Connect with us

देश

राजस्थान चुनाव में रालोद ने निश्चय पत्र जारी कर किए लोकलुभावन वादे

Published

on

फाइल फोटो

जयपुर/लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल ने जातपात और सांप्रदायिक विद्वेष के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई, महिला सुरक्षा, युवाओं को रोजगार,किसानों को दाम, सर पर मैला ढोने, कुपोषण से मुक्ति तथा शिक्षा एवं स्वास्थ्य सेवा का बजट बढ़ाकर क्रमश: 8 एवं 18 फीसद करने, पर्यटन हस्तशिल्प को बढ़ावा देने सहित राजस्थान में सभी तबकों की तरक्की के लिए ठोस कदम उठाने का आश्वासन दिया है।

यह भी पढ़ें –राजधानी में लगेगा बॉलीवुड का तड़का, सेलिब्रिटी क्रिकेट कप दो दिसम्बर को

राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोक त्यागी द्वारा साथी नेताओं की मौजूदगी में जारी पार्टी के हमारा निश्चय – राजस्थान का नवोदय के शीर्षक वाले घोषणा पत्र में दिए गए हैं। प्रेस कांफ्रेंस में राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय महासचिव त्रिलोक त्यागी, डा. मसूद अहमद उत्तर प्रदेश अध्यक्ष राष्ट्रीय लोकदल, प्रदेश प्रभारी योगराज सिंह (पूर्व मंत्री), राष्ट्रीय सचिव महेंद्र प्रताप, वसीम राजा राष्ट्रीय अध्यक्ष युवा राष्ट्रीय लोकदल, मनुदेव सिनसिनी प्रदेश अध्यक्ष राजस्थान युवा राष्ट्रीय लोकदल, वेदप्रकाश बेनिवाल प्रदेश अध्यक्ष राजस्थान छात्र सभा  राष्ट्रीय लोकदल, डा. अजय तोमर (पूर्व विधायक), राजकुमार सांगवान, यशवीर सिंह, सुभाष गुर्जर एवं राजस्थान प्रदेश रालोद कार्यकारिणी के सभी नेता मौजूद रहे।

राष्ट्रीय लोकदल के निश्चय पत्र में महिलाओं की सुरक्षा को तरजीह दी गई है। पुलिस में अधिक संख्या में महिलाओं की भर्ती, सरकारी नौकरियों में 40 प्रतिशत महिला आरक्षण और महिला किसानों के लिए कानून में निहित भेदभाव वाले प्रावधानों को हटवाकर,जमीन की विरासत एवं मालिकाने संबंधी प्रावधानों में महिलाओं को समान अधिकार देने का भी निश्चय जताया है। युवाओं के लिए आकर्षक युवा नीति की पहल, युवाओं में उद्यमशीलता और स्वरोज़गार की क्षमता विकसित करने और खेलकूद प्रोत्साहन नीति का वायदा किया गया है।

कृषि में उन्नति, किसान कल्याण के लिए आधुनिक कृषि सयंत्रों, भंडारण एवं गोदाम, लंबित सिंचाई की बड़ी और छोटी परियोजनाओं को लागू करने और पीएम फसल बीमा योजना में सीमांत किसानों के हिस्से का समूचा बीमा प्रीमियम सरकार की ओर से चुकाए जाने, किसान दुर्घटना बीमा राशि बढ़ाकर 10 लाख रूपए कराने और पशुपालन को बढ़ावा देने की बात निश्चय पत्र में हैं।पार्टी विधायकों द्वारा विकास निधि का प्रयोग पारदर्शी रूप में करने तथा उसका हिसाब निश्चित अवधि में वेबसाइट पर प्रकाशित करने का आश्वासन भी दिया है।http://www.satyodaya.com

 

देश

दिल्ली हिंसा: अजीत डोभाल ने संभाली कमान, प्रभावित क्षेत्रों का किया दौरा

Published

on

लखनऊ। दिल्ली में जारी हिंसा को हैंडिल करने के लिए अब राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल खुद मैदान में उतरेंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अजीत डोभाल को सरकार ने पूरी छूट भी दी है। ताकि हिंसा थामने के लिए किसी तरह की कोई समस्या न आए। पिछले तीन दिन से दिल्ली में जारी हिंसा में भारी पैमाने पर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुँचाया गया है। हिंसा में मरने वालों का आंकड़ा भी 20 पर पहुँच गया है। 22 फरवरी से शुरू हुआ बवाल धीरे-धीरे हिंसक टकराव में बदल चुका है। सड़कों पर दंगाइयों की भारी भीड़ के आगे दिल्ली पुलिस भी खुद को बेबस पा रही है। इसी का नतीजा है कि दंगा थमने के बजाय बढ़ता ही जा रहा है। #DelhiCAAClashes #delhivoilence

अजीत डोभाल सीधे प्रधानमंत्री और कैबिनेट को अपनी रिपोर्ट देंगे। अमेरिकी राष्टपति डोनाल्ड टंप के जाते ही डोभाल ने मंगलवार रात से ही मोर्चा भी संभाल लिया। रात करीब 12ः30 बजे डोभाल ने हिंसा प्रभावित जाफराबाद और सीलमपुर का दौरा किया। एनएसए ने मुस्तफाबाद हिंसा में घायल लोगों को बड़े हास्पिटल में भेजने का निर्देश दिया है। डोभाल के साथ दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डोभाल ने एक मीटिंग में दिल्ली पुलिस को साफ कह दिया है कि किसी भी कीमत पर अब हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जो भी दंगा करते हुए पकड़ा जाए, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

यह भी पढ़ें-दिल्ली हिंसा पर हाईकोर्ट आज करेगा सुनवाई, पुलिस अफसर भी तलब

उधर गृहमंत्री अमित शाह ने बुधवार सुबह हिंसा में गंभीर रूप से घायल दिल्ली पुलिस के डीसीपी अमित शर्मा के परिजनों से बात की। साथ ही डीसीपी के स्वास्थ्य के बारे में हाल-चाल जाना। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा पर काबू पाने के लिए अमित शाह ने मंगलवार रात तक करीब 24 घण्टे के अंदर 3 बैठकें की। इन बैठकों के बाद ही अजीत डोभाल देर रात हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा किया। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

दिल्ली हिंसा पर हाईकोर्ट आज करेगा सुनवाई, पुलिस अफसर भी तलब

Published

on

सामाजिक कार्यकर्ता ने अपनी याचिका में भाजपा नेताओं पर लगाया आरोप

लखनऊ। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जारी हिंसा को लेकर हाई कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। नागरिकता कानून को विरोध में 22 फरवरी से शुरू हुआ बवाल तीन दिन गुजरने के बाद भी थमा नहीं है। दिल्ली के कई इलाकों में लगातार पथराव, आगजनी और फायरिंग हो रही है। हिंसा में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है। सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मंदर की याचिका पर सुनवाई के लिए हाईकोर्ट ने बुधवार 12.30 बजे का समय निर्धारित किया है। कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से कहा कि है कि सुनवाई के समय कोर्ट रूम में वरिष्ठ पुलिस अफसर भी मौजूद रहें। हर्ष मंदर ने अपनी याचिका में भाजपा नेता कपिल मिश्रा, केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा पर दंगा भड़काने का आरोप लगाया है। याचिका में मांग की गयी है कि इन सभी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर तत्काल गिरफ्तारी की जाए।

यह भी पढ़ें-भाकपा ने अलीगढ़ व दिल्ली की हिंसा पर चिंता व्यक्त की

याचिका में यह भी मांग की गयी है कि उत्तर- पूर्वी जिले में हुई हिंसा की जांच के लिए एक विशेष जांच दल गठित किया जाए। साथ हिंसा में मारे गए और घायलों के लिए उचित मुआवजा, महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा, हिरासत में लिए गए लोगों को कानूनी सहायता, प्रभावित क्षेत्र में सीसीटीवी कैमरे लगाने और हिंसाग्रस्त क्षेत्र में सेना की तैनाती करने की मांग की गयी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

17 राज्यों की 55 राज्यसभा सीटों पर 26 मार्च को होगा चुनाव

Published

on

नई दिल्ली: राज्यसभा की अप्रैल में रिक्त हो रही 55 सीटों के लिए 26 मार्च को चुनाव होंगे। चुनाव आयोग ने बताया है कि 17 राज्यों से चुने गए राज्यसभा सदस्यों का कार्यकाल अप्रैल में समाप्त हो रहा है। इनमें उपसभापति हरिवंश, मोतीलाल वोरा, रामदास आठवले, दिग्विजय सिंह, डॉ संजय सिंह, कुमारी शैलजा, विजय गोयल, प्रेमचंद गुप्ता, तिरुचि शिवा आदि प्रमुख हैं।

आयोग के मुताबिक, चुनाव की अधिसूचना 6 मार्च को जारी होगी और 13 मार्च को नामांकन होगा। 16 मार्च को नामंकन पत्रों की जांच व 18 मार्च को नाम वापस लेने की अंतिम तारीख होगी। जिसके बाद 26 मार्च को सुबह 9 बजे से लेकर शाम चार बजे तक वोटिंग होगी।  शाम 5 बजे से मतगणना शुरू होगी और उसी दिन नतीजों का ऐलान कर दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें: यूं ही नहीं जल रही दिल्ली, हिंसा के पीछे है गहरी साजिश: दिल्ली पुलिस

महाराष्ट्र की सात, ओडिशा की चार, तमिलनाडु की छह, पश्चिम बंगाल की पांच, आंध्र प्रदेश की चार, तेलंगाना की दो, असम की तीन, बिहार की पांच, छत्तीसगढ़ की दो, गुजरात की चार, हरियाणा की दो, हिमाचल की एक, झारखंड की दो, मध्य प्रदेश की तीन, मणिपुर की एक, राजस्थान की तीन और मेघायल की एक राज्यसभा सीटों पर चुनाव होगा।

बता दें कि मध्यप्रदेश से तीन राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह, प्रभात झा और सत्यनारायण जटिया का कार्यकाल नौ अप्रैल को पूरा हो रहा है। इस वजह से रिक्त होने वाली तीन सीटों के लिए निवार्चन कराया जा रहा है। दो सौ तीस सदस्यीय विधानसभा में वर्तमान में विधायकों की संख्या के आधार पर माना जा रहा है कि तीन में से दो सीटों पर कांग्रेस और एक सीट पर भाजपा प्रत्याशी विजयी हो सकते हैं। मध्यप्रदेश से राज्यसभा की कुल 11 सीट हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 27, 2020, 5:53 am
Fog
Fog
14°C
real feel: 15°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 93%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:03 am
sunset: 5:36 pm
 

Recent Posts

Trending