Connect with us

देश

राहुल-राफेल और सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट का आया फैसला, जानिए क्या….

Published

on

राम मंदिर

फाइल फोटो

नई दिल्ली। अयोध्या राम मंदिर के बाद गुरुवार को देश के तीन और बड़े मामलों पर फैसला सुनाया जाएगा। केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर विवाद, कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा अदालत की अवमानना और राफेल विमान सौदे पर दायर पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। राहुल और राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला साफ है, लेकिन सबरीमाला विवाद को अदालत ने बड़ी बेंच को सौंप दिया है।

सबरीमाला विवाद को कोर्ट ने बड़ी बेंच को सौंपा  

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई वाली पांच जजों की बेंच ने सबरीमाला विवाद को बड़ी बेंच को सौंपने का फैसला किया है। अब इस विवाद की सुनवाई 7 जजों की बेंच करेगी। 5 जजों वाली बेंच ने 3:2 के अनुपात से इस मामले को बड़ी बेंच को भेजा है, जबकि इस बीच सबरीमाला मंदिर में महिलाओं का प्रवेश जारी रहेगा।

सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की बेंच में जस्टिस नरीमन, जस्टिस चंद्रचूड़ ने तीन जजों से अलग राय रखी। जस्टिस नरीमन का मानना था कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला सभी के लिए बाध्य है, इसे लागू करने में कोई ऑप्शन नहीं है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सबरीमाला मंदिर पर फैसले का असर सिर्फ यहां तक सीमित नहीं रहेगा, इसका असर अन्य धर्मों में वर्षों से चली आ रही प्रथा पर भी पड़ेगा। अपने पिछले फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने 10 से 50 साल की महिलाओं के मंदिर में प्रवेश पर लगी रोक को हटा दिया था।

राफेल सौदे पर पुनर्विचार याचिका हुई खारिज

वहीं राफेल विमान सौदे पर सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई पुनर्विचार याचिकाओं का कमजोर दलीलों का हवाला देकर खारिज कर दिया गया। पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी, वकील प्रशांत भूषण ने इस याचिका को दायर किया था। सुप्रीम कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा है कि उन्हें नहीं लगता है कि इस मामले में किसी एफआईआर या जांच की जरूरत है।

ये भी पढ़ें:फर्स्ट एनिवर्सरी पर वेंकटेश्वर मंदिर पहुंचे दीपवीर, लाल साड़ी में दीपिका ने ढाया कहर…

जानकारी के मुताबिक पुनर्विचार याचिका में राफेल विमान सौदे की प्रक्रिया और दाम पर सवाल खड़े किए गए थे। पिछले फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि ये मामला राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा है, इसलिए अदालत इसमें दखल नहीं देगा। इस मामले में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस केएम जोसेफ की पीठ ने फैसला सुनाया है।

SC ने स्वीकारी राहुल गांधी की माफी….

लोकसभा चुनाव के दौरान अमेठी में राहुल गांधी ने बयान दिया था कि अब सुप्रीम कोर्ट ने भी मान लिया है कि चौकीदार चोर है। इसी को लेकर राहुल के खिलाफ बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने कोर्ट की अवमानना का केस दाखिल किया था, जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी की माफी स्वीकार कर ली है। हालांकि, सर्वोच्च अदालत ने राहुल को नसीहत देते हुए कहा है कि भविष्य में बयान देते समय सतर्कता बरतें। बता दें सुप्रीम कोर्ट ने ये नसीहत सिर्फ राहुल गांधी को नहीं बल्कि सभी नेताओं को दी है। इस मामले में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई वाली तीन जजों की बेंच ने फैसला सुनाया है।http://www.satyodaya.com

देश

निर्भया के गुनहगारों का डेथ वाॅरंट जारी, 22 जनवरी को दी जाएगी फांसी

Published

on

लखनऊ। देश-दुनिया को दहला देने वाले दिल्ली के निर्भया कांड में करीब 8 वर्ष बाद फाइनल फैसला आ गया है। दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने मंगलवार को सुनवाई के बाद निर्भया के सभी दोषियों का डेथ वाॅरंट जारी कर दिया। 22 जनवरी को सुबह 7 बजे चारों दरिंदों अक्षय, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और मुकेश सिंह को फांसी पर लटकाया जाएगा। तिहाड़ जेल प्रशासन को तैयारी के लिए 14 दिन का वक्त मिला है। इस बीच दोषी चाहें तो वह क्यूरेटिव पिटीशन या दया याचिका भी दाखिल कर सकते हैं। इससे पहले हुई सुनवाई में कोर्ट ने तिहाड़ जेल प्रशासन से दोषियों को फांसी की नोटिस जारी करने को कहा था।

जिसके बाद जेल प्रशासन ने दोषियों को नोटिस जारी कर दया याचिका दाखिल करने के बारे में पूछा था। #Nirbhaya चार में से एक दोषी अक्षय ने कुमार सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में सजा पर पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी, जिसे शीर्ष अदालत ने खारिज कर दिया था। पटियाला कोर्ट से पहले भी दिल्ली की निचली अदालत से दोषियों को फांसी की सजा दी जा चुकी है।

यह भी पढ़ें-40 लाख ऐठने के बाद 50 लाख और न मिलने पर लड़के पक्ष ने तोड़ी शादी

मंगलवार दोपहर बाद 3ः30 बजे खचाखच भरे कोर्ट रूम में निर्भया केस की सुनवाई शुरू हुई। सुनवाई के दौरान निर्भया की मां और दोषियों के वकील के बीच तीखी बहस भी हुई। दोषियों के वकील ने कहा, हम सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन दाखिल करेंगे। इस पर कोर्ट रूम में मौजूद निर्भया की मां के वकील ने विरोध करते हुए कहा, गुनहगार सजा में देरी करना चाहते हैं। निर्भया की मां के वकील ने कहा, क्योंकि दोषियों की कोई याचिका कहीं लंबित नहीं है, इसलिए जल्द से जल्द डेथ वाॅरंट जारी किया जाए। बता दें कि डेथ वाॅरंट में ही फांसी की जगह, तारीख और समय का जिक्र होता है।

मेरी बेटी को मिला इंसाफ

फैसले के बाद निर्भया की मां ने कहा, हमारी बेटी को न्याय मिल गया है। मैं कोर्ट के फैसले से खुश हूं। दोषियों को फांसी की सजा विकृत मानसिकता के लोगों के लिए एक संदेश होगा, साथ ही कोर्ट का फैसला महिलाओं को सशक्त बनाएगा। न्यायपालिका पर लोगों का भरोसा बढ़ेगा। पीड़िता के पिता ने भी कोर्ट के फैसले पर खुशी जाहिर की।

वर्ष 2012 के 16 दिसंबर की वह काली रात

बता दें कि 16 दिसंबर 2012 की रात दिल्ली की सड़कों पर मेडिकल की एक छात्रा के साथ चलती बस में 6 लोगों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी थीं। बस के डाइवर, कंडक्टर समेत छह लोगों ने चलती बस में पीड़िता के साथ गैंगरेप किया। विरोध करने पर निर्भया और उसके साथी को जमकर पीटा। निर्भया के निजी अंगों को क्षत-विक्षत कर दिया। घटना के बाद पूरे देश में लोग सड़कों पर उतर आए थे। निर्भया को बचाने की हर कोशिश नाकाम हो गयी और उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इसके केस के बाद तत्कालीन यूपीए सरकार ने महिला अपराधों के लिए सख्त कानून बनाए। दोषियों को सख्त सजा का प्रावधान किया गया। छहों आरोपियों को पकड़ कर केस शुरू किया गया। निर्भया के छह दोषियों में एक के नाबालिग होने के चलते उसका केस जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में चला गया था। जो अब छूट चुका है। जबकि एक दोषी ने तिहाड़ जेल में ही आत्महत्या का चुका है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

रवींद्रनाथ महतो बने झारखंड विधानसभा के नए अध्यक्ष

Published

on

रांची: झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के नाला से विधायक रवींद्रनाथ महतो पांचवें झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष आज चुन लिए गए। विधानसभा सत्र के कल पहले दिन अध्यक्ष पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल किए जाने के निर्धारित समय 12 बजे तक केवल झामुमो के रवींद्रनाथ महतो ने ही पर्चा भरा था। विपक्ष की ओर से किसी भी विधायक द्वारा नामांकन नहीं किया गया। इस तरह अध्यक्ष पद पर उनके चुने जाने की मात्र औपचारिकता शेष बची थी। आज श्री महतो के विधानसभा अध्यक्ष निर्वाचित होने की औपचारिक घोषणा कर दी गई।

यह भी पढ़ें: US-ईरान तनाव: मोदी और ट्रम्प ने की ज्वलंत विषयों पर चर्चा


उल्लेखनीय है कि झारखंड में संथालपरगना प्रमंडल के नाला विधानसभा क्षेत्र से तीसरी बार विधायक चुने गए श्री महतो को झामुमो अन्य पिछड़ा वर्ग का महत्वपूर्ण चेहरा माना जाता है। वह नाला विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 2005, 2014 और 2019 में निर्वाचित हुए थे। दुमका जिले में नाला प्रखंड के पटनपुर गांव में गोलक बिहारी दास और श्रीमती रुक्मिणी देवी के घर जन्में महतो ने झामुमो के साथ अपने राजनीति करियर की शुरुआत की। वह नाला विधानसभा सीट से पांच बार चुनाव लड़े, जिनमें से तीन बार विजयी हुए। उन्होंने इस सीट पर पहली बार 2005 में भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी-लेनिनवादी (भाकपा-माले) के विशेश्वर खान को पराजित कर जीत हासलि की थी। बंगला और हिंदी भाषा के जानकार महतो ने बीएड की डिग्री हासिल की है। उनके छोटे भाई संजीव महतो रसायन शास्त्र के विभागाध्यक्ष है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

पाकिस्तान की जेल में बंद 20 भारतीय मछुआरे रिहा, लौटे वतन

Published

on

नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के बीच इस समय संबंध तनावपूर्ण चल रहे है। इसी बीच पाकिस्तान सद्भावना दिखाते हुए 20 भारतीय मछुआरों को रिहा कर दिया। सोमवार को पाकिस्तानी रेंजरों ने इन भारतीय मछुआरों को सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) को सौंपा। रिहा मछुआरों में ज्यादातर आंध्र प्रदेश के रहने वाले हैं।

भारतीय अधिकारियों ने बताया कि सभी भारतीय मछुआरों की तुरन्त चिकित्सीय जांच कराई गई। रिहा हुए मछुआरों में एस किशोर, एन धनराजू, गरमर्थी, राम बाबू, एस अप्पा राव, जी रामा राव, बी अप्पन्ना, एन नरसिंह, वी सैमुअल, के. यारय्या, डी. एस. नारायण, के. राजू, के. वेंकटा, एस. कल्यान, भाविरुदु, सेमसन राव और गिर सोमनाथ शामिल है। वतन लौटते ही देश की मिट्टी को किया प्रणाम।

यह भी पढ़ें:- ननकाना साहिब कांड का मुख्य आराेपी गिरफ्तार…

बता दें कि यह सभी मछुआरे 2018 से पाक जेल में बंद थे। पाकिस्तानी तटरक्षक ने नवंबर 2018 में पाकिस्तानी जल क्षेत्र में जाने के लिए गिरफ्तार कर लिया था। मछुआरे सिंध प्रांत में कराची के मालिर जिला कारागार से रिहा होने के बाद रविवार को ट्रेन से लाहौर पहुंचे थे। सूत्रों के अनुसार अब भी पाक की जेलों में करीब 200 भारतीय मछुआरे बंद हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 7, 2020, 9:21 pm
Fog
Fog
15°C
real feel: 15°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 93%
wind speed: 1 m/s E
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:26 am
sunset: 4:59 pm
 

Recent Posts

Trending