

दरअसल, इस घटना की जानकारी तब लगी जब पड़ोसियों ने उनके घर का दरवाजा खोला। तीनों की खून से सनी लाश देखकर पड़ोसी हैरान रह गए। इस घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। पुलिस ने बताया, ‘बंधु प्रकाश पाल एक स्कूल टीचर थे जो गोसाईंग्राम स्थित एक प्राइमरी स्कूल में पढ़ाते थे जबकि उनकी पत्नी गर्भवती थी। तीनों की धारदार हथियार से नृशंस हत्या कर दी गई।’

वहीं, आरएसएस के नेता जिष्णु बसु के अनुसार, बंधु प्रकाश आरएसएस कार्यकर्ता थे और हाल ही में वह ‘साप्ताहिक मिलन’ में शामिल हुए थे।

ये भी पढ़ें: मूडीज ने घटाई भारत की रेटिंग, कहा- मंदी का असर राजकोषीय घाटे पर भी पड़ेगा

मृतक के परिजनों का कहना है कि बंधु प्रकाश पाल पिछले 20 साल से प्रकाश प्राइमरी स्कूल में अध्यापक थे। बेटे की पढ़ाई के लिये वो मुर्शिदाबाद रह रहे थे, मूल रूप से वो शाहपुर के रहने वाले थे। हालांकि, परिजनों ने हत्या का शक किसी पर नहीं जताया है। उनका कहना है कि उन्हें नहीं पता कि बंधु पाल की किसी से कोई समस्या थी। फिलहाल पुलिस इस मामले की छानबीन कर रही है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 11, 2019, 5:36 am
Fog
Fog
22°C
real feel: 26°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 93%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:33 am
sunset: 5:13 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending