Connect with us

देश

मध्य प्रदेश भाजपा का दावा- अल्पमत में है कमलनाथ सरकार, राज्यपाल को लिखी चिट्ठी

Published

on

नई दिल्ली। आम चुनाव के बाद आए एग्जिट पोल्स में एक बार फिर से एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलते हुए बताया गया है। रविवार को आए करीब दर्जन भर एग्जिट पोल के नतीजों में दूसरी बार मोदी को प्रधानमंत्री के पद पर वापसी करते बताया गया है। एग्जिट पोल के मुताबिक 2018 में हुए विधानसभा चुनावों में करारी चोट खाने वाली भाजपा के जख्मों पर मरहम लगता दिख रहा है। मध्य प्रदेश में कांग्रेस का प्रदर्शन 2014 के चुनावों से बेहतर होता दिख तो रहा है लेकिन फिर से भी भाजपा से वह अब भी बहुत पीछे है। एग्जिट पोल आने के साथ ही देश भर में राजनीतिक हलचल तेज हो गयी हैं। एग्जिट पोल से उत्साहित भाजपा ने अब कमलनाथ सरकार के खिलाफ मोर्चाबंदी करने की तैयारी कर ली है। ताजा घटनाक्रम में भाजपा ने मुख्यमंत्री कमलनाथ सरकार को अल्पमत में होने का दावा किया है। भारतीय जनता पार्टी ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को चिट्ठी लिखकर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग है। दूसरी ओर कमलनाथ सरकार ने भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा कि उनकी सरकार मजबूत है।

यह भी पढ़ें-एसएसपी की मुहिम को पलीता लगा रहे हैं नक्खास चौकी इंचार्ज

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दावा किया है कि कमलनाथ सरकार अपने आप गिर जाएगी। मैं खरीद-फरोख्त पर यकीन नहीं करता लेकिन इसका समय आ गया है और यह जल्द ही होगा। हम विधानसभा सत्र बुलाने के लिए गर्वनर को पत्र भेज रहे हैं। वहीं कांग्रेस सरकार ने भाजपा को जवाब देते हुए कहा, सरकार, मजबूत है, बीजेपी दिन में सपने देखा बंद करे। कांग्रेस नेता मुकेश नायक ने कहा कि जो संसदीय नियम और प्रक्रिया है, उसके मुताबिक विधानसभा का विशेष सत्र तभी बुलाया जा सकता है जब एक निश्चित अनुपात में विधायक यह मांग रखें या फिर मुख्यमंत्री सत्र आहूत करें। इससे पहले महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के प्रदेश में 29 में से 22 सीटों पर कांग्रेस की जीत के दावे पर कहा कि फिलहाल तो लोकसभा चुनाव के बाद प्रदेश में कमलनाथ के मुख्यमंत्री बने रहने पर भी प्रश्न चिह्न लगा हुआ है।
बता दें कि कुल 230 विधानसभा सीटों वाले मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी। उसने 114 सीटों पर जीत दर्ज की थी। हालांकि बहुमत के लिए 116 सीटें चाहिए थीं। वहीं बीजेपी को 109 सीटें मिली थीं। इसके अलावा निर्दलीय को चार, बसपा को दो सीटें और सपा को एक सीट मिली थी। चुनाव परिणाम आते ही सपा और बसपा ने कांग्रेस को समर्थन देने का ऐलान कर दिया था और निर्दलीय विधायक भी कांग्रेस के पक्ष में थे। इस प्रकार कांग्रेस ने अपने बहुमत का आंकड़ा साबित कर दिया था और कमलनाथ मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री बने थे।http://www.satyodaya.com

देश

पत्रकारों से बोले कुमारस्वामी, क्या सारे नेता मीडिया को कार्टून कैरेक्टर लगते हैं?…

Published

on

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने समाचार चैनलों पर राजनेताओं की ‘खिल्ली उड़ाने’ की आलोचना करते हुए कहा कि वह महसूस करते हैं कि इस पर नियंत्रण के लिए कानून लाए जाने की जरूरत हैं। मैसूरू में एक सार्वजनिक बैठक को संबोधित करते हुए एचडी कुमारस्वामी ने जद(एस)-कांग्रेस गठबंधन के लंबे समय तक बने रहने पर सवाल उठाने के लिए भी मीडिया की आलोचना की।

एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि यह गठबंधन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ‘शुभेच्छाओं’ के साथ आगे बढ़ता रहेगा। कुमारस्वामी ने समाचार चैनलों से पूछा, ‘‘आप हमारे नाम का दुरुपयोग करके उनकी मदद करने की कोशिश कर रहे हैं। मैं एक कानून लाने की सोच रहा हूं। आपने हम राजनेताओं के बारे में क्या सोचा है? आपको लगता है कि हम बेरोजगार हैं? क्या हम आपको कार्टून कैरेक्टर लगते हैं? आपको हर चीज को मजाकिया तरीके से दिखाने का अधिकार किसने दिया?”

यह भी पढ़े: विवादित बयान पर अब पश्चाताप करेंगी प्रज्ञा ठाकुर, 21 प्रहर का रखेंगी मौन…

इस दौरान एचडी कुमारस्वामी ने केदारनाथ और बद्रीनाथ जाने के लिए प्रधानमंत्री की आलोचना की। बता दें, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी द्वारा सेना के जवानों पर दिये गये विवादित बयान पर कांग्रेस को घेरते हुए शुक्रवार को कहा था कि इसे सुनने के बाद इस देश का कोई व्यक्ति आने वाले 100 साल तक कभी कांग्रेस को वोट नहीं देगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

एग्जिट पोल पर मजे ले रहीं जानी मानी हस्तियां ,वायरल हो रहें उनके ट्वीट

Published

on

लोकसभा चुनाव की जंग 19 मई को हुए सातवें चरण के मतदान के साथ ही खत्म हो गयी।अब इसके साथ ही Exit polls भी आने लगे जिसके मुताबिक इस बार भी NDA की सरकार बनती दिख रही है। एग्जिट पोल के आने के बाद राइटर चेतन भगत और कुमार विश्वास ने एक अनोखे अंदाज में रिएक्शन दिया है।

बता दें कि अलग-अलग एग्जिट पोल में पीएम नरेंद्र मोदी की दूसरी पारी की भविष्यवाणी के बाद राइटर चेतन भगत ने ट्वीट किया है। जिसमें वो मोदी विरोधियों से पूछ रहे हैं कि रिजल्ट आने के बाद किसे दोष देंगे। उन्होंने 4 ऑप्शन देकर वोटिंग कराई है। उन्होंने पोलिंग करते हुए लिखा- जब चुनाव परिणाम आएंगे, तो इस बार कौन अभिजात्य / मोदी विरोधी / विपक्ष किसे दोष देंगे? साथ ही उन्होंने चार ऑप्शन दिए। पहला ऑप्शन है ईवीएम, दूसरा अज्ञानी मतदाता, तीसरा खुद को और चौथा ऊपर के सभी। चेतन भगत का ये ट्वीट काफी वायरल हो रहा है।

वहीं एग्जिट पोल के जारी होते ही बीजेपी का पलड़ा भारी होता देख कुमार विश्वास ने भी चुटकी लेते हुए एक ट्वीट किया है। विश्वास ने लिखा , ‘ये एग्जिट पोल्स वाले भी बहुत बदमाश हैं, कम से कम 23 मई तक तो चैन से सोने देते? शैतान कहीं के।

यह भी पढ़ें –एग्जिट पोल आने के बाद यूपी में सियासी हलचल तेज, अखिलेश पहुंचे मायावती के द्वार

बता दें कि बीजेपी ने इस बार 420 सीटों पर चुनाव लड़ा है, जबकि बाकी सीटें उसने अपने सहयोगी पार्टियों के साथ बांटा है। इस बार 11 अप्रैल से 19 मई के बीच 7 चरणों में लोकसभा चुनाव संपन्न हुआ।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

विवादित बयान पर अब पश्चाताप करेंगी प्रज्ञा ठाकुर, 21 प्रहर का रखेंगी मौन…

Published

on

इस बार लोकसभा चुनाव में विवादित बयानों का सिलसिला लगातार देखने को मिला हैं। नेताओं ने एक दूसरे पर काफी विवादित बयान दिए हैं। वहीं बता दें कि कुछ दिन पहले ही साध्वी प्रज्ञा ठाकूर ने राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी को लेकर बहुत बड़ा बयान दिया था।जिसको लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काफी नाराज हो गए थे और उन्होंने कहा था वे प्रज्ञा को माफ नही करेंगे। बता दें कि राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की गोली मार कर हत्‍या करने वाले नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाली साध्वी प्रज्ञा ने माफ़ी मांग ली थी। साध्‍वी प्रज्ञा ने कहा था कि नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, देशभक्‍त हैं और देशभक्‍त रहेंगे।

इसके बाद प्रज्ञा ठाकुर ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि मेरे शब्दों से समस्त देशभक्तों को यदि ठेस पहुंची है तो मैं इसके लिए माफी मांगती हूं और अब वह 21 प्रहर का मौन रखेंगी।

यह भी पढ़े: प्रेमी संग भाग रही शादीशुदा महिला को परिजनों ने पकड़ कर किया थाने के हवाले…

बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर दिए गए विवादित बयानों पर कड़ा ऐतराज जताया था। एक निजी चैनल को दिए साक्षात्कार में पीएम मोदी ने कहा था कि वह साध्वी प्रज्ञा को कभी मन से माफ नहीं कर पाएंगे। मोदी ने कहा कि ऐसे सभी बयान पूरी तरह गलत हैं। उन्होंने कहा कि गांधी जी या गोडसे के बारे में बयानबाजी गलत है। उन्होंने कहा कि मैं चाहूं भी तो साध्वी को मन से कभी माफ नहीं कर पाऊंगा।

बता दें भोपाल से बीजेपी  की उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ने पहले राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को ‘देशभक्त’ बताया और विवाद के बाद माफी भी मांग ली।  गुरुवार को प्रज्ञा ने नाथूराम गोडसे को देशभक्‍त बताया था। प्रज्ञा ने कहा था कि ‘नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, देशभक्‍त हैं और देशभक्‍त रहेंगे.’ प्रज्ञा ने कहा था कि’ नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग अपने गिरेबां में झांक कर देखें। ऐसे लोगों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 20, 2019, 5:21 pm
Dreary (overcast)
Dreary (overcast)
39°C
real feel: 38°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 15%
wind speed: 3 m/s W
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 4:47 am
sunset: 6:19 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 8 other subscribers

Trending