Connect with us

देश

जम्मू कश्मीरः पुलवामा हमले को दोहराने की साजिश नाकाम, IED से भरी कार बरामद

Published

on

सुरक्षा बलों ने कार कब्जे में लेकर विस्फोटक सहित नष्ट किया, आतंकियों की तलाश जारी

लखनऊ। जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों ने आतंकियों की बड़ी साजिश को नाकाम करने में सफलता हासिल की है। खुफियों एजेंसियों व सुरक्षा बलों की सतर्कता से पुलवामा जैसा एक और आतंकी हमला होते-होते बच गया। गुरुवार सुरक्षा बलों ने जम्मू कश्मीर के पुलवामा में करीब 50 किलो विस्फोटक से भरी एक कार को समय रहते रोक कर कब्जे में ले लिया। सुरक्षा बलों से घिरता देख कार में सवार आतंकी भागने में सफल हो गए। आज सुबह सुरक्षा बलों ने विस्फोटक से भरी कार में रखे गए बम को डिफ्यूज कर आतंकियों की साजिश को नाकाम कर दिया।

सुरक्षा एजेंसियों को शक है कि इस कार का इस्तेमाल फरवरी 2019 में पुलवामा में सुरक्षा बलों पर IED से हुए हमले को दोहराने के लिए होने वाला था। कार में रखे गए विस्फोटक की पहचान आईईडी के रूप में हुई है। कार पर किसी दो पहिया वाहन की नंबर प्लेट लगायी गयी थी। जानकारी के मुताबिक खुफियों को इनपुट मिले थे कि पुलवामा में कार के जरिए सुरक्षा बलों को निशाना बनाया जा सकता है। जिसके बाद से सुरक्षा बलों को अलर्ट करते हुए सभी नाकों पर चेकिंग शुरू की गयी थी।

यह भी पढ़ें-UP: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के सिविल हॉस्पिटल का किया निरीक्षण

गुरुवार रात पुलवामा के रजपुरा रोड के पास सुरक्षा बलों ने इस कार को रोका था। चेक प्वाइंट पर पहुंचने से पहले ही कार सवार आतंकी नीचे कूद गए और सुरक्षा बलों पर फाॅयरिंग करते हुए जंगल की ओर भाग गए। सुरक्षा बलों ने कार में भारी मात्रा में आईईडी भरे होने पता लगाया। जिसके बाद गुरुवार सुबह नियंत्रित विस्फोट के जरिए कार को नष्ट कर दिया गया। मामले की जांच एनआईए को सौंपी गयी है। आतंकियों की तलाश के लिए सेना ने घाटी में तलाशी अभियान चलाया है। http://www.satyodaya.com

कोरोना वायरस

दिल्ली में तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल कोविद-19 पॉजिटिव

Published

on

लखनऊ। दिल्ली में तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं डीजी गोयल रिपोर्ट आने के बाद आइसोलेशन में चले गए हैं। यही नहीं उनके संपर्क में आने वाले उनके स्टाफ को भी क्वारंटाइन किया गया है। बता दें कि तिहाड़ जेल में कोरोना का पहला केस मई में आया था। जब यहां के जेल नंबर सात के एक अधिकारी को कोरोना हो गया था। असिस्‍टेंट सुपरिटेंडेंट ने 22 मई को कोविड टेस्‍ट कराया था। जो पॉजिटिव आने के बाद जेल में हड़कंप मच गया था। इसके बाद अधिकारी के संपर्क में आने वाले लोगों की सूची बनाई गई थी और उनकी भी जांचें कराई गई थीं। इसके साथ ही मंडोली और रोहिणी जेल में भी कोरोना के मामले आ चुके हैं। जिसको देखते हुए कैदियों को लेकर भी खास सुरक्षा बरती जा रही है। साथ ही कोशिश की जा रही है कि कोरोना यहां की एक जेल से दूसरी जेल में ना पहुंचे।

यह भी पढ़ें: नाना को facebook पर हुआ प्यार, प्रेमिका को पाने के लिए किया एक मासूम का अपहरण

 बता दें राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया कोरोना के साथ डेंगू की चपेट में आ गए हैं। गुरुवार को उनके डेंगू से पीड़ित होने की पुष्टि हुई। आपको बता दें कि इससे एक दिन पहले उन्हें कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण सरकारी लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। जबकि डेंगू से पीड़ित होने की पुष्टि के बाद सूत्रों ने बताया कि सिसोदिया के रक्त में प्लेटलेट्स की संख्या में भी गिरावट आई है और डॉक्‍टर्स लगातार नजर रखे हुए हैं।http://satyodaya.com

Continue Reading

देश

घर वापस आ रहे युवक की सड़क हादसे में मौत, घंटो शव से लिपट बिलखते रहे परिजन

Published

on

लखनऊ। हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में वाहन की चपेट में आने से बाइक सवार युवक की सड़क हादसे में घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना की कुछ मार्मिक तस्वीरे सामने आई है। परिजन एक घंटे तक शव लिपट कर बिलखते रहे और गुस्साई भीड़ आरोपी कार चालक को पीटती रही। जानकारी के मुताबिक, कांगड़ा के बैजनाथ के मझेरना गांव का 32 साल का गुलशन कुमार दूसरे गांव सुंगल से परिजनों के साथ घर वापस आ रहे थे। उसी वक़्त पढियारखर के समीप बैजनाथ की ओर से आ रही आल्टो कार ने गुलशन को जोरदार टक्कर मार दी। जिसके चलते युवक हवा में उछलकर सड़क पर गिर गया और फिर घिसटते हुये अपनी रफ़्तार के साथ आ रहे एक ट्रक के अगले पहियों से जा टकराया। इससे पहले ट्रक चालक कुछ समझ पाता और पहियों को जाम करता तब तक ट्रक के अगले पहिये गुलशन के ऊपर चढ़ चुके थे। जिसके कारण युवक की मौके पर ही मौत हो गई।

यह भी पढ़ें: पानीपत: साइको किलर ने कुल्हाड़ी से की 3 की हत्या, 2 शवों के साथ बनाया संबंध

बता दें परिजन मौके पर पहुंचकर कर अपने लाड़ले के शव के साथ लिपटकर घण्टों बिलखते रहे, जबकि भीड़ कार चालक को पीटती रही। पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद जब मौके की स्थिति पर काबू पाया तो उसके बाद ऑल्टो कार चालक भीड़ के हाथों से बचाकर टांडा मेडिकल कॉलेज रेफर किया। ताकि वहां उसकी मरहम पट्टी के साथ मेडिकल करवाया जा सके कि कहीं वो नशे में तो नहीं था।

जानकारी के मुताबिक, घटना की सूचना मिलते ही पंचरूखी थाना पुलिस टीम ने थाना प्रभारी राजमल की अगुवाई में मौके का मुआयना किया तो ट्रक चालक मौके से फ़रार था। हालांकि, बाद में उसने खुद सरेंडर कर दिया। घटनास्थल पर पुलिस ने बुरी तरह से कुचले जा चुके गुलशन कुमार के शव को बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है।http://satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

पानीपत: साइको किलर ने कुल्हाड़ी से की 3 की हत्या, 2 शवों के साथ बनाया संबंध

Published

on

पानीपत। हरियाणा के पानीपत में तिहरे हत्याकांड का सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां समालखा खंड इलाके में गुरुवार को एक साइको किलर ने एक के एक बाद 3 महिलाओं को मौत के उतार दिया। जिस तरह से हत्या को अंजाम दिया गया है। उससे साफ पता लगता है कि ये किसी सामान्य आदमी की करतूत नहीं हो सकती है। पुलिस का भी मानना है कि पकड़ा गया आरोपी साइको किलर यानी मानसिक रूप से बीमार है। बता दें डीएसपी सतीश वत्स ने प्रेसवार्ता कर खुलासा किया कि एक साथ 3 महिलाओं की हत्या की वारदात को अंजाम देने वाला कोई और नहीं, बल्कि मृतक महिला मधु का पति नूरहसन ही है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और आगे की कार्रवाई कर रही है।

यह भी पढ़ें: महंगाई की मार! बेरोजगारी के आलम में टमाटर 80 तो प्याज 60 रुपए के पार, लोग परेशान

बता दें आरोपी ने पहली हत्या अवैध संबंधों के शक के चलते अपनी पत्नी को मौत के घाट उतार दिया। फिर साक्ष्य छिपाने के लिए आरोपी नूरहसन ने अपनी पत्नी के शव को जलाया और चेहरा को बुरी तरह बिगाड़ दिया। पुलिस को महिला का कंकाल रेलवे ट्रैक पर पड़ा मिला।

सास और साली की हत्या के बाद किया दुष्कर्म
घटना में दिल दहलाने वाला पहलू ये है कि किलर ने पत्नी की हत्या के बाद सास और साली को भी मौत के घाट उतार दिया और इतना ही नहीं हत्या के बाद शवों के साथ दुष्कर्म भी किया। पुलिस को जब तीन महिलाओं की हत्या का पता चला तो उनके सामने उद्भेदन की बड़ी चुनौती थी। लिहाजा दंपति के बीच इस मसले को लेकर अक्सर झगड़ा भी होता था। इस दौरान हसन की सास और उसकी साली उसका विरोध किया करते थे।

जघन्य हत्याकांड को दिया अंजाम
आरोपी ने अवैध संबंधों के शक के चक्कर में पत्नी की हत्या की। सुबूत मिटाने के लिए नूरहसन ने पत्नी का शव जलाने की कोशिश की फिर अधजले शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया। महिला का कंकाल पुलिस को रेलवे ट्रैक पर पड़ा मिला था। फिर आरोपी नूरहसन ने एक के बाद एक अपनी सास और 18 साल की अपनी साली मनीषा को कुलहाड़ी से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। हत्या के बाद साइको किलर ने सास और साली के साथ शारीरिक संबंध भी बनाया। आरोपी नूरहसन ने घटना के साक्ष्य मिटाने की पुरजोर कोशिश की। साथ ही वो फरार होने की जुगत में भी था। पुलिस की तत्परता से इस सनसनीखेज मामले का उद्भेदन हो सका। साथ हु पुलिस मामले की पूरी जांच क्र रही है।http://satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 25, 2020, 7:08 pm
Fog
Fog
29°C
real feel: 35°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 83%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:26 am
sunset: 5:29 pm
 

Recent Posts

Trending