Connect with us

देश

हीरो मोटोकॉर्प ने कर्मचारियों के लिए पेश किया VRS, ये मिलेंगे लाभ

Published

on

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी दोपहिया निर्माता कंपनी हीरो मोटोकॉर्प ने अपने कर्मचारियों के लिए एक स्‍वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (वीआरएस) शुरू की है। इस योजन का उद्देश्य उत्पादकता और दक्षता सुधारना है। यह योजना उन कर्चारियों के लिए है जिन्होंने कंपनी में न्यूनतम पांच साल तक सेवा दी है और उनकी आयु 40 वर्ष या उससे अधिक की हो चुकी है। यह स्‍वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना 28 सितंबर तक मान्‍य होगी।

इस योजना के तहत वीआरएस दिए जाने वाले मुआवजा पैकेज में कंपनी की सेवा में कर्मचारी द्वारा बिताए गए काम के वर्षों की संख्‍या और सेवानिवृत्ति से पहले उसके शेष बचे सालों के आधार पर गणना के आधार पर एकमुश्‍त राशि का भुगतान किया जाएगा। कंपनी में सेवानिवृत्ति आयु 58 वर्ष है।

सिर्फ इतना ही नहीं वीआरएस लेने वाले कर्मचारियों को अतिरिक्‍त उपहार, हीरों उत्‍पादों पर छूट, चिकित्‍सा लाभ, परिवर्तनशील वेतन, कंपनी द्वारा दी गई कारों और लैपटॉप पर छूट, कर्मचारियों के बच्‍चों के लिए हीरो में कैरियर के अवसर, पुनर्वास सहायता और कंपनी के साथ भविष्‍य में व्‍यापार के अवसर और अन्‍य सामान्‍य लाभ भी दिये  जाएंगे।

हीरो मोटोकॉर्प के प्रवक्‍ता ने बताया कि कर्मचारियों के लिए इस वीआरएस योजना को पूरी सहानुभूति और कल्‍याण की भावना के साथ बनाया गया है। इसमें वीआरएस लेने वालों के लिए कई तरह के लाभ शामिल किए गए हैं। कंपनी इस योजना की पेशकश ऐसे समय की है जब ऑटो उद्योग अभूतपूर्व मंदी के दौर से गुजर रहा है।

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी के संदेश वाला फोटो स्टैंड 1 करोड़ में बिका, महज 500 रुपये था बेस प्राइज

पिछले दो दशकों में पहली बार अगस्‍त में यात्री वाहनों और दुपहिया वाहनों सहित सभी क्षेत्रों में गिरावट के साथ कुल ऑटोमोबाइल बिक्री में सबसे खराब गिरावट देखी गई है। बाजार के धीमे पड़ने के साथ, विनिर्माताओं को उत्‍पादन में कमी और कुछ मामलों में कर्मचारियों की छटनी करने जैसे कठोर कदम उठाने को मजबूत होना पड़ा है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

Death anniversary : कौन थे गुरु गोबिंद सिंह? जानिए उनके बारे में सबकुछ

Published

on

नई दिल्ली। गुरु गोबिंद सिंह को ज्ञान, सैन्य क्षमता और दूरदृष्टि का सम्मिश्रण माना जाता है। उनका जन्म पटना साहिब में हुआ था और वहां उनकी याद में एक खूबसूरत गुरुद्वारा भी निर्मित किया गया है। वे सिखों के 10वें और अंतिम गुरु थे। उन्होंने ही साल 1699 में खालसा पंथ की स्थापना की थी। उन्होंने ही गुरु ग्रंथ साहिब को सिखों का गुरु घोषित किया।

उन्होंने अपना पूरा जीवन लोगों की सेवा करते हुए और सच्चाई की राह पर चलते हुए ही गुजार दिया था। उन्होंने खालसा को पांच सिद्धांत दिए, जिन्‍हें ‘पांच ककार’ कहा जाता है। पांच ककार का मतलब ‘क’ शब्द से शुरू होने वाली उन 5 चीजों से है, जिन्हें गुरु गोबिंद सिंह के सिद्धांतों के अनुसार सभी खालसा सिखों को धारण करना होता है। गुरु गोविंद सिंह ने सिखों के लिए पांच चीजें अनिवार्य की थीं- ‘केश’, ‘कड़ा’, ‘कृपाण’, ‘कंघा’ और ‘कच्छा’। इनके बिना खालसा वेश पूर्ण नहीं माना जाता।

ये भी पढ़ें- शिल्पा शेट्टी ने नवरात्र के आखिरी दिन कन्याओं को अपने हाथों से खिलाया खाना, शेयर की ये फोटो

गुरु गोबिंद सिंह ने संस्कृत, फारसी, पंजाबी और अरबी आदि भाषाओं का ज्ञान था। गुरु गोबिंद सिंह एक लेखक भी थे, उन्होंने कई ग्रंथों की रचना की थी। उन्होंने सदा प्रेम, एकता, भाईचारे का संदेश दिया। किसी ने गुरुजी का अहित करने की कोशिश भी की तो उन्होंने अपनी सहनशीलता, मधुरता, सौम्यता से उसे परास्त कर दिया।

गुरु गोबिंद सिंह जी मानते थे कि मनुष्य को किसी को डराना नहीं चाहिए और न ही किसी से डरना चाहिए। वे अपनी वाणी में उपदेश देते हैं- ”भै काहू को देत नहि, नहि भय मानत आन। वे बाल्यकाल से ही सरल, सहज, भक्ति-भाव वाले कर्मयोगी थे।” उनकी वाणी में मधुरता, सादगी, सौजन्यता एवं वैराग्य की भावना कूट-कूटकर भरी थी। उनके जीवन का प्रथम दर्शन ही था कि धर्म का मार्ग सत्य का मार्ग है और सत्य की सदैव विजय होती है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

राफेल के लिए फ्रांस रवाना हुए राजनाथ सिंह, करेंगे शस्त्र पूजन…

Published

on

दशहरे के शुभ अवसर पर देश के लिए पहला राफेल विमान लेने भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह फ्रांस रवाना हो गए हैं। जिसकी खबर सुनकर भारतीय जन को दोहरी खुशियां मनाने का मौका मिला है। जानकारी के मुताबिक राजनाथ सिंह वहीं शस्त्र पूजन करेंगे और राफेल की आरती उतारेंगें। यह आरती हमारे देश में आने वाले राफेल विमान को बुरी नजरों से बचाएगी।
सूत्रों के मुताबिक राजनाथ सिंह फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमेनुएल मैक्रों से भी मुलाकात करेंगे। मंगलवार सुबह राजनाथ सिंह का फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से मुलाकात का कार्यक्रम है। यह वह घड़ी है जब भारत की गोद में वायुसेना को पहला राफेल विमान मिलेगा। इस खास अवसर पर रक्षा मंत्री फ्रांस में शस्त्र पूजा करेंगे। बता दें कि शस्त्र पूजन हिंदुओं की बहुत पुरानी हिंदू परंपरा है जिसमें योद्धा अपने हथियारों और शस्त्रों की पूजा करते हैं। जिसके बाद वे राफेल विमान को आसमान की सैर करायेंगे।

यह भी पढ़ें: अस्पताल में भर्ती बीमार बच्ची के साथ हुई छेड़छाड़, आरोपी को कोर्ट ने किया रिहा

फ्रांस के मेरीग्नैक में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को फ्रांस पहला राफेल विमान सौंपेगा। इस कार्यक्रम में फ्रांसीसी रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले भी हिस्सा लेंगी। रक्षामंत्री राजनाथ के करीबी अधिकारियों ने कहा कि गृह मंत्री अपने कार्यकाल के दौरान से हर दशहरे पर शस्त्र पूजन करते हैं। रक्षा मंत्री होने के नाते भी वह अपनी इसी परंपरा को जारी रखेंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

मोदी सरकार ने बदले नियम, अब विदेश में भी मिलेगी SPG सुरक्षा….

Published

on

एसपीजी

फाइल फोटो

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) की सुरक्षा के नियम में कुछ बदलाव किया है। नए नियम के तहत जब भी एसपीजी सुरक्षा पाने वाले लोग विदेश यात्रा करेंगे, उनके साथ साथ स्पेशल प्रोटेक्श ग्रुप मौजूद रहेगा।  

जानकारी के मुताबिक अगर इस सुरक्षा को पाने वाले लोग अपने विदेश यात्रा के दौरान एसपीजी को साथ लेकर नहीं जाते हैं तो उनकी यात्रा को कैंसिल कर दिया जाएगा। इस समय देश के प्रधानमंत्री पीएम मोदी और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को एसपीजी सुरक्षा मिली हुई है।

बता दें केंद्र सरकार में एसपीजी के नियमों में बदलाव ऐसे समय पर किया गया है जब कांग्रेस के पूर्वअध्यक्ष राहुल गांधी कोलंबिया यात्रा को लेकर सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

एसपीजी सुरक्षा को लेकर दिए नए निर्देश

केंद्र की ओर से दिए गए नए दिशा-निर्देश में स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) की सुरक्षा पाने वाले के लिए सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन करना महत्वपूर्ण होगा। एसपीजी के सुरक्षाकर्मी हमेशा यह विशेष सुरक्षा पाने वाले के साथ मौजूद रहते हैं।

ये भी पढ़ें:भिखारी की संपत्ति देख अधिकारी रह गए हैरान, पैन कार्ड व बैंक कागजात बरामद

अगर एसपीजी सुरक्षा को पाने वाले इसकी दिशा-निर्देश को नहीं मानते हैं सुरक्षा के लिहाज से उनके विदेशी दौरे को रद्द कर दिया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक बता दें हाल ही में राहुल गांधी ने विदेश यात्रा के दौरान विदेश में अपने पहले स्थान तक एसपीजी के साथ गए, लेकिन उसके आगे यात्रा को अपनी निजी यात्रा बनाकर  सुरक्षाकर्मियों वापस भेज दिया। अगर वे अपनी पसंद के अनुरूप घूमने जाते हैं तो यह उनके खुद के लिए बेहद खतरनाक होता जाएगा। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 7, 2019, 6:33 pm
Clear
Clear
28°C
real feel: 32°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 73%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:31 am
sunset: 5:17 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending