Connect with us

देश

COVID-19: भारत में कोरोना के अब तक 1251 केस, देखें किस राज्य में कितनी मौतें

Published

on

लखनऊ। पूरी दुनिया में कहर मचाने वाले खतरनाक कोरोना वायरस का प्रकोप भारत में भी बढ़ता जा रहा है। देश में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। और यह आंकड़ा 1251 पर पहुंच गया है। इस खतरनाक कोविड-19 महामारी से अब तक देशभर में जहां 32 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 102 लोग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं। देश में कोरोना वायरस के कुल 1251 मामलों में से 1117 केस एक्टिव हैं। देश में कोरोना वायरस से पीड़ित 49 विदेशी भी हैं। महाराष्ट्र जहां 231 मामलों के साथ इस तालिका में टॉप पर है, वहीं केरल में पॉजिटिव केसों की संख्या 222 हो गई है। तो चलिए जानते हैं स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, किस राज्य में कोरोना वायरस के क्या हैं अपडेट…

इसे भी पढ़ें- कोविड-19: लखनऊ के कैसरबाग स्थित मरकजी मस्जिद में मिले कई विदेशी नागरिक

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र 231 मामलों के साथ कोरोना वायरस के मरीजं की तालिका में टॉप पर है। फिलहाल 198 एक्टिव केस हैं और 25 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है।

केरल: केरल में कोरोना वायरस के पॉजिटिव केसों की संख्या 222 है। केरल में दो लोगों की मौत हो चुकी है और 19 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं।

दिल्ली: दिल्ली में कोरोना वायरस के अब तक 95 मामले सामने आए हैं। दिल्ली में कोविड-19 महामारी से जहां 2 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 6 लोग पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं।

आंध्र प्रदेश: आंध्र प्रदेश में कोरोना वायरस के अब तक 24 मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक का इलाज हो गया है और उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। यहां अब तक कोरोना से मौत की बात सामने नहीं आई है।

अंडमान-निकोबार: यहां कोरोना वायरस के अब तक 9 पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए हैं।

बिहार: कोरोना वायरस के बिहार में अब तक 16 मामले दर्ज किए गए हैं। हालांकि, बिहार में कोरोना वायरस से एक की मौत भी हो चुकी है।

चंडीगढ़: केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ में कोरोना वायरस के 8 केस सामने आए हैं।

गोवा: गोवा में कोरोना वायरस से फैली महामारी कोविड-19 के पांच पॉजिटिव केस सामने आए हैं।

गुजरात: प्रधानमंत्री के गृहराज्य गुजरात में कोरोना वायरस के अब तक 75 मामले सामने आ चुके हैं। महाराष्ट्र के बाद गुजरात में ही सबसे ज्यादा मौतें सामने आई हैं। कोरोना से यहां 6 लोगों की मौत हो चुकी है और एक स्वस्थ हो चुका है।

हरियाणा: यहां कोरोना वायरस के 54 केस सामने आए हैं, जिनमें से 18 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। अच्छी बात ये है कि यहां अब तक किसी भी मौत की पुष्टि नहीं हुई है।

हिमाचल प्रदेश: हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के चार मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक की मौत हो चुकी है।

जम्मू और कश्मीर: केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में कोरोना के 52 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 2 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं दो लोग इस बीमारी से उबर चुके हैं।

कर्नाटक: कर्नाटक में कोरोना वायरस के 91 पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं। यहां इस बीमारी से 3 लोगों की मौत भी हो चुकी है और पांच लोग ठीक हो चुके हैं।

लद्दाख: लद्दाख में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 16 हो गई है। इनमें से तीन ठीक हो चुके हैं।

मध्य प्रदेश: यहां कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 50 हो गई है, जिनमें से तीन लोगों की मौत भी हो चुकी है।

मणिपुर: इस राज्य में कोरोना वायरस का अब तक एक ही मामला सामने आया है।

मिजोरम: यहां भी कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या अभी एक ही है।

ओडिशा: ओडिशा में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 3 है।

पुडुचेरी: इस राज्य में कोरोना वायरस का अब तक एक ही केस सामने आया है।

पंजाब: पंजाब में कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 40 हो गई है। इनमें से जहां एक की मौत हो चुकी है, वहीं एक का इलाज कर दिया गया है।

राजस्थान: यहां कोरोना वायरस के अब तक 62 मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि, यहां एक भी मौत का मामला सामने नहीं आया है। मगर राजस्थान सरकार की मानें तो यहां इस वायरस से संक्रमित होने वालों की संख्या 84 हो गई है।

इसे भी पढ़ें-मुख्यमंत्री ने सभी दौरे किये रद्द, आवास पर 11 समितियों के साथ हाई लेवल मीटिंग

तमिलनाडु: इस राज्य में कोरोना वायरस के 74 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। यहां इस महामारी से एक की मौत भी हो चुकी है और चार पूरी तरह से ठीक भी हो चुके हैं।

तेलंगाना: तेलंगाना में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 73 हो चुकी है। इनमें से एक की मौत और एक के ठीक होने का आंकड़ा भी शामिल है।

उत्तराखंड: उत्तराखंड में कोरोना वायरस के अब तक 9 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 2 पूरी तरह से ठीक हैं।

उत्तर प्रदेश: यूपी में कोरोना वायरस के 93 केस आ चुके हैं। हालांकि, इनमें से 11 लोग पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं।

पश्चिम बंगाल: बंगाल में कोरोना वायरस के अब तक 24 संक्रमित मामले सामने आए हैं, जिनमें से दो की मौत हो चुकी है।

दुनिया में कोरोना वायरस के अपडेट:
अगर कोरोना वयारस के वैश्विक असर की बात करें तो दुनियाभर में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 33 हजार पार कर गई है। डब्लूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनियाभर में कोरोना वायरस के अब तक 697,244 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 33,257 लोगों की मौत हो चुकी है। इस घातक महामारी से अब तक 204 देश प्रभावित हो चुके हैं। http://www.satyodaya.com

देश

अमित शाह से मुलाकात के दौरान बोले तेजस्वी सूर्या, आतंकियों का गढ़ बन गया है बेंगलुरू

Published

on

बेंगलुरू। भारतीय जनता पार्टी के सबसे युवा सांसदों में से एक तेजस्वी सूर्या ने रविवार को बड़ा बयान दिया है। दरअसल उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुकालात करने के बाद बेंगलुरू को आतंकियों का गढ़ बताया है। तेजस्वी सूर्या ने दावा किया है कि बेंगलुरू आतंकवादी गतिविधियों का केंद्र बन चुका है। इस मामले को लेकर उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की और राष्ट्रीय जांच एजेंसी का एक स्थायी कार्यालय कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू में भी स्थापित करने की मांग की है।

भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या को भारतीय जनता युवा मोर्चा का अध्यक्ष भी नियुक्त किया जाना है, इससे पहले ही उनका यह बयान आना बड़ी बात है। उन्होंने कहा है कि बेंगलुरू में कई आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ हुआ है। तेजस्वी सूर्या का कहना है, ’गृह मंत्री ने मुझे आश्वस्त किया है कि जल्द से जल्द पुलिस अधीक्षक स्तर के एक अधिकारी की निगरानी में एक स्थायी कार्यालय खोलने के लिए वह अधिकारियों को निर्देश देंगे।’

यह भी पढ़ें : बिहार: पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय जेडीयू में शामिल, सीएम नीतीश ने दिलाई सदस्यता

गौरतलब हो कि तेजस्वी सूर्या बेंगलुरू की दक्षिणी सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। उन्होंने कहा है, ‘पिछले कुछ वर्षों में भारत का सिलिकॉन वैली आतंकी गतिविधियों का केंद्र बन गया है। जांच एजेंसियों द्वारा की गई गिरफ्तारियां और अन्य खुलासों से यह स्पष्ट भी हो गया है।’ इसके अलावा तेजस्वी सूर्या ने यह भी कहा है कि भाजयुमो का अध्यक्ष बनाए जाने के बाद वह सबसे पहले बिहार कादौरा करेंगे और पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं से मिलेंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

बिहार: पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय जेडीयू में शामिल, सीएम नीतीश ने दिलाई सदस्यता

Published

on

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के राज्य में कई बड़ी राजनीतिक हलचलें देखने को मिल रही हैं। दरअसल बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने जनता दल यूनाइटेड की सदस्यता ग्रहण कर ली है। उन्होंने रविवार को बिहार के सीएम नीतीश कुमार के आवास पर ही जेडीयू की सदस्यता ग्रहण की है।

इस मौके पर खुद सीएम नीतीश कुमार ने गुप्तेश्वर पांडेय को पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई है। गौरतलब हो कि बिहार चुनाव से पहले ही गुप्तेश्वर पांडेय ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली थी और इसके बाद से ही कयास लगाए जा रहे थे कि वह जल्द ही जेडीयू में शामिल हो सकते हैं। वहीं अब उन्होंने पार्टी में शामिल होकर सभी कयासों पर लगाम लगा दिए हैं।

भाजपा में भी शामिल होने की थी चर्चा

जेडीयू में शामिल होने से पहले ऐसी बातें भी सामने आ रही थीं कि गुप्तेश्वर पांडेय भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता भी ग्रहण कर सकते हैं। गौरतलब हो कि गुप्तेश्वर पांडेय इससे पहले बीते शनिवार को पटना स्थित जेडीयू कार्यालय पहुंचे थे। जिसके बाद से ही इस बात के कयास तेज हो गए थे कि वह जल्द ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार के साथ दिख सकते हैं। हालांकि उस समय मीडिया के सामने पूर्व डीजीपी ने इस तरह की बातों से इनकार किया था।

यह भी पढ़ें : तेजस्वी यादव के 10 लाख युवाओं को नौकरी वाले बयान पर भाजपा का पलटवार

वहीं अब नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद गुप्तेश्वर पांडेय के लोकसभा उपचुनाव लड़ने की भी चर्चाएं तेज हो गई हैं। हालांकि उन्होंने इस तरह की संभावनाओं से इनकार किया है। पांडे ने कहा था कि चुनाव लड़ने को लेकर उन्होंने फिलहाल कोई रणनीति नहीं बनाई है। जबकि रिटायरमेंट लेने से पहले पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा था कि नीतीश कुमार ने उन्हें स्वतंत्र रूप से काम करने दिया है, इसलिए वह जेडीयू कार्यालय में उनका धन्यवाद देने गए थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

तेजस्वी यादव के 10 लाख युवाओं को नौकरी वाले बयान पर भाजपा का पलटवार

Published

on

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव का समय जैसे-जैसे करीब आ रहा है, वैसे-वैसे राजनीतिक दलों की ओर से किए जाने वाले वादों और बड़ी-बड़ी घोषणाओं की लिस्ट बढ़ती जा रही है। इसी क्रम में अब आरजेडी नेता लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव की ओर से बड़ा बयान दिया गया है। दरअसल तेजस्वी यादव ने कहा है कि अगर आने वाले चुनाव में उनकी पार्टी की जीत होती है और बिहार में उनकी सरकार बनती है, तो पहली ही कैबिनेट बैठक में 10 लाख नौकरियां देने का आदेश जारी किया जाएगा।

वहीं तेजस्वी यादव के इस बयान के सामने आने के बाद बिहार विधानसभा चुनाव की सरगर्मियां और भी तेज हो गई हैं। जबकि भारतीय जनता पार्टी ने तेजस्वी यादव के इस बयान को लेकर उन पर निशाना भी साधा है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा है कि राजद ने 15 साल के शासन में युवाओं को रोजगार देने के लिए क्या किया।

यह भी पढ़ें : प्रयागराज में हुए गैंगरेप के आरोपी का समाजवादी पार्टी ने लगाया पोस्टर, FIR दर्ज

संजय जायसवाल ने यह बात बिहार भाजयुमो की ओर से संकलित पुस्तक ‘युवाओं का विकास, मोदी जी के साथ’ का विमोचन करने के दौरान दिया है। उन्होंने कहा है कि किसानों के लिए राजग सरकार ने जो काम किया है, कुछ अनपढ़ लोग उसे नहीं समझ सकते हैं। इसके साथ ही भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने यह भी कहा कि आरजेडी की सरकार ने बीते 15 सालों में आखिर क्या किया।

तेजस्वी ने दिया था बयान

गौरतलब हो कि इससे पहले तेजस्वी यादव ने कहा था कि अगर चुनाव के बाद बिहार में आरजेडी की सरकार बनी, तो कैबिनेट की पहली ही बैठक में प्रदेश के 10 लाख युवाओं को नौकरी देने के बारे में फैसला लिया जाएगा। आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने कहा है कि उनका यह बयान चुनावी वादा नहीं, बल्कि मजबूत इरादा है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 28, 2020, 6:48 am
Fog
Fog
25°C
real feel: 31°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 94%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:27 am
sunset: 5:26 pm
 

Recent Posts

Trending