Connect with us

देश

हर 400 साल में दुनिया में एक नई महामारी,कोरोना बना खौफ की वजह

Published

on

दुनिया में कोरोना से खौफ पसरा हुआ है। भारत में इस डर के साथ भारत में होली खेली गई। इस त्योहार में जहां रंगों के सात रंग देखने को मिले। वहीं कोराना का काला साया भी विश्व भर में छाया रहा। पर हर 100 साल पर पूरी दुनिया में एक बड़ी महामारी का हमला होता है । जैसे अभी कोरोना वायरस फैला हुआ है ।

महामारी फैलती चली जा रही है। आपको बता दें कि ऐसा पिछले 400 सालों से होता आ रहा है। आइए जानते हैं कि इन 400 सालों में किस-किस महामारियों ने कितने लोगों को मारा है। 1970 के 14वीं शताब्दी में प्लेग (Plague) संसार की सबसे पुरानी महामारियों में से एक थी। इसे ताऊन, ब्लैक डेथ, पेस्ट आदि नाम भी दिए गए। मुख्य रूप से चूहे से फैला था।

सन् 1500 से 1720 तक जापान, भारत, तुर्की होते हुए सन् 1896 में यह रोग रूस जा पहुँचा 1898 में अरब, फारस, ऑस्ट्रिया, अफ्रीका, दक्षिणी अमरीका और ऑस्ट्रेलिया में इसने तांडव किया। जिससे विश्व भर में 68,596 लोग प्लेग का शिकार हो गए साल के अंन्त तक इसका आंकड़ा बढकर 87,500 प्राणों की बलि लेकर यह शांत हुआ। फिर दौर आई 15वीं शताब्दी”काली मौत” के नए दौर आरंभ हुए। 100 साल बाद 1820 में एशियाई देशों में कॉलेरा ने महामारी का रूप लिया।

इस महामारी ने जापान, फारस की खाड़ी के देश, भारत, बैंकॉक, मनीला, जावा, ओमान, चीन, मॉरिशस, सीरिया आदि देशों को अपनी जकड़ में लिया। कॉलेरा की वजह से सिर्फ जावा में 1 लाख लोगों की मौत हुई थी। सबसे ज्यादा मौतें थाईलैंड, इंडोनेशिया और फिलीपींस में हुई थी। इसके 100 साल बाद 1920 में स्पेनिश फ्लू फैला। वैसे ये फैला तो 1918 से ही था, लेकिन इसका सबसे ज्यादा असर 1920 में देखने को मिला। कहा जाता है, कि इस फ्लू की वजह से पूरी दुनिया में 1.71 करोड़ से 5 करोड़ के बीच लोग मारे गए थे।

यह भी पढ़ें- लखनऊ विश्वविद्यालय में फर्जीवाड़े का मुकदमा हुआ दर्ज, कुलसचिव समेत 5 नामजद

2020 में चीन से शुरुआत हुई कोरोनावायरस की। अब इस बीमारी ने दुनिया भर के 95 से ज्यादा देशों के 109,271 लोगों को संक्रमित कि है। कोरोनावायरस की वजह से अब तक 3816 लोग मारे गए हैं। वैज्ञानिकों ने यहां तक दावा किया है। कि यह वायरस इस साल के अंत तक खत्म नहीं होगा। दुनिया में कोरोना वायरस की वजह से अगर कोई देश सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं तो वो हैं चीन और इटली, चीन में इस समय 80,735 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। 3120 लोगों की मौत हो चुकी है।

वहीं, इटली में 7375 लोग संक्रमित हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण पर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चिंता व्यक्त की है। वैश्विक कोरोना वायरस संकट अब एक महामारी है। डेली मेल में प्रकाशित खबर के अनुसार अगर इंसानों पर कोरोना के वैक्सीन का परीक्षण सफल होता है। तो उस टीके से दुनिया भर के कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का इलाज किया जाएगा।

http://www.satyodaya.com

देश

इंद्रप्रस्थ मिलेनियम पार्क को कब्रिस्तान बताकर अवैध कब्जे का हो रहा प्रयास: विहिप

Published

on

वख्फ बोर्ड के षड्यंतत्रों का भंडाफोड़ कर विहिप ने भेजी उपराज्यपाल को चिट्ठी

नई दिल्ली। विश्व हिन्दू परिषद ने दिल्ली की आम आदमी सरकार व दिल्ली विकास प्राधिकरण पर एक पार्क को कोरोना संकट में झोंकने के प्रयास का आरोप लगाया है। परिषद का आरोप है कि लॉक डाउन की आड़ में दिल्ली के इंद्रप्रस्थ मिलेनियम पार्क पर न सिर्फ डीडीए ने अनाधिकृत कब्जे का प्रयास किया और कोविड-19 संक्रमित शवों को यहां लाकर दफनाने की कोशिश की है। आरोप है कि विश्व हिंदू परिषद तथा स्थानीय गांव नंगली रजापुर के नागरिकों की सजगता से यह सुंदर उपवन कोरोना संक्रमणों की मार से बाल बाल बच गया। इंद्रप्रस्थ विहिप के अध्यक्ष कपिल खन्ना ने इस संबंध में दिल्ली के उपराज्यपाल व क्षेत्रीय सांसद गौतम गम्भीर को पत्र भेजकर शिकायत की है।

विहिप नेता ने पत्र में कहा है कि दिल्ली वख्फ बोर्ड लॉकडाउन की आड़ में बार-बार दिल्ली के इस प्रतिष्ठित इंद्रप्रस्थ मिलेनियम पार्क पर अवैध कब्जा करने के नए नए हथकंडे अपना रहा है। कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों के शवों को जलाने के स्थान पर उन्हें दफनाने के लिए इस पार्क को कब्रिस्तान बता दिया गया। पार्क में आने वाले हजारों स्थानीय नागरिकों व सैलानियों के लिए संकट पैदा करने की कोशिशें की जा रही हैं। गत एक महीने में कई बार पार्क में घुसने के प्रयास किए गए, लेकिन स्थानीय निवासियों व विहिप कार्यकर्ताओं व चैकीदारों की चैकसी ने से वह नाकाम रहे।

किसी भी कोशिश या षड्यंत्र का मुंहतोड़ जबाब दिया जाएगा

विश्व हिंदू परिषद ने मांग की है कि पार्क में अनाधिकृत कब्जा करने वालों तथा उनका साथ देने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई हो। पार्क के गेट पर जड़े कब्रिस्तान के बोर्ड को अबिलम्ब हटाया जाए। विहिप के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने यह भी कहा है कि इस प्रतिष्ठित और सुंदर उपवन को कब्रिस्तान बनाने की किसी भी कोशिश या षड्यंत्र का मुंहतोड़ जबाब दिया जाएगा। बता दें कि दिल्ली वख्फ बोर्ड ने 9 अप्रेल को एक पत्र दिल्ली सरकार को लिखकर इस पार्क को कब्रिस्तान बता वहां पर दिल्ली भर के कोविड संक्रमित शवों को दफनाने की मांग की थी।

यह भी पढ़ें-सोने व चांदी की कीमतों में आई मामूली नरमी, जानिए आज की कीमत…

सरकार ने अभी तक इस पर कोई अधिकृत निर्णय नहीं लिया है। लेकिन कुछ लोग लगातार इस उद्यान को कब्रिस्तान बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं। स्थानीय नंगली रजापुर गांव की आरडब्ल्यूए ने भी गत माह एक पत्र दिल्ली के उपराज्यपाल, मुख्यमंत्री, डीडीए, पुलिस आयुक्त तथा अन्य सम्बंधित अधिकारियों को मेल किया था जिसका एक रिमाइंडर भी 18 मई को पुनः भेजा गया। लेकिन किसी का आज तक जबाव नहीं मिला। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

खुशखबरी! एक जून से चलने वाली ट्रेनों की आज से कीजिये बुकिंग, देखें पूरी लिस्ट

Published

on

लखनऊ: इंडियन रेलवे 1 जून से चलने वाली 200 यात्री पैसेंजर्स ट्रेनों की बुकिंग गुरुवार आज से शुरू करने जा रहा है। ये सभी  ट्रेनें टाइम टेबल के हिसाब से अलग-अलग शहरों में पटरियों पर दौड़ती नजर आएंगी। इससे अलग-अलग राज्यों में फंसे लोगों को अपने गृह स्थान तक पहुंचने में मदद मिलेगी और यात्रियों को फायदा होगा। ट्रेनों की बुकिंग 21 मई यानी आज सुबह 10 बजे शुरू होगी. इसके अलावा ये ट्रेनें वर्तमान में चल रही श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से अलग होंगी।


​​​आपको बता दें 1 जून से चलने वाली इन ट्रेनों में सभी प्रकार के कोच होंगे, जिसमें ​1st ac, ​​2nd​ ​ac,​ 3rd ac   और स्लिपर कोच के साथ जनरल बोगी भी होगी। जनरल बोगी में यात्रा करने के लिए भी कन्फर्म टिकट लेना होगा। ट्रेन की कोई भी बोगी अनारक्षित नहीं होगी, सभी के लिए सीट के बराबर ही टिकट की बुकिंग होगी ताकि यात्रियों में दूरी बनी रहे।

​देखें ट्रेनों की पूरी लिस्ट ​

पहली लिस्टइंडियन रेलवे की तरफ से चलाई जाने वाली ​(ये 100 ट्रेनें अप एंड डाउन मिलाकर 200 हो जाएंगी) देशभर के अलग-अलग हिस्सों में पहुंचेंगी।

दूसरी लिस्ट

रेल मंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा, ‘रेलवे द्वारा 1 जून से 200 नॉन एसी ट्रेनों की शुरुआत की जाएगी, जो समय सारणी के अनुसार चलेंगी। यात्री इन ट्रेनों के लिये केवल ऑनलाइन टिकट बुक कर सकेंगे। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

राशिफल: सिंह राशि वालों को होगा धन लाभ, मीन राशि के लोगों के बढ़ेंगे खर्च

Published

on

राशि फलादेश मेष :-
(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)

राजकीय बाधा दूर होगी। आय में वृद्धि होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। व्यवसाय ठीक चलेगा। स्वयं व परिवार की स्वास्थ्य पर व्यय हो सकता है। देवदर्शन सुलभ होंगे। सत्संग का लाभ मिलेगा।

🐂 राशि फलादेश वृष :-
(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)
कारोबारी नए अनुबंध हो सकते हैं। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। ऐश्वर्य पर खर्च होगा। वरिष्ठजन सहयोग करेंगे। मान-सम्मान में बढ़ोतरी होगी। कार्यस्थल पर समयानुकूल परिवर्तन संभव है। तत्काल लाभ नहीं मिलेगा। योजना फलीभूत होगी।

👫🏻 राशि फलादेश मिथुन :-
(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)

बाहरी मतभेद समाप्त होंगे। कोई बड़ी समस्या से सामना हो सकता है। समय अनुकूल है। ठीक होगा। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। व्यावसायिक यात्रा मनोनुकूल रहेगी। आय के नए स्रोत प्राप्त हो सकते हैं। घर-परिवार में सुख-शांति बनी रहेगी।

यह भी पढ़ें: गर्मियों में ज्यादा ठंडा पानी पीना हो सकता हैं खतरनाक, हो सकती हैं ये समस्या

🦀 राशि फलादेश कर्क :-
(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)

दूसरों से अपेक्षा न करें। तनाव व चिंता रहेंगे। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। कुसंगति से हानि होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। आय में कमी रहेगी। आंखों को चोट व रोग से बचाएं। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। फिजूलखर्ची से बजट बिगड़ेगा।

🦁 राशि फलादेश सिंह :-
(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)
पारिवारिक सहयोग मिलेगा। प्रसन्नता रहेगी। अज्ञात भय सताएगा। शारीरिक कष्ट संभव है। दूसरों की बातों में न आएं, हानि हो सकती है। नवीन वस्त्राभूषण पर व्यय हो सकता है। बेरोजगारी की समस्या से छुटकारा मिलेगा। यात्रा लाभदायक रहेगी।

🙎🏻‍♀️ राशि फलादेश कन्या :-
(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)

पुराने भूले-बिसरे मित्र व संबंधियों से मुलाकात होगी। मान बढ़ेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। निवेश शुभ रहेगा। धनार्जन होगा। वाणी पर नियंत्रण रखें। राजकीय कोप भुगतना पड़ सकता है। जोखिम उठाने व जल्दबाजी करने से बचें। जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होगा।

⚖ राशि फलादेश तुला :-
(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
मातहतों का सहयोग प्राप्त होगा। नौकरी में प्रमोशन मिल सकता है। परिवार के सदस्य सहयोग प्रदान करेंगे। अज्ञात भय सताएगा। मेहनत का फल पूरा-पूरा मिलगा। रुके कार्य पूर्ण होंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में इजाफा होगा। आलस्य हावी रहेगा। लाभ में वृद्धि होगी।

🦂 राशि फलादेश वृश्चिक :-
(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)

स्वास्थ्य का ध्यान रखें। अपनों में से किसी का व्यवहार दिल पर चोट पहुंचा सकता है। व्यवसाय ठीक चलेगा। उच्चाधिकारी की प्रसन्नता का ख्याल रखें। अनावश्यक क्रोध न करें, बात बिगड़ सकती है। शोक समाचार मिल सकता है। भागदौड़ अधिक होगी।

🏹 राशि फलादेश धनु :-
(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)
ऐश्वर्य के साधनों पर खर्च होगा। मातहतों का सहयोग प्राप्त होगा। प्रसन्नता बनी रहेगी। वस्तुएं संभालकर रखें। रीक्षा व साक्षात्कार आदि में सफलता प्राप्त होगी। रचनात्मक कार्य पूर्ण होंगे। पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। पीठ पीछे चु्गलखोर सक्रिय रहेंगे।

🐊 राशि फलादेश मकर :-
(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
कार्य का बोझ स्वास्‍थ्य को प्रभावित कर सकता है। थकान रहेगी। वरिष्ठजन सहयोग करेंगे। घर-बाहर प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। प्रॉपर्टी के कार्यों के लिए समय अनुकूल है। रोजगार मिलेगा। आय में वृद्धि होगी।

🏺 राशि फलादेश कुंभ :-
(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
कार्य पर अधिक ध्यान देना पड़ेगा। राजकीय रुकावटें दूर होंगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। घर-परिवार के किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देना पड़ सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। रोमांस का अवसर नहीं मिलेगा।

🐋 राशि फलादेश मीन :-
(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)

घर-बाहर अशांति रह सकती है। दुष्टजन हानि पहुंचा सकते हैं। भाइयों से मतभेद बढ़ सकते हैं। नौकरी में कार्य का बोझ बढ़ सकता है। विवाद से बचें। स्वाभिमान को ठेस पहुंच सकती है। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में विशेष सावधानी रखें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 22, 2020, 1:19 am
Mostly clear
Mostly clear
27°C
real feel: 27°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 43%
wind speed: 0 m/s NW
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:46 am
sunset: 6:21 pm
 

Recent Posts

Trending