Connect with us

देश

कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर कांग्रेस ने राज्यसभा में किया जमकर हंगामा

Published

on

नई दिल्ली: कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर कांग्रेस ने आज राज्यसभा में जमकर हंगामा किया। जिससे शून्यकाल बाधित हुआ और सदन की कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित करनी पड़ी। सभापति एम. वेंकैया नायडू ने सुबह सदन की कार्यवाही शुरू करते हुए जरुरी दस्तावेज पटल पर रखवायें। जिसके बाद उन्होंने कहा कि उन्हें कांग्रेस के कपिल सिब्बल और राजीव गौडा के नियम 267 के तहत नोटिस मिले थे, जिन्हें खारिज कर दिया गया है। इससे कांग्रेस के सदस्य अपनी सीटों पर खड़े हो गए और सभापति के फैसले का विरोध करने लगे।

नायडू ने कहा कि सदन में लोकतंत्र को बचाया जाना चाहिए और इसके लिए जरुरी है कि सदन का कामकाज सामान्य रुप से चलता रहे। इसलिए सदस्यों को सदन का कामकाज चलने देना चाहिए। इसके बाद सभापति ने शून्यकाल में अपने मुद्दे उठाने के लिए सदस्यों का नाम पुकारा। इसके लगभग 20 मिनट बाद सदन में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा सदन में आए और कहा कि कांग्रेस के सदस्यों ने नोटिस दिए हैं, उन पर चर्चा होनी चाहिए। कांग्रेस के सभी सदस्य उनके समर्थन में खड़े हो गए और नारेबाजी करने हुए आसन के समक्ष आ गए। सदन में शोर शराबा होने लगा और शर्मा लगातार बोलते रहे जिसे सभापति ने रिकार्ड नहीं करने का निर्देश दिया।

ये भी पढ़े: बालाघाट: मुठभेड़ में एक महिला नक्सली सहित दो नक्सली ढेर

इस बीच भारतीय जनता पार्टी के भूपेंद्र यादव और विजय गोयल ने कुछ कहने का प्रयास किया। कांग्रेस के सदस्यों की नारेबाजी के बीच सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस के विधायक अपनी पार्टी नेतृत्व के खिलाफ है, तो इसमें भाजपा और सरकार क्या कर सकती है। इस मामले को सदन में उठाने का कोई मतलब नहीं है। नायडू ने कांग्रेस के सदस्यों से अपनी सीटों पर लौटने और सदन का कामकाज चलने देने के लिए कहा।

उन्होंने कहा कि सदन में सभापति का फैसला अंतिम होता है, यही परंपरा रही है। अगर किसी सदस्य को आपत्ति है, तो कार्यालय में आकर बात करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सदन कांग्रेस और भाजपा का झगड़ा सुलझाने के लिए नहीं है। सदन को चलने देना चाहिए, लेकिन कांग्रेस के सदस्यों की नारेबाजी जारी रही। इससे सभापति ने सदन की कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित करने की घोषणा कर दी।http://www.satyodaya.com

देश

डां. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर होगा कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट

Published

on

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का नाम बदलकर डां. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर रखे जाने की घोषणा की साथ ही पोर्ट के 33000 पेंशनधारकों और 3500 कर्मचारियों की सामाजिक सुरक्षा के लिए 5001 करोड़ की राशि देने का भी ऐलान किया।

जहाजरानी मंत्री मनसुख मांडवीय ने देश के सबसे पुराने कोलकाता बंदरगाह के दशकों बाद वर्ष 2019-20 के दौरान मुनाफा अर्जित करने की घोषणा की। यह बंदरगाह विभिन्न कारणों से पिछले दो दशकों से अधिक समय से घाटे में चल रहा था। पीएम मोदी ने बंदरगाह की 150वें वर्षगांठ पर यहां आयोजित समारोह में जीवन बीमा निगम के एक वरिष्ठ अधिकारी को बंदरगाह के पेंशनधारकों और मौजूदा कर्मचारियों के सामाजिक कल्याण के लिए गारंटी के तौर पर 5001 करोड़ का चेक सौंपा।

यह भी पढ़ें:- कैंसर रोगियों की सुविधा के लिए मुंबई में बनेगा जम्मू कश्मीर भवन

पीएम मोदी ने कहा कोलकाता पोर्ट सिर्फ जहाजों के आने-जाने का स्थान नहीं है, ये एक पूरे इतिहास को अपने आप में समेटे हुए है। इस पोर्ट ने भारत को विदेशी राज से स्वराज पाते देखा है। सत्याग्रह से लेकर स्वच्छाग्रह तक इस पोर्ट ने देश को बदलते हुए देखा है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने पोर्ट के आधुनिकीकरण एवं आने वाले वर्षों में मांगों के अनुरूप मशीनों को तैयार करने के लिए 600 करोड़ की परियोजनाओं का भी एलान किया। इस वर्ष हल्दिया में मल्टीमॉडल टर्मिनल और फरक्का में नेविगेशनल लॉक को तैयार करने का प्रयास है।

उन्होंने इस बात पर गहरा अफसोस जताया कि पश्चिम बंगाल के किसान केंद्र प्रायोजित दो योजनाओं से वंचित हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल को छोड़कर देश के आठ करोड़ किसानों को पीएम किसान समान निधि के जरिये सीधा फायदा पहुंचाते हुए उनके खाते में राशि पहुंचाने का काम किया गया है जिस पर कुल 43000 करोड़ रुपये खर्च किये गये हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

कैंसर रोगियों की सुविधा के लिए मुंबई में बनेगा जम्मू कश्मीर भवन

Published

on

नई दिल्ली। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर ने मुंबई में जम्मू कश्मीर भवन बनाने का फैसला लिया है। यह फैसला वहां के लोगों के लिए मुुबई में इलाज के दौरान ठहराने के लिए लिया गया है। मुंबई में भवन का निर्माण हो जाने से जम्मू कश्मीर के लोग वहां कैंसर के इलाज के दौरान रूक सकेंगे।

जम्मू कश्मीर के एक अधिकारी ने रविवार को बताया कि जम्मू कश्मीर भवन के लिए प्रस्ताव को पिछले सप्ताह जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल जी सी मुर्मू ने मंजूरी दी है और नवी मुम्बई के खारघर में उसके लिए आधी एकड़ जमीन खरीदने के लिए पांच करोड़ रूपये की राशि जारी की गयी। अधिकारी के अनुसार जब मुर्मू को मुम्बई में ठहरने के लिए जगह ढूंढने वालों, विशेष रूप से वहां टाटा मेमोरियल अस्पताल में इलाज के लिए पहुंचने वाले इस केंद्र शासित प्रदेश के कैंसर रोगियों की परेशानियों के बारे में बताया गया, तब उन्होंने इसकी मंजूरी दी।

यह भी पढ़ें:- कच्चे तेल की कीमतों में हुई बृद्धि को लेकर घबराने की जरूरत नहीं: धर्मेंद्र प्रधान

उन्होंने कहा कि रोजाना करीब 30-40 कैंसर मरीज मुंबई जा रहे हैं और उन्हें ठहरने के लिए उपयुक्त जगह ढूढने में ढेरों परेशानियां पेश आती हैं। मुंबई में इस भवन की स्थापना के लिए 1992 में प्रस्ताव सामने रखा गया था। लेकिन उस दिशा में कोई काम नहीं हुआ। अधिकारी ने बताया कि यह भवन अक्सर मुंबई जाने वाले इस केंद्रशासित प्रदेश के व्यापारियों को भी ठहरने की सुविधा उपलब्ध करायेगा । उसमें स्थानीय आयुक्त और पर्यटन विभाग के कार्यालय भी होंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

कच्चे तेल की कीमतों में हुई बृद्धि को लेकर घबराने की जरूरत नहीं: धर्मेंद्र प्रधान

Published

on

नई दिल्ली। अमेरिका-ईरान तनाव के लेकर कच्चे तेल की कीमतों में बृद्धि हो गई हैं। जिसके बाद केंद्रीय पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने शनिवार को अपने एक बयान में कहा कि कच्चे तेल की कीमतों में हुई बृद्धि को लेकर किसी को घबराने की जरूरत नही है। सरकार ने प्रतीक्षा करो और नजर रखो का रुख अपनाया है। फिलहाल घबराने की कोई जरूरत नही है।

यह भी पढ़ें:- अमेरिका-इराक तनावः दाऊदी बोहरा समुदाय के लोगों को भारत ने इरान जाने से रोका

उन्होंने कहा कि भू-राजनीतिक कारणों से फारस की खाड़ी वाले इलाके में तनाव है। केंद्रीय मंत्री ने कहा, वैश्विक बाजार में कच्चा तेल की कोई कमी नहीं है। कच्चे तेल की कीमतों में कुछ तेजी आई है, लेकिन पिछले दो दिनों में इसका दाम घटा भी है। बता दें कि पिछले सप्ताह अमेरिका-ईरान के बीच तनाव बढ़ने से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में पिछले शुक्रवार को चार फीसदी की तेजी आई थी। ब्रेंट क्रूड 71 डॉलर प्रति बैरल के पार चला गया था। वहीं दोनों देशों के बीच युद्ध की आशंका खत्म होते ही कच्चे तेल की कीमतों में कमी आई है। इससे पहले कच्चे तेल की कीमतों में सितंबर में वृद्धि दर्ज की गई थी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 13, 2020, 8:01 am
Hazy sunshine
Hazy sunshine
10°C
real feel: 12°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 86%
wind speed: 0 m/s SSW
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 6:27 am
sunset: 5:03 pm
 

Recent Posts

Trending