Connect with us

क्राइम-कांड

चुनाव के दौरान पुलिस ने हजारों शराब बोतलें की बरामद

Published

on

फाइल फोटो

गुड़गांव। चुनाव के माहौल के दौरान तस्करों के हौसले बुलंद है। वहीं पुलिस ने एक महीने के अंदर शराब तस्करों से करीब 50 हजार शराब की बोतलें बरामद की हैं। पुलिस के मुताबिक, जब से चुनाव की घोषणा हरियाणा में हुई तभी से शराब तस्कर अपने धंधे में लग गए हैं। हालांकि, इस बार पुलिस ने उन पर पहले से ही निगरानी कर रखी थी, जिसका नतीजा ये हुआ कि पुलिस ने एक महीने में अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर शराब की बरामदगी की है।

पुलिस को इस बात की जानकारी पहले से ही थी कि चुनाव की घोषणा के साथ ही पूरे प्रदेश में शराब की तस्करी बढ़ जाएगी, लेकिन सबसे ज्यादा तस्करी गुड़गांव बॉर्डर इलाका होने की वजह से में होती है। यही वजह है कि गुड़गांव पुलिस पहले से ही सतर्क हो गई और बॉर्डर पर निगरानी बढ़ा दी । पुलिस ने अब तक करीब 15 शराब तस्करों को भी गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़े: प्रियंका गांधी 2 दिन के दौरे पर पहुंची यूपी, कल बुंदेलखंड सहित झांसी में करेंगी रोड शो…

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शराब तस्करों ने हर वो तरीका अपनाया जिससे पुलिस से बचा जा सके, लेकिन पुलिस सख्ती की वजह से वो पकड़े गए। अब तक पुलिस ने 13 हजार अंग्रेजी शराब की बोतलें, 35 हजार से ज्यादा देशी शराब की बोतलें और करीब 2 हजार बीयर की बोतलें बरामद की है। पुलिस का कहना है कि शराब तस्करों पर उनकी नजर अब हर वक्त बनी रहेगी।

http://www.satyodaya.com

क्राइम-कांड

पुरानी रंजिश के चलते लाठी-डंडे से पीटकर युवक को मौत के घाट उतारा

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ। उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र में शुक्रवार रात लाठी-डंडे व धारदार हथियार से हमला कर मिल कर्मी की हत्या कर दी गयी। घटना को अंजाम देकर हमलावर मौके से भाग फरार हो गए। सूचना  पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के मुताबिक थाना क्षेत्र के भैयाखेड़ा के मजरा बदौंह गांव निवासी राजन (35) पुत्र सुंदर भावनगर के गुजरात में रोलिंग मिल में काम करता था। बुधवार को वह घर वापस आया आया था। राजन के बड़े भाई पप्पू की पड़ोस की युवती से नजदीकी थी। लगभग दो वर्ष पूर्व पप्पू का शव फंदे से लटका मिला था। इसके बाद राजन के छोटे भैया मिथुन की इसी युवती से नजदीकी हो गई। इसी बात को लेकर पड़ोसी से राजन के परिवार से रंजिश चलने लगी। इसी युवती के संपर्क में सूरज नाम का युवक आ गया।

यह भी पढ़ें: STF ने प्रतिबंधित पंक्षियों की तस्करी करने वाले गिरोह का किया भंडाफोड़, 6 गिरफ्तार

शुक्रवार रात 10 बजे सूरज युवती के घर पर था। मिथुन को जब इसकी भनक लगी तो वह युवती के घर पहुंच गया। जहां सूरज से उसका विवाद हो गया। सूरज व युवती के परिजनों ने मिलकर मिथुन को पीटना शुरू कर दिया। भाई मिथुन का शोर सुन राजन बचाने पहुंचा तो पड़ोसी समेत आठ लोगों ने लाठी-डंडों व धारदार हथियारों से हमला कर राजन की हत्या कर दी।मिथुन जान बचाकर भाग निकला। ग्रामीणों ने पुलिस को झगड़े की सूचना दी। हमलावर पुलिस के आने के पहले ही गांव छोड़ भाग निकले। करीब एक घंटा देर से पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मृतक के छोटे भाई मिथुन की तहरीर पर नामित लोगों पर रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस हमलावरों की तलाश कर रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले लुटेरों को पुलिस ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ। राजधानी की सड़कों पर लोगों को निशाना बनाकर लूटपाट की वारदात को अंजाम देने वाले लुटेरों को मड़ियांव पुलिस ने गिरफ्तार कर एक बड़ी सफलता हासिल की है। बताया जा रहा है कि शनिवार को तीन लूट की वारदातों को अंजाम देने के बाद एक महिला को निशाना बनाते समय पुलिस ने लुटेरों को रंगे हाथों अरेस्ट किया है। पकड़े गए लुटेरों की पहचान दिनेश कुमार मोदी, इसराइल और कृष्णा अवस्थी के रूप में हुई है।

ये भी पढ़ें: खेलने-कूदने की उम्र में ये 9 साल का बच्चा लेगा इंजीनियरिंग की डिग्री, फिर करेगा Phd

पुलिस के अनुसार ये लुटेरे सरेराह वारदातों को अंजाम देते थे और आंख झपकते ही रफूचक्कर हो जाते थे। साथ ही बताया कि पकड़े गए लुटेरे राजधानी समेत कई अन्य जनपदों में भी लोगों को निशाना बनाकर लूटपाट करते थे। वहीं पकड़े गए लुटेरों के खिलाफ थाने में दर्जनों मुकदमे पहले से ही दर्ज हैं। पुलिस ने शातिर लुटेरों के कब्जे से लूटी हुई 4 सोने की चेन व एक मोटरसाइकिल को बरामद किया है।

इसी क्रम में आगे बताया कि आईआई एम रोड पर सुबह की समय मड़ियांव पुलिस चेकिंग कर रही थी। इस बीच कुछ बाइक सवार युवक महिला के गले की चेन छीनकर भागने लगे। यह देख चेकिंग कर रही पुलिस टीम ने तत्काल बाइक सवारों को धर दबोचा और पूछताछ शुरू की। ये लुटेरे साल 2011 से 2019 तक लूटपाट की घटनाओं में लिप्त पाए गए। इन लुटेरों का गिरोह काफी बड़ा है, जिनमें से अभी पुलिस ने 3 की गिरफ्तारी की, बाकि आरोपियों की तलाश अभी जारी है।    http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

स्कूल से लौट रही शिक्षिका को दिनदहाड़े बदमाशों ने किया अगवा, तलाश में जुटी पुलिस

Published

on

लखनऊ। प्रदेश में बदमाशों के हौसले दिन पर दिन बुलंद होते जा रहे है। ऐसा ही एक मामला यूपी के अलीगढ़ का है। जहां नकाबपोश बदमाशों ने तमंचे के बल पर एक शिक्षिका को अगवा कर लिया है। स्कूल से लौटते समय शिक्षिका को कार सवार अज्ञात बदमाशों ने जबरन तमंचे के बल पर अपनी कार में बिठा लिया। अपहरण की सूचना के बाद परिजनों ने शिक्षिका को काफी खोजने का प्रयास किया लेकिन परिवार के लोगों को कोई सुराग नहीं मिला। जिसके बाद परिजनों ने थाने में तहरीर दे दी।

जानकारी के मुताबिक परिजनों की तहरीर के बाद भी पुलिस हाथ पर हाथ रखे बैठी है। शिक्षिका का कोई पता नहीं चल सका है। जानकारी के अनुसार मधु चौधरी बाकानेर कॉलेज में शिक्षिका के पद पर तैनात है। मधु चौधरी के पति आलोक चौधरी भी पेशे से शिक्षक हैं। वह ब्लॉक कॉलोनी खैर के रहने वाले हैं। अपहरण की खबर लगते ही परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है।

यह भी पढ़ें: ट्रेन में सफर के दौरान महिला ने 3 बेटों को दिया जन्म, फिर हुआ ये….

मधु की सास विद्या चौधरी ने बताया कि रोज मधु सुबह 8 बजे स्कूल पढ़ाने जाती थी और करीब 3 से साढ़े 3 बजे तक घर आ जाती थी। उस दिन भी वह उसका चाय पर इंतजार कर रही थी। करीब पौने चार बजे पड़ोस में मधु की साथी शिक्षिका का फोन आया कि मधु को दो नकाबपोश बदमाशों ने तमंचे के बल पर गाड़ी में बिठाया और फरार हो गए। फिलहाल पुलिस मुकदमा दर्ज कर छानबीन कर रही हैं। देखना यह होगा कि आखिर शिक्षिका को पुलिस कब खोजने में सफल रहती है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 16, 2019, 8:46 pm
Fog
Fog
20°C
real feel: 20°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 93%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:56 am
sunset: 4:46 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending