Connect with us

लाइफ स्टाइल

घर में रखें ये पौधे फिर देखिए खुशियों से भर जाएगी जीवन की बगिया

Published

on

लखनऊ। पौधे ना ही सिर्फ वातावरण को शुद्ध रखने का काम करते हैं बल्कि उससे नकारात्मक ऊर्जा भी दूर करते हैं। वास्तु में ऐसे ही कुछ पौधों का जिक्र है जिन्हें लगाने से घर सकारात्मक ऊर्जा से भर जाता है। यह घर में खुशहाली लाते हैं और परिवार के लोगों का स्वास्थ्य भी ठीक रखते हैं।

यह भी पढ़ें: लता मंगेशकर के बाद डिंपल कबाड़िया की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में भर्ती…

तुलसी के पौधे का हिंदुओं में काफी महत्व है। औषद्यीय गुणों भरपूर तुलसी में नकारात्मकता दूर करने की शक्ति होती है। कहते हैं सभी देवता इसमें वास करते हैं।

चमेली अपनी खूशबू के लिए तो जाना ही जाता है लेकिन वास्तु में भी इसका बड़ा महत्व है। परिवार के बीच अगर मन-मुटाव हो रहा है तो घर में एक चमेली का पौधा लगाएं।

बांस का छोटा प्रारूप रखने का चलन पिछले कुछ दिनों से ज्यादा बढ़ा है। फेंगशुई के साथ-साथ वास्तु में भी इसे घर में रखने की सलाह दी गई है। इसमें क्लेश दूर करने की क्षमता होती है।

कैकटस को घर में रखने बुरी नजर दूर रहती है और उसके दुष्प्रभाव घर पर नहीं पड़ते। अपने घर में कैकटस अवश्य रखें।

एलोवीरा ना ही सिर्फ सौंदर्य बढ़ाता है बल्कि सौभाग्य भी लाता है। इसे घर में लगाने से किस्मत बदल जाती है। एलोवीरा से घर की सजावट भी कर सकतें हैं। अगर आपको नौकरी पाने में कठिनाई हो रही है तो इस पौधे को कमरे में रखने से कारगर साबित हो सकता है।http://www.satyodaya.com

लाइफ स्टाइल

बारिश में फंगल इंफेक्‍शन का है खतरा, जानें इससे बचने के ये उपाय

Published

on

बारिश का मौसम जैसे ही शुरू होता है वैसे ही एक बहुत ही रोमांचक मौसम बनने लगता है, जिससे गर्मी से तो राहत मिलती ही है साथ में बारिश की बूंदों का बार-बार गिरना हमें एक अलग ही सुकून का एहसास दिलाता है। बारिश के मौसम में एन्जॉय करना तो बढि़या है, लेकिन खुद की हैल्थ का ध्यान रखना भी जरूरी है। बारिश में भीगने से सर्दी-जुकाम से लेकर फंगल इन्फेक्शन, टाइफाइड, मलेरिया और डेंगू जैसी कई बीमारियों के होने का खतरा बना रहता है। खाने-पीने से लेकर कपड़ों तक की साफ.-सफाई पर ध्यान देकर इन सबसे दूर रहा जा सकता है और क्या-क्या सावधानियां इस मौसम में बरती जानी चाहिए, आइए जानें इनके बारे में ।

यह भी पढ़ें: Khuda Haafiz: 14 अगस्त को प्लेटफॉर्म पर रिलीज होगी ‘खुदा हाफिज’

घमोरिया

लाल रंग के दाने में उत्पन्न होने वाली यह समस्या पसीने से होती है, जिससे रोम छिद्र बंद हो जाते हैं। घमोरिया खत्म होने में कुछ दिन लगते हैं। खुजा लेने से इनका इंफेक्शन बढ़ता है, इसलिए कोशिश करें हल्के कॉटन या लिनन के कपड़े पहनें खुजली आने पर कैलेमाइन लोशन का इस्तेमाल करें।

नेल इंफेक्शन

बारिश के मौसम में कई बार नेल इंफेक्शन हो जाता है। ऐसे में हमारे नाखून सुस्त और फीके दिखाई देते हैं। बड़े नाखून रखने से बचें, क्योंकि इस सीजन में नाखून में गंदगी बैठती है, जिससे फंगल इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है। ऐसी समस्या होने पर एंटी-फंगल क्रीम या पाउडर का इस्तेमाल करें

सोराइसिस

ऐसे में स्किन पर लाल रंग के धब्बे पड़ने के साथ ही खुजली की भी समस्या हो जाती है। इस मौसम में में ऐलोवेरा, त्वचा पर उत्पन्न होने वाले इंफेक्शन के लिए काफी लाभकारी होता है। इसके अलावा आप घर पर बेसन, दूध और गुलाब जल का मिश्रण तैयार कर प्रयोग में ला सकते हैं। नहाते समय एंटी-बैक्टीरियल साबुन, फेस वॉश और टैलकम पाउडर का ही इस्तेमाल करें।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लाइफ स्टाइल

थकान को दूर और मन को शांत करने के लिए जरुर करें योगासन

Published

on

योग के प्रति लोगों का झुकाव पिछले कुछ समय में काफी बढ़ा है। अधिकतर लोग अपनी शारीरिक व मानसिक समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए विभिन्न योगासनों का सहारा लेते हैं। योगासन की क्रियाएं हमारे पैरासिम्पैथेटिक नवर्स सिस्टम को सक्रिय कर देती हैं। जिससे हमारा शरीर और मन रिलैक्स होने लगता है। योग के दौरान शरीर से टेंशन दूर होने लगती है। जबकि  मांसपेशियां रिलैक्स होने लगती हैं। पैरासिम्पैथेटिक नव्र्स सिस्टम के सक्रिय होने से एंड्रोफिंस को रिलीज़ होने में मदद मिलती है। इन्हें हैपी हार्मोन्स भी कहा जाता है। योगासन के अभ्यास और प्राणायाम में सांस लेने और छोडऩे से स्ट्रेस और एंग्ज़ायटी को दूर रखने में काफी हद तक मदद मिलती है।

उत्थित त्रिकोणासन

इस आसन में ट्विस्ट के साथ ही स्ट्रेचिंग को शामिल किया जाता है। उत्थित त्रिकोणासन न सिर्फ रीढ़ की हड्डी को खोलने में बल्कि एंग्ज़ायटी को दूर करने में भी मदद करता है। इसे करने के लिए एकदम सीधे खड़े हो जाएं। पैरों में गैप बनाएं। अब दाएं हाथ को ज़मीन पर रखते हुए बाएं हाथ को एकदम सीधा रखने का प्रयास करें। इस अवस्था में 30 सेकंड तक रुकें। ठीक दूसरे हाथ से भी करने का प्रयास जारी रखें।

धनुरासन

यह आसन न सिर्फ शोल्डर्स बल्कि सीने, और गर्दन की मांसपेशियों को भी एक्सपेंड करने में मदद करता है। यह पेट के निचले हिस्से की मांसपेशियों और पीठ को मज़बूत बनाता है और शरीर की कोर स्ट्रेंथ को स्ट्रॉन्ग बनाने में मददगार है।

शवासन

शवासन, एंग्ज़ाइटी और डिप्रेशन को दूर करने के लिए किए जाने वाले योगासनों में से सबसे बेहतर है। शवासन न सि$र्फ शरीर बल्कि दिमाग को ज़बरदस्त आराम देता है। कठिन वर्कआउट में आमतौर पर स्ट्रेचिंग, ट्विस्टिंग, कांट्रैक्टिंग और मसल्स की इवर्टिंग शामिल होती है। ऐसे योगासन के बाद शरीर को रीचार्ज करने के लिए आराम बेहद ज़रूरी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लाइफ स्टाइल

IMMUNITY को मजबूत बनाएगा अमरूद, फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे आप

Published

on

विटामिन सी शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता को मजबूत बनाता है लेकिन आप शायद यह नहीं जानते कि संतरे के मुकाबले अमरूद में चार गुना ज्यादा विटामिन सी होता है. आज अमरूद खाने के फायदे जानकर आप हैरान हो जाएंगे।

डायबिटीज कंट्रोल करे
अमरूद में मौजूद फाइबर डायबिटीज कंट्रोल करने में भी मददगार है, जो बॉडी में शर्करा की मात्रा को संतुलित तरीके से अवशोषित करने का काम करता है. इससे खून में शुगर की मात्रा में जल्दी से बदलाव नहीं हेता

प्रतिरोधक क्षमता मजबूत करे
विटामिन सी शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता को मजबूत बनाता है. संतरे के मुकाबले अमरूद में चार गुना ज्यादा विटामिन सी होता है. इससे खांसी, जुकाम जैसे छोटे-मोटे इंफेक्शन से बचाता है.

यह भी पढ़ें: अमिताभ बच्चन ने मशहूर लेखक प्रसून जोशी से मांगी माफी

ब्लड प्रैशर कंट्रोल करे
अमरूद में मौजूद फाइबर और पोटैशियम ब्लड में कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने में मददगार हैं. अमरूद खाने से दिल की धड़कन और ब्लड प्रेशर नियमित रहता है.

कैंसर से बचाव
अमरूद में एंटीऑक्सीडेंट लाइकोपीन भरपूर मात्रा में होता है. जो बॉडी में कैंसर सेल को बड़ने से रोकने का काम करता है.

पेट संबधी परेशानियां
अगर आप अमरूद का सेवन काले नमक के साथ करते हैं तो इससे पाचन संबधी परेशानी दूर होती है. पेट में कीड़े हो गए हों तो अमरूद का सेवन फायदेमंद होता है. अमरूद कब्ज व पित्त की समस्या को भी दूर करता है.

दांत मजबूत बनाए
दांत और मसूढ़ो के लिए भी अमरूद बहुत फायदेमंद है. मुंह के छाले को दूर करने के लिए अमरूद की पत्तियां चबाने से राहत मिलती है. अमरूद का रस घाव जल्दी भरने का काम करता है.http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 15, 2020, 4:39 am
Thunderstorms
Thunderstorms
28°C
real feel: 32°C
current pressure: 99 mb
humidity: 89%
wind speed: 1 m/s ENE
wind gusts: 2 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:08 am
sunset: 6:13 pm
 

Recent Posts

Trending