Connect with us

ख़ैरियत

कोरोना वायरस: कनिका कपूर की तबीयत अभी तक स्थिर

Published

on

लखनऊ। लखनऊ पीजीआई में भर्ती सिंगर कनिका कपूर की तबीयत अभी तक स्थिर है। उनकी दूसरी जांच रिपोर्ट में वायरल लोड ज्यादा होने की पुष्टि हुई है। पीजीआई के सीएमएस डॉ. अमित अग्रवाल के मुताबिक कोरोना वार्ड में भर्ती कनिका का इलाज इमरजेंसी मेडिसिन, पलमोनरी मेडिसिन समेत अन्य कई विभागों के डॉक्टरों की निगरानी में किया जा रहा है। इस वार्ड को चार जोन में बांटा गया है।

समूचे क्षेत्र को आइसोलेटेड किया गया है। ताकि कोरोना का सक्रमण संस्थान के अन्य किसी के डॉक्टर और अन्य स्टाफ को न हो। कनिका कपूर के खिलाफ दर्ज एफआईआर में यूपी पुलिस ने कई बदलाव किए हैं। पुलिस ने कनिका के लखनऊ आने की तारीख पुलिस ने पहले ही संशोधित कर ली थी पर बाकी तथ्य विवेचना में सही कर लिए जाएंगे। इसके लिए सारे तथ्य सरोजनीनगर थाने में विवेचक को दे दिए गए। इसी कड़ी में गलत हुई जानकारियों को सही करते हुए एक पत्र सीएमओ ने पुलिस कमिश्नर को शनिवार को भेजा था।

यह भी पढ़ें :- इलाहाबाद हाईकोर्ट और लखनऊ बेंच अब 28 मार्च तक के लिए बंद

आपको बता दें कि, एफआईआर में पहले दिन ही यह तथ्य गलत हो गया था कि कनिका कपूर 14 मार्च को लखनऊ आई थीं। हालांकि यह बात एफआईआर दर्ज करने वाले दिन ही पकड़ में आ गई थी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की तहरीर में लिखी इस बात ने तूल पकड़ लिया था कि कनिका कपूर को लखनऊ एयरपोर्ट पर ही जांच में कोरोना संक्रमित बता दिया गया था। जबकि वह 20 मार्च की सुबह हुई जांच में सक्रंमित पाई गईं। http://www.satyodaya.com

ख़ैरियत

नगर निगम सफाई कर्मियों को मास्क की जगह देगा अंगौछा

Published

on

लखनऊ। नगर निगम सभी सफाई कर्मचारियों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए दस हजार अंगौछा खरीदेगा। वर्तमान में चल रही मास्क की किल्लत पर नगर निगम ने यह नया विकल्प निकाला है। इनकी खरीद आज शनिवार को गांधी आश्रम व यूपी हैंडलूम से की गई।

नगर निगम ने कर्मचारियों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए दस हजार मास्क व तीन हजार ग्लब्स का आर्डर दिया था, लेकिन मांग बढ़ने के कारण उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। अब तक कई खेप में साढ़े हजार मास्क व दो हजार ग्लब्स ही उपलब्ध हो सका है। बचे मास्क व ग्लब्स आज शनिवार तक उपल्ब्ध होने की उम्मीद है। इस समस्या से निपटने के लिए नगर निगम ने दस हजार अंगौछा खरीदने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ें :- कोरोना से संबंधित शिकायत के लिए बने कंट्रोल रूम

नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सुनील रावत ने कहा कि मास्क को एक बार ही उपयोग में लाया जा सकता है। डाॅक्टरों ने अधिकतम आठ घंटे तक इस्तेमाल के बाद उसे नष्ट करने की सलाह दी है। नगर निगम के पास मौजूदा समय में लगभग आठ हजार सफाई कर्मचारी हैं। सभी लोग हर दिन नया मास्क देना संभव नहीं है। एक मास्क का बार-बार उपयोग करना खतरनाक हो सकता है। इसीलिए अंगौछा खरीदने का फैसला लिया गया है। वायरस का आकार बड़ा होने के कारण दो-तीन परत में अंगौछा को मुंह पर बांधना सुरक्षित रहेगा। दिनभर काम के बाद शाम को उसे आसानी से धुला जा सकेगा। इससे कर्मचारी वायरस से आासनी से सुरक्षित रह सकेंगे।

फाॅगिंग के लिए नगर निगम के पास 33 मशीनें हैं। 22 मशीनें पुराने लखनऊ में लगा दी गई हैं। शेष 11 मशीनों से पूरे शहर में फागिंग हो पाना संभव नहीं हो पा रहा है। नगर आयुक्त डॉ. इन्द्रमणि त्रिपाठी की अध्यक्षता में हुई बैठक में पांच नई मशीनों को खरीदने का फैसला लिया गया है। इसके अलवा 25 किलोग्राम की 500 बोरी ब्लीचिंग पाउडर, एक हजार कुंतल चूना, 25 किलोग्राम की 1400 बैग मैलाथियान डस्ट, दस कुंतल नारियल झाड़ू, 50 हैण्ड स्प्रे मशीन व 1500 लीटर सोडियम हाइपो क्लोराइड खरीदने को मंजूरी दी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

कोरोना से संबंधित शिकायत के लिए बने कंट्रोल रूम

Published

on

लखनऊ। सरकार ने राजधानी में कोरोना वायरस के इलाज के लिए छह अस्पतालों को नामांकित कर रखा है। इसमें कानपुर रोड स्थित लोकबंधु राजनारायण संयुक्त अस्पताल, सिविल, बलरामपुर, केजीएमयू, लोहिया संस्थान और पीजीआई शामिल हैं। अभी सिर्फ केजीएमयू में ही सभी मरीजों और संदिग्धों की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें :- कोरोना वायरस का खौफः केजीएमयू के 70 प्रतिशत वार्ड को खाली कराने का फैसला

बताते चलें कि, कोरोना से संबंधित किसी प्रकार की जानकारी या शिकायत आदि के लिए इन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर- 0522-2622080 व्हाट्सएप- 7839700132 सीएमओ कंट्रोल नंबर- 0522-2230688, 2230955, 2230691 और 2230333 नोडल अधिकारी मेडिकल- 9415795809 सीएमओ- 8005192677 जिला प्रशासन- 9415005002

http://www.satyodaya.com

Continue Reading

ख़ैरियत

कोरोना वायरस का खौफः केजीएमयू के 70 प्रतिशत वार्ड को खाली कराने का फैसला

Published

on

खून व रेडियोलॉजी जांच के लिए दो माह बाद की तारीख देने के निर्देश

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में भी कोरोना वायरस का खौफ भी देखने को मिल रहा है। जिसके कारण ही केजीएमयू के 70 प्रतिशत वार्ड खाली कराने का फैसला हुआ है। खून व रेडियोलॉजी की जांच के लिए दो माह बाद की तारीख देने के भी निर्देश दिए गए हैं।

आपको बता दें कि, केजीएमयू में 4500 बेड हैं। ज्यादातर बेड हमेशा भरे रहते हैं। कोरोना के मद्देनजर केजीएमयू में टास्क फोर्स की बैठक हुई। प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह के मुताबिक 70 प्रतिशत वार्ड खाली कराने के निर्देश दिए गए हैं। यह प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। न्यूरो सर्जरी, दिल समेत दूसरे विभागों में गंभीर मरीज ही रहेंगे। मेडिसिन समेत दूसरे विभाग खाली कराए जाएंगे।

यह भी पढ़ें :- बलरामपुर अस्पताल के कई डॉक्टर आइसोलेट, ये भी गये थे कनिका की पार्टी में होने शामिल

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए केजीएमयू प्रशासन ने डिजिटल ओपीडी शुरू करने का फैसला किया है। इसके लिए सभी विभागों के दो डॉक्टरों के फोन नम्बर मांगे गए हैं। आईसोलेशन वार्ड में पोर्टबल एक्सरे का प्रबंध करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा इंडोक्राइन सर्जरी विभाग की ओपीडी पूरी तरह से बंद कर दी गई है। यदि वेंटिलेटर की जरूरत किसी मरीज को पड़ रही है तो उसे पीजीआई रेफर किया जाए। केजीएमयू के आरआईसीयू, क्रिटिकल केयर मेडिसिन के आईसीयू का भी इस्तेमाल कोरोना संक्रमित गंभीर मरीजों के लिए किया जाएगा। इसलिए विभागाध्यक्ष आईसीयू के बेड खाली रखें।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

March 24, 2020, 2:02 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
31°C
real feel: 34°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 42%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 5:36 am
sunset: 5:50 pm
 

Recent Posts

Trending