Connect with us

देश

69 साल के हुए पीएम मोदी, जन्मदिन पर संकटमोचन मंदिर में चढ़ाया गया सोने का मुकुट

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 69वें जन्मदिन पर उन्हें देशभर से बधाइयों का सिलसिला जारी है। सोशल मीडिया पर पीएम मोदी का बर्थडे ट्रेंड कर रहा है। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से लेकर तमाम केंद्रीय मंत्री, बीजेपी नेता-कार्यकर्ता और विपक्षी दलों के नेताओं ने पीएम को बधाई दी है। वहीं उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी जन्मदिन का जश्न मनाया जा रहा है। यहां उनके एक उत्साही प्रशंसक ने संकटमोचन मंदिर में सोने का मुकुट दान किया है। यह मुकुट 1.25 किलो वजनी है।

पीएम मोदी के इस प्रशंसक का नाम अरविद सिंह है जिसने सोमवार को वाराणसी के प्रसिद्ध संकटमोचन मंदिर में भगवान हनुमान को सोने का मुकुट चढ़ाया है। अरविंद ने बताया कि उन्होंने प्रतिज्ञा की थी कि अगर पीएम मोदी दूसरी बार सत्ता में आते हैं तो वह भगवान हनुमान को सोने का मुकुट चढ़ाएंगे।

बता दें कि पीएम मोदी सोमवार रात को गुजरात के अहमदाबाद पहुंच गए हैं। यहां वह अपनी मां हीराबेन से आशीर्वाद लेने जाएंगे। बीजेपी 14 से 20 सितंबर तक सेवा सप्ताह नाम से पीएम मोदी का जन्मदिन मना रही है। पार्टी ने घोषणा की कि इस दौरान पार्टी नेताओं द्वारा कई सामाजिक कार्यक्रम किए जाएंगे।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

कोरोना का असरः तमिलनाडु में बाल कटाने से पहले दिखाना होगा आधार कार्ड

Published

on

लखनऊ। इस समय पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है। इसी बीच 1 जून से शुरू हुए लाॅकडाउन-5.0 में लगभग सभी तरह की गतिबिविधियों को हरी झण्डी दे दी है। अब महामारी से निपटने की मुख्य जिम्मेदारी राज्यों को मिल गयी है। तमिलनाडु सरकार ने कोरोना से निपटने के लिए राज्य के सभी सैलून और ब्यूटी पार्लर खोल दिए हैं। लेकिन इन सैलून व ब्यूटी पार्लरों के लिए सख्त निर्देश भी जारी किए गए है। सरकार ने एक निर्देश जारी कर कहा है कि सैलून में आने वाले ग्राहकों को अपना आधार कार्ड लेकर आना होगा। बाल कटवाने या सेविंग कराने से पहलेे ग्राहक को आधार कार्ड दिखाना होगा।

यह भी पढ़ें-बागपतः भाजपा नेता के बेटे सहित तीन लोगों की हत्या से मचा हड़कंप

सैलून चलाने वाला अपने ग्राहक का नाम, पता और मोबाइल नंबर भी रिकार्ड में रखेगा। सैलून मालिकों को फिलहाल आधे कर्मचारियों के साथ ही दुकान खोलने की इजाजत दी गयी है। सैलून पर काम करने वालों सभी कर्मचारी कोरोना से बचाव के लिए जरूरी सभी आवश्यक उपकरणों से लैस होंगे। साथ ही ग्राहकों को भी डिस्पोजेबल एप्रेन और जूता कवर उपलब्ध कराना होगा। सैलून में सिर्फ 50 फीसदी स्टाफ को ही आने की इजाजत होगी। सैलून में ऐसी नहीं चलेगा। सभी को मास्क लगाकर बैठना होगा। सभी ग्राहकों को हाथों की स्वच्छता का भी ख्याल रखना होगा।

कोरोना से अब खुद निपटेंगे राज्य

बता दें कि कोरोना महामारी के बीच 1 जून से लाॅकडाउन-5.0 शुरू हो चुका है। केन्द्र सरकार ने लाॅकडाउन-5.0 में लगभग सभी तरह की गतिबिविधियों को हरी झण्डी दे दी है। हालांकि सरकार ने कोरोना प्रभावित क्षेत्रों में लाॅकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए भी कहा गया है। केन्द्र ने कोरोना से निपटने की जिम्मेदारी अब राज्यों को सौंप दी है।

तमिलनाडु देश का दूसरा सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य

बता दें कि तमिलनाडु देश का दूसरा सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्य बन गया है। राज्य में अब तक महामारी से 184 लोगों की मौत हो चुकी है। तमिलनाडु में संक्रमित लोगों की कुल संख्या 23 हजार के पार पहुंच चुकी है। बीते सोमवार को राज्य में 1000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

‘इंडिया’ के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में लगाई गई याचिका, सुनवाई टली

Published

on

दिल्ली के नमह ने कहा, देश को इंडिया नहीं भारत के नाम से पहचाना जाए

लखनऊ। वैसे तो भारत के कई नाम हैं। मुख्य रूप से इसे आर्यावर्त, भारत, हिन्दुस्तान, जंबूद्धीप और अंग्रेजी में इंडिया कहा जाता है। भारत को इंडिया नाम अंग्रजों ने दिया। इंडिया और भारत को लेकर पिछले कुछ दशकों में राजनीतिक बहस तेज हुई है। इंडिया का मतलब उस शहरी आबादी से लगाया जाने लगा है, जहां उच्च शिक्षित लोग अपने आलीशान बंगलों में दुनिया की हर सुख-सुविधा का आनंद ले रहे हैं, जबकि भारत का मतलब उस क्षेत्र और आबादी से लगाया जाने लगा है, कम शिक्षित और गरीब लोग अपने जीवन का किसी तरह गुजर-बसर करते हैं।

इंडिया और भारत का यह विवाद अब देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है। दिल्ली के रहने वाले नमह नाम के व्यक्ति ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर देश का एक नाम तय करने की मांग की है। नमह का कहना है कि देश का अंग्रेजी नाम इंडिया बदल कर सिर्फ एक नाम भारत कर देना चाहिए। इसके लिए नमह ने संविधान के अनुच्छेद में बदलाव करने की भी मांग की है। नमह का कहना है कि देश का इंडिया नाम गुलामी की याद दिलाता है। इसलिए आधिकारिक तौर पर भी इंडिया की जगह देश को भारत या हिंदुस्तान के नाम से पुकारा जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें-यूपीः लेडी पुलिस के प्यार में पड़े युवक को दबंगों ने जिंदा जलाया, फोर्स तैनात

बता दें कि भारतीय संविधान के पहले अनुच्छेद में ही लिखा है, इंडिया यानी भारत राज्यों का संघ होगा। याचिकाकर्ता ने इसी पर आपत्ति जाहिर की है। नमह ने याचिका में कहा है कि संविधान के इस अनुच्छेद में बदलाव करते हुए इंडिया की जगह भारत या हिन्दुस्तान कर दिया जाए। ताकि देश को संवैधानिक और आधिकारिक तौर पर भारत से मान्यता दी जा सके। याचिकाकर्ता ने कहा है कि ऐसा करने से देश में राष्ट्रीय एकता की भावना भी मजबूत होगी।

याचिका पर आज भी नहीं हो सकी सुनवाई

नमह की इस याचिका पर मंगलवार (2 जून) को सुनवाई होनी थी। लेकिन सीजेआई की गैर मौजूदगी के चलते आज भी सुनवाई नहीं हो सकी। इससे पहले बीते शुक्रवार को भी इंडिया का नाम बदलने की मांग वाली इस याचिका पर सुनवाई टल गयी है। अदालत ने फिलहाल सुनवाई के लिए अभी कोई तारीख नहीं दी है।

अलग-अलग कागजों पर कई नाम

एक मीडिया चैनल से बात करते हुए कहा, हमारे देश के कितने ही नाम हैं। अलग-अलग कागजों पर कई नाम दिख दिए जाते हैं। जैसे कि आधार कार्ड पर भारत सरकार, ड्राइविंग लाइसेंस पर यूनियन ऑफ इंडिया, पासपोर्ट पर रिपब्लिक ऑफ इंडिया। नमह ने कहा कि इतने नामों से लोगों को भ्रमित होते हैं। इसलिए देश का एक ही नाम होना चाहिए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

गुजरात में कल ‘निसर्ग तूफान’ दे सकता है दस्तक, अलर्ट जारी

Published

on

नई दिल्ली। देश में कोरोना संकट के बीच चक्रवाती तूफान भी तबाही मचाए हुए है। ओडिशा और पश्चिम बंगाल में आये अम्फान के बाद निसर्ग तूफान भी गुजरात में बुधवार दस्तक दे सकता है। जिसके मद्देनजर महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा, दमन-दीव और दादरा नगर हवेली में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।  इससे होने वाली तबाही की आशंका को देखते हुए राज्य सरकारों ने निचले स्थानों पर रहने वालों को निकालने का आदेश भी जारी कर दिए हैं। साथ ही आधा दर्जन से अधिक जिलों में नेशनल डिजास्टर रेस्पॉन्स फोर्स (NDRF) की 10 टीमें तैनात की गई हैं। निसर्ग के खतरे से निपटने के लिए कुल NDRF 23 टीमों को तैनात किया गया है।

निसर्ग तूफान मुंबई और पालघर के नजदीक पहुंच गया है। यह मुंबई में समुद्र के तट को छूने वाला है। मुंबई के लिए यह पहला गंभीर चक्रवात होगा। अरब सागर पर बना कम दबाव का क्षेत्र मुंबई की ओर बढ़ रहा है। यह अभी मुंबई से 450 किमी दूर है। चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ के खतरे को देखते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने इससे निपटने की तैयारियों को लेकर नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (NDMA) के अधिकारियों और प्रभावित होने वाले राज्यों के मुख्यमंत्रियों के बैठक की। उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हर संभव मदद का भरोसा दिया।

यह भी पढ़ें:- यूपीः लेडी पुलिस के प्यार में पड़े युवक को दबंगों ने जिंदा जलाया, फोर्स तैनात

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि अरब सागर पर बना कम दबाव का क्षेत्र अगले 24 घंटों में चक्रवात का रूप ले सकता है। विभाग ने चेतावनी दी है कि 3 जून की शाम को चक्रवाती तूफान उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात को पार कर जाएगा जिससे भारी बारिश होने का अनुमान है। मौसम विभाग के मुताबिक कम दबाव का क्षेत्र वर्तमान में गोवा से 300 किलोमीटर दूर है। वहीं इस दवाब के भयंकर चक्रवाती तूफान में तब्दील होने पर हवा की गति 105 से 115 किमी प्रति घंटा हो सकती है।  गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा कि चक्रवात के कारण उपजी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए दक्षिणी गुजरात के पांच जिलों- सूरत, भरुच, नवसारी, वलसाड और दांग और सौराष्ट्र के भावनगर और अमरेली जिले में NDRF की 10 टीमें तैनात की गई हैं। वहीं सीएम ठाकरे ने कहा कि अरब सागर में विकसित हो रहे चक्रवाती तूफान के मद्देनजर मुंबई शहर, मुंबई उपनगरीय जिले, ठाणे, पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग जिलों में अलर्ट जारी किया गया है।http://www.satyodata.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 2, 2020, 3:40 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
33°C
real feel: 38°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 58%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 4:43 am
sunset: 6:27 pm
 

Recent Posts

Trending