Connect with us

देश

पश्चिम बंगाल में बंपर वोट, जानिए 80% मतदान के कारण…

Published

on

पश्चिम बंगाल में रविवार को छठे चरण के मतदान के दौरान बंपर वोट डाले गए। वहीं हिंसा ने भी पहले के मुताबिक तमाम रिकार्ड तोड़ दिए। जहां छठे चरण के तहत रविवार को पश्चिम बंगाल में आठ सीटों पर शाम पांच बजे तक करीब 80 फीसदी मतदाताओं ने अपना वोट डाला। ऐसा बंगाल में पहली बार हुआ है जहां इतने मतदाताओं ने वोट किया है। जहां जागरूक मतदाताओं ने बढ़- चढ़ के अपना वोट डाला है।

जानकारी के मुताबिक चुनाव आयोग के सुरक्षा के इंतजाम के बाद भी वोटिंग के दौरान हिंसा की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। वहीं छठे चरण में 8 सीटों पर मतदान के दौरान घाटल से बीजेपी कैंडिडेट भारती घोष पर टीएमसी समर्थकों ने हमला कर दिया। वहीं, बंगाल के बीजेपी चीफ दिलीप घोष पर भी हमले की कोशिश की गई।

ममता बनर्जी का गढ़ कहे जाने वाले पश्चिम बंगाल की इस किलेबंदी के पीछे कई कारण हैं। दरअसल, जैसे-जैसे पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव का एक-एक चरण बीतता जा रहा है, वैसे राज्‍य में सत्‍ताधारी टीएमसी और विपक्षी बीजेपी के बीच हिंसा और धमकी देने की घटनाएं तेज हो गई हैं।

हिंसा के मामले

वैसे, राज्य में पहले चरण का मतदान भले शांतिपूर्ण रहा, लेकिन दूसरे चरण से शुरू हुई हिंसा हर चरण के साथ लगातार बढ़ रही है। यह हिंसा के ज्यादातर मामले बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के बीच ही हुए हैं। तीसरे चरण के मतदान के दौरान हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी जबकि आसनसोल संसदीय सीट के बीजेपी उम्मीदवार और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो के काफिले पर भी हमला हुआ था। पांचवें चरण में भी बैरकपुर में बीजेपी उम्मीदवार अर्जुन सिंह के साथ मारपीट हुई थी। वहीं छठे चरण के मतदान के दौरान बीजेपी कैंडिडेट पर टीएमसी समर्थकों ने हमला कर दिया।

बंगाल के कूच बिहार लोकसभा सीट पर 81.94% और अलीपुरद्वार लोकसभा सीट पर 81.04 फीसदी मतदान हुआ। जबकि उत्तर प्रदेश के 8 सीटों पर हुए मतदान में 63.69 फीसदी मतदान हुआ। हालांकि बंगाल के अलावा कई राज्य ऐसे रहे जहां पर 2014 की तुलना में इस बार मतदान कम हुआ है।

आपको बता दें कि 2011 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मात्र 40 फीसदी वोट मिले थे। वहीं, 2016 में उन्‍हें मात्र 25 प्रतिशत वोट मिले थे। लेकिन वर्ष 2018 के पंचायत चुनाव के बाद बीजेपी अचानक मुख्‍य विपक्षी पार्टी बन गई। पश्चिम बंगाल में करीब 30 फीसदी मुसलमान और 24 प्रतिशत दलित हैं। कभी ‘लाल’ गढ़ रहे पश्चिम बंगाल में मुसलमान अब तृणमूल कांग्रेस के साथ हैं वहीं दलितों का काफी ज्‍यादा वोट अब बीजेपी के साथ चला गया है।

बता दें कि लोकसभा चुनाव 2014 में पश्चिम बंगाल के 42 सीट पर बीजेपी ने 2, कांग्रेस 4, सीपीएम 2, तृणमूल कांग्रेस 34 हासिल की थी। यहां 295 विधानसभा और 42 लोकसभा सीट हैं। 23 जिलों वाले इस राज्य की राजधानी कोलकाता है। 19 मई को होने वाले आखिरी चरण में बंगाल की दमदम, बारासात, बशीरहाट, जयनगर, मथुरापुर, डायमंड हार्बर, जाधवपुर, कोलकाता दक्षिण, कोलकाता उत्तर में वोट डाला जाएगा। बंगाल में कई बार ऐसा देखने को मिला है, जब बीजेपी नेताओं को हेलिकॉप्टर उतारने, रैली करने पर रोक लगा दी गई है। वहीं सोमवार को ही अमित शाह के हेलिकॉप्टर उतारने की इजाजत को नकार दिया गया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

लालू मांगा आम तो डाॅक्टर ने कहा- जामुन खाइए…

Published

on

नई दिल्ली। चारा घोटाला में सजा काट रहे पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव लंबे समय से बीमार चल रहे हैं। इस समय वह रांची के रिम्स हॉस्पिटल में हैं। लालू यादव का आम प्रेम जगजाहिर है। लेकिन अब उनके इस आम प्रेम के बीच उनकी तबीयत बाधा बन गयी है। लालू यादव ने डाॅक्टरों से एक बार फिर से आम की डिमांड की लेकिन डॉक्टर ने उन्हें कुछ और खाने की सलाह दी है।
दरअसल, बीमार होने के बाद भी लालू प्रसाद यादव लगातार आम खा रहे हैं, जिससे उनके शुगर लेवल में भी इजाफा हो रहा है। एक बार फिर लालू ने डॉक्टर से आम खाने के तीव्र इच्छा जताई लेकिन डॉक्टर ने जामुन खाने की सलाह दी है।
लालू के डॉक्टर डीके झा ने हेल्थ अपडेट देते हुए कहा कि अभी उनका स्वास्थ्य ठीक है। लालू ने आम खाने की इच्छा जताई। पहले शुगर लेवल बढ़ जाने के कारण आम खाने से मना किया गया था, लेकिन बाद में कहा गया कि इस पर विचार किया जाएगा। हालांकि डॉक्टर ने उन्हें जामुन खाने की सलाह दी है।

यह भी पढ़ें-प्रदेश में हर दिन हो रहीं हत्या, लूट और बलात्कार की घटनाएं : अखिलेश यादव

डाक्टर ने लालू प्रसाद यादव ने कहा कि जामुन रोजाना 50 से 100 ग्राम खा सकते हैं। डॉक्टर ने यह भी बताया कि फिलहाल लालू की तबीयत अभी ठीक है। अस्पताल में लालू यादव से मिलने नेताओं के आने का सिलसिला जारी है। शनिवार को उनसे मिलने पहुंचे शरद यादव ने लालू की तबीयत को ठीक बताया है। उधर हाल ही में लालू प्रसाद यादव ने जमानत याचिका दाखिल की है। जिस पर पांच जुलाई को सुनवाई होगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

29 जून: जानिए इतिहास के पन्नों में आज के दिन क्या-कुछ घटित हुआ…

Published

on

इतिहास के पन्नों में आज क्या-कुछ घटित हुआ था? क्या कुछ खास घटा जिसने आज के वर्तमान को बदला और आगे का भी भविष्य बदल रहा है। वो महत्वपूर्ण लोग जिन्होंने देश-दुनिया पर असर डाला। किन महत्वपूर्ण लोगों ने आज 29 जून को जन्म लिया और किन लोगों का आज निधन हुआ। तो आइये चलते हैं इतिहास के इस सफर पर…

सिकंदरबेग ने 1444 में ऑटोमन साम्राज्य की सेना को हरा दिया था।

विलियम शेक्सपियर का ग्लेाब 1613 में थियेटर आग लगने से क्षतिग्रस्त हुआ।

यूनान, सर्बिया, मोन्टे नेग्रो, रोमानिया और उस्मानी शासन के साथ बुल्गारिया का युद्ध 1913 में आरंभ हुआ, जो दूसरे बाल्कान युद्ध के नाम से जाना जाता है।

अभिनेत्री मार्लिन मुनरो ने 1956 में पटकथा लेखक आर्थर मिलर से विवाह रचाया।

बीबीसी के अध्यक्ष ने 1960 में आज ही के दिन घोषणा की थी कि संस्था का नया टेलीविज़न केंद्र टेलीविज़न जगत की दुनिया का ‘हॉलीवुड’ होगा।

विश्व की प्रमुख कंपनी IBM द्वारा विश्व का सबसे तेज कम्प्यूटर 2000 में निर्मित।

पूर्वी एशिया सम्मेलन (जकार्ता) 2004 में आसियान को प्रमुख ताकत बनाने पर सहमति।

भारत और अमेरिका में 2005 को समग्र 10 वर्षीय समझौता।

आईफोन के नाम से जाना जाने वाला एप्पल का पहला स्मार्टफोन 2007 में आज ही के दिन बाजार में आया था।

सचिन तेंदुलकर ने 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ फ्यूचर कप के दूसरे मैच में आंद्रे नेल की गेंद पर वनडे करियर के 15 हजार रन पूरे किए। भारत ने यह मैच छह विकेट से जीता।

पर्यावरण से जुड़ी ग़ैर सरकारी संस्था जनहित फाउण्डेशन को 2008 में पर्यावरण क्षेत्र का प्रसिद्ध पुरस्कार आइकॉम पुरस्कार प्रदान किया गया।

दुनिया के पहले प्रेगनेंट पुरुष थॉमस ने 2008 में बेटी को जन्म दिया।

मानव तस्करी की निगरानी सूची (वॉच लिस्ट) से 2011 में भारत को बाहर कर दिया गया। छह साल के अंतराल के बाद, अमेरिका ने भारत को मानव तस्करी की निगरानी सूची (वॉच लिस्ट) से बाहर कर दिया।

कैलिफोर्निया ने 2013 में समलैंगिक विवाह पर लगी रोक हटाई।

सायना नेहवाल ने 2014 में ऑस्ट्रेलियन सुपर सीरीज जीती।

यह भी पढ़ें: नहर में उतराता शव देख मचा हड़कम्प, जांच में जुटी पुलिस…

29 जून को जन्मे व्यक्ति

देवकीनन्दन खत्री का जन्म 1861 में हुआ था। वह हिन्दी के प्रथम तिलिस्मी लेखक थे।

प्रसिद्ध भारतीय वैज्ञानिक एवं सांख्यिकीविद पी. सी. महालनोबिस का जन्म 1893 में हुआ था।

29 जून 1901 को भारत के अमर शहीद प्रसिद्ध क्रांतिकारियों में से एक राजेन्द्रनाथ लाहिड़ी का जन्म हुआ।

युगोस्लावियाई कवि वास्को पोपा का 1922 में जन्म हुआ।

निधन

भारतीय साहित्यकार, पत्रकार मेहता लज्जाराम का 1931 में निधन हुआ।•1961 में भारत के प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी, राजनीतिज्ञ एवं प्रथम रक्षामंत्री रहे सरदार बलदेव सिंह का निधन हुआ था।

भारत के प्रसिद्ध विद्वान, भाषा-वैज्ञानिक और गणितज्ञ दामोदर धर्मानंद कोसांबी का 29 जून 966 को निधन हुआ था।

आज ही के दिन 1873 में बंगला भाषा के प्रसिद्ध कवि माइकल मधुसूदन दत्त का निधन हुआ था।

राजस्थान की प्रसिद्ध मांड गायिका गवरी देवी का निधन 1988 में हुआ था।

के.जी.सुब्रह्मण्यम का निधन 2016 में हुआ। वह एक भारतीय मूर्तिकार और भित्ति चित्रकार थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

PNB बैंक से बड़ा है संदेसरा ब्रदर्स का घोटाला, ईडी ने दर्ज की फर्जी कंपनियों के खिलाफ 15 हजार करोड़ की धोखाधड़ी….

Published

on

फर्जी कंपनियां

फाइल फोटो

नई दिल्ली। फर्जी कंपनियां बनाकर बैंकों को चूना लगाने वाले संदेसरा ब्रदर्स के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय( ईडी) ने बड़ा खुलासा किया है। ईडी के मुताबिक संदेसरा ब्रदर्स ने स्टर्लिंग बायोटेक लिमिटेड स्कैम पीएनबी घोटाला से भी बड़ा है।

संदेसरा ग्रुप और इसके प्रमोटर नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा और दीप्ती संदेसरा ने भारतीय बैंकों को 14 हजार 500 करोड़ से ज्यादा की चपत लगाई है।  

जबकि नीरव मोदी ने 11 हजार 400 करोड़ रुपये का घोटाला किया है। इस मामले में अक्टूबर 2017 में सीबीआई की एफआईआर के बाद ईडी ने इस पर जांच शुरू की थी। गौरतलब है कि स्टर्लिंग बॉयोटेक के मालिक संदेसरा ब्रदर्स चेतन जयंतीलाल संदेसरा और नितिन जयंतीलाल संदेसरा पर फर्जी कंपनियां बनाकर बैंकों से लोन लेने का आरोप लगाया है। जबकि संदेसरा बंधुओं के खिलाफ सीबीआई ने 5700 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया था।

ये भी पढ़े:राजस्थान: अलवर लिचिंग मामले में पहलू खान और उनके 2 बेटों के खिलाफ पुलिस ने दायर की चार्जशीट….

इस मामले में स्टर्लिंग बायोटेक के साथ ही कंपनी के निदेशकों चेतन जयंतीलाल संदेसरा, दीप्ति चेतन संदेसरा, राजभूषण ओमप्रकाश दीक्षित, नितिन जयंतीलाल संदेसरा और विलास जोशी, सीए हेमंत गर्ग आदि को भी आरोपी बनाया गया था।

नीरव मोदी की तरह फरार चल रहे संदेसरा ब्रदर्स के खिलाफ ईडी के अनुसार लुकआउट नोटिस भी जारी हुआ था। सीबीआई की एफआईआर के अनुसार संदेसरा बंधुओं की कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक ने आंध्रा बैंक की अगुवाई वाले बैंकों से 5000 करोड़ रुपये ऋण लिए थे, जिसे उन्होंने चुकाया नहीं है।

अहमद पटेल के करीबी बताए जाते रहे हैं संदेसरा ब्रदर्स

संदेसरा ब्रदर्स को कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार और वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के करीबी माने जाते रहे हैं। पटेल के बेटे फैजल पटेल और दामाद इरफान सिद्दीकी स्टर्लिंग बायोटेक में शामिल बताए जाते हैं।

जानकारी के मुताबिक इस फर्जी कंपनी का पता भी अहमद पटेल के घर का है। कंपनी के सारे लेन-देन इसी पते से होते थे। वहीं इस धोखाधड़ी मामले में ईडी ने अहमद पटेल के बेटे और दामाद को भी आरोपी बनाया था।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 30, 2019, 11:21 am
Cloudy
Cloudy
28°C
real feel: 33°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 78%
wind speed: 3 m/s ESE
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 4:46 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending