Connect with us

देश

वैश्विक आर्थिक स्वतंत्रता सूचकांक में भारत का जबरदस्त प्रदर्शन, 79वें पायदान पर बनाई जगह

Published

on

नई दिल्ली। भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर देश के भीतर बेचैनी का माहौल है। अर्थव्यवस्था के कई सेक्टर्स दबाव में हैं। विपक्ष आर्थिक सुस्ती के लिए सरकार पर लगातार निशाना साध रहा है। ऐसे माहौल में मोदी सरकार के लिए बड़ी राहत भरी खबर आई है। वर्ल्ड बैंक की ईड ऑफ डूइंग बिजनेस रैकिंग में शानदार प्रदर्शन के बाद भारत आर्थिक स्वतंत्रता सूचकांक में भी 17 पायदान की लंबी छलांग लगाकर 79 वें स्थान पर आ गया है। जबकि भारत के सभी पड़ोसी देशों की रैकिंग में गिरावट देखी गई है।

दरअसल, कैनेडियन थिंकटैंक फ्रेजर इंस्टिट्यूट और भारतीय थिंक टैंक सेंटर फॉर सिविल सोसायटी द्वारा शुक्रवार को संयुक्त रूप से ‘वैश्विक आर्थिक स्वतंत्रता सूचकांक 2019’ जारी किया गया। यह सूचकांक दुनियाभर के देशों में सरकार के आकार, कानून व्यवस्था व संपत्ति का अधिकार, मुद्रा की सुगमता, अंतरराष्ट्रीय व्यापार की आजादी और नियमन आदि जैसे पांच क्षेत्रों के बारे में जुटाए गए आंकड़ों के आधार पर जारी किया जाता है।

इस सूचकांक में भारत ने 162 देशों में 79वां स्थान प्राप्त किया है। जबकि पिछले वर्ष भारत इस सूचि में 96वें पायदान पर था। वहीं, भारत के सभी पड़ोसी देशों की रैंकिंग में गिरावट देखी गई है। इस सूचि में भूटान को 87, श्रीलंका को 104, नेपाल को 110, चीन को 113, बांग्लादेश को 123, पाकिस्तान को 136 व म्यांमार को 148वां स्थान प्रदान किया गया है। पिछले वर्ष इन देशों को क्रमशः 73, 106, 102, 108, 120, 132 व 151 वां स्थान प्राप्त हुआ था।

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में सब्जियां हुईं तेजाबी, 18 शहरों में सैंपल फेल

शीर्ष पर हैं ये देश

वैश्विक आर्थिक स्वतंत्रता सूचकांक में हॉन्गकॉन्ग पहले, सिंगापुर दूसरे, न्यूजीलैंड तीसरे, स्विट्जरलैंड चौथे और अमेरिका पांचवें पायदान पर है। वहीं, विश्व की अन्य महत्वपूर्ण अर्थव्यवस्थाएं जैसे जापान, जर्मनी, इटली, फ्रांस, मैक्सिको, रूस और ब्राजील को क्रमशः 17, 20, 46, 50, 76, 85 और 120 वां स्थान प्राप्त हुआ है।

सबसे आखिर में रहे ये देश

विश्व की 162 देशों की अर्थव्यवस्थाओं को इस रैकिंग में शामिल किया गया है। इस सूचि में जो देश सबसे आखिरी पायदान पर खड़े हैं उनमें वेनेजुएला (162वें), लीबिया (161वें), सुडान (160वें), अल्जीरिया (159वें) और अंगोला (158वें) स्थान पर हैं।http://www.satyodaya.com

देश

नई मुसीबतः फरीदाबाद से गिरफ्तार विकास दुबे का एक साथी कोरोना पाॅजिटिव

Published

on

लखनऊ। बीती रात हरियाणा के फरीदाबाद से गिरफ्तार विकास दुबे के तीन साथियों में से एक कोरोना पाॅजिटिव निकला है। अपराधियों को रिमांड पर लेकर लखनऊ लाने की तैयारी में जुटी यूपी पुलिस के लिए यह झटका है। अब पुलिसकर्मियों के भी कोरोना की चपेट में आने का भर बन गया है। बुधवार को ही तीनों बदमाशों को कोर्ट में पेश किया गया है।

यह भी पढ़ें-महिला PCS की आत्महत्या मामले में भाजपा नेता सहित पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज

बता दें कि मंगलवार की देर रात फरीदाबाद के एक होटल में छापेमारी के दौरान हरियाणा पुलिस ने विकास दुबे के तीन साथियों को गिरफ्तार किया था। इनके नाम प्रभात, श्रवण और अंकुर हैं। इन बदमाशों की मेडिकल जांच में श्रवण कोरोना पाॅजिटिव पाया गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

डॉ भीमराव अम्बेडकर के मुंबई स्थित मकान पर तोड़फोड़, गमले व CCTV क्षतिग्रस्त

Published

on

नई दिल्ली: भारत के संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव आंबेडकर के महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई के दादर स्थित घर- राजगृह में अज्ञात लोगों ने तोड़फोड़ की है। पुलिस ने इस घटना के लिए अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। एक अधिकारी ने बुधवार को इस बात की जानकारी दी।  अधिकारी ने बताया कि दो लोगों ने घर में लगीं शीशे की खिड़कियों पर पत्थर मारे। इसके अलावा घर में  लगे सीसीटीवी कैमरा और गमलों को तोड़ दिया। उन्होंने बताया कि यह घटना मंगलवार रात की है। सीसीटीवी फुटेज से पता चला है कि संविधान निर्माता के घर पर एक व्यक्ति तोड़-फोड़ कर रहा था। घटना को अंजाम देने के बाद वह यहां से फरार हो गया। माटुंगा पुलिस ने इस संबंध में एक एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: विकास दुबे के साथियों पर कसा पुलिस का शिकंजा, एक मुठभेड़ में ढेर, छह गिरफ्तार

घटना के समय घर पर नहीं थे प्रकाश आंबेडकर

दादर के हिंदू कॉलोनी में स्थित दो मंजिला हेरिटेज बंगले में आंबेडकर संग्रहालय है। जहां बाबा साहेब की किताबें, चित्र, राख और बर्तन कलाकृतियों के बीच रखी हुईं हैं। राजगृह में वर्तमान में बाबा साहेब की बहू और उनके पोते वंचित बहुजन अघाडी नेता प्रकाश आंबेडकर, आनंदराव और भीमराव रहते हैं। घटना के समय प्रकाश आंबेडकर अकोला में थे। उन्होंने अपने समर्थकों से कहा है। कि वह शांत रहें और घर के बाहर जमा न हों। ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस ने बुधवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को राजगृह पर हुए हमले को लेकर उचित कार्रवाई करने को कहा।  महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने पहले ही यह आश्वासन दिया है। कि इस घटना में जो भी दोषी होगा। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। देशमुख ने कहा, कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।http://satyodaya.com

Continue Reading

देश

गांधी परिवार से जुड़े तीन ट्रस्टों की जांच कराएगी मोदी सरकार, कमेटी गठित

Published

on

लखनऊ। मोदी सरकार गांधी परिवार के तीन ट्रस्टों की वित्तीय गतिविधियों की जांच कराने जा रही है। इनमें राजीव गांधी फाउंडेशन ट्रस्ट भी शामिल है। केन्द्र ने यह कदम राजीव गांधी फाउंडेशन ट्रस्ट में चीनी फंडिंग के खुलासे के बाद उठाया है। राजीव गांधी चेरिटबल ट्रस्ट और इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्रस्ट की भी जांच के आदेश दिए गए हैं। गृह मंत्रालय ने तीनों ट्रस्टों की जांच के लिए एक अंतर-मंत्रालय कमेटी बनाई है, जो इन ट्रस्टों की फंडिंग व वित्तीय अनियमितताओं की जांच करेगी। ईडी के स्पेशल डायरेक्टर को इस कमेटी का अध्यक्ष बनाया गया है।

यह भी पढ़ें-नेपाल भागने की फिराक में विकास दुबे! बहराइच में बढ़ी हलचल, सर्च अभियान तेज

यह कमेटी तीनों ट्रस्टों के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉंड्रिंग एक्ट (पीएमएलए), इनकम टैक्स और एफसीआए (विदेशी योगदान) नियमों के उल्लंघन की जांच करेगी। आरोप यह भी हैं कि यूपीए सरकार के समय वर्ष 2005 से 2008 तक प्रधानमंत्री राहत कोष से इस ट्रस्ट को धनराशि उपलब्ध कराई गयी।

जेपी नड्डा ने लगाया था आरोप

बता दें कि हाल ही में भाजपा के राष्टीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आरोप लगाया था कि राजीव गांधी फाउंडेशन ट्रस्ट को चीन से चंदा मिलता है। नड्डा के आरोपों को खारिज करते हुए कांग्रेस ने कहा था कि चीन के साथ मौजूदा तनाव से ध्यान भटकाने के लिए ऐसी बातें की जा रही हैं।

क्या है राजीव गांधी फाउंडेशन ट्रस्ट

राजीव गांधी फाउंडेशन ट्रस्ट की स्थापना कांग्रेस की मौजूदा अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 21 जून 1991 में थी। इस ट्रस्ट का उद्देश्य राजीव गांधी के सपनों को पूरा करना बताया गया था। यह ट्रस्ट प्राथमिक शिक्षा, साइंस एंड टेक्नोलॉजी के प्रमोशन, शोषित और दिव्यांगों के सशक्तिकरण की दिशा में काम करता है। इसका कामकाज डोनेशन से मिलने वाली रकम से चलता है। सोनिया इसकी चेयरपर्सन हैं। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अलावा राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और पी. चिदंबरम ट्रस्टी हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 9, 2020, 2:10 pm
Partly sunny
Partly sunny
32°C
real feel: 39°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 70%
wind speed: 3 m/s W
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 6
sunrise: 4:50 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending