Connect with us

देश

हैदराबाद गैंगरेप की संसद में गूंज, रक्षा मंत्री कठोरतम कानून बनाने को तैयार

Published

on

नई दिल्ली: संसद के दाेनों सदनों में सभी राजनीतिक दलों ने सोमवार को हैदराबाद पशु चिकित्सक बलात्कार कांड पर गहरी चिंता व्यक्त की और अपराधियों को जल्द से जल्द सख्त से सख्त सजा देने की मांग की। संसद में सभी लोगों ने पुलिस व्यवस्था तथा न्यायिक प्रणाली में और सुधार करने की पुरजोर मांग की। लोकसभा में प्रश्नकाल में और राज्यसभा में शून्य काल में सत्ता और विपक्ष के सदस्यों ने जोरदार ढंग से इस मामले को उठाया और पुलिस एवं व्यवस्था को संवेदनशील तथा समाज को जागरुक बनाने की अपील की।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि सदन इस घटना की कड़ी निंदा करता है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि निर्भया कांड में भी कड़े कानून बनाये गये थे लेकिन अपराधों में कमी नहीं आई है। इसके मद्देजर अब सभी सदस्यों की राय मिल जाने के बाद सरकार कानून में सुधार करेगी।

यह भी पढ़ें: क्रिकेटर मनीष पांडेय ने आश्रिता शेट्टी संग रचाई शादी, देखें खूबसूरत तस्वीरें…

राज्यसभा में भाजपा,कांग्रेस और अन्य दलों ने इस मुद्दे को उठाया तो सभापति एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि केवल कानून बनाने से इस तरह के अपराधों से निटपने के लिए राजनीति से ऊपर उठकर और मिलकर काम करना होगा। बिरला तथा सभी दलों के सदस्यों ने तेलंगाना के शमशाबाद में एक पशु-चिकित्सक के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना की सोमवार को निंदा की और सरकार ने सदन को आश्वस्त किया कि ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति पर काम करते हुये ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए वह कानून में सभी जरूरी बदलाव करने के लिए तैयार है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

अमित शाह के सामने सरकार को खरी-खरी सुना कर ‘हीरो’ बन गए राहुल बजाज

Published

on

राजीव बजाज ने अपने पिता को बताया असाधारण साहसिक

लखनऊ। एक कार्यक्रम के दौरान भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और देश के गृहमंत्री अमित शाह के सामने सरकार की आलोचना करने वाले उद्योगपति राहुल बजाज को कांग्रेस ने हाथो-हाथ लिया है। बयान के बाद से कांग्रेस के दिग्गज नेता राहुल बजाज की तारीफों के पुल बांधने में जुटे हुए हैं। अपने पिता के बेबाक अंदाज बजाज ऑटो के एमडी राजीव बजाज ने भी प्रतिक्रिया जाहिर की है। राजीव बजाज ने अपने पिता राहुल बजाज की टिप्पणी को ‘असाधारण साहसिक’ करार दिया है। #बजाज_ने_बजा_दी

बता दें कि बीते शनिवार को दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान जब राहुल बजाज के बोलने की बारी आई तो उन्होंने मोदी सरकार जमकर खरी-खरी सुनाई। कार्यक्रम में गृहमंत्री अमित शाह भी मौजूद थे। राहुल बजाज ने कहा, देश के कारोबारियों में भय का माहौल है। लोग सरकार की आलोचना करने से डरते हैं। जबकि पूर्ववर्ती यूपीए सरकार में हम लोग बिना डरे अपनी बात सरकार और मीडिया के सामने कहते थे। इसी के बाद से राहुल बजाज ट्रेंडिंग में आ गए। करीब 36 घण्टे बाद भी राहुल बजाज सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहे हैं। #RahulBajaj

यह भी पढ़ें-क्रिकेटर मनीष पांडेय ने आश्रिता शेट्टी संग रचाई शादी, देखें खूबसूरत तस्वीरें…

हालांकि गृह मंत्री अमित शाह ने राहुल बजाज के भय का माहौल वाले बयान को सिरे से खारिज कर दिया। शाह ने कहा, किसी को किसी से डरने की जरूरत नहीं है। मीडिया में पीएम मोदी की लगातार आलोचना हो रही है, लेकिन यदि आप कह रहे हैं कि इस तरह का मौहाल पैदा हो गया है तो इसे ठीक करने के लिए हमें काम करने की जरूरत है।

दरबार देखकर चूकते हैं नहीं वह…

सोमवार को मीडिया के पूछने पर राहुल बजाज के बेटे राजीव बजाज ने कहा, इंडस्ट्री में कोई भी नहीं है जो हमारे पिता के साथ खड़ा होना चाहता हो। सभी अपनी सुविधा के मुताबिक किनारे बैठकर ताली बजाते हैं। एक अखबार से बात करते करते हुए राजीव बजाज ने कहा, सच कितना भी कड.वा क्यों न हो, उनके पिता बोलने से नहीं घबराते। राजीव ने कहा, उनके पिता के लिए कोई दरबार ठीक वैसा ही होता है जैसे किसी बैल के लिए लाल कालीन। वह (राहुल बजाज) ऐसे मौकों पर चूकते नहीं हैं। हालांकि राजीव बजाज इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं हैं कि उनके पिता को ऐसे मंच से इस तरह के संवेदनशील मुद्दे को उठाना चाहिए था या नहीं।

वित्त मंत्री ने दिया जवाब

राहुल बजाज के बयान को केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राष्ट्रहित पर चोट करार दिया है। वित्त मंत्री ने ट्विटर पर लिखा, अपनी धारणा फैलाने के बजाय सही जवाब पाने के और भी बेहतर तरीके हैं। ऐसी बातों से राष्ट्रीय हित को चोट लग सकती है।www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

महाराष्ट्र : पंकजा मुंडे का बदला मूड, भाजपा से बगावत के दिए संकेत…

Published

on

लखनऊ। महाराष्ट्र की राजनीति का महा ड्रामा अभी खत्म नहीं हुआ है। एक महीने तक शिवसेना के साथ साह-मात का खेल खेलने वाली भाजपा के अंदर अब महाभारत छिड़ने के संकेत मिल रहे हैं। पार्टी के कद्दावर दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी पंकजा मुंडे ने देवेन्द्र फडणवीस के खिलाफ बगावती तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। पंकजा मुंडे ने इसकी शुरूआत रविवार को अपनी एक फेसबुक पोस्ट के जरिए की। भाजपा नेता पंकजा मुंडे ने अपने दिवंगत पिता के जन्मदिन पर 12 दिसंबर को समर्थकों की बैठक बुलाई है। अपनी पोस्ट में पंकजा मुंडे ने कहा, 8-10 दिन के अंदर मैं बड़ा फैसला लेने जा रही हूं। पंकजा मुंडे के तेवरों से साफ है कि महाराष्ट में सत्ता जाने के साथ ही भाजपा को संगठन से जूझना पड़ेगा। #Pankajamunde

मुंडे ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि चुनाव में हार के बाद समर्थकों के कई फोन और मैसेज आए। समर्थकों ने मिलने का आग्रह किया है। 12 दिसंबर को समर्थकों से मिलने के बाद अंतिम निर्णय लूंगी। मुंडे ने लिखा, बदले राजनीतिक हालात में अब भविष्य के बारे में निर्णय लेना जरूरी है। मुझे तय करना है कि किस रास्ते पर चलना है। हमारी मजबूती क्या है। पंकजा मुंडे ने कहा, मुझे बहुत कुछ बोलना है। मुझे उम्मीद है कि मेरे जवान रैली में जरूर पहुंचेंगे। इस पोस्ट के बाद गर्म हुआ चर्चाओं का बाजार अभी ठण्डा भी नहीं पड़ा था कि सोमवार को पंकजा मुंडे ने अपने ट्विटर बायो में बदलाव कर दिया। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडिल से भाजपा का नाम और अपने राजनीतिक सफर का विवरण भी हटा दिया है।

यह भी पढ़ें-राज्यसभा सीट के लिए अरुण सिंह ने दाखिल किया नामांकन पत्र

बता दें कि पंकजा मुंडे फडणवीस सरकार में मंत्री रह चुकी हैं। इस बार के विधानसभा चुनावों में वह अपने गढ़ पराली से चुनाव हार गयी थीं। पंकजा मुंडे को उन्हीं के चचेरे भाई धनंजय मुंडे ने हराया है। धनंजय मुंडे रांकापा से विधायक हैं और अब वह उद्धव ठाकरे की सरकार के साथ हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

तमिलनाडु में भारी बारिश का कहर जारी, दीवार गिरने से 17 लोगों की हुई मौत….

Published

on

तमिलनाडु

फाइल फोटो

नई दिल्ली। तमिलनाडु में बारिश का कहर लगातार जारी है। इस भारी बारिश वजह से वहां के लोग हादसों का शिकार हो रहे हैं। इसी तरह कोयंबटूर जिले के मेट्टूपायलम में एक दीवार गिरने से 17 लोगों की मौत हो गई है।

बता दें दीवार गिरने की वजह से तीन घर भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। हालांकि इस दर्दनाक हादसे के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। तमिलनाडु और पुडुचेरी के कई जिलों में रविवार से ही भारी बारिश हो रही है। इस दर्दनाक हादसे का शिकार हुए लोगों के परिवार की मदद के लिए राज्य सरकार ने कदम बढ़ाए हैं। राज्य सरकार ने हादसे का शिकार हुए लोगों के परिवार को 4-4 लाख रूपये मुआवजा देने का ऐलान किया है।

ये भी पढ़ें:हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ हुई दरिंदगी पर फूटा मायावती का गुस्सा, ट्वीट कर कही ये बात

वहीं भारी बारिश के बारे में मौसम विभाग का कहना है कि अगले 48 घंटों में कई जिलों में भारी बारिश की आशंका है। इसी के मद्देनजर कई स्कूलों और कॉलेजों में सोमवार को छुट्टी ऐलान कर दिया गया है। सोमवार सुबह ही मेट्टूपालयम इलाके के नादूर कन्नप्पन लेआउट में एक दीवार गिरने से तीन घर क्षतिग्रस्त हो गए। इस हादसे में अब तक 17 लोगों के मरने की पुष्टि की गयी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

December 2, 2019, 5:35 pm
Cloudy
Cloudy
21°C
real feel: 19°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 56%
wind speed: 3 m/s W
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:08 am
sunset: 4:43 pm
 

Recent Posts

Trending