Connect with us

अपना शहर

रहस्यमय हालात में बीती रात दयानिधान पार्क के पास मिला शव

Published

on

लखनऊ। कैसरबाग थाना क्षेत्र स्थित बीती देर रात दयानिधान पार्क के पास एक व्यक्ति का रहस्यमय हालात में शव मिलने से लोगों में हड़कम्प मच गया जिसकी सूचना पाते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है। फिलहाल बताया जा रहा है मृतक की शिनाख्त नहीं हो पाई है, जिसकी शिनाख्त का भी प्रयास किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें :- भाजपा नेता ने ओमप्रकाश राजभर के विवादित बयान के खिलाफ दी थाने पर तहरीर

कैसरबाग थाना में बीती रात 40 वर्षीय एक व्यक्ति की रहस्यमय हालात में मौत हो गई। जिसमें बताया जा रहा है कि शुक्रवार की रात दयानिधान पार्क के पास उस व्यक्ति की अचानक तबियत बिगड़ गई थी। तभी चाइना बाजार चैकी इंचार्ज ने लोगों की मदद से उस व्यक्ति को बलरामपुर हॉस्पिटल में भर्ती कराया था, आज तड़के इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। साथ ही बताया कि मृतक की शिनाख्त नहीं हो सकी है और मौत का कारण भी स्पष्ट नहीं है। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और रिपोर्ट आने के बाद ही मौत ही असली वजह स्पष्ट होगी।http://www.satyodaya.com

अपना शहर

रोडवेज में सफर कर रही युवती से बस कंडक्टर ने की छेड़खानी

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ। राजधानी में सरकार द्वारा महिलाओं की सुरक्षा को लेकर किये गये सारे वादे कोरे होते हुए नजर आ रहें हैं। ऐसा ही एक मामला वजीरगंज थाना क्षेत्र स्थित कैसरबाग बस अड्डे पर देखने को मिला है, जहां शजहांपुर से लखनऊ रोडवेज से आ रही अकेली युवती से बस कंडक्टर ने छेड़खानी की है।

वहीं युवती ने कैसरबाग बस अड्डे पहुंचने पर राहगीरों से मदद की गुहार लगाई । जिसके बाद युवती की मदद के लिए आए राहगीरों से कंडक्टर और अन्य कर्मचारियों ने लड़ाई-झगड़े के साथ अभद्रता की । इस मारपीट की घटना से बस अड्डे पर हड़कम्प मच गया। राहगीरों के साथ जब कंडक्टर ने अभद्रता की उसके बाद वहीं मौजूद भीड़ ने कंडक्टर की जमकर पिटाई की और कंडक्टर को पुलिस के हवाले भी कर दिया। इसके साथ ही घायल कंडक्टर को पुलिस ने बलरामपुर हॉस्पिटल पहुंचाया, जिसके बाद युवती ने आरोपी कंडक्टर के खिलाफ थाने पहुंचकर अपने साथ हुई छेड़खानी की तहरीर दी। हॉस्पिटल में इलाज के बाद पुलिस ने महिला की तहरीर पर इस मामले में दो आरोपी युवकों को हिरासत में लिया है।

ये भी पढ़े: मंडल कार्यालय में मातृ-शिशु/महिला स्वास्थ्य शिविर का हुआ आयोजन

जिसके बाद इसी कड़ी में युवती ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने मदद में आये युवक को  गिरफ्तार कर लिया है और महिला सशक्तिकरण की धज्जियां उड़ाकर छेड़खानी करने वाले कंडक्टर को पुलिस ने रिहा कर दिया है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

केजीएमयू के दो डॉक्टरों ने दिया इस्तीफा, हॉस्टल ना देने का लगाया आरोप

Published

on

लखनऊ। केजीएमयू प्रशासन की बदहाल व्यवस्था से अब डॉक्टरों ने भी इस्तीफा देना शुरू कर दिया है। यहां के ही पल्मोनरी क्रिटिकल केयर विभाग के दो रेजीडेंट डॉक्टरों ने इस्तीफा दे दिया है। इनमें एक महिला व दूसरा पुरुष रेजीडेंट शामिल हैं। इन्होंने अपने इस्तीफे की वजह हॉस्टल न का न मिलना बताया है।

केजीएमयू में ट्रॉमा से लेकर दूसरे विभागों में रेजीडेंट डॉक्टर मरीजों के इलाज में अहम योगदान दे रहे हैं। व्यवस्था को दुरुस्त रखने के लिए यहां करीब साढ़े सात सौ जूनियर व सीनियर रेजीडेंट तैनात हैं। इसके बावजूद उनके साथ भेदभाव बरता जा रहा है। पहले साइकिल स्टैंड में पार्किंग में स्थान नहीं दिया गया।

ये भी पढ़े: सीएम योगी ने प्रदेशवासियों को दी बुद्ध पूर्णिमा की शुभकामनाएं

अब हॉस्टल आवंटन में रेजीडेंट के साथ भेदभाव बरता जा रहा है। हॉस्टल आवंटन के लिए दौड़ाया जा रहा है। पल्मोनरी क्रिटिकल केयर के दो सीनियर रेजीडेंट ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया। आरोप हैं कि पल्मोनरी क्रिटिकल केयर में नौकरी करने की वजह से हॉस्टल आवंटित नहीं किया जा रहा है। मेडिसिन या एनेस्थीसिया में होता तो हॉस्टल मिल जाता। वहीं डॉक्टर का इस्तीफा का पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

इसोफेगास्टमी एड्रोशिया बीमारी में ग्रसित बच्चे को डाक्टर ने दिया नया जीवनदान

Published

on

लखनऊ। मानव शरीर समय-समय पर कई प्रकार की बीमारियों की चपेट में आता रहता है कुछ बीमारियों में तो इलाज के बाद स्वस्थ हो जाता है मगर बहुत सी बीमारी होती है जो मानव के लिए जानलेवा साबित होती है मगर कुछ ऐसी भी बीमारियां होती हैं जो पैदा होते ही बच्चे को जकड़ लेती हैं। इसी प्रकार की एक बीमारी है इसोफेगास्टमी एड्रोशिया कहते हैं, इस बीमारी में जो खाने की नली होती है गले से लेकर पेट तक विकसित नहीं होती है।

इसोफेगास्टमी एड्रोशिया बीमारी में ग्रसित 22-3-2017 केजीएमयू के पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग में प्रोफेसर जेडी रावत की निगरानी में भर्ती हुआ जिसका प्रोफेसर जे.डी. रावत और उनकी टीम के द्वारा तत्काल उपचार शुरू किया गया। जिसमें यह पाया गया कि बच्चा ऐसी बीमारी में मुब्तिला है जिसके कारण बच्चा दूध नहीं पी पा रहा है जब उसे दूध पिलाया जाता तो दूध खांसी एवं दुग्ध मुंह से बाहर आ जाता है, जब बच्चे को भर्ती कराया गया उस समय वह मात्र 1 दिन का था भर्ती के दूसरे दिन ही इमरजेंसी में बच्चे का ऑपरेशन किया गया।

यह भी पढ़ें :- डेंगू से बचाव ही सर्वोत्तम उपचार : डॉ. नरेंद्र अग्रवाल

इस ऑपरेशन में अविकसित आहार नली को गले से बाहर किया गया और पेट में खाने की थैली में एक नली डाली गई और गैस्ट्रास्टमी से बच्चे को दूध पिलाना शुरू किया गया और दो बार फिर बच्चे का आपरेशन किया गया। प्रोफेसर जे.डी.रावत ने बताया की कुल तीन चरणों में बच्चे का आपरेशन किया गया जो की पूरी तरह सफल रहा और अब बच्चा सम्पूर्ण रूप से स्वस्थ है और खा-पी रहा है। बच्चा जो की सिद्धार्थनगर का रहने वाला है उसके अभिभावकों ने प्रोफेसर जे.डी.रावत और उनकी टीम का धन्यवाद देते हुए कहा की इन सभी लोगों के कारण बच्चे को नया जीवन मिला है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 18, 2019, 2:26 pm
Dreary (overcast)
Dreary (overcast)
37°C
real feel: 38°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 23%
wind speed: 6 m/s WNW
wind gusts: 6 m/s
UV-Index: 8
sunrise: 4:47 am
sunset: 6:18 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 8 other subscribers

Trending