Connect with us

देश

उत्तरप्रदेश: फर्जी डिग्री के सहारे नौकरी कर रहे 60 शिक्षक निलंबित

Published

on

माता-पिता के बाद बच्चा जिनका सबसे ज्यादा सम्मान करता है वो शिक्षक, आज किस दिशा में जा रहे हैं! आने वाले आंकड़े कभी-कभी इस शिक्षा व्यवस्था से ही विश्वास उठा देते हैं। उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में BEd की फर्जी डिग्री के सहारे सरकारी टीचर की नौकरी पाने वाले 60 शिक्षकों को निलंबित कर दिया गया है। इस घटना से शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है।

बेसिक शिक्षा विभाग के सूत्रों के अनुसार डॉ. बीआर आंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा में SIT की जांच के दौरान करीब 4700 ऐसे BEd डिग्रीधारक मिले थे, जिनकी डिग्री या तो फर्जी थी या फिर उसमें हेराफेरी की गई थी। अधिकारियों ने इन सभी फर्जी डिग्रीधारकों की सूची को सीडी में सेव करके दो बार विभागीय माध्यम से जनपद स्तर पर पहुंचाया था.

बेसिक शिक्षा अधिकारी चन्द्रशेखर को जनपद में बीएड डिग्रीधारक शिक्षकों का चयन करने के आदेश दिए गए थे। कई बार निदेशक (बेसिक शिक्षा) ने ऐसे शिक्षकों को चिह्नित करते हुए उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने और सेवाएं समाप्त करने के आदेश दिए थे। इस लंबी मशक्कत के बाद आखिरकार मथुरा जनपद में चिन्हित किए गए 60 शिक्षकों को अब निलंबित कर दिया गया है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

इंदौर: पान मसाला के अवैध कारोबार से पाकिस्तानी परिवार बन गया करोड़पति

Published

on

लखनऊ। लाॅकडाउन के बीच मध्य प्रदेश के इंदौर में पान मसाला के अवैध कारोबार का भंडाफोड. हुआ है। जांच में खुलासा हुआ है कि गिरफ्तार कारोबारी पाकिस्तान का रहने वाला है। जो यहां अवैध रूप से रहकर अवैध कारोबार का मकड़जाल फैलाए हुए थे। जांच एजेंसियों ने उसके पास से सवा करोड़ का अवैध पान मसाला और 67 लाख रुपए नगद बरामद किए हैं। गिरफ्तार कारोबारी का नाम गुरुनोमल माटा है।

जानकारी के मुताबिक डायरेक्टोरेट ऑफ रेवेन्यु (DRI) को काफी दिनों से इंदौर में अवैध मसाला कारोबार की सूचना मिल रही थी। 30 मई को जांच जीएसटी विभाग व राजस्व खुफिया विभाग (डीआरआई) ने कई स्थानों पर छापेमारी कर करोड़ों रुपए का माल बरामद किया था। छापेमारी की भनक लगते ही गुरुनोमल माटा अंडरग्राउंड हो गया था। लेकिन बुधवार को पुलिस व जांच एजेंसियों ने उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे 17 जून तक के लिए जेल भेज दिया गया है। इस अवैध कारोबार में गुरुनोमल माटा के दो भाई संजय माटा व संदीप माटा भी शामिल हैं। अभी एक भाई फरार है।

यह भी पढ़ें-लखनऊ: अब पटरी के दोनों तरफ एक साथ खुल सकेंगी दुकानें, डीएम ने दिए निर्देश

जांच में सामने आया है कि लाॅकडाउन के बीच माटा परिवार ने जमकर मुनाफाखोरी की। यह सभी ब्रांड के गुटखे बेच रहे थे। अधिक पैसा कमाने के लिए ये इंदौर से ही महाराष्ट्र सहित अन्य राज्यों में भी माल सप्लाई कर रहे थे। जांच एजेंसियों ने पता चला है कि संजय माटा व संदीप माटा ने कई ब्रांड के पान मसाल का 30 करोड़ रुपए से अधिक का माल बिना बिल और टैक्स के ही बेच दिया। अभी तक 8 करोड़ की टैक्स चोरी की बात सामने आई है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

मुंबईः हाई सिक्यॉरिटी आर्थर रोड जेल के बैरक नंबर 12 में रखा जाएगा विजय माल्या

Published

on

नई दिल्ली। बैंकों से धोखधड़ी कर देश छोड़कर भागे शराब कारोबारी विजय माल्या को गुरूवार रात भारत लाया जा सकता है। जिसके बाद उसे मुंबई के हाई सिक्यॉरिटी आर्थर रोड जेल के बैरक नंबर 12 में रखा जाएगा। जिसको लेकर हलचल तेज हो गई है। उसके खिलाफ मुंबई में मुकदमे दर्ज है और यही पर उससे पूछताछ भी की जाएगी। जानकारी के अनुसार माल्या को आर्थर रोड जेल के बैरक नंबर 12 में रखे जाने की तैयारी है। माल्या को दो मंजिला ऑर्थर रोड जेल परिसर के अंदर बेहद सुरक्षित इस बैरक में रखा जाएगा। इसको लेकर जेल प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। सुरक्षा व्यवस्था और तगड़ी कर दी गई है।

सूत्रों के मुताबिक विजय माल्या का विमान मुंबई में लैंड करेगा तो सबसे पहले डॉक्टरों की एक टीम उसका मेडिकल चेकअप करेगी। इस दौरान माल्या के साथ सीबीआई और ईडी के कुछ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। वहीं जेल में रहने के लिए बैरक नंबर 12 में विजय माल्या के लिए गद्दा, तकिया, चादर और कंबल का इंतजाम रहेगा। एक मेटल फ्रेम का या लकड़ी का बेड मेडिकल आधार पर दिया जा सकता है। रोशनी हवा और सामान रखने के लिए जगह का इतंजाम होगा। टॉइलट, कपड़े धोने, पीने का साफ पानी और मेडिकल सुविधा भी मिलेगी।

यह भी पढ़ें:- राजस्थान: बिजली बिलों के खिलाफ एबीवीपी का विरोध, थाली में लेकर पहुंचे खून

बता दें कि 2018 के अगस्त में माल्या की याचिका पर सुनवाई के दौरान यूके की कोर्ट ने भारतीय जांच एजेंसियों से उस जेल के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी मांगी थी। जहां प्रत्यर्पण के बाद माल्या को रखा जाएगा। तब कोर्ट मुंबई स्थित ऑर्थर रोड जेल की एक सेल का वीडियो सौंपा गया था। एजेंसियों ने यूके कोर्ट को आश्वस्त किया था कि माल्या की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। लेकिन माल्या ने इसका विरोध करते हुए आशंका जताई थी कि मुंबई जेल में उसके मानवाधिकारों का उल्लंघन हो सकता है। ऑर्थर रोड जेल में पहले भी कई बड़े कैदियों को रखा जा चुका है। जिसमें छोटा राजन, अबू सलेम और मुस्तफा दोसा भी यहीं बंद हैं। वहीं आतंकी अजमल कसाब को भी यही रखा गया था। शीना बोरा मर्डर केस का आरोपी पीटर मुखर्जी व पंजाब नैशनल बैंक को 13,500 करोड़ रुपये का चूना लगाने वाला विपुल अंबानी भी इस जेल की हवा खा चुका है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

मरकज में शामिल होने वाले विदेशी नागरिक ब्लैकलिस्टेड, गृह मंत्रालय ने लिया फैसला

Published

on

लखनऊ। निजामुद्दीन मरकज मामले में गृह मंत्रालय का फैसला, मरकज़ में शामिल होने वाले विदेशी नागरिकों को 10 साल के लिए ब्लैकलिस्ट किया गया है। 960 से ज्यादा विदेशी नागरिकों को तबलीगी जमात की गतिविधियों में शामिल होने के पर रोक लगा दी है। गृह मंत्रालय विभाग ने दिल्ली पुलिस और अन्य राज्यों के पुलिस प्रमुखों को विदेशी कानून और आपदा प्रबंधन कानून के तहत इनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने को कहा था।

गौरतलब है कि दिल्ली दंगों के पीछे मरकज का कनेक्शन होना सामने आया है। आरोपी का नजदीकी मौलाना साद का बेहद करीबी निकला है। जांच में पता चला है कि दंगों के दौरान भी दोनों लगातार संपर्क में थे। कोरोना संकट के बीच में ही मौलाना साद ने हजरत निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात के कार्यक्रम का आयोजन किया था। जिसके बाद उस पर कार्रवाई हुई. यहां बड़ी संख्या में भारतीय और विदेशी मुसलमान पहुंचे थे और उन्होंने तब्लीगी जमात कार्यक्रम में​ हिस्सा लिया। यहां सोशल डिस्टेंसिंग का कोई पालन नहीं किया गया।

इसे भी पढ़ें- वक्फ बोर्ड के ऑफिस पर कब्जे का आरोप, वसीम रिजवी ने सीएम पोर्टल पर की शिकायत

दिल्‍ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने पिछलेे बृहस्पतिवार को दक्षिण दिल्ली स्थित साकेत कोर्ट में 12 नई चार्जशीट दाखिल की, जिसमें 541 विदेशी नागरिकों को आरोपित बनाया गया। पुलिस अब तक कुल 47 चार्जशीट फाइल कर चुकी है, जिसमें 900 से अधिक जमातियों को आरोपित बनाया गया है। निजामुद्दीन मरकज में इकट्ठे हुए तब्‍लीगी जमात के लोगों की वजह से देश में कोरोना के कई मामले सामने आए थे। इसके बाद मौलाना साद की भी काफी आलोचना हुई। वह आज भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।http://satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 5, 2020, 8:20 am
Rain
Rain
23°C
real feel: 24°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 94%
wind speed: 3 m/s N
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 4:43 am
sunset: 6:28 pm
 

Recent Posts

Trending