Connect with us

देश

दिग्विजय सिंह ने बिजली अधिकारियों को धमकाया, कहा- बिना कारण काटी बिजली तो जेल भेज दूंगा…

Published

on

फाइल फोटो

भोपालः लोकसभा चुनाव 2019 में भोपाल से चुनाव लड़ रहे कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। बिजली विभाग के अधिकारियों को धमकाते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि बिना कारण के बिजली काटी गई तो उन्हें जेल भेज दिया जाएगा।

दोराहा में कांग्रेस की एक जनसभा को संबोधित करते हुए दिग्विजय सिंह ने बिजली विभाग के कर्मचारियों को धमकाने के अंदाज में कहा, ”बिना कारण के बिजली काटी तो उन्हें जेल में भेजा जाएगा.” उन्होंने कहा कि हमने जो बिजली के कारखाने लगाए उससे राज्य में बिजली की कोई कमी नहीं है।

दिग्विजय सिंह ने बिजली कटने को लेकर बीजेपी पर भी  निशाना साधा, उन्होंने कहा कि बीजेपी के कुछ लोग विधुत मंडल में हैं वह खुद ही बिजली बंद कर देते हैं और कहते हैं कांग्रेस आई बिजली गई। बिजली की कमी नही है, ये बीजेपी के लोग अंदर से गड़बड़ी कर रहे हैं। दिग्विजय ने अपने रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहन को भी निशाने पर लिया। शिवराज सरकार की नाकामियों को गिनाते हुए जमकर हमला बोला।

यह भी पढ़े: कच्ची शराब पीने से 2 युवकों की मौत, एक की हालत गंभीर..

आपको बता दें कि भोपाल लोकसभा सीट से दिग्विजय सिंह कांग्रेस के टिकट पर चुनावी मैदान में हैं। वहीं उनके खिलाफ बीजेपी के टिकट पर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर मैदान में हैं। राज्य में चार चरणों में मतदान होंगे। मध्य प्रदेश में पहले चरण का मतदान 29 अप्रैल को है जबकि अंतिम चरण का मतदान 19 मई को है। वोटों की गिनती 23 मई को होगी।http://www.satyodaya.com

देश

सरकार बनाने को लेकर शिवसेना, एनसीपी-कांग्रेस में बनी सहमति

Published

on

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर चल रही उठापटक के बाद एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना के गठन का रास्ता साफ हो गया है। गुरुवार को एनसीपी और कांग्रेस की दिल्ली में बैठक के बाद शुक्रवार को मुंबई में एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना ने एक साथ बैठक चली। जहां सरकार बनाने पर लगभग सहमति बन गयी है। बैठक के बाद उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा एनसीपी-कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने की नौबत बीजेपी की वजह से आई। राज्य में दोबारा चुनाव न कराने पड़ें, इसलिए हमने गठबंधन किया है और साथ मिलकर सरकार बनाने का फैसला लिया है।

महाराष्ट्र में शिवसेना के उद्धव ठाकरे का मुख्यमंत्री बनना तय हो गया है। एनसीपी के प्रमुख शरद पवार ने कहा कि ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाया जाएंगा। लेकिन आज तीनों दलो ने अभी यह तय नही किया है कि सरकार कब बनेंगी। सूत्रों के मुताबिक अभी कुछ बिंदुओ पर सहमत नही बनी है। बैठक खत्म होने के बाद कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि बातचीत अभी चल रही है। कल फिर मंत्रिमंडल को लेकर बात होगी।

यह भी पढ़ें:- झारखंड विस चुनावः सरयू राय के समर्थन में आए सुब्रमण्यन स्वामी, कही ये बात…

बैठक के बाद शरद पवार ने कहा ये साफ है कि तीनों दलों ने उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाए जाने पर सहमति दे दी है। उन्होंने कहा कि शनिवार को तीनों पार्टियों की साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस है। पार्टियों के बीच चर्चा अभी चल रही है। शनिवार हम फैसला करेंगे कि राज्यपाल से कब मिलना है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

कोलकाता के काॅलेज में संस्कृत के मुस्लिम शिक्षक का जोरदार स्वागत

Published

on

लखनऊ। बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में संस्कृत के मुस्लिम प्रोफेसर की नियुक्ति पर मचे हंगामे के बीच कोलकाता के एक कॉलेज ने संस्कृत विभाग में एक मुस्लिम व्यक्ति को सहायक प्राध्यापक के रूप में नियुक्त किया गया है। रमजान अली नाम के व्यक्ति की नियुक्ति बेलूर के रामकृष्ण मिशन विद्यामंदिर में की गई है। उनके पास उत्तर बंगाल के एक कॉलेज में नौ वर्ष अध्यापन करने का अनुभव है। अली ने कहा कि छात्रों और संकाय सदस्यों की ओर से किए गए गर्मजोशी भरे स्वागत से वह अभिभूत हैं।

यह भी पढ़ें-बेअंदाज नौकरशाही! अमेठी के बाद अब देवरिया डीएम का दबंग अंदाज, वीडियो वायरल

अली ने मंगलवार से बेलूर कॉलेज में पढ़ाना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि प्राचार्य स्वामी शास्त्राज्ञानदाजी महाराज तथा अन्य सभी ने मेरा स्वागत किया। महाराज ने कहा कि मेरी धार्मिक पहचान का कोई मतलब नहीं है। कुछ मायने रखता है तो वह है भाषा पर मेरी पकड़, उसे लेकर मेरा ज्ञान और इस ज्ञान को छात्रों के साथ साझा करने की मेरी क्षमता। बीएचयू में चल रहे विवाद के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, मैं मानता हूं कि संस्कृत भारत की समावेशी प्रवृत्ति, समृद्ध परंपरा को परिलक्षित करती है। यह मत भूलिए कि संस्कृत सभी भाषाओं की जननी है। कोई भी व्यक्ति दूसरे धर्म के लोगों को संस्कृत के पठन-पाठन से कैसे रोक सकता है? http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

अगर नहीं देना चाहते दोगुना Toll Tax तो 1 दिसंबर से पहले करें ये काम, जानिए क्या…

Published

on

गुलाबी मौसम

फाइल फोटो

नई दिल्ली। अक्सर लोग इस गुलाबी मौसम में बाहर जाने का प्लान करते हैं। ऐसे में अगर आप भी क्रिसमस और न्यू इयर के मौके और कहीं बाहर जाने का प्लान बना रहे हैं तो जाने से पहले अपनी गाड़ी में ये काम जरुर करें।

चलिए आज हम आपको एक ऐसी महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं। जो आपके के लिए बेहद जरुरी है। अगर आप 1 दिसंबर के बाद आपको हाईवे  पर चलते समय थोड़ा सजग रहने की जरूरत है। क्योंकि यदि कोई वाहन बिना फास्टैग के टोल प्लाजा  की फास्टैग लेन  से गुजरता है, तो उस वाहन चालक को दोगुना टोल भुगतान करना पड़ेगा।

अगर नहीं किया ये काम तो 1 दिसंबर के बाद चुकाना होगा डबल टोल

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को ये बड़ा ऐलान किया है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की प्रमुख पहल नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन (NETC) के तहत 1 दिसंबर से टोल भुगतान गेट से केवल फास्टैग के जरिए ही भुगतान किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:जन्मदिन पर मुलायम सिंह यादव ने काटा 81 किलो का लड्डू केक, कही ये बात….

इतना ही नहीं गडकरी ने ये भी कहा कि जिन वाहनों में फास्टैग नहीं लगा होगा, उन्हें फास्टैग वाहनों के लिए बनी लेन से निकलने पर दोगुनी राशि का भुगतान करना पड़ेगा। हालांकि, टोल प्लाजा पर एक लेन ऐसी भी होगी, जहां बिना-टैग वाले वाहनों से सामान्य टोल ही वसूला जाएगा। गडकरी ने कहा कि देशभर के राष्ट्रीय राजमार्गों पर 537 टोल प्लाजा पर बिना फास्टैग के वाहनों के फास्टैग वाली लेन से गुजरने पर 1 दिसंबर से दोगुना शुल्क देना पड़ेगा।

जानिए क्या है फास्टैग

फास्टैग वाहनों पर एक इलेक्ट्रॉनिक तरह से पढ़ा जाने वाला टैग लगा दिया जाता है। इसके बाद वाहन जब किसी टोल प्लाजा से गुजरता है, तो वहां लगी मशीन उस टैग के जरिए इलेक्ट्रॉनिक तरीके से शुल्क का भुगतान कर लेती है। इससे वाहनों को चुंगी शुल्क गेट पर रुक कर भुगतान नहीं करना होता। गडकरी ने कहा कि फास्टैग को फेमस बनाने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) 1 दिसंबर तक इसे निशुल्क वितरित कर रहा है।

हालांकि, फास्टैग को वाहन चालक को अपनी जरूरत के मुताबिक, चार्ज कराना होगा, ताकि टोल प्लाजा से गुजरते समय टोल राशि का भुगतान आसानी से किया जा सके। हालांकि 1 दिसंबर के जानकारी के मुताबिक अगर आप फास्टैग के बारे में जानना चाहते है तो (Fastag Toll Free Number) की जानकारी टोल फ्री नंबर 1033 से ली जा सकती है। उन्होंने कहा कि दिल्ली एनसीआर के 50 पेट्रोल पंप पर भी फास्टैग उपलब्ध है। वहीं फास्टैग को जीएसटी से जोड़ने की भी योजना बनाई जा रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 22, 2019, 9:16 pm
Partly cloudy
Partly cloudy
20°C
real feel: 20°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 79%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:01 am
sunset: 4:44 pm
 

Recent Posts

Trending