Connect with us

देश

राशिफल: जानिए 7 अप्रैल का दिन आपके लिए कैसा रहेगा…

Published

on

राशि फलादेश मेष :- (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)
परिवार में आवाजाही बनी रहेगी। उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। जोखिम न उठाएं। तनाव रहेगा, मान बढ़ेगा। प्रसन्नता रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। शारीरिक कष्ट से बाधा संभव है।

राशि फलादेश वृष :- (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)
अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। बेरोजगारी दूर होगी। आय में वृद्धि होगी। यात्रा से लाभ होगा। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। यात्रा मनोरंजक होगी। लाभ के अवसर बढ़ेंगे। विवाद को बढ़वा न दें।

राशि फलादेश मिथुन :- (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)
फालतू खर्च होगा। लेन-देन में सावधानी रखें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। पुराना रोग उभर सकता है। चिंता रहेगी, बाकी सामान्य रहेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। रुका हुआ धन मिल सकता है।

यह भी पढ़ें: कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए WHO करेगा कार्यक्रम, शाहरुख, प्रियंका होंगे शामिल

राशि फलादेश कर्क :- (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)
जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। रुके कार्यों में गति आएगी। धनलाभ होगा। नए अनुबंध हो सकते हैं। जल्दबाजी से बचें। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। आय के नए स्रोत प्राप्त होंगे।

राशि फलादेश सिंह :- (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)
आंखों में कष्ट संभव है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। योजना फलीभूत होगी। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। प्रतिद्वंद्वी शांत रहेंगे। आय बढ़ेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा।

राशि फलादेश कन्या :- (ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)
राजकीय सहयोग से लाभ के अवसर बढ़ेंगे। धन प्राप्ति सुगम होगी। दौड़धूप अधिक रहेगी। तनाव रहेगा। पूजा-पाठ में मन लगेगा। निवेश शुभ रहेगा। प्रसन्नता रहेगी। नई योजना बनेगी। मान-सम्मान मिलेगा।

राशि फलादेश तुला :- (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
परिवार के वरिष्ठजनों के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। लेन-देन में सावधानी रखें।

राशि फलादेश वृश्चिक :- (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
कोर्ट व कचहरी में अनुकूलता रहेगी। प्रेम-प्रसंग में सफलता मिलेगी। व्यावसायिक गतिविधि बढ़ेगी। विवेक से कार्य करें। लाभ होगा। निवेश व यात्रा मनोनुकूल रहेंगे। चिंता रहेगी। तीर्थदर्शन संभव है। पूजा-पाठ में मन लगेगा।

राशि फलादेश धनु :- (ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)
विरोधी सक्रिय रहेंगे। तनाव बना रहेगा। भूमि व भवन के कार्य बड़ा लाभ देंगे। रोजगार में वृद्धि होगी। जोखिम लेने का साहस कर पाएंगे। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। उन्नति होगी। कोर्ट व कचहरी में अनुकूलता रहेगी। धनार्जन होगा।

राशि फलादेश मकर :- (भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का मौका मिलेगा। स्वादिष्ट भोजन का आनंद प्राप्त होगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। क्रोध पर नियंत्रण रखें। जोखिम व जमानत के कार्य टालें।

राशि फलादेश कुंभ :- (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
मेहनत अधिक होगी। लाभ में कमी रहेगी। बुरी सूचना मिल सकती है, धैर्य रखें। घर-बाहर अशांति रह सकती है। थकान महसूस होगी। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। चोट, चोरी व विवाद आदि से हानि संभव है। फालतू खर्च होगा।

राशि फलादेश मीन :- (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)
मेहनत का फल पूरा-पूरा मिलेगा। मान-सम्मान में वृद्धि होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा, रोजगार में वृद्धि होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। जल्दबाजी न करें। भूमि व भवन संबंधी योजना बनेगी। स्वास्‍थ्य कमजोर रहेगा।http://www.satyodaya.com

देश

डिप्टी CM और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाए गए सचिन पायलट, ट्विटर पर दिया ये जवाब

Published

on

नई दिल्ली: राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार पर संकट बरकरार है। आज एक बार फिर विधायक दल की बैठक में सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों के नहीं पहुंचने पर कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए उन्हें डिप्टी सीएम पद से हटा दिया है। यही नहीं सचिन से कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद भी छीन लिया गया है। मंत्री विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया गया है। कांग्रेस के एक्शन के बाद सचिन पायलट ने ट्विटर पर प्रतिक्रिया दी है। पायलट ने अपने ट्वीट में लिखा कि सत्य परेशान हो सकता है, पराजित नहीं।

यह भी पढ़ें: राजस्थान में सरकार बचाने की कवायद तेज, पायलट को मनाने में जुटी कांग्रेस

बता दें कि राजस्थान में जब से सियासी ड्रामा शुरू हुआ है, तब से यह पहला मौका है जब सचिन पायलट ने सार्वजनिक तौर प्रतिक्रिया दी है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को हटाए जाने पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि, “मजबूर होकर सचिन पायलट को हटाना पड़ा। 6 माह से सचिन का रवैया ठीक नहीं था। रोज ट्वीट करके बयान देते रहते थे। मैंने हर विधायक का काम किया। जो फैसले हुए उससे कोई खुश नहीं।”

गोविंद सिंह डोटासरा होंगे राजस्थान के नए प्रदेश अध्यक्ष
गोविंद सिंह डोटासरा को राजस्थान कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। बता दें कि गोविंद सिंह डोटासरा सीकर कांग्रेस के जिला अध्यक्ष रहे हैं। डोटासरा राजस्थान सरकार में शिक्षा राज्य मंत्री भी हैं।

इसके अलावा विधायक गणेश घोघरा यूथ कांग्रेस के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे। हेम सिंह शेखावत सेवादल के नए प्रदेश मुख्य संगठक होंगे। तीनों पदों पर नियुक्ति की घोषणा पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस में हुई। कांग्रेस के राष्ट्रीय संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की मौजूदगी में रणदीप सुरजेवाला ने घोषणा की।.http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

नेपाली PM को कुर्सी से उतारने को लाखों शिष्य उतरेंगे सड़कों पर- अखाड़ा परिषद

Published

on

लखनऊ। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के द्वारा दिए गए विवादित विवादित बयान पर मामले ने तूल पकड़ लिया है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने नेपाल के प्रधानमंत्री के बयान पर आपत्ति जताते हुए विशाल प्रदर्शन की चेतावनी दी है। अखाड़ा परिषद ने नेपाल की सड़कों पर प्रदर्शन का ऐलान भी किया है। वहीं वेद और पुराण में वर्णन का जिक्र करते हुए रामदास महाराज ने कहा कि नेपाल में सरयू है ही नहीं। रामदास महाराज ने कहा कि मेरे लाखों शिष्य नेपाल में रहते हैं।

उनके इस विवादित बयान से लाखों की संख्या में भक्त सड़क पर उतर कर विरोध करेंगे। वहीं अखाड़ा परिषद के महंत नरेंद्र गिरि ने इस विवादित बयान पर कहा, कि कल से नेपाल में हमारे लाखों शिष्य से सड़कों पर उतर कर 1 महीने के भीतर ओली को पीएम की कुर्सी से उतार देंगे। महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि नेपाल हिंदू राष्ट्र था लेकिन जब से वह माओवादियों का शासन आया है। तब से चीजें बिगड़ रही हैं पहले माओवादी थे लेकिन अब आतंकवादी होते जा रहे हैं। नरेंद्र गिरी ने भी कहा, कि अयोध्या भारत में और इसी अयोध्या दुनिया का नेतृत्व किया है।

यह भी पढ़ें: वर्क फ्रॉम होम के लिए 400 लैपटॉप किराए पर लेगी UP 112, शासन से मिली अनुमति

नेपाल के पीएम ने जो बयान दिया वह निंदनीय है इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए। भगवान राम के जन्म स्थान को लेकर विवादित टिप्पणी के बाद नेपाल के प्रधानमंत्री अपने ही देश में घिर गए हैं। नेपाल के कई नेताओं ने खुलकर ओली के इस बयान का विरोध किया है। वहीं रामदल ट्रस्ट के अध्यक्ष रामदास महाराज ने कहा कि पूरे विश्व की संस्कृत राजधानी अयोध्या है वेद रामायण पुराण में देख लीजिए उसमें साफ लिखा है कि जहां सरयू है वहां अयोध्या है। नेपाल में तो सरयू है ही नहीं पूरे भूमंडल में राजा होते थे सबका चक्रवर्ती सम्राट भारत के उत्तर प्रदेश के अयोध्या के महाराजा होते थे।

वहीं धर्मगुरु महंत परमहंस ने कहा कि केपी शर्मा खुद नेपाली नही हैं। केपी शर्मा पूरे नेपाल को पाकिस्तान की तर्ज पर भिखारी बनाने पर तुले हैं। नेपाल की जनता को धोखा दे रहे हैं चीन ने नेपाल के 2 दर्जन से अधिक गांवों पर क़ब्ज़ा कर रखा है। उसको छिपाने के लिए भगवान राम के नाम का आश्रय ले रहे हैं ट्रस्ट के सदस्य महेंद्र दास ने कहा कि हमारे लिए अयोध्या एक है और यही रहेगा राजनीति में कोई कुछ भी बोल सकता है। लेकिन मुख्य अयोध्या वह है जहां सरयू माता है राम जी का अयोध्या यही है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

राजस्थान में सरकार बचाने की कवायद तेज, पायलट को मनाने में जुटी कांग्रेस

Published

on

नई दिल्ली: राजस्थान में कांग्रेस सरकार के लिए मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट लगातार बगावत कर रहे हैं। इस बीच राज्य में जारी सियासी घमासान के बीच पार्टी ने मंगलवार को एक बार फिर विधायक दल की बैठक बुलाई है। इसे साथ ही पार्टी सचिन पायलट को लगातार मनाने की कोशिश में जुटी है। पायलट को बैठक के लिए न्योता भेजा गया है। पार्टी ने पायलट से कहा है कि वह बैठक में आकर मतभेद दूर करें।

यह भी पढ़ें: आलमबाग के भीड़ भरे इलाके में बदमाशों ने दो लोगों को मारी गोली

वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सचिन पायलट बैठक में नहीं जाएंगे। सचिन पायलट ने उल्टा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को चुनौती दी है कि विधानसभा में बहुमत साबित करके दिखाएं।
इससे पहले कल सोमवार को सचिन पायलट ने खुलकर बागी तेवर अपना लेने के बाद कांग्रेस ने सोमवार सुबह जयपुर में विधायक दल की बैठक बुलाई थी, लेकिन इसमें पायलट और उनके समर्थक विधायक नहीं पहुंचे। बाद में कांग्रेस ने दावा किया कि गहलोत सरकार को 109 विधायकों का समर्थन हासिल है।


विधायकों को होटल में शिफ्ट किया

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, गहलोत सरकार के प्रति अपना समर्थन जताने वाले 100 से अधिक विधायकों को जयपुर के फेयर मॉन्ट होटल में रखा गया है। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने सोमवार रात संवाददाताओं को बताया कि मंगलवार सुबह 10 बजे कांग्रेस विधायक दल की एक और बैठक होगी। इसके साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि बागी तेवर दिखा रहे पायलट एवं कुछ अन्य विधायक इस बैठक में भाग लेंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 15, 2020, 9:00 am
Fog
Fog
28°C
real feel: 34°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 88%
wind speed: 0 m/s E
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 4:53 am
sunset: 6:32 pm
 

Recent Posts

Trending