Connect with us

देश

केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने कहा- देश में रोजगार नहीं टैलेंट की है कमी

Published

on

संतोष गंगवार

फाइल फोटो

नई दिल्ली। केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने बेरोजगार युवाओं को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। संतोष गंगवार ने बरेली में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि देश में रोजगार और नौकरियों की कोई कमी नहीं है। लेकिन हमारे उत्तर भारत के युवाओं में टैलेंट की कमी है। जब टैलेंट ही नहीं, तो किस बेस पर नौकरी मिलेगी।

वहीं इस बारे में उनका ये भी कहना है कि वह इसी मंत्रालय को देखते हैं इसलिए उन्हें सब पता है। संतोष गंगवार ने कहा कि हमारे उत्तर प्रदेश में जो रिक्रूटमेंट करने आते हैं, वो इस बात का सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए हम रख रहे हैं उस क्वालिटी का व्यक्ति हमें नहीं मिल रहा है। कमी है तो योग्य लोगों की। उन्होंने क देशभर में रोजगार बहुत है। रोजगार दफ्तर के आलावा हमारा मंत्रालय भी इसकी मॉनिटरिंग कर रहा है। रोजगार की कोई समस्या नहीं है बल्कि जो भी कंपनियां रोजगार देने आती हैं, उनका कहना होता है कि उन युवाओं में योग्यता नहीं है। मंदी की बात समझ में आ रही है, लेकिन रोजगार की कमी नहीं है।

जानकारी के मुताबिक संतोष गंगवार का बयान ऐसे समय पर आया है जब बेरोजगारी और आर्थिक हालात को लेकर विपक्ष लगातार हमले बोल रहा है। वहीं सरकार इस स्थिति से निपटने के लिए कई ऐलान कर चुकी है।

ये भी पढ़ें:जीएम ने रोडवेज कैंट का किया औचक निरीक्षण, डग्गामार वाहनों को हटाने के निर्देश

बता दें आर्थिक मंदी को लेकर कांग्रेस पार्टी ऐलान कर चुकी है कि वह पूरे देश में 15 से 25 अक्टूबर के बीच बड़े पैमाने पर प्रदर्शनों का आयोजन करेगी। कांग्रेस के महासचिव के।सी। वेणुगोपाल ने गुरुवार को कहा था कि, “हमने आर्थिक मंदी पर 20 से 30 सितंबर को राज्यस्तरीय सम्मेलन आयोजित करने का निर्णय लिया है।”

सरकार ने उठाए ये कदम

फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने देश के आर्थिक विकास को रफ्तार देने के मकसद से निर्यात और अवासीय क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए शनिवार को नए कदमों का ऐलान किया है। इसके तहत उन्होंने इन दोनों क्षेत्रों में तेजी लाने के लिए 60,000 करोड़ रुपये खर्च करने की घोषणा भी की है।http://www.satyodaya.com

देश

पीएम मोदी के संदेश पर बोलीं ममता बनर्जी, उनके मामले में मैं कुछ नहीं कह सकती

Published

on

लखनऊ। कोरोना के चलते देश में लॉकडाउन पर बात करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि राज्य पहले से ही हजारों करोड़ रुपये के घाटे में चल रहा है, लेकिन उन्हें इस बात पर गर्व है कि उनकी सरकार अभी भी कर्मचारियों के वेतन को देने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने दो माह के लिए समाजिक पेंशन के लिए 35,10,200 रुपये आवंटित किए हैं। ममता ने सचिवालय के पत्रकारों से बातचीत में कहा कि- आपको अंदाजा भी है कि हमें इस लॉकडाउन के चलते कितना नुकसान हुआ है? कुछ हजार करोड़, कुछ कमाई नहीं हुई सिर्फ खर्चा हुआ है। सिर्फ हमारी सरकार ने ही अपने कर्मचारियों को पहली तारीख को तंख्वाह दी है वरना वो बेचारे क्या खाते।

उन्होंने कहा कि कई राज्य हैं, जो पश्चिम बंगाल की तरह केंद्र के भारी कर्ज के तले दबे नहीं हैं, लेकिन तालाबंदी के दौरान वे सब अपना खजाना खाली कर चुके हैं। ऐसे कई राज्य हैं जिन्हें हमारे जैसे 50,000 करोड़ रुपये का कर्ज चुकाने की आवश्यकता नहीं है, फिर भी उनके खजाने खाली हैं। ऐसे कई राज्य हैं जो कर्मचारियों को पूरा वेतन नहीं दे सकते हैं … कुछ ने केवल 40 प्रतिशत का भुगतान किया है। लेकिन हम ऐसा कर पाए इसके लिए मुझे गर्व है।

इसे भी पढ़ें- मायावती ने विधायकों से की 1-1 करोड़ देने की अपील, सीएम योगी ने दिया धन्यवाद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अप्रैल को रात 9 बजकर 9 मिनट पर लोगों से अपने मोबाइल फोन की लाइट, कैंडल या दीया जलाकर घर की बाकी लाइट बंद करने का आग्रह किया है। इसपर ममता ने कहा कि जो लोग पीएम के संदेश को मानते हैं, वे उनके निर्देशों का पालन कर सकते हैं। ममता ने कहा कि- प्रधानमंत्री अपने मन की बात कहेंगे और मैं अपनी बात कहूंगी। मैं किसी और के मामले में हस्तक्षेप नहीं कर सकती, अगर आपको लगता है कि प्रधानमंत्री ने कुछ अच्छा कहा है, तो इसका पालन करें, यह एक व्यक्तिगत निर्णय है।

गौरतलब है कि पूरे विश्व में कहर मचाने वाले खतरनाक कोरोना वायरस का प्रकोप भारत में लगातार बढ़ता जा रहा है। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात मामले से देश में कोरोना वायरस के मामलों में बड़ा इजाफा देखने को मिला है और शनिवार को यह आंकड़ा 2900 पार कर गया। वहीं, इस खतरनाक कोविड-19 महामारी से अब तक देशभर में जहां 68 लोग जान गंवा चुके हैं और 183 लोग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह 9 बजे तक के अपडेटेड आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस के कुल 2901 मामलों में से 2650 केस एक्टिव हैं। महाराष्ट्र जहां 484 मामलों के साथ इस तालिका में टॉप पर है, वहीं दिल्ली में मरकज मामले के बाद संक्रमितों की संख्या में बड़ा इजाफा हुआ है और यह आंकड़ा 400 पहुंच गया है। तमिलनाडु में 418 मामले सामने आए हैं तो वहीं केरल में पॉजिटिव केसों की संख्या 338 हो गई है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2900 पार, 68 लोगों की मौत, जानें करेंट अपडेट…

Published

on

लकनऊ। पूरी दुनिया में कहर मचाने वाले खतरनाक कोरोना वायरस का प्रकोप भारत में लगातार बढ़ता जा रहा है। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात मामले से देश में कोरोना वायरस के मामलों में बड़ा इजाफा देखने को मिला है और शनिवार को यह आंकड़ा 2900 पार कर गया। वहीं, इस खतरनाक कोविड-19 महामारी से अब तक देशभर में जहां 68 लोग जान गंवा चुके हैं और 183 लोग पूरी तरह से ठीक हो गए हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह 9 बजे तक के अपडेटेड आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस के कुल 2901 मामलों में से 2650 केस एक्टिव हैं। महाराष्ट्र जहां 484 मामलों के साथ इस तालिका में टॉप पर है, वहीं दिल्ली में मरकज मामले के बाद संक्रमितों की संख्या में बड़ा इजाफा हुआ है और यह आंकड़ा 400 पहुंच गया है। तमिलनाडु में 418 मामले सामने आए हैं तो वहीं केरल में पॉजिटिव केसों की संख्या 338 हो गई है। तो चलिए जानते हैं किस राज्य में कोरोना वायरस का क्या है अपडेट…

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र 484 मामलों के साथ कोरोना वायरस के मरीजों की तालिका में टॉप पर है। फिलहाल 423 एक्टिव केस हैं और 42 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से अब तक 19लोगों की मौत हो चुकी है।

केरल: केरल में कोरोना वायरस के पॉजिटिव केसों की संख्या 338 है। इनमें से एक्टिव केसों की संख्या 295 है और दो की मौत हो चुकी है और 41 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं।

दिल्ली: मरकज मामले के बाद दिल्ली में बड़ा इजाफा देखने को मिला है। दिल्ली में कोरोना वायरस के अब तक 400 मामले सामने आए हैं। यहां दिल्ली में कोविड-19 महामारी से जहां 6 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 8 लोग पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं।

इसे भी पढ़ें- कोरोना का फूटा बम: जमातियों ने बढ़ाई चिंता, आगरा में 25 मरीज मिलने से हड़कंप

आंध्र प्रदेश: मरकज मामले के बाद इस राज्य में भी कोरोना पॉजिटिव की संख्या में तेजी से उछाल आया है। आंध्र प्रदेश में कोरोना वायरस के अब तक 163 मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक का इलाज हो गया है और उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। यहां एक की मौत भी हुई है।

अंडमान-निकोबार: यहां कोरोना वायरस के अब तक 10 पॉजिटिव मामले दर्ज किए गए हैं।

अरुणाचल प्रदेश: यहां भी एक मामला सामने आ गया है।

असम: असम में कोरोना संक्रमण के 24 मामले दर्ज किए गए हैं।

बिहार: कोरोना वायरस के बिहार में अब तक 30 मामले दर्ज किए गए हैं। हालांकि, बिहार में कोरोना वायरस से एक की मौत भी हो चुकी है।

चंडीगढ़: केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ में कोरोना वायरस संक्रमण के 18 केस सामने आए हैं।

छत्तीसगढ़: छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस के अब तक 12 मामले सामने आ चुके हैं।

गोवा: गोवा में कोरोना वायरस से फैली महामारी कोविड-19 के 6 पॉजिटिव केस सामने आए हैं।

गुजरात: प्रधानमंत्री के गृहराज्य गुजरात में कोरोना वायरस के अब तक 114 मामले सामने आ चुके हैं। गुजरात में अब तक कोरोना से 9 लोगों की मौत हो चुकी है और 10 लोग या तो स्वस्थ हो चुके हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

हरियाणा: यहां कोरोना वायरस के 73 केस सामने आए हैं, जिनमें से 24 लोग या तो स्वस्थ हो चुके हैं या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। अच्छी बात ये है कि यहां अब तक किसी भी मौत की पुष्टि नहीं हुई है।

हिमाचल प्रदेश: हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के 8 मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक की मौत हो चुकी है।

जम्मू और कश्मीर: केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में कोरोना के 80 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 2 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं तीन लोग इस बीमारी से उबर चुके हैं।

कर्नाटक: कर्नाटक में कोरोना वायरस के 143 पॉजिटिव केस दर्ज किए गए हैं। यहां इस बीमारी से 3 लोगों की मौत भी हो चुकी है और 12 लोग ठीक हो चुके हैं।

लद्दाख: लद्दाख में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है। इनमें से तीन ठीक हो चुके हैं।

मध्य प्रदेश: यहां कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 111 हो गई है, जिनमें से 6 लोगों की मौत भी हो चुकी है।

मणिपुर: इस राज्य में कोरोना वायरस का अब तक 2 मामला सामने आया है।

इसे भी पढ़ें-कोरोना वायरस के मामलों में आयी तेजी, देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 3000 हुए

मिजोरम: यहां भी कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों की संख्या अभी एक ही है।

ओडिशा: ओडिशा में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 5 है।

पुडुचेरी: इस राज्य में कोरोना वायरस का अब तक 6 केस सामने आया है।

पंजाब: पंजाब में कोरोना वायरस के संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 59 हो गई है। इनमें से जहां 5 की मौत हो चुकी है, वहीं एक का इलाज कर दिया गया है।

राजस्थान: यहां कोरोना वायरस के अब तक 182 मामले सामने आ चुके हैं। हालांकि, यहां एक भी मौत का मामला सामने नहीं आया है।

तमिलनाडु: यहां भी बीत दो तीन दिनों में काफी तेजी आई है। इस राज्य में कोरोना वायरस के 418 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। यहां इस महामारी से एक की मौत भी हो चुकी है और 6 पूरी तरह से ठीक भी हो चुके हैं।

तेलंगाना: तेलंगाना में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 166 हो चुकी है। इनमें से 7 की मौत और एक के ठीक होने का आंकड़ा भी शामिल है।

उत्तराखंड: उत्तराखंड में कोरोना वायरस के अब तक 18 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 2 पूरी तरह से ठीक हैं।

उत्तर प्रदेश: यूपी में कोरोना वायरस के 195 केस आ चुके हैं। हालांकि, इनमें से 19 लोग पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं और दो की मौत हो चुकी है।

पश्चिम बंगाल: बंगाल में कोरोना वायरस के अब तक 69 संक्रमित मामले सामने आए हैं, जिनमें से 3 की मौत हो चुकी है।

झारखंड: इस राज्य में अब तक इसके दो ही मरीज सामने आए हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

कोरोना वायरस के मामलों में आयी तेजी, देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 3000 हुए

Published

on

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस का कहर जारी है। 24 घण्टे में कम से कम 15 लोगों की मौत हुई है। देश में शुक्रवार को को अब तक की सबसे ज्यादा मौतें दर्ज की गईं। नए आंकड़ों के अनुसार कोरोना पीड़ितों की कुल संख्या 3000 के पर पहुँच गई है। अभी देश में 3,082 कोरोना पीड़ित हैं। वहीं मृतकों की संख्या 85 हो गई है और 24 घण्टे में कोरोना संक्रमित मरीजों के 500 मामले सामने आए हैं। हालांकि आधिकारिक रूप से अभी तक केवल 2547 मामलों और 62 मौतों की ही पुष्टि हुई।

यह भी पढ़ें:यूपी ‘कोविड केयर फंड’ में एक-एक करोड़ की सहायता करें सभी विधायकः स्पीकर

सूत्रों के अनुसार महाराष्ट्र में कोरोना से 3, जबकि दिल्ली और तेलंगाना में 2-2 लोगों की मौत हुई है। आंध्र प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, हरियाणा और कर्नाटक में 1-1 कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हुई है। शुक्रवार को कोरोना के कुल 502 कन्फर्म केस सामने आए हैं। हालांकि यह संख्या गुरुवार को सामने आए 544 मामलों से थोड़ी कम है। ज्यादातर मामले तबलीगी जमात से जुड़े हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के जॉइंट सेक्रटरी लव अग्रवाल ने कहा कि पिछले दो दिनों में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी बढ़ोत्तरी आई है। इस बढ़ोतरी की वजह निजामुद्दीन में हुए तबलीगी जमात कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि हम एक संक्रामक बीमारी का मुकाबला कर रहे हैं और नियमों में एक चूक या असफलता हमें काफी पीछे धकेल देती है। हमारे सारे प्रयास बेकार हो जाते हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 4, 2020, 2:15 pm
Sunny
Sunny
32°C
real feel: 34°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 23%
wind speed: 3 m/s W
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 6
sunrise: 5:24 am
sunset: 5:55 pm
 

Recent Posts

Trending