Connect with us

अपना शहर

बच्चों के भविष्य से हो रहा खिलवाड़, मतदान ड्यूटी में लगाया मासूमों को…

Published

on

लखनऊ । लोकसभा चुनाव 2019 में पांचवे चरण का मतदान हो रहा है। वहीं लखनऊ में स्कूल प्रशासन की नाकामी की खबर सामने आई है। जहां प्रशासन मतदान की ड्यूटी मासूम बच्चों से करा रही है। बता दें कि कड़ी धूप में मासूम बच्चों को पोलिंग बूथ के बाहर पार्किंग व्यवस्था के लिए लगाया गया है। वहीं स्कूल प्रशासन बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है।

यह भी पढ़े- मिशन 2019: पांचवें चरण की वोटिंग शुरू, लखनऊ में राजनाथ सिंह ने डाला वोट…

आपको बता दें कि बच्चों की ड्यूटी राजकीय इण्टर कॉलेज में लगाई गई है। जहां पार्किंग के लिए बच्चों को खड़ा किया गया है। इस हरकत पर चुनाव आयोग के सारे दावे खोख्ले होते नजर आ रहे है। वहीं स्कूल प्रशासन ने बच्चों को कड़ी धूप में स्काउट ड्रेस में लगाया है। जबकि प्रशासन की तरफ़ से राजकीय इण्टर कॉलेज के बाहर एक भी कर्मचारी मौजूद नहीं है।http://www.satyodaya.com

अपना शहर

सीरियल किलर सलीम, सोहराब गैंग का ईनामी गुर्गा चढ़ा पुलिस के हत्थे

Published

on

लखनऊ। सीरियल किलर के नाम से मशहूर गैंगस्टर सलीम, सोहराब और रुस्तम का एक गुर्गा मंगलवार को पुलिस के हत्थे चढ. गया। कुख्यात गैंग के इस गुर्गे का नाम आमिर खान उर्फ आमिर कालिया है। जिसे थाना वजीरगंज पुलिस ने पकड़ा है। इसके खिलाफ लखनऊ के एक व्यापारी से रंगदारी मांगने का मुकदमा दर्ज है। पुलिस को काफी दिन से इसकी तलाश थी। आमिर कालिया पर 10 हजार रुपए का ईनाम भी घोषित था। राजधानी में यह कई गंभीर अपराधों को अंजाम दे चुका है।

यह भी पढ़ें-लखनऊ : सड़क किनारे पड़ा मिला बाराबंकी निवासी वाहन चालक का शव

एडीसीपी लखनऊ पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि थाना वजीरगंज में कुछ दिन पहले रिंग रोड के एक व्यापारी कुख्यात गैंग के खिलाफ रंगदारी मांगने का मुकदमा दर्ज कराया था। व्यापारी ने आरोप लगाया था कि कुछ लोग दुकान पर आए और एक अपराधी के नाम से चिट्ठी दी गयी। पुलिस ने अधिकारी के मुताबिक व्यापारी ने आरोप लगाया था कि चिट्ठी में धमकी देते हुए रंगदारी मांगी गयी थी। एडीसीपी लखनऊ पश्चिम ने बताया कि इस मामले में मुख्य आरोपियों की पहले ही गिरफ्तारी की जा चुकी है।

जबकि इस मामले में वांछित आमिर कालिया फरार चल रहा था। गिरफ्तार बदमाश का संबंध सलीम, रुस्तक और सोहराब गैंग से है। इसने एक सभासद पर भी फायरिंग की थी। बदमाश से इसके अन्य साथियों के बारे में पूछताछ की जा रही है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

लखनऊ : सड़क किनारे पड़ा मिला बाराबंकी निवासी वाहन चालक का शव

Published

on

स्थानीय लोगों ने जताई हत्या की आशंका, पुलिस बता रही दुर्घटना

मृतक का फाइल फोटो

लखनऊ। गोसाईगंज के सेखनापुर गांव के पास लखनऊ-सुल्तानपुर मार्ग के किनारे मंगलवार की सुबह एक युवक का खून से लथपथ शव पड़ा मिला। राहगीरों की सूचना पर मौके पर पहुंची गोसाईगंज पुलिस ने युवक के पर्स में मिले आधार कार्ड व मोबाइल से उसकी शिनाख्त की। परिजनों को सूचना देने के साथ पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

इंस्पेक्टर गोसाईगंज धीरेंद्र कुमार कुशवाहा के अनुसार ग्राम शिवराजपुर थाना हैदरगढ़ जनपद बाराबंकी निवासी संतोष कुमार तिवारी (30) का शव लखनऊ सुल्तानपुर मार्ग के किनारे मिला। उसके पास से मिले आधार कार्ड व मोबाइल नंबर से संपर्क कर भाई राजू को बुलाकर शव की शिनाख्त कराई गई। भाई राजू के अनुसार वह लखनऊ के इंद्रानगर इलाके के इस्माइलगंज तकरोही में रहता था। संतोष यहां अकेला रहकर पिकअप डाला चलाता था।

यह भी पढ़ें-कांग्रेस ने मेरठ से शुरू की आरक्षण बचाओ यात्रा, 5 मार्च हो होगा समापन

स्थानीय लोगों ने संतोष की हत्या कर शव फेंकने का आरोप लगाया है। वहीं गोसाईगंज पुलिस उसे सड़क दुर्घटना बता रही है। गोसाईगंज पुलिस के मुताबिक संतोष के सिर में गहरी चोट पाई गयी है। संभवतः इसी चोट के चलते उसकी मौत हो गयी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हत्या या दुर्घटना की सही जानकारी लगेगी। इस्पेक्टर गोसाईगंज ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि सोमवार की रात 11 बजे मृतक शराब के नशे में धुत था। पिकप मालिक को जब इस बात की जानकारी हुई तो उससे जबरन चाभी ले ली। जांच के लिये एक टीम भेजी गई है। सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

भारी विरोध के बीच राजेन्द्र नगर में ध्वस्त किए गए अवैध मकान

Published

on

लखनऊ। राजधानी के राजेन्द्रनगर में मंगलवार को नगर निगम की टीम अवैध निर्माण ढहाने पहुंची तो हड़कंप मच गया। स्थानीय लोगों ने नगर निगम की कार्रवाई का भारी विरोध किया। नगर निगम का बुल्डोजर पहुंचते ही वहां लोग सड़क पर आ गए और अधिकारियों से भिड़ गए। नगर निगम का कहना है कि यह मकान सार्वजनिक सड़क पर अतिक्रमण कर बनाए गए हैं। इन अवैध मकानों को खाली करने के लिए वर्ष 2018 में कानूनी नोटिस दी गयी थी।

साथ अवैध रूप से यहां बसे सभी लोगों को दुबग्गा में बसाने के लिए मकान भी आवंटित किए गए हैं। नगर निगम के अधिकारी ने बताया कि यहां करीब 7 मकान अवैध रूप से बनाए गए हैं। जिन्हें आज ध्वस्त करने के लिए टीम पहुंची है। भारी विरोध के बीच नगर निगम के बुल्डोजर ने कई मकानों को पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया।

आरोप, कोई नोटिस नहीं दिया गया

वहीं कार्रवाई का विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि नगर निगम ने कोई नोटिस नहीं दिया है। लोगों ने कहा कि उन्हें रहने के लिए कहीं और कोई मकान भी नहीं मिला है। निर्माण तोड़े जाने का विरोध करते हुए लोगों ने कहा कि हम यह जगह नहीं खाली करेंगे। एक बुजुर्ग महिला ने कहा कि अधिकारियों को मकान गिराने के लिए पहले मुझे मारना होगा।

कोर्ट ने लगा दी थी रोक: तनवीर

पीड़ित तनवीर ने कहा कि नगर निगम जिन मकानों को अवैध बता रहा है, कोर्ट ने उन मकानों को तोड़ने पर रोक भी लगा चुका है। लेकिन गरीबों के घर गिराए जा रहे हैं। कुछ लोगों ने कहा कि उनके पास मकान की रजिस्ट्री भी है।

किसी नेता के कहने पर हुई कार्रवाई!

कई महिलाओं ने इस कार्रवाई के पीछे किसी नेता का हाथ बताया है। पीड़ित महिलाओं का कहना था कि उन नेता ने ही किसी मंत्री को फोन कर यहां से हम लोगों को हटाने और मकान गिराने के लिए कहा था।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 26, 2020, 2:13 am
Fog
Fog
14°C
real feel: 15°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 87%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:04 am
sunset: 5:35 pm
 

Recent Posts

Trending