Connect with us

ख़ैरियत

केजीएमयू में मरीजों को इलाज कराना पड़ रहा भारी

Published

on

लखनऊ। सरकार जहां स्वच्छ भारत अभियान चलाकर लोगों को निरोग रखने की प्रक्रिया को बढ़ावा दे रही है। वहीं राजधानी का किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) इन बातों को दरकिनार करते हुए संक्रमण फैला रहा है। केजीएमयू के मेडिसिन विभाग में बेड के गद्दे तक फटे हुए हैं। यहां तक कि हप्ते में सिर्फ दो ही बार मरीजों के बेड के चादर धुले जाते हैं। बताया गया कि केजीएमयू प्रशासन द्वारा जिस कम्पनी को लॉन्ड्री का टेंडर दिया गया है उसके द्वारा हप्ते मे सिर्फ दो ही बार चद्दर धुलकर मिलती है। मेडिसिन के इमरजेंसी विभाग मे विभागाध्यक्ष द्वारा मरीजों की सुविधा को नजरअंदाज करते हुए विभागाध्यक्ष का कक्ष का निर्माण बिना पूर्ण हुए कक्ष के लिए सोफे टीवी ए.सी. व अन्य स्मार्ट एकुमेंट मंगा लिए गए हैं। वहीं दूसरी तरफ मेडिसिन विभाग में बेड के गद्दे तक फटे हुए हैं।

यह भी पढ़ें :- एनजीटी की फटकार के बाद भी लोहिया अस्पताल में बदहाल सफाई व्यवस्था

साथ ही बताया जा रहा है कि जिस कम्पनी को लॉन्ड्री का टेंडर दिया गया है उसके द्वारा हप्ते मे सिर्फ दो ही बार चद्दर धुलकर मिलती है जिससे मरीजों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। साथ ही गांधी वार्ड मे लगी एबीजी मशीन पर पचासों लोग लाइन लगाकर जांच करवाते हैं जो कि यह एक इमरजेंसी जांच होती है। जिसकी वजह से टाइम पर रिपोर्ट न मिलने से मरीजों को भारी तकलीफों का सामना करना पड़ रहा है। जिसकी वजह से इलाज कराना मरीजों को महंगा साबित हो रहा है। साथ ही अधिकत्तर वार्डों में फ्रिज न होने की वजह से मरीजों को दवा और ब्लड स्टोर करने के लिए ट्रामा जाना पड़ता है। लेकिन अपने सुविधा में कोई कमी न हो इसलिए चेम्बर बनने से पहले ही लाखों रुपये की उपकरण महीनों से धूल खा रहा है और मरीज दर-दर भटक रहे हैं।http://www.satyodaya.com

ख़ैरियत

पुलिस की सुरक्षा में खुलेगा लाॅरी इमरजेंसी का ताला, 24 घंटे हृदय रोगियों को मिलेगा इलाज

Published

on

लखनऊ। अब केजीएमयू के लाॅरी काॅर्डियोलाॅजी इमरजेंसी के खुलने का रास्ता साफ हो गया है और शनिवार से यहां इलाज की घोषणा कर दी गई है। अब यहां 24 घंटे हृदय रोगियों को इलाज मिल सकेगा। इस संबन्ध में अफसरों ने दौरा किया। लारी इमरजेंसी में करीब आठ दिन से ताला बंद है। गत शुक्रवार को लारी में मरीज की मौत हो गई थी। तीमारदारों ने लापरवाही का आरोप लगाकर तोडफोड़ किया। इसके बाद अफसरों ने इमरजेंसी में ताला लगवा दिया। ऐसे में मरीजों को इलाज के लिए ट्राॅमा सेंटर के चक्कर काटने पड़ रहे थे। यहां भी मरीजों की भर्ती मुश्किल हो रही थी। समय पर इलाज न मिलने से दो मरीजों की मौत भी हो गईं थी।

यह भी पढ़ें :- पिता ने नहीं दिलाई जगुआर तो रईसजादे ने नदी में बहा दी BMW कार

इससे पूर्व गुरुवार को कुलपति, एडीएम, एसपी सिटी, सीएमएस, ट्राॅमा सीएमएस, विभागाध्यक्ष, प्राॅक्टर की बैठक हुई। बाद में शुक्रवार को प्राॅक्टर डाॅक्टर आरएएस कुशवाहा, सीएमएस डाॅक्टर एसएन शंखवार व एमएस डाॅक्टर बीके ओझा ने लाॅरी का दौरा किया। सीएमएस डाॅक्टर एसएन शंखवार ने शनिवार से लारी इमरजेंसी शुरू करने का दावा किया है। लाॅरी प्रवक्ता के मुताबिक सुरक्षा के लिए कई कदम उठाए गए हैं। जिसमें पुलिस चैकी में 24 घंटे तीन पुलिस कर्मी और छह पीएसी के जवान इमरजेंसी के पास तैनात रहेंगे। वहीं सुरक्षा में अतिरिक्त 20 गार्ड की ड्यूटी लगाई गई है। इसके साथ ही इंट्री प्वाइंट से मरीज के साथ दो तीमारदारों को ही प्रवेश मिलेगा और इंट्री प्वाइंट पर स्ट्रेचर व वार्ड ब्वाॅय मौजूद रहेंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

ख़ैरियत

अनियंत्रित कार गिरी नाले में, पुलिस ने बचाई जान…

Published

on

लखनऊ। लखनऊ थाना गाजीपुर क्षेत्र में कल रात करीब 1.30 बजे कार कुकरैल बंधे के पास रेलिंग तोड़ते हुए पुल से नीचे नाले में जा गिरी। बताया जा रहा है कि कार में सवार इंदिरा नगर सेक्टर-21 निवासी संदीप मिश्रा, पत्नी एवं बच्चे सहित किसी कार्यक्रम से वापस घर लौट रहे थे कि अचानक कार अनियंत्रित होकर नाले में जा गिरी।

बता दें कि घटना स्थल से गुजर रहे एक स्कूटी सवार द्वारा पास ही गाजीपुर थाने के अंतर्गत रात में गश्त कर रहे उपनिरीक्षक दुर्गा प्रसाद को सुचना दी, जो तुरन्त हेड कॉन्स्टेबल रूद्र प्रताप, कॉन्स्टेबल विजयभान, राजीव, प्रविंद्र के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और रात में अपनी जान की परवाह न करते हुए नाले में उतर कर कार से सभी लोगो को सुरक्षित निकालकर उनके घर तक पहुंचाया।

यह भी पढ़ें: सपा को लगा बड़ा झटका, दो नेता बीजेपी में शामिल…

बताते चले कि समय रहते पुलिस टीम द्वारा सहायता करने से कल रात तीन लोगों की नाले में डूबने से जान बच गयी। सभी ओर पुलिस के इस त्वरित साहसिक कार्य के लिए पुलिस की सम्पूर्ण टीम की सराहना की जा रही है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

ख़ैरियत

केजीएमयू में दो दिवसीय ऑर्थोस्कोपी कॉन्क्लेव का होगा आयोजन…

Published

on

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय के ऑर्थोपेडिक सर्जरी एवं स्पोर्ट्स मेडिसिन विभाग के द्वारा दो दिवसीय ऑर्थोस्कोपी कॉन्क्लेव 2019 कैडेवरिक नी एवं शोल्डर कोर्स का आयोजन 10 और 11 अगस्त को किया जा रहा है। कार्यक्रम से संबंधित जानकारी देते हुए विभागाध्यक्ष प्रोफेसर विनीत शर्मा ने बताया कि इस वर्ष को मिलाकर लगातार तीसरे वर्ष आर्थ्रोस्कॉपी कॉन्क्लेव का आयोजन किया जा रहा है। कार्यशाला से संबंधित अत्यधिक जानकारी देते हुए ऑर्गेनाइजिंग सेक्रेट्री डॉ. आशीष कुमार ने बताया कि इस वर्कशॉप में पूरे भारत से 7 से 8 स्पेशलिस्ट चिकित्सक शामिल होंगे। साथ ही उन्हो़ने बताया कि उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से 100 से अधिक डेलिगेशन शामिल होंगे।

य़ह भी पढ़ें: रक्षाबंधन पर अधिक से अधिक बसों का होगा संचालन…

डॉक्टर आशीष कुमार ने कहा कि स्पेशलिस्ट के द्वारा दूरबीन विधि से किए जाने वाले उपचार जिसमें घुटने एवं कंधे की चोट, लिगामेंट का फटना, कंधे का बार-बार उतरना और इससे संबंधित अन्य कई बीमारियों के ऑपरेशन इस विधि के माध्यम से बताया जाएगा। डॉ. आशीष कुमार ने बताया कि दूरबीन द्वारा जोड़ों के ऑपरेशन विधि को उत्तर प्रदेश में बढ़ाने की दिशा में लगातार ऑर्थोपेडिक सर्जरी एवं स्पोर्ट्स मेडिसिन विभाग के द्वारा प्रयास किया जा रहा है। डॉ. आशीष कुमार ने बताया कि इस कार्यशाला में डिपार्टमेंट ऑफ ऑर्थोपेडिक्स स्पोर्ट्स मेडिसिन एवं एनाटमी विभाग केजीएमयू के समस्त शिक्षकगण और रेजिडेंट डॉक्टर समेत कर्मचारियों का संपूर्ण योगदान रहेगा इसके साथ ही लोहिया संस्थान और उत्तर प्रदेश ऑर्थोपेडिक एसोसिएशन के सर्जन भी इस कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 11, 2019, 1:26 am
Fog
Fog
29°C
real feel: 37°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 94%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:06 am
sunset: 6:17 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending