Connect with us

देश

रांची: शाम के बाद न निकले घर के बाहर, जानें किन जगहों पर चक्रवात फनी दे सकता है दस्तक…

Published

on

देर शाम चक्रवाती तूफ़ान मचा सकता है तबाही

रांची। बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवाती तूफान ‘फनी’ ने ओडिशा में दस्तक दे दी है।ऐसे में गृह, कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग ने चक्रवाती तूफान फनी को लेकर राज्य के 13 जिलों को विशेष एहतियात बरतने के निर्देश दिये हैं। जिलों के अधिकारियों ने बचाव सम्बन्धी कार्रवाई शुरू कर दी है।शुक्रवार को शाम 5:30 बजे से शनिवार शाम 5:30 बजे तक पूर्वी व पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां, रांची, गिरिडीह, बोकारो, धनबाद, देवघर, जामताड़ा, दुमका, साहेबगंज, पाकुड़ व गोड्डा जिले में 40-60 किमी\प्रति घंटा की रफ़्तार से तीज हवा,बारिश और वज्रपात होने की संभावनाएं हैं।

ऐसे में सभी लोगों को सतर्क व बचाव के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं।फनी को लेकर सभी जिलों के आपात कंट्रोल रूम को एक्टिव रहने को कहा गया है। वहीं प्रशासनिक व अनिवार्य सेवाओं से संबंधित पदाधिकारियों का अवकाश रद्द करते हुए उन्हें इससे निपटने के तरीके ढूंढने के लिए कहा गया है।

यह भी पढ़ें-VIRAL VIDEO: झारखंड की सड़कों में मिला गड्ढा तो उसी में भर दिए जाएंगे इंजीनियर, खूब देखी जा रही है अमित जानी की वीडियो…

अनिवार्य सेवा पुलिस, स्वास्थ्य सरकारी व निजी, विद्युत, पेयजल, यातायात, वन व पर्यावरण, ब्लड बैंक, दवा दुकान, एंबुलेंस आदि को 24 घंटे सक्रिय रहने को कहा गया है। मेला, शादी व अन्य समारोहों के लिए मजबूत पंडाल बनाने को कहा गया है। यथा संभव अवधि में कार्यक्रम स्थगित रखने का प्रयास करने को कहा गया है। सरकारी और गैर-सरकारी सभी स्कूल दो दिनों के लिए बंद किये गए हैं।

अग्निशमन व आपातकालीन सेवा के अधिकारियों, कर्मचारियों को उपलब्ध रहने को कहा गया है। संबंधित उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा गया है। सभी सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों से कहा जा रहा है कि उनके आसपास के कमजोर व सूखे पेड़ों की कटाई करायें। सभी सीओ, बीडीओ, मेडिकल अफसर, सीडीपीओ, बीएसओ को अपने क्षेत्र में सतर्क रहने का निर्देश देने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें-ांची: महिला ने जलपरी जैसे दिखने वाले बच्चे को दिया जन्म, सोशल मीडिया पर खूब VIRAL हो रही है फोटो

इसके साथ ही आम-जनता से शांत रहने की अपील की जा रही है। अपने साथ-साथ अपने आस-पास के लोगों की भी सहयता करे। किसी भी तरह की अफवाह पर विश्वास न करें। किसी भी बात की पुष्टि के लिए आधिकारिक सूचना का इन्तजार करें।http://www.satyodaya.com

देश

दिल्ली हिंसा: केजरीवाल का ऐलान, मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख का मुआवजा

Published

on

नई दिल्ली। दिल्ली में हुई हिंसा के बाद अब हालात में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। हिंसा में कई लोगों की जान चली गई थी। वही एक पेट्रोल पंप और घर को आग के हवाले कर दिया गया था। जिसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि हिंसा में कमी आई है। इस हिंसा में सभी को नुकसान हुआ है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को हिंसा पीड़ितों के लिए मुआवजे का ऐलान किया है। राहत राशि का ऐलान करते हुए दिल्ली सरकार के मुखिया केजरीवाल ने मृतकों के परिजनों को 10 -10 लाख रुपया मुआवजा देने की बात कही है। इसके अलावा उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार के फरिश्ते स्कीम के तहत सभी घायलों को मुफ्त चिकित्सा सुविधा दी जाएगी।

यह भी पढ़ें:- आईआईटी कानपुर व ला ट्रोब यूनिवर्सिटी ने कानपुर में शुरू की रिसर्च एकेडमी

उन्होंने कहा कि मृतकों के साथ गंभीर रूप से घायल लोगों को 2 लाख और जिसका दंगे में घर दुकान जल गई हैं। उन्हें 5 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा साथ की हिंसा में अनाथ होने वाले बच्चों को 3-3 लाख मुआवजा दिया जाएगा। वहीं हिंसा में आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन का नाम सामने आ रहा है। जिस पर केजरीवाल ने कहा कि अगर आप का कोई नेता हिंसा में शामिल होने का दोषी पाया जाता है तो उसे दोगुनी सजा दी जाए। जो भी इस मामले में दोषी पाया जाए उसे कड़ी से कड़ी सजा मिले। राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

दिल्ली हिंसा पर चिंतित मुस्लिम धर्मगुरू खालिद रशीद ने की न्यायिक जांच की मांग

Published

on

लखनऊ। दिल्ली में दंगो के बाद जो स्थितियां बनी हैं और जिस तरह पिछले कई दिनो से वहां हालात खराब हुए हैं। उस पर धर्मगुरू चिंतित हैं। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य और मुस्लिम धर्म गुरू मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने दिल्ली के हालातों पर चिंता जाहिर की है।

खालिद रशीद ने कहा कि कि हम लोग दिल्ली के हालातों से परेशान हैं। वहां जल्द से जल्द अमन बहाल हो और सरकार से ये मांग करते हैं कि इस पूरे मामले की न्यायिक जांच हो। जो भी कसूरवार हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिये। लोगों से भी इस बात की अपील है कि किसी के बहकावे मे न आए। अपने पड़ोसियों पर भरोसा रखे। लोग एक दूसरे के साथ रहे। मिलजुल कर एक दूसरे की मदद करें। जिनके घरों में नुकसान हुआ है उसकी मदद करें।

यह भी पढ़ें: मॉर्निंग और इवनिंग वॉक पर लोगो से नमस्ते कर उनका हालचाल लेगी लखनऊ पुलिस

खालिद रशीद ने कहा कि राजनेताओं के जहरिले बयानों पर कतई ध्यान न दे औऱ सरकार ऐसे नेताओं पर सख्त कार्रवाई करें। सरकार माहौल को खुशगवार बनाने में सहयोग करे। खालिद ऱशीद ने कहा ऐसे हालातों में हम सब को एक दूसरे की मदद करनी चाहिये। ये देश गंगा-जमुनी तहजीब के केंद्र रहा है, इसको हमेशा बनाए रखिये। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि हालात जल्द सामान्य हो जाएंगे।

आपको बता दें दिल्ली में जिस तरह से सीएए के खिलाफ और समर्थन कर रहे लोगों के एक दूसरे के सामने आ जाने के बाद से वहां हालात तनाव पूर्ण हो गए थे। दंगे में अबतक 34 लोगों की जान जा चुकी है। दिल्ली के कई इलाकों में तनाव अभी भी कायम है। कई इलाकों में कर्फ्यू जैसे हालात है गृहमंत्री खुद मामले में नजर बनाए हुए है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

जानिए कौन हैं ताहिर हुसैन, जिन पर IB कर्मचारी अंकित शर्मा को मारने का लगा आरोप

Published

on

अंकित शर्मा

फाइल फोटो

नई दिल्ली। दिल्ली के दंगों में अपनी जान गंवाने वालों में इंटीलेंज ब्यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा भी शामिल थे। अंकित शर्मा के परिवारवालों ने अपने बेटे की मौत के लिए आम आदमी पार्टी (आप) के पार्षद हाजी ताहिर हुसैन पर आरोप लगाया है। वह फिलहाल पुलिस से बच रहे हैं।

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। ये वीडियो नॉर्थ ईस्ट दिल्ली की हिंसा का चांदबाग इलाके का है। वीडियो में कुछ उपद्रवी एक मकान की छत से पत्थर और पेट्रोल बम नीचे फेंक रहे हैं। बताया जाता है कि जिस मकान की छत से हमला हो रहा है। वह  मकान मुस्तफाबाद विधानसभा में नेहरू विहार वार्ड से आप के पार्षद हाजी ताहिर हुसैन का है।

वहीं इस आरोप पर ताहिर हुसैन ने जवाब देते हुए कहा कि यह मकान उन्हीं का है, लेकिन जिस वक्त ये हमला हुआ वो घर पर नहीं थे, वहां से जा चुके थे। ताहिर हुसैन का कहना है कि अंकित की मौत से दुखी हूं। अंकित के परिवार के साथ हूं। दंगाई किसी के नहीं होते। मुझे नहीं पता मेरे घर की छत से कौन पेट्रोल बम और पत्थर फेंक रहा था।

ताहिर हुसैन की छत से दंगाईयों ने किया हमला

आरोप है कि ताहिर हुसैन ने वीडियो जारी कर अफवाह फैलाई थी कि उनके घर पर अटैक हुआ है, जबकि वीडियो के मुताबिक हमला उनकी छत से ही हो रहा है। अब इस वीडियो के तार इसी इलाके में रहने वाले आईबी के कर्मचारी अंकित शर्मा की मौत से जुड़ रहे हैं।

ये भी पढ़ें:29 फरवरी को ‘लोकतंत्र बचाओ’ सम्मेलन में बड़ी संख्या में अधिवक्ता लेंगे हिस्सा…

बता दें अंकित शर्मा के परिवार ने ताहिर हुसैन को मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया है। परिवार के मुताबिक, अचानक बाहर से पड़ोस में रहने वाले एक परिवार की मदद के लिए गुहार सुनाई दी। गुहार सुनकर अंकित जब मदद के लिए बाहर आ गए। हालांकि अंकित की मां ने उन्हें रोका भी, लेकिन उन्होंने मां की नहीं सुनी। अंकित उस वक्त जो घर से निकला, फिर वापस नहीं लौटा, लौटी तो अंकित की लाश, वह भी पास के नाले से बरामद हुई।

वायरल वीडियो के जांच की उठी मांग

वहीं आस-पड़ोस में रहने वाले लोग भी ताहिर हुसैन पर ही हिंसा फैलाने का आरोप लगा रहे हैं। जबकि ताहिर हुसैन से अंकित शर्मा को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने सभी आरोपों से साफ़ इनकार कर दिया। वायरल वीडियो की सच्चाई क्या है, ये तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 27, 2020, 9:35 pm
Fog
Fog
20°C
real feel: 19°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 77%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:03 am
sunset: 5:36 pm
 

Recent Posts

Trending