Connect with us

देश

CAA पर सुनवाई से पहले सुप्रीम कोर्ट के सामने धरने पर बैठीं महिलाएं…

Published

on

सीएए

फाइल फोटो

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) पर सुनवाई से पहले मंगलवार देर रात को सुप्रीम कोर्ट के बाहर महिलाएं बच्चों के साथ धरने पर बैठ गईं। सीएए के खिलाफ धरने पर बैठी महिलाएं हाथ में बैनर व पोस्टर भी पकड़ी हुई हैं। कोर्ट के सामने प्रदर्शनकारियों को एक जुट होते देख पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। उसके बाद पुलिस अधिकारियों ने सुप्रीम कोर्ट के सामने गेट पर अवैध तरीके से बैठे प्रदर्शनकारियों को हटा दिया है।

सुप्रीम कोर्ट बुधवार को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) की संवैधानिक वैधता की जांच करने की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई करने वाला है। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) की संवैधानिक वैधता परखने की मांग करने वाली याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगा।

144 याचिकाओं पर होगी सुनवाई

मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे की अध्‍यक्षता वाली पीठ ने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर 18 दिसंबर को केंद्र सरकार को विभिन्न याचिकाओं पर नोटिस जारी किया था। पीठ संभवत: 144 याचिकाओं पर सुनवाई करेगी। इनमें इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आइयूएमएल) और कांग्रेस नेता जयराम रमेश की याचिकाएं भी शामिल हैं।

सीएए की संवैधानिक वैधता को इंडियन यूनियन ऑफ मुस्लिम लीग, पीस पार्टी, असम गण परिषद, ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन, जमायत उलेमा ए हिन्द, जयराम रमेश, महुआ मोइत्रा, देव मुखर्जी, असददुद्दीन ओवेसी, तहसीन पूनावाला व केरल सरकार सहित अन्य ने चुनौती दी है।

ये भी पढ़ें :भाजपा के 11वें राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए जेपी नड्डा, अमित शाह ने दी बधाई

जानकारी के मुताबिक नौ जनवरी को चीफ जस्टिस एसए बोबडे ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लेकर देशभर में हो रहे हिंसक प्रदर्शन पर चिंता जताते हुए कहा था कि वह इस मामले में तभी सुनवाई करेंगे जब यह हिंसा रुक जाएगी। इसके साथ ही शीर्ष अदालत ने यह भी कहा था कि देश कठिन दौर से गुजर रहा है।

सीएए 31 दिसंबर, 2014 से पहले आए पाकिस्‍तान, बांग्‍लादेश और अफगानिस्‍तान से आए गैर मुस्लिमों को नागरिकता प्रदान करेगा। इसमें छह धर्मों हिंदू, सिख, बौद्ध, ईसाई, जैन और पारसी को शामिल किया गया है।http://www.satyodaya.com 

देश

राजस्थान बजट : किसानों को मिला तोहफा, स्कूलों में अब शनिवार को ‘नो बैग डे’

Published

on

नई दिल्ली। राजस्थान में कांग्रेस की सरकार ने गुरुवार को अपना दूसरा पूर्ण बजट पेश किया। जो साल 2020-21 के लिए राज्य का बजट है। राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश विधानसभा में पेश किया। बजट में किसानों के लिए 3420 करोड़ रुपए का ऐलान किया गया है। सीएम ने कहा कि राजस्थान के किसानों के लिए कृषि यंत्र की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए प्रदेश भर में 300 कृषि यंत्र हायरिंग सेंटर भी स्थापित किए जाएंगे। इसके अलावा उन्होंने राज्य में फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने और आर्थिक पिछड़ा वर्ग बोर्ड के गठन की भी घोषणा की।

उन्होंने कहा कि यह बजट निरोगी राजस्थान, संपन्न किसान, महिला बाल व वृद्ध कल्याण, सक्षम मजदूर सहित सात संकल्पों पर आधारित है। राज्य के सभी सरकारी स्कूलों में शनिवार को नो बैग डे घोषित किया जाएगा। इससे स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों को पढ़ाई के बोझ से कुछ हद तक मुक्ति मिलेगी। इस दिन स्कूलों में पढ़ाई नहीं होगी। शिक्षा का विकास करना हमारी प्राथमिकता है।मिलावटखोरी रोकने के लिए हर जिले में प्रयोगशाला स्थापित होगी। 35 लाख से ज्यादा बच्चों, गर्भवती महिलाओं के लिए 800 करोड़ रुपए की राशि से पोषाहार वितरित किया जाएगा। मूक बाधिर बच्चों के इलाज के लिए सहायता राशी दी जाएगी। अब तक ऐसे 899 बच्चों को सहायता दी जा चुकी है। अब सरकार बाल्यकाल की प्रारंभिक अवस्था में ही हियरिंग स्क्रीन की अनिवार्यता को नीति बनाकर लागू करेगी।

यह भी पढ़ें:- गृहमंत्री अमित शाह से मिले सीएम केजरीवाल, विकास पर की चर्चा

राजस्थान सरकार 50 हजार युवाओं को स्वरोजगार के लिए भी तैयार करेगी। साथ ही अल्पसंख्यक बच्चों के लिए 41 करोड़ 60 लाख की लागत से छात्रावास बनाए जाएंगे। एशियन गेम्स में गोल्ड जीतने पर 3 करोड़, रजत पर 2 करोड़ और कांस्य जीतने पर 1 करोड़ रुपये की राशि दी जाएगी। राजस्थान में 25 हजार नए सोलर पंप लगाए जाएंगे। जैसलमेर, बीकानेर, बाड़मेर, जोधपुर, नागौर, बाड़मेर, गंगानगर, पाली, जालौर, सिरोही के अतिरिक्त क्षेत्र को सिंचित बनाया जाएगा। किसानी के क्षेत्र में सोलर एनर्जी की संभावनाओं का जिक्र करते हुए गहलोत ने कहा कि प्रदेश में 25 हजार नए सोलर पंप लगाए जाएंगे। इसके अलावा दो लाख टन यूरिया और डीएपी के अग्रिम भंडारण की भी व्यवस्था की जाएगी। सीएम ने कहा कि प्रदेश में नए मेडिकल कॉलेजों के लिए 15 हजार करोड़ का खर्च आएगा, जिसमें से 40 प्रतिशत भागीदारी ही राज्य सरकार की होगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

तमिलनाडु में दर्दनाक हादसा, बस व ट्रक की टक्कर में 19 की मौत

Published

on

तमिलनाडु: तमिलनाडु के तिरुपुर जिले में अविनाशी शहर में गुरुवार को एक दर्दनाक सड़क हादसा हो गया। जहां केरल राज्य परिवहन की बस व ट्रक की जोरदार टक्कर में 19 लोगों की मौत हो गई, जबकि 20 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं। मृतकों में 14 पुरुष व 5 महिलाएं शामिल हैं।  

वहीं प्रधानमंत्री मोदी की ओर से पीएमओ ने ट्वीट कर कहा, ‘तमिलनाडु के तिरुप्पूर जिले में बस दुर्घटना से बेहद दुखी हूं। दुःख की इस घड़ी में, मेरे विचार और प्रार्थनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि जो लोग घायल हुए हैं वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएंगे।’

जानकारी के मुताबिक बस कर्नाटक के बेंगलुरु से केरल के एर्नाकुलम जा रही थी। इस बीच एक ट्रक कोयम्बटूर-सलेम हाईवे पर विपरीत दिशा से आ रहा था। वहीं सुबह करीब 4.30 बजे यह दर्दनाक हादसा हुआ है। बताया जा रहा है कि बस में 48 यात्री सवार थे। 

अविनाशी टाउन के उप तहसीलदार ने बताया कि अविनाशी शहर के पास बस व ट्रक की टक्कर में 14 लोगों और 5 महिलाओं सहित 19 लोगों की मौत हो गई। बचावकर्मी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और राहत बचाव कार्य में जुटे हुए हैं। शवों को तिरुपुर के सरकारी अस्पताल ले जाया गया है।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री कार्यालय ने बताया कि सीएम पिनाराई विजयन ने पलक्कड़ के जिला कलेक्टर को दुर्घटना के पीड़ितों को जल्द से जल्द चिकित्सा सुविधा प्रदान करने का निर्देश दिया है। मृतकों की पहचान करने की प्रक्रिया जारी है। केरल के परिवहन मंत्री ए के ससीन्द्रन ने कहा कि केरल राज्य सड़क परिवहन निगम के वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। केएसआरटीसी के प्रबंध निदेशक इसकी जांच करेंगे और रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

देश

गृहमंत्री अमित शाह से मिले सीएम केजरीवाल, विकास पर की चर्चा

Published

on

नई दिल्ली। दिल्ली में आम आदमी पार्टी की लगातार तीसरी बार सरकार बनी हैं। वहीं मुख्यमंत्री के तौर पर अरविंद केजरीवाल ने शपथ ली है। जिसके बाद बुधवार को केजरीवाल ने देश के गृहमंत्री अमित शाह से उनके आवास पर मुलाकात की। दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद दोनों नेताओं की यह पहली मुलाकात है। चुनाव के दौरान दोनों नेता एक दूसरे पर आक्रमक भी देखें गए थे। जानकारी के अनुसार यह एक शिष्टाचार भेंट बताई जा रही है।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि मुलाकात में दिल्ली के तमाम मुद्दों पर चर्चा हुई। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि गृहमंत्री अमित शाह से मिला। बहुत ही फलदायी मुलाकात रही। दिल्ली से जुड़े तमाम मुद्दों पर चर्चा हुई। हम दोनों सहमत हुए कि दिल्ली के विकास के लिए मिलकर काम करेंगे। वहीं केजरीवाल से पूछा गया कि क्या मुलाकात के दौरान शाहीन बाग पर कोई चर्चा हुई। तो उन्होंने सीधे तौर पर कह दिया कि इस विषय पर कोई चर्चा नही हुई है।

यह भी पढ़ें:- निर्भया के गुनहगारों का नया डेथ वारंट जारी, जानिए कब होगी फांसी…

केजरीवाल ने बताया कि 24 फरवरी से तीन दिन के लिए दिल्ली विधानसभा सत्र बुलाया गया है। जिसमें जनता से किए वादों को पूरा करने के लिए रोडमैप तैयार किया जाएगा। जब केजरीवाल से पानी की समस्या के बारे में पूछा तो वो बोले कि पिछले दो सालों में गर्मियों में पानी की समस्या कम हुई है, हम इस पर काम कर रहे हैं। आने वाले पांच सालों में हर घर में टोटी से पानी आने लगेगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 20, 2020, 8:01 pm
Partly cloudy
Partly cloudy
22°C
real feel: 21°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 64%
wind speed: 3 m/s ESE
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:09 am
sunset: 5:31 pm
 

Recent Posts

Trending