Connect with us

अपना शहर

भारी विरोध के बीच राजेन्द्र नगर में ध्वस्त किए गए अवैध मकान

Published

on

लखनऊ। राजधानी के राजेन्द्रनगर में मंगलवार को नगर निगम की टीम अवैध निर्माण ढहाने पहुंची तो हड़कंप मच गया। स्थानीय लोगों ने नगर निगम की कार्रवाई का भारी विरोध किया। नगर निगम का बुल्डोजर पहुंचते ही वहां लोग सड़क पर आ गए और अधिकारियों से भिड़ गए। नगर निगम का कहना है कि यह मकान सार्वजनिक सड़क पर अतिक्रमण कर बनाए गए हैं। इन अवैध मकानों को खाली करने के लिए वर्ष 2018 में कानूनी नोटिस दी गयी थी।

साथ अवैध रूप से यहां बसे सभी लोगों को दुबग्गा में बसाने के लिए मकान भी आवंटित किए गए हैं। नगर निगम के अधिकारी ने बताया कि यहां करीब 7 मकान अवैध रूप से बनाए गए हैं। जिन्हें आज ध्वस्त करने के लिए टीम पहुंची है। भारी विरोध के बीच नगर निगम के बुल्डोजर ने कई मकानों को पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया।

आरोप, कोई नोटिस नहीं दिया गया

वहीं कार्रवाई का विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि नगर निगम ने कोई नोटिस नहीं दिया है। लोगों ने कहा कि उन्हें रहने के लिए कहीं और कोई मकान भी नहीं मिला है। निर्माण तोड़े जाने का विरोध करते हुए लोगों ने कहा कि हम यह जगह नहीं खाली करेंगे। एक बुजुर्ग महिला ने कहा कि अधिकारियों को मकान गिराने के लिए पहले मुझे मारना होगा।

कोर्ट ने लगा दी थी रोक: तनवीर

पीड़ित तनवीर ने कहा कि नगर निगम जिन मकानों को अवैध बता रहा है, कोर्ट ने उन मकानों को तोड़ने पर रोक भी लगा चुका है। लेकिन गरीबों के घर गिराए जा रहे हैं। कुछ लोगों ने कहा कि उनके पास मकान की रजिस्ट्री भी है।

किसी नेता के कहने पर हुई कार्रवाई!

कई महिलाओं ने इस कार्रवाई के पीछे किसी नेता का हाथ बताया है। पीड़ित महिलाओं का कहना था कि उन नेता ने ही किसी मंत्री को फोन कर यहां से हम लोगों को हटाने और मकान गिराने के लिए कहा था।http://www.satyodaya.com

अपना शहर

लखनऊ में 956 रोगी इलाज के बाद डिस्चार्ज, 11 लोगों की मौत

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार को कोरोना के नए मामलों की कुछ कमी देखने को मिली है। लखनऊ में पिछले 24 घंटे में कोविड के 825 नए मामले आए है। इस दौरान 11 लोगों की मौत हो गई है।

9 हजार से अधिक केस सक्रिय

लखनऊ में बुधवार को 956 रोगियों को स्वस्थ होने के उपरान्त अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है। अबतक 38,728 रोगियों को इलाज के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है। वहीं 9,610 मामले अभी भी सक्रिय है। जिनका अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। इनमें से कुछ होम आइसोलेशन में रह कर अपना इलाज करा रहे है। अबतक लखनऊ में 630 लोगों की मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें:- लखनऊ: पीजीआई में भर्ती कोरोना मरीजों ने कर्मचारी को पीटा, हंगामा

गोमती नगर में सबसे ज्यादा पाॅजिटिव केस

लखनऊ में कोरोना वायरस के संबंघ में सर्विलान्स व कान्टेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर टीमों द्वारा 11,925 लोगो के सैंपल लिये गये है। वहीं राजधानी में आए नए मामलों में गोमती नगर के सबसे ज्यादा 67, तालकटोरा और आशियाना के 31-31, इंदिरा नगर के 48, आलमबाग के 34, ठाकुरगंज के 26, मोहनलालगंज और हसनगंज के 12-12, हजरतगंज के 18, महानगर और मड़ियांव के 21-21, चौक और रायबरेली रोड के 38-38, अलीगंज के 35, जानकीपुरम के 29,, कैण्ट के 24, चिनहट के 42, विभूतिखण्ड, फैजाबाद रोड़ और विकासनगर के 15-15, सुशान्त गोल्फ सिटी, बाजारखाला, कृष्णानगर और नाका के 10-10, सरोजनीनगर के 22, वृन्दावन योजना के 17, गोमतीनगर विस्तार के 16, पारा के 23, तेलीबाग और गुडम्बा के 14-14, पाॅजिटिव रोगी शामिल है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

दिन में पुलिस ने समझाकर भेजा…रात में फिर सुसाइड करने पहुंच गया सनकी आशिक

Published

on

लखनऊ। प्यार में धोखा खाए एक आशिक ने मंगलवार को लखनऊ पुलिस को खूब छकाया। आत्महत्या के इरादे से आज दोपहर में गोमती नदी के ओवर ब्रिज पर चढ़े जिस युवक को हसनगंज पुलिस ने किसी तरह मान-मनौव्वल कर नीचे उतारा था, देर रात वह फिर से वहीं पहुंच गया। प्रेमिका पर 16000 रुपए ऐंठने का आरोप लगाते हुए युवक अपने लिए नौकरी और प्रेमिका से मिलवाने की मांग की।

यह भी पढ़ें-प्रेमिका से धोखा खाये सिरफिरे आशिक ने लखनऊ पुलिस को खूब छकाया…

ऐसा न होने पर उसने नदी में कूदकर जान देने की धमकी देने लगा। ओवरब्रिज पर लगी जाली को फांदकर नदी की तरफ पहुंचा युवक जोर-जोर से चिल्लाने लगा। देखते-देखते ही वहां राहगीरों की भीड़ जमा हो गयी।

सूचना पर मौके पर पहुंची हसनगंज पुलिस ने देखा तो फिर से वही प्रेमिका से धोखा खाया हुआ आशिक था। पुलिस एक बार फिर से उसकी मान-मनौव्वल में जुटी। पुलिस और राहगीरों के काफी प्रयास के बाद किसी तरह युवक नीचे आया।

यह भी पढ़ें-लखनऊ पुलिस की 48 टीमों ने 42 जगहों पर मारे छापे, माफिया गैंग के 32 गुर्गे दबोचे

युवक का आरोप है कि लखनऊ में रहने वाली एक युवती ने उसे प्यार का झांसा देकर 16000 रुपए ऐंठ लिए। वह बेरोजगार है और उसके पास पैसे भी नहीं हैं। पुलिस से उसने मांग रखी कि उसकी प्रेमिका से उसे मिलाया जाए। साथ ही उसके लिए नौकरी भी व्यवस्था कराई जाए। फिलहाल उसे हिरासत में लेकर हसनगंज थाने ले जाया गया है। युवक का कहना है कि पुलिस उसकी बात न सुनकर प्रताड़ित कर रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

लखनऊ नगर निगम ने चलाया हाउस टैक्स वसूली अभियान, तीन मकान सील

Published

on

लखनऊ। नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी के निर्देश पर आज शहर में बकाया गृहकर वसूली के लिए अभियान चलाया गया। जोन-6 में जोनल अधिकारी अम्बी बिष्ट के नेतृत्व में नगर निगम की टीम ने गढ़ीपीर खाॅ वार्ड कैम्पवेल रोड स्थित दो मकानों को सील कर दिया। इन मकानों में से एक का 6,34,626 और दूसरे का 2,21,423 रुपए का हाउस टैक्स बकाया था। भवन स्वामियों द्वारा मौके पर गृहकर न चुका पाने की स्थिति में दोनों मकानों को सील कर दिया गया।

इसी तरह जोन-4 में कर अधीक्षक राजेन्द्र पाल और राजू गुप्ता ने हाउस टैक्स वसूली अभियान का नेतृत्व किया। निशातगंज के काल्विन काॅलेज वार्ड में बीरबल साहनी मार्ग पर रहने वाली अल्पना जैन के मकान का 12,71,396 हाउस टैक्स बकाया था। भवन स्वामी ने मौके पर ही नगर निगम की टीम को आपत्ति के साथ पांच लाख रुपए का गृहकर जमा कर दिया गया। यहीं पर भवन संख्या 512/493/1 का 1,36,580 रुपए हाउस टैक्स बकाया था।

यह भी पढ़ें-‘होरी’ के नाम खुला पत्र: तू अन्नदाता है मतदाता नहीं!

भवन स्वामी सूरज प्रसाद गुप्ता ने नगर निगम की टीम को मौके पर गृहकर कर भुगतान कर दिया। निशांतगंज में रहने वाली प्रभावती के मकान नंबर 512 /45 का 1,57,833 रुपए का हाउस टैक्स बकाया था। भवन स्वामी द्वारा हाउस टैक्स का भुगतान न करने पर टीम ने मकान को सील कर दिया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 25, 2020, 5:17 pm
Partly sunny
Partly sunny
31°C
real feel: 37°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 70%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 5:26 am
sunset: 5:29 pm
 

Recent Posts

Trending