Connect with us

देश

पीएम मोदी ने तेल उत्पादक देशों को दिया संकेत, कहा-उनकी मनमर्जी से नहीं चलेगा बाजार

Published

on

समझदारी से तय हों कच्चे तेल की कीमतें

नई दिल्ली । अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें तीन वर्ष के उच्चतम स्तर पर हैं और घरेलू बाजार में भी पेट्रोल और डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं । ऐसे समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तेल उत्पादक देशों से आग्रह किया है कि वे इसकी कीमत तय करने में समझदारी दिखाएं । ऊर्जा क्षेत्र के सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन इंटरनेशनल एनर्जी फोरम-16 (आईईएफ-16) का उद्घाटन करते हुए मोदी ने कहा कि अगर समाज के सभी वर्गों को किफायती दरों पर ऊर्जा नहीं उपलब्ध कराई गई तो तेल उत्पादक देशों का ही घाटा होगा। मोदी जब यह बात कह रहे थे, तब उनके आस-पास ओपेक (तेल उत्पादक देशों के संगठन) के महत्वपूर्ण सदस्य सऊदी अरब, ईरान, नाइजीरिया, कतर के मंत्री बैठे हुए थे । मोदी ने यह भी कहा कि अगले 25 वर्ष तक भारत में ऊर्जा की मांग में सालाना 4.2 फीसदी की बढ़ोतरी होगी, जो विश्व में और कहीं नहीं होगी ।

आईईएफ में वैसे तो 72 देश सदस्य हैं लेकिन इस बैठक में 92 देशों के सदस्य हिस्सा ले रहे हैं । इसमें मोदी ने जहां ऊर्जा क्षेत्र में भारत की बढ़ती अहमियत को मजबूती से रेखांकित किया, वहीं तेल उत्पादक देशों को साफ तौर पर संकेत दे दिया कि उन्हें तेल के खरीदार देशों के हितों का भी ख्याल रखना होगा । सिर्फ तेल उत्पादक देशों के हितों से यह बाजार नहीं चलेगा । उल्लेखनीय है कि भारत अभी कच्चे तेल का सबसे बड़े खरीदार देश है । यहां अब भी कुल खपत का 80 फीसदी से ज्यादा तेल आयात होता है । चार वर्ष तक क्रूड की कीमतों में नरमी के बाद अभी यह 71 डॉलर प्रति बैरल को पार कर गया है । दो साल पहले यह 42 डॉलर था । इसका असर यह हुआ है कि भारत में अभी पेट्रोल व डीजल की कीमतें पिछले चार वर्ष के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई हैं । नई दिल्ली में पेट्रोल 73.98 रुपये प्रति लीटर व डीजल 64.96 रुपये है । इसके लिए उत्पाद शुल्क में भारी वृद्धि भी जिम्मेदार है । इसे घटाने के लिए सरकार अभी तैयार नहीं दिखती । अगर कीमतें ज्यादा बढ़ेंगी तो इनकी खपत भारत में कम हो सकती है, जिसका खामियाजा अंतत: तेल उत्पादक देशों को ही उठाना पड़ेगा।http://www.styodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

मासूम बच्चे ने प्रदूषण को बताया दिल्ली का फेस्टिवल, देखें वायरल निबंध…

Published

on

प्रदूषण

फाइल फोटो

नई दिल्ली। दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण से जहां एक तरफ लोग परेशान हैं वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर प्रदूषण से जुड़ा एक निबंध बड़ी तेजी के साथ वायरल हो रहा है।

इस निबंध को देखने से साफ पता चल जाता है कि बच्चे को प्रदूषण से होने वाले खतरे की थोड़ी भी समझ नहीं है, लेकिन बच्चे ने जिस मासूमियत के साथ यह निबंध लिखा है वह आपको हंसा जरूर सकता है।

वायरल निबंध में देख सकते हैं कि प्रदूषण दिल्ली का प्रमुख त्योहार है। यह हमेशा दिवाली के बाद शुरू होता है। इसमें हमें दिवाली से भी ज्यादा हॉलीडे मिलते हैं। दिवाली में हमें 4 हॉलिडे मिलते हैं। लेकिन प्रदूषण में हमें 6+2=8 हॉलिडे मिलते हैं। इसमें लोग अलग-अलग मास्क पहनकर घूमते हैं। घरों में काली मिर्च, शहद व अदरक ज्यादा प्रयोग किए जाते हैं। यह बच्चों के लिए अधिक प्रिय है।

ये भी पढ़ें:बिहार: बच्चों का मिड-डे मील बनाते समय ब्वॉयलर में हुआ विस्फोट, 4 की मौत 5 घायल

इस निबंध को पढ़ने से लगता है कि बच्चा इसलिए भी काफी खुश है क्योंकि प्रदूषण के चलते स्कूलों में लगातार छुट्टियां हो रही हैं। जिससे बच्चे को स्कूल नहीं जाना पड़ता है। बच्चे को खूब मस्ती करने का मौका मिल रहा है। बच्चे का निबंध फेसबुक, ट्विटर और वॉट्सऐप पर तेजी से शेयर किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक देश की राजधानी दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के स्तर को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सख्त रुख अपनाते हुए केंद्र सरकार को इससे छुटकारे के लिए रोडमैप तैयार करने का  आदेश जारी किया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सरकार दिल्ली में उन स्थानों का चयन करे, जहां पर प्रदूषण का स्तर सबसे अधिक है और वहां पर एयर प्यूरीफायर टावर लगाए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

तीस हजारी कोर्ट मामले में HC ने आरोपी पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी पर लगाई रोक….

Published

on

तीस हजारी

फाइल फोटो

नई दिल्ली। तीस हजारी कोर्ट मामले में दिल्ली पुलिस को राहत मिली है। दिल्ली हाई कोर्ट ने पुलिस की याचिका पर सुनवाई करते हुए आरोपी पुलिसवालों की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है। इतना ही नहीं इसके साथ ही हाईकोर्ट ने सभी बार काउंसिल को नोटिस जारी किया है। अब मामले की सुनवाई 23 दिसंबर को की जाएगी।

हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डीएन पटेल और जस्टिस सी हरिशंकर की बेंच के सामने सुनवाई शुरू हुई। कोर्ट ने कहा कि ज्यूडिशियल इन्क्वॉयरी पूरी होने से पहले किसी भी पुलिसकर्मी के खिलाफ कोई कड़ी कार्रवाई न की जाए।

कोर्ट के इस आदेश के बाद वकीलों पर ये दबाव रहेगा कि वो हड़ताल को खत्म करें। वकील पिछले 2 हफ्ते से पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हड़ताल कर रहे थे, लेकिन आज कोर्ट ने यह साफ कर दिया कि जुडिशल इंक्वॉयरी पूरी हुए बिना पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी नहीं की जाएगी। 3 नवंबर को कोर्ट ने वकीलों के खिलाफ भी कोई सख्त कार्रवाई न करने का आदेश पहले ही कर दिया था। बता दें कि दिल्ली पुलिस ने आरोपी पुलिसवालों के खिलाफ कोई कार्रवाई ना करने की याचिका दाखिल की थी।

ये भी पढ़ें:सुप्रीम कोर्ट ने तथ्यों के आधार पर नहीं दिया अयोध्या फैसला- ‘’इमरान हसन’’

वहीं पुलिस का कहना था कि जिस तरह से वकीलों की गिरफ्तारी पर कोर्ट ने रोक लगा रखी है, उसी तरह से पुलिसकर्मियों की गिरफ्तारी पर भी रोक लगाई जाए।

बता दें वकीलों ने इसका विरोध किया है। वकीलों का कहना था कि पुलिस की ये याचिका उन पुलिसवालों को जमानत दिलाने के लिए है, जिन्होंने वकीलों पर गोली चलाई और जिनकी गिरफ्तारी की मांग वकील लगातार कर रहे हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

INX MEDIA CASE में HC ने खारिज की पी चिदंबरम की जमानत याचिका…..

Published

on

पी चिदंबरम

फाइल फोटो

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की जमानत याचिका पर आज दिल्ली हाई कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए उसे खारिज कर दिया है। पी चिदंबरम को आईएनएक्स मीडिया मामले में 21 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था। तब से चिदंबरम तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत में  हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की ओर से दिल्ली हाईकोर्ट में जमानत की मांग करते हुए कहा गया था कि आईएनएक्स मीडिया मामले के सभी दस्तावेज जांच एजेंसियों के पास हैं, इसलिए उनके साथ किसी भी तरह की छेड़छाड़ नहीं की जा सकती है। जिसके बाद ईडी ने 8 नवंबर को चिदंबरम की जमानत याचिका का विरोध किया था और कोर्ट में दलील दी थी कि वह जमानत मिलने के बाद गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:आमिर की बेटी इरा खान ने कराया हॉट फोटोशूट, खूबसूरत अंदाज में आईं नजर….

ईडी का प्रतिनिधित्व कर रही सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने दलील दी कि पूर्व वित्तमंत्री पर चल रहा धन शोधन मामला काफी गंभीर है। उन्होंने कहा कि यह एक आर्थिक अपराध है जो काफी अलग है।

74 वर्षीय चिदंबरम को सीबीआई ने 21 अगस्त को आईएनएक्स मीडिया मनी लॉन्ड्रिंग मामले में अरेस्ट किया था।वह फिलहाल मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े एक मामले में ईडी की कस्टडी में हैं। सीबीआई ने उनके खिलाफ 15 मई, 2017 को एक एफआईआर दर्ज कराई थी। इसमें उन पर साल 2007 में आईएनएक्स मीडिया ग्रुप के लिए आने वाले 305 करोड़ के विदेशी फंड के लिए फॉरेन इंवेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड से गलत तरीके से अनुमतियां लेने का भी आरोप लगाया गया था। बता दें उस समय पी चिदंबरम ही वित्तमंत्री थे। बाद में ईडी ने भी 2017 में उनके खिलाफ एक केस दर्ज कराया था, जिसके बाद उन्हें इस साल 16 अक्टूबर को ईडी ने अरेस्ट कर पूछताछ की थी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 16, 2019, 11:24 am
Partly sunny
Partly sunny
23°C
real feel: 27°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 70%
wind speed: 0 m/s WNW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 5:56 am
sunset: 4:46 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending