Connect with us

देश

भारत में त्रुटिपूर्ण लोकतंत्र! डेमोक्रेसी इंडेक्स में 10 पायदान फिसला

Published

on

लखनऊ। देश में लगातार जारी आंदोलनों का असर अब भारत की वैश्विक स्तर पर खराब रैकिंग के रूप में सामने आ रहा है। इकानॉमिक इंटेलिजेंस यूनिट ने डेमोक्रेसी इंडक्स जारी किया है, जिसमें भारत की रैकिंग में 10 पायदान की गिरावट आई है। 2018 में भारत जहां 41वें स्थान पर था वहीं, 2019 में 51वें स्थान पर आ गया है। इकानॉमिक इंटेलिजेंस यूनिट ने ‘नागरिक स्वतंत्रता में कमी’  रैकिंग में गिरावट का प्राथमिक कारण बताया है।

बता दें, डेमोक्रेसी इंडेक्स 5 बिंदुओं, चुनाव प्रक्रिया, बहुलतावाद, नागरिक स्वतंत्रता और सरकार के कामकाज पर देश को आंकता है। भारत की रैकिंग में गिरावट की रिपोर्ट के मुताबिक, देश में लोकतंत्र में संघर्ष और नागरिक स्वतंत्रता में कमी आई है, जिस वजह से 10 पायदान खिसककर भारत 51वें स्थान पर आ गया है। उनके कुल स्कोर के आधार पर, देशों को चार प्रकार के शासन में वर्गीकृत किया जाता है ‘पूर्ण लोकतंत्र’ (8 से अधिक स्कोर), त्रुटिपूर्ण लोकतंत्र 6 से अधिक स्कोर और 8 से कम या उसके बराबर, मिलाजुला शासन 4 से अधिक स्कोर और 6 से कम या उसके बराबर, अधिनायकवादी शासन 4 से कम या बराबर स्कोर।’

2018 में भारत का कुल स्कोर 7.23 से गिरकर 6.90 हो गया है। इस हिसाब से भारत त्रिटिपूर्ण लोकतांत्रिक राज्यों में है। यह दुनिया भर में 165 स्वतंत्र राज्यों और दो क्षेत्रों के लिए लोकतंत्र की वर्तमान स्थिति की संक्षिप्त स्थिति बताता है।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान व अमेरिका धर्मशासित देश, केवल भारत धर्मनिरपेक्ष: राजनाथ सिंह…

चीन में अधिनायकवादी शासन

वहीं, रैकिंग में भारत के पड़ोसी देश चीन की स्थिति और भी खराब है। इस रिपोर्ट के अनुसार, चीन में अधिनायकवादी शासन है।  2019 के सूचकांक में चीन का स्कोर गिर कर 2.26 हो गया और यह वैश्विक रैंकिंग में अब 153 वें स्थान पर है। रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘पिछले कुछ सालों में, विशेष रूप से शिनजियांग के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में अल्पसंख्यकों के खिलाफ भेदभाव तेज हो गया है। 2019 में जनता की डिजिटल निगरानी जारी रही जो व्यक्तिगत स्वतंत्रता की बाधा को दर्शाती है।’

अन्य उभरती अर्थव्यवस्था वाले देशों की स्थिति

ब्राजील 6.86 के स्कोर के साथ 52 वें स्थान पर है तो रूस 3.11 के स्कोर के साथ 134 वें स्थान पर है। इसमें पाकिस्तान 4.25 के स्कोर के साथ सूची में 108 वें स्थान पर है जबकि श्रीलंका 6.27 के स्कोर के साथ 69 वें स्थान पर है। बांग्लादेश 5.88 स्कोर के साथ 80 वें स्थान पर है।

ये देश रहे शीर्ष पर

इकानॉमिक इंटेलिजेंस यूनिट के डेमोक्रेसी इंडक्स में नार्वे को शीर्ष स्थान मिला है। वहीं, दूसरे और तीसरे नंबर पर क्रमश: आइसलैंड और स्वीडन हैं। शीर्ष 10 में अन्य देशों में चौथे स्थान पर न्यूजीलैंड, फिनलैंड (5 वें), आयरलैंड (6 वें), डेनमार्क (7 वें), कनाडा (8 वें), ऑस्ट्रेलिया (9 वें) और स्विट्जरलैंड (10 वें) शामिल हैं। इस इंडेक्स में सबसे आखिरी स्थान पर उत्तर कोरिया है, जिसे 167वां स्थान मिला है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

FB ने खत्म किया IPS अमिताभ ठाकुर का अकाउंट तो कोर्ट में दायर किया वाद

Published

on

लखनऊ। आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर ने अपने फेसबुक अकाउंट यूआरएल https://Facebook.com/amitabhthakurlko को समाप्त किये जाने के खिलाफ वाद दायर किया है। सिविल जज जूनियर डिवीज़न लखनऊ इला चौधरी ने वाद की पोषणीयता की सुनवाई के लिए 03 अक्टूबर 2020 नियत किया है।

फेसबुक ने 24 सितम्बर 2020 को अमिताभ के फेसबुक अकाउंट को अस्थायी रूप से बाधित किया था। जिसके बाद अमिताभ ने फेसबुक के सामने अपना पक्ष रखा, लेकिन फेसबुक ने उनके पक्ष को अस्वीकार करते हुए 27 सितम्बर को उनका अकाउंट यह कहते हुए समाप्त कर दिया कि उनके द्वारा सामुदायिक मान्यताओं का पालन नहीं किया गया।

यह भी पढ़ें: कृषि कानूनों के खिलाफ यूपी की सड़कों पर उतरे कांग्रेस कार्यकर्ता, प्रदेश अध्यक्ष लल्लू गिरफ्तार

अमिताभ ने फेसबुक के इस फैसले को गलत बताते हुए अपने वाद में कहा कि फेसबुक ने यह स्पष्ट नहीं किया कि उन्होंने सामुदायिक मान्यताओं का किसी प्रकार उल्लंघन किया। उन्होंने हमेशा फेसबुक के सामुदायिक मान्यताओं का पूरा ध्यान रखा। उन्होंने कहा कि यह निर्णय किन्ही गलत सूचनाओं पर आधारित दिखता है। अतः उन्होंने अपना अकाउंट तत्काल बहाल करने, अकाउंट बाधित करने का कारण बताने तथा एक वाजिब क्षतिपूर्ति दिए जाने की मांग की है।http://satyodaya.com

Continue Reading

देश

MP: DG पद से हटाये गए पुरुषोत्तम शर्मा, पत्नी को पीटने का वीडियो वायरल होने पर कार्रवाई

Published

on

लखनऊ। मध्य प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारी पुरूषोत्तम शर्मा को स्पेशल डीजी के पद से हटाकर गृह मंत्रालय से अटैच किया गया है। सोशल मीडिया पर अधिकारी पुरूषोत्तम एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमे वरिष्ठ आइपीएस अफसर अपनी पत्नी को जमीन पर गिरा कर बेरहमी से पीटते हुए दिखाई दे रहे हैं। अफसर के बेटे द्वारा इस घटना की जानकारी गृहमंत्री, मुख्य सचिव और डीजीपी को देते हुए पिता के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया गया है। हालांकि अभी डीजीपी के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया गया है। जानकारी के मुताबिक, उनकी पत्नी ने पुरुषोत्तम शर्मा को एक अन्य महिला के साथ रंगे हाथों पकड़ लिया। इस बात से नाराज अफसर ने घर पहुंचने के बाद पत्नी से जमकर मारपीट शुरू कर दी। वीडियो में दिख रहा है कि वह अपनी पत्नी को जमीन पर पटक कर खूब मार रहे हैं। हालांकि, इस दौरान कुछ लोग बीच-बचाव की कोशिश करते भी नजर आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें: पत्नी से झगड़े के बाद झोपड़ी में लगा दी आग, ग्रामीणों ने मासूमों को बचाया

डीजीपी पुरषोत्तम और पत्नी के बीच हुई मारपीट की यह घटना घर में लगे सीसीटीवी में कैद हो गई। वीडियो के मुताबिक घटना रविवार दोपहर 2.49 बजे की है। जब आइपीएस अधिकारी अपनी पत्नी के साथ मारपीट कर रहा था। करीब साढ़े चार मिनट के वीडियो में आइपीएस अधिकारी पत्नी को कई बार बेरहमी से मारते और अपशब्द का प्रयोग करते दिखाई दे रहा है।

बता दें पुरुषोत्तम शर्मा ने सफाई देते हुए कहा कि मैंने कोई क्राइम नहीं किया है। ये मेरे और मेरी पत्नी के बीच का यह पारिवारिक मामला है। 2008 में भी मेरी पत्नी ने मेरे खिलाफ शिकायत की थी, लेकिन प्रश्न ये उठता है कि 2008 से आज 12 साल हो गए वो मेरे घर में ही क्यों रह रही है। मेरे पैसे का इस्तेमाल क्यों करती हैं? मेरे पैसों पर विदेश यात्राएं क्यों करती हैं? यह मेरा पारिवारिक मामला है, इसे मैं खुद सुलझा लूंगा।

हनीट्रैप मामले में उछला था पुरुषोत्तम शर्मा का नाम
पुरुषोत्तम शर्मा के बेटे पार्थ गौतम शर्मा भी आईआरएस अधिकारी हैं। जानकारी के मुताबिक बेटे ने ही यह वीडियो जारी किया है। वहीं, पुलिस के बड़े अफसर का मामला होने की वजह से तमाम आलाधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं। हनीट्रैप मामले में जब पुरुषोत्तम शर्मा का नाम उछला था, तब उन्होंने कहा था कि मुझे बदनाम करने की साजिश है।http://satyodaya.com

Continue Reading

कोरोना वायरस

झारखंड: शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो कोरोना पॉजिटिव, रिम्स के कोविड-19 सेंटर में भर्ती

Published

on

लखनऊ। झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं। उन्हें रांची स्थित रिम्स (RIMS) के कोविड-19 सेंटर में भर्ती कराया गया है। इससे पहले उन्हें बोकारो स्थित आवास से एंबुलेंस के जरिये रांची लाया गया। मंत्री को रविवार शाम से सर्दी, जुकाम और सांस लेने में तकलीफ हो रही है।

शिक्षा मंत्री ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी कि वे कोरोना संक्रमित निकले हैं और रिम्स में इलाज के लिए भर्ती हुए हैं। उन्होंने पिछले कुछ दिनों में उनसे मिलने वालों से कोरोना जांच करवाने की भी अपील की है। इससे पहले उन्होंने लिखा कि विगत कुछ दिनों की व्यस्तता के कारण थोड़ा अस्वस्थ महसूस कर रहा हूं। इसलिए इलाज के लिए रिम्स जा रहा हूं। इस वजह से सोमवार के उनके सभी कार्यक्रम स्थगित किये जाते हैं। इस ट्वीट के थोड़ी देर बाद बोकारो सिविल सर्जन डॉ अशोक कुमार पाठक ने मंत्री के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि की।

यह भी पढ़ें: रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के करेंसी चेस्ट में जमा 1.05 करोड़ रुपये के जाली नोट

बता दें इससे दो दिन पहले अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी कोरोना संक्रमित पाये गये। जिसके बाद उन्हें रांची के मेदान्ता अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने खुद इस बात की जानकारी सोशल मीडिया पर दी थी। अब तक झारखंड सरकार के चार मंत्री कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इससे पहले पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर और स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं।http://satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 29, 2020, 8:40 am
Fog
Fog
27°C
real feel: 33°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 83%
wind speed: 1 m/s NW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 3
sunrise: 5:28 am
sunset: 5:25 pm
 

Recent Posts

Trending