Connect with us

देश

ओडिशा: नक्सलियों ने की चुनाव पर्यवेक्षक की हत्या

Published

on

सांकेतिक चित्र

ओडिशा:- कंधमाल जिले में नक्सलियों ने एक निर्वाचन अधिकारी को मौत के घाट उतार दिया। जहां पर  दूसरे चरण का मतदान हो रहा है। मतदान से ठीक एक दिन पहले चुनाव पर्यवेक्षक संयुक्ता दिग्गल की कंधमाल के गोछापाड़ तहसील के बालांदापाड़ा में नक्सलियों ने गोली मार कर हत्या कर दी।

जानकारी के मुताबिक नक्सलीयों ने हमला उस वक्त किया, जब चुनाव पर्यवेक्षक संयुक्ता दिग्गल के नेतृत्व में पोलिंग पार्टी अपने गंतव्य की ओर जा रही थी। ठीक उसी समय गोछापाड़ा में बारूदी सुरंग में विस्फोट हुआ। जिसकी वजह से पोलिंग पार्टी वहां रुक गई। उसी वक्त नक्सलियों ने चुनाव पर्यवेक्षक दिग्गल पर गोली चला दी। और दिग्गल के सिर में लग गई। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गईं। उन्हें फौरन जिला अस्पताल ले जाया गया, वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

हालांकि इस घटना में पोलिंग पार्टी के अन्य सदस्य जान बचाने में सफल रहे। इसके बाद नक्सलियों ने पोलिंग पार्टी के काफिले में शामिल वाहनों को आग के हवाले कर दिया। इसके पहले भी नक्सलियों ने फिरिंगिया के मुंगुनिपाड़ा में निर्वाचन अधिकारियों को ले जाने वाले एक वाहन में आग लगा दी थी।http://www.satyodaya.com

 

देश

पाकिस्तान को कड़ा सबक सिखाने के लिए अत्याधुनिक गोला बारूद खरीदेगा भारत…

Published

on

नई दिल्ली। मीडिया में खबरें आ रहीं हैं कि बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान भारत से बदला लेने की फिराक में है। अपने नापाक इरादों को अंजाम देने के लिए वह आतंकियों को प्रशिक्षण भी दे रहा है। लेकिन पाकिस्तान ने फिर से अगर पुलवामा हमले जैसी हरकत की तो उसे भारी कीमत चुकानी पड़ेगा। क्योंकि भारत भी लगातार अपनी तैयारियां और पुख्ता करने में जुटा है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद जैसे हालात से निपटने के लिए अब भारतीय सेना ऐसे बम खरीदने जा रही है जिनसे बेहद सटीक निशाना साधा जा सकेगा। लंबी दूरी की तोपों में इस गोला-बारूद का इस्तेमाल होगा। इसकी खास बात यह है कि बेहद घनी आबादी में भी ऐक्सकैलिबर गाइडेड गोला दुश्मन को पूरी सटीकता से 50 किमी से भी ज्यादा दूरी से तबाह कर सकता है।
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय सेना आपातकालीन खरीद प्रक्रिया के तहत अमेरिका से ऐक्सकैलिबर आर्टिलरी ऐम्युनिशन खरीदने की योजना बना रही है। फिलहाल अभी इस खरीद की समीक्षा की जा रही है। जिससे भविष्य में पुलवामा हमले के बाद बनी स्थिति के लिए तैयारी पुख्ता की जा सके। यह गोला-बारूद नियंत्रण रेखा पर तैनात यूनिटों के लिए खरीदा जा रहा है जहां पाकिस्तान की तरफ से गोलाबारी होती रहती है।

यह भी पढ़ें-MP: गोवंश के 25 तस्करों को ग्रामीणों ने पकड़कर किया पुलिस के हवाले, चल रही पूछताछ…

यह बम हवा में और बंकर जैसे ढांचे में घुसने के बाद भी धमाका कर सकता है। हाल में हुई एक बैठक में सेना ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह अमेरिका से इस गाइडेड ऐम्यनिशन की खरीद की योजना के बारे में जानकारी दी थी, जो GPS सिस्टम का इस्तेमाल कर 50 किमी की दूरी से ही दुश्मन के ठिकाने को तबाह कर सकता है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

MP: गोवंश के 25 तस्करों को ग्रामीणों ने पकड़कर किया पुलिस के हवाले, चल रही पूछताछ…

Published

on

फाइल फोटो

नई दिल्ली। सरकार की लाख सख्ती के बाद भी गोवंश तस्करी का सिलसिला लगातार जारी है। अभी हाल ही में मध्य प्रदेश के खंडवा में गोवंश की तस्करी करते हुए गांव वालों ने 25 आरोपियों को पकड़ा है। ग्रामीणों का आरोप है कि यह सभी लोग रात के अंधेरे में 8 पिकअप वाहनों में गायों को भरकर महाराष्ट्र की ओर ले जा रहे थे ।

तभी गांव वालों की नजर इन पर पड़ी और सबने मिलकर इन्हें धर-दबोचा । वहीं आरोपियों को पकड़ने के बाद ग्रामीणों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने 25 आरोपियों को कब्जे में लेकर 22 गोवंश को पकड़ लिया। वहीं पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कुछ सीहोर और कुछ हरदा जिले के हैं। वहीं कुछ स्थानीय लोग भी इनके साथ आरोपी बनाए गए हैं।

ये भी पढ़े:अलबेक रेस्टोरेंट में आग लगने से मचा हड़कम्प, दमकल ने पाया काबू

ग्रामीणों का कहना है कि गांव के आस-पास के इलाकों में काफी समय से यह काम चल रहा था। सभी ने को कई बार इन लोगों की गतिविधियां देखकर इन पर शक हुआ था, जिसके बाद ग्रामीणों ने खालवा तहसील के सांवली खेड़ा और कोठा गांव के बीच रात में इन लोगों को पकड़ लिया।

गांव वालों ने बताया कि इन लोगों ने छोटे वाहनों में लगभग दो दर्जन के आसपास गोवंश को ठूस-ठूस कर भरा हुआ था। ग्रामीणों ने सभी आरोपियों को रस्सी से बांधा और फिर उन्हें खालवा थाने ले गए। हालांकि अभी फिलहाल पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।http://www.satyodaya,.com

Continue Reading

देश

महबूबा बोलीं, हुर्रियत राजी तो सरकार बातचीत से न करे आनाकानी

Published

on

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में काफी समय से तनाव का माहौल चल रहा है। राष्ट्रपति शासन के बीच बातचीत भी ठप है। ऐसे समय में पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सरकार को हुर्रियत नेताओं से बातचीत करने की सलाह दी है।

पीडीपी की मुखिया महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर समस्या को हल करने के लिये कहा कि, ‘हुर्रियत के धड़े की ओर से कहा जा रहा है कि वे बातचीत के लिए तैयार हैं। अगर हुर्रियत बातचीत के लिए तैयार है तो भारत सरकार को इस मौके का फायदा उठाते हुए बातचीत की पहल करनी चाहिए।’

बता दें, हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारूक ने कश्मीरी लीडरशइप, केंद्र सरकार और इस्लामाबाद के बीच कश्मीर समेत सभी मुद्दों के हल के लिए त्रिपक्षीय बातचीत की मांग की है।

यह कोई पहली बार नहीं है जब महबूबा ने इस तरह का बयान दिया है। पहले भी उन्होंने बीजेपी-पीडीपी गठबंधन पर बोलते हुए कहा था कि हमारा भाजपा के साथ आने का मकसद नई दिल्ली और सभी पक्षकारों के बीच वार्ता कराना था। जब मुख्यमंत्री थी तब मैंने काफी कोशिश की थी लेकिन अब जाकर हुर्रियत का रूख नरम पड़ा है।

वहीं, इस मामले पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने भी कहा कि, ‘हुर्रियत कॉन्फ्रेंस वार्ता के लिए तैयार नहीं थी। 2016 में रामविलास पासवान हुर्रियत से बातचीत करने उनके दरवाजे पर खड़े थे, लेकिन वे बातचीत के लिए तैयार नहीं थे। अब वे तैयार हैं और बात करना चाहता हैं। सबमें बदलाव आया है।’http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 8, 2019, 9:03 am
Fog
Fog
28°C
real feel: 35°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 94%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 4:50 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending