Connect with us

देश

बीमार बच्ची के रोने से नींद में पड़ी खलल, पति ने दिया तीन तलाक

Published

on

इंदौर। सरकार के सख्त कानून बना देने के बावजूद भी आए दिन तीन तलाक के मामले देखने को मिल रहे हैं। ताजा मामला मध्यप्रदेश का है। यहां एक 21 वर्षीय महिला ने अपने पति पर तीन तलाक देने का आरोप लगाया है वो भी सिर्फ इसलिए क्योंकि एक साल की मासूम बीमार बच्ची के रोने से उसकी नींद में खलल पड़ गई। तीन तलाक देने के बाद उसे घर से भी निकाल दिया।

दरअसल, मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के सेंधवा कस्बे में मायके में रह रही उज्मा अंसारी ने अपने पति अकबर और ससुराल वालों के खिलाफ शिकायत की है। महिला ने सेंधवा के पुलिस थाने में दर्ज शिकायत में बताया कि, ‘मेरी बच्ची चार अगस्त को बीमार थी, वह रात में उठकर रोने लगी। बच्ची के रोने से मेरे पति की नींद खुल गई। वह मुझे बच्ची को मार डालने को कहने लगे। इस बात पर हम दोनों की कहासुनी हो गई। हमारे बीच बहस सुनकर मेरे ससुर और जेठ कमरे में आ गए। फिर इन सभी ने मेरे साथ मारपीट की और मेरी बेटी को पलंग से नीचे फेंक दिया।’

महिला ने बताया कि मेर पति ने ससुराल वालों के सामने ही तीन तलाक बोला और फिर मेरे मायके फोन कर मां से कहा कि आकर अपनी बेटी को ले जाओ। यही नहीं महिला ने ससुराल वालों पर मारपीट करने, दहेज के लिए प्रताड़ित करने और बेटी पैदा होने पर मारपीट का आरोप भी लगाया है। बता दें, दोनों की शादी को अभी सिर्फ दो ही साल हुए हैं।

ये भी पढ़ें: हांगकांग प्रदर्शन: 23 साल का लड़का बना चीन की आफत, ट्विटर-फेसबुक ने भी चलाया चाबुक

इस मामले पर बड़वानी के पुलिस अधीक्षक डीआर टेनीवार ने कहा कि  यह मामला इंदौर का है। इसलिए हमने उसकी शिकायत को जांच के लिए इंदौर पुलिस को भेज दिया है। वहीं, इंदौर के रावजी बाजार पुलिस थाने के प्रभारी सुनील गुप्ता ने बताया कि उनके पास अबतक कोई शिकायत नहीं आई है लेकिन महिला से बातचीत कर आगे की कार्रवाई करेंगे। http://www.satyodaya.com

देश

पुणे: बैंगलोर नेशनल हाईवे पर हुआ भयानक हादसा, 6 की मौत 10 घायल….

Published

on

सड़क हादसों

फाइल फोटो

पुणे। देशभर में सड़क हादसों का सिलसिला कम होने का नाम नहीं ले रहा है। आए दिन इन भयानक सड़क हादसों में लोगों की मौतें होती रहती हैं। इसी तरह आज पुणे में सड़क हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई, जबकि 10 लोग बुरी तरह घायल हैं।

पुणे डिवीजन स्टेट हाईवे के अधीक्षक, मिलिंद मोहिते के अनुसार पुणे-बैंगलोर नेशनल हाईवे पर गुरुवार सुबह सतारा के पास दो बसों की जोरदार टक्कर से ये हादसा हुआ। जिसमें 6 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। हालांकि घायलों को अस्पताल पहुंचा दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक पिछले सप्ताह, मुंबई-कोच्चि राष्ट्रीय राजमार्ग से भी एक ऐसी ही दर्दनाक घटना हुई थी, जिसमें 3 लोगों की मौत हो गई थी।मिली जानकारी के अनुसार, दो लड़कों सहित 10 छात्रों ने एक सेल्फ-ड्राइव एसयूवी कार किराए पर ली थी और शनिवार को प्रोजेक्ट के काम पर मंगलुरु आए थे। यह भयानक हादसा उस समय हुआ जब वे लगभग 4 बजे मंगलुरु से मणिपाल लौट रहे थे।

ये भी पढ़ें:यूपी: बीजेपी प्रत्याशी नागर और संजय सेठ आज उपचुनाव के लिए दाखिल करेंगे नामांकन

इसी तरह अगस्त में भी महाराष्ट्र के धुले में निमगुल गांव के पास एक बस और कैंटर ट्रक से टकरा जाने के कारण 15 लोगों की मौत हो गई जबकि 35 घायल हो गए थे। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

आरएसएस प्रमुख के काफिले की गाड़ी ने बाइक को मारी टक्कर, एक बच्चे की मौत

Published

on

जयपुर। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत के काफिले की गाड़ी से बड़ा हादसा हो गया है। जिसमें एक बच्चे की मौत और वहीं एक अन्य के गंभीर रूप से घायल होने की सूचना है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राजस्थान के अललर में बुधवार आसएसएस प्रमुख के काफिले की गाड़ी ने हरसोली मुंडावर सड़क पर एक बाइक को टक्कर मार दी।

ये भी पढ़ें: संयुक्त राष्ट्र ने ठुकराई पाक की अपील, कश्मीर पर मध्यस्थता से किया इनकार

इस टक्कर में सरपंच चेतराम यादव गंभीर रूप से घायल हो गए, जबकि उनके 6 साल के पोते सचिन की मौत हो गई। बताया जा रहा है यह हादसा उस वक्त हुआ जब उनका काफिला तिजारा के गहनकर से लौट रहा था। बता दें, चेतराराम यादव को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

पीके मिश्रा प्रधानमंत्री मोदी के नए प्रधान सचिव बने, पीके सिन्हा प्रमुख सलाहकार बनाए गए

Published

on

नृपेंद्र मिश्रा के पद छोड़ने के बाद पीके मिश्रा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रमुख सचिव बनाया गया है। वहीं, पीके सिन्हा को प्रमुख सलाहकार बनाया गया है। बता दें, पीके मिश्रा पूर्व कैबिनेट सचिव रह चुके हैं।

गैरतलब है कि पीएम मोदी ने अपने ट्विट में लिखा कि 2019 के चुनाव नतीजे आने के बाद श्री नृपेंद्र मिश्रा जी ने खुद को प्रिंसिपल सेक्रेटरी के पद से सेवामुक्त किए जाने का अनुरोध किया था। तब मैंने उनसे वैकल्पिक व्यवस्था होने तक पद पर बने रहने का आग्रह किया था।

पीएम ने अपने ट्विट में आगे लिखा था कि 2014 में जब मैंने प्रधानमंत्री के रूप में दायित्व संभाला, तब मेरे लिए दिल्ली भी नई थी और नृपेंद्र मिश्रा जी भी नए थे। लेकिन दिल्ली की शासन-व्यवस्था से वे भली-भांति परिचित थे। उस परिस्थिति में उन्होंने प्रिंसिपल सेक्रेटरी के रूप में अपनी बहुमूल्य सेवाएं दीं। उस समय उन्होंने न सिर्फ व्यक्तिगत रूप से मेरी मदद की, बल्कि 5 साल देश को आगे ले जाने में, जनता का विश्वास जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। एक साथी के रूप में 5 साल तक हमेशा उन्होंने साथ दिया।

आपको बता दें कि मिश्रा 2006 से 2009 के बीच ट्राई (भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण) के अध्यक्ष रह चुके हैं और 2009 में ही रिटायर हुए। ट्राई के पूर्व अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा 1967 बैच के रिटायर्ड आईएएस अधिकारी हैं और उत्तर प्रदेश कैडर के हैं। मिश्रा उत्तर प्रदेश से हैं और राजनीति शास्त्र एवं लोक प्रशासन में स्नातकोत्तर हैं। मिश्रा की अध्यक्षता में ट्राई ने अगस्त 2007 में सिफारिश की थी कि स्पेक्ट्रम की नीलामी की जानी चाहिए। मिश्रा 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन में कथित अनियमितताओं के मामले की सुनवाई में दिल्ली की एक अदालत में अभियोजन पक्ष के गवाह के रूप में पेश हो चुके हैं।

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 12, 2019, 12:26 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
33°C
real feel: 39°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 70%
wind speed: 3 m/s E
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 3
sunrise: 5:20 am
sunset: 5:45 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending