Connect with us

देश

जस्टिस बोबडे को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलाई 47वें CJI की शपथ…

Published

on

राम मंदिर

फाइल फोटो

नई दिल्ली। अयोध्या राम मंदिर पर ऐतिहासिक फैसला देने वाली पांच सदस्यीय संविधान पीट का हिस्सा रहे जस्टिस शरद अरविंद बोबडे सोमवार को भारत के 47वें चीफ जस्टिस (सीजेआई) के रूप में शपथ ली है। उन्हें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शपथ दिलाई। 63 वर्षीय जस्टिस बोबडे मौजूदा चीफ जस्टिस रंजन गोगोई का स्थान लेंगे। सीजेआई के तौर पर जस्टिस बोबडे का कार्यकाल करीब 17 महीने का होगा और वह 23 अप्रैल, 2021 को सेवानिवृत्त होंगे। जानिए उनके अधिवक्ता से मुख्य न्यायाधीश बनने तक के सफर को।

आपको बता दें जस्टिस बोबडे का जन्म 24 अप्रैल 1956 को नागपुर में हुआ। उनके पिता फेमस वकील थे। उन्होंने नागपुर यूनिवर्सिटी से कला व कानून में स्नातक किया। 1978 में महाराष्ट्र बार काउंसिल में उन्होंने बतौर अधिवक्ता अपना पंजीकरण कराया।

राम मंदिर

हाईकोर्ट की नागपुर पीठ में 21 साल तक अपनी सेवाएं देने वाले जस्टिस बोबडे ने मार्च, 2000 में बॉम्बे हाईकोर्ट के अतिरिक्त जज के रूप में शपथ ली। 16 अक्टूबर 2012 को वह मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस बने। 12 अप्रैल 2013 को उनकी पदोन्नति सुप्रीम कोर्ट के जज के रूप में हुई।

बोबडे ने सुनाए कई अहम फैसले

अयोध्या के अलावा जस्टिस बोबडे और भी कई महत्वपूर्ण मामलों पर फैसला देने वाली पीठ का हिस्सा रह चुके हैं। अगस्त, 2017 में तत्कालीन चीफ जस्टिस जेएस खेहर की अध्यक्षता वाली 9  सदस्यीय संविधान पीठ का हिस्सा रहे जस्टिस बोबडे ने निजता के अधिकार को मौलिक अधिकार करार दिया था।

 बोबडे 2015 में उस तीन सदस्यीय पीठ में शामिल थे, जिसने स्पष्ट किया कि भारत के किसी भी नागरिक को आधार संख्या के अभाव में मूल सेवाओं और सरकारी सेवाओं से वंचित नहीं किया जा सकता। आपको बता दें बोबडे की अध्यक्षता वाली दो सदस्यीय पीठ ने बीसीसीआई का प्रशासन देखने के लिए पूर्व नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक विनोद राय की अध्यक्षता में बनाई गई प्रशासकों की समिति को निर्देश दिया कि वे निर्वाचित सदस्यों के लिए कार्यभार छोड़ें ।

ये भी पढ़ें:बीकानेर: बस और ट्रक में हुई जोरदार भिड़ंत, 10 की मौत 20 से ज्यादा घायल…

जस्टिस बोबडे ने उस तीन सदस्यीय इन हाउस जांच समिति की अध्यक्षता की थी, जिसने चीफ जस्टिस रंजन गोगोई पर एक महिलाकर्मी द्वारा लगाए यौन उत्पीड़न के आरोप की जांच की। समिति ने चीफ जस्टिस गोगोई को क्लीन चिट दी थी। समिति में जस्टिस बोबडे के अलावा दो महिला जज जस्टिस इंदिरा बनर्जी और जस्टिस इंदु मल्होत्रा भी शामिल हुई थीं।http://www.satyodaya.com

देश

राजस्थान: फतेहपुर में दीपक जलाने के दौरान दो समुदायों के बीच हुई पत्थरबाजी, एक गिरफ्तार

Published

on

नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर रविवार रात को पूरे भारत में दीपक जलाए गए। साथ ही लोगों ने ताली, थाली, शंख और पटाखे दगाये। इस दौरान राजस्थान के झुंझुनू जिले में दीये जलाते समय दो समुदाय आमने-सामने हो गए और जमकर पत्थरबाजी हुई।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन: हरभजन सिंह आए आगे, जालंधर के 5 हजार परिवारों को बाटेंगे राशन


झुंझुनू जिले के फतेहपुर इलाके में पीएम मोदी की अपील के बाद एक पक्ष दीये जला रहा था तभी दूसरे पक्ष ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। वहीं सूचना मिलते ही मौके पर तीन थानों की पुलिस पहुंची। जिसके बाद एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया। फिलहाल पुलिस मामले में आगे की कार्रवाई कर रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

जम्मू कश्मीर : पिछले 24 घण्टे में सेना ने 9 आतंकी मारे, एक जवान शहीद

Published

on

शनिवार से ही सेना और आतंकवादियों के बीच रही थी मुठभेड़

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में रविवार को भारतीय सेना ने एक बड़ी साजिश को नाकाम करते हुए पाकिस्तानी पांच आतंकियों को मार गिराया है। वहीं सेना का एक जवान भी शहीद हो गया है। जबकि दो अन्य जवान घायल हो गए हैं। शनिवार शाम से ही सेना की आतंकियों के साथ मुठभेड़ जारी थी। सेना से मिली जानकारी के अनुसार उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सेना का एक जवान शहीद हो गया है, जबकि दो गंभीर रूप से घायल हैं।

सेना ने 5 आतंकियों को भी मार गिराया। ये एलओसी से घुसपैठ कर आए थे। इससे पहले शनिवार को भी 4 आतंकी मारे गए थे। पिछले 24 घंटे में सेना ने कश्मीर में 9 आतंकियों को ढेर किया है। इसमें चार शनिवार को कुलगाम में मारे गए।

यह भी पढ़ें-मौलानाओं से बोले सीएम योगी, बीमारी मजहब देखकर नहीं आती…

जानकारी के अनुसार बुधवार को आतंकी एलओसी पार कर भारत के इलाके में घुस आए थे। ये आतंकी खराब मौसम और धुंध का फायदा उठाकर एलओसी पर घुसपैठ करने में कामयाब रहे।जानकारी होते ही सेना के जवानों ने इन आतंकियों को घेर लिया था। मुठभेड़ भी हुई लेकिन धुंध और बारिश का फायदा उठाकर आतंकी घेराबंदी तोड़ भाग निकले थे। सेना ने पूरे इलाके को घेरते हुए सघन तलाशी अभियान चलाया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

देहरादून: जमातियों की हरकतों से डॉक्टर परेशान, खाने में मांग रहे 25-25 रोटियां

Published

on

लखनऊ। देहरादून के सरकारी अस्पताल दून में भर्ती तबलीगी जमात के सदस्यों की हरकतों से वहां के डॉक्टर परेशान हैं। यहां भर्ती जमाती डॉक्टरों से 25-25 रोटी और एक बड़ें गिलास में चाय की मांग कर रहे हैं। यह न मिलने पर अस्पताल में हंगामा करते हैं। जानकारी के अनुसार अस्पताल में भर्ती जमाती डॉक्टरों से अलग-अलग मांग करने में जुटे हुए हैं। आलम ये है कि जमात में हिस्सा लेने के बाद यहां भर्ती हुए मरीज खाने में 25-30 रोटियां खा रहे हैं जबकि सामान्यत: अस्पताल के मेन्यू में मरीजों के लिए चार रोटी, सब्जी के साथ दाल मिलती है।

यहाँ 28 जमाती भर्ती हैं जिसमें से पांच लोगों में कोरोना के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। इन मरीजों में से कई की अभद्रता से डॉक्टर समेत सारे मेडिकल स्टाफ परेशान हैं। कई तो खाने और चाय की बेवजह मांग करके डॉक्टरों को तंग कर रहे हैं। दून अस्पताल के चिकित्सकों का कहना है कि अस्पताल में भर्ती एक कोरोना पॉजिटिव जमाती ने बीते दिनों अस्पताल के वॉर्ड में थूकना शुरू कर दिया था

इसे भी पढ़ें-लखनऊ में कोरोना पॉजिटिव के 7 नए मामले आये सामने, चार इलाके सील

बाद में किसी तरह अस्पताल के स्वास्थ्यकर्मियों ने उसे समझा-बुझाकर शांत कराया। इसके अलावा हर रोज कोई ना कोई जमाती चाय कप की बजाय बड़ी गिलास में देने या किसी अन्य डिश की मांग को लेकर चिकित्सकों से उलझ रहा है। ऐसे में इलाज की मुश्किलों के बीच अस्पताल में चिकित्सकों के लिए इन जमातियों की मांग पूरा करना मुसीबत का सबब बन गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 6, 2020, 2:12 pm
Mostly sunny
Mostly sunny
36°C
real feel: 37°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 18%
wind speed: 4 m/s WNW
wind gusts: 4 m/s
UV-Index: 6
sunrise: 5:22 am
sunset: 5:56 pm
 

Recent Posts

Trending