Connect with us

अपना शहर

एसएसपी ने पूरा किया अपना वादा, अभेद व कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच संपन्न हुआ जनपद लखनऊ का “लोकसभा चुनाव 2019″…

Published

on

एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी ने दिलाया था सुरक्षा का भरोसा

लखनऊ। लोकसभा चुनाव निर्वाचन 2019 लखनऊ पुलिस के लिए चुनौती से भरा था लेकिन एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी के कुशल नेतृत्व व बेहतर पुलिस मैनेजमेंट के फल स्वरूप पुलिस के अधिकारी एवं कर्मचारीगण द्वारा अभूतपूर्व धैर्य व कठिन परिश्रम का परिचय देते हुए अपराध एवं अपराधियों व समाज के अराजक, उपद्रवी एवं राजनीतिक हिंसा फैलाने वाले तत्वों पर प्रभावी अंकुश लगाते हुए समाज में भयमुक्त वातावरण तैयार कर निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देश के अनुपालन में निर्वाचन प्रक्रिया को सकुशल संपन्न कराने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में 6 मई को जनपद लखनऊ में मतदान की सुरक्षा व्यवस्था का एक बेहतर खाका खींच लिया गया था। सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर पुलिस, पीएसी और सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्स की बड़ी संख्या में तैनात किए गई। चुनाव के दौरान राजधानी पुलिस द्वारा मतदान केंद्रों और घनी आबादी वाले क्षेत्रों की निगहबानी रखी गई। साथ ही, शहर के प्रमुख चौराहों पर हाल में लगाए गए कैमरों का उपयोग भी किया गया था।

लोकसभा चुनाव-2019 के लिए जनपद लखनऊ को छावनी में तब्दील किया गया, जिसके लिए एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा जनपदीय 9 एसपी, 16 सीओ, 85 इंस्पेएक्टर, 400 सब इंस्पेकटर के अलावा गैर जनपद से 10 सीओ, 11 निरीक्षक, 1100 उ0नि0, 1500 हे0का0, 5000 आरक्षी तथा आर्म्ड फोर्स के 1300 उ0नि0, 4000 आरक्षी व 22 कम्पनी पैरामिलिट्री फोर्स, 4 कम्पनी पीएसी, 8500 होमगार्ड व (आॅग्जलरी) फोर्स का डिप्लाईमेन्ट किया गया है।

यह भी पढ़ें-ांची: जेवीएम सुप्रीमो ने चुनाव आयोग पर लगाया गंभीर आरोप, जानिए कहां पड़ा वोट और कहां से निराश लौटे लोग

एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा लोकसभा चुनाव-2019 के दौरान सम्पूर्ण व्यवस्था को 9 सुपर जोनल मोबाइल, 45 जोनल पुलिस मोबाइल, 222 सेक्टर पुलिस मोबाइल व 200 पुलिस कलस्टर मोबाइल मतदान के दिन क्रियाशील रहकर चप्पे-चप्पे पर पैनी नजर बनाये रही। इसके अतिरिक्त मतदान वाले दिन सभी थानों की मोबाइल, एक्सट्रा मोबाइल, अतिरिक्त कलस्टर मोबाइल भ्रमणशील रही।

चुनाव के दौरान जनपद में 27 स्टेटिक सर्विलांस टीमे लगाई गयी थी, तथा इतनी ही फ्लाइंग स्क्वाड टीम का गठन किया गया था। पैनी नजर रखने के लिए 27 वीडियों सर्विलांस टीमे व 100 अतिरिक्त क्यूआरटी टीमों का गठन किया गया था तथा जनपद लखनऊ के विभिन्न थाना क्षेत्रों के संवेदनशील स्थानों पर निष्पक्ष व भयमुक्त मतदान कराये जाने के लिए अर्ध सैनिक बलों का रुट मार्च भी कराया गया।

एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी द्वारा जनपद की सीमावर्ती स्थानों पर विशेष सुरक्षा के मद्देनजर 19 स्थानों पर बैरियर लगाकर चेकिंग के लिए फोर्स लगाया गया था। जिसमे 84 बैरियर व 84 पिकेट लगाये गये थे, जो निरंतर लोगों व वाहनों पर नजर बनाए रखे थे।

शहर का सांप्रदायिक शौहार्द बिगाड़ने वालों पर पुलिस की विशेष नजर थी। अभियान चलाकर अराजक तत्वों के विरुद्व कड़ी कार्रवाई अमल में लाई गई। 174 वल्नरेबल मतदान केन्द्रो का चयन कर उस क्षेत्र के समस्त कारक व्यक्तियों को चिन्हित कर उनके विरुद्व गुण्डा एक्ट, गैंगेस्टर एक्ट, 110 जी दप्रसं, जिलाबदर की अधिक से अधिक निरोधात्मक कार्रवाई करते हुए पाबंद किये जाने की कार्रवाई की गयी थी।

यह भी पढ़ें- बिहार में पोलिंग बूथ पर तोड़ी गई EVM मशीन, पुलिस ने किया एक को गिरफ्तार

एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी के निर्देशन में जनपद लखनऊ में लोकसभा चुनाव 2019 को दृष्टिगत रखते हुए भारतीय निर्वाचन आयोग के अनुपालन ने पूरे आदर्श अचार संहिता के दौरान जनपद लखनऊ में रोड पर जिग-जैग बैरियर लगाकर एक विशेष चेकिंग अभियान चलाकर वाहनों की चेकिंग की गयी। चेकिंग के दौरान गाड़ियों पर लगी काली फिल्म, नंबर प्लेट, गाड़ियों पर लगे विभिन्न पार्टियों के झंडे, पोस्टर, बैनर की चेकिंग की गई तथा चालान करते हुए गाड़ियों की तलाशी ली गई और अधिक से अधिक गाडियों की काली फिल्म उतारते हुए चालान किए गए तथा समन शुल्क की वसूली की गयी। एसएसपी द्वारा आदर्श आचार संहिता उल्लंघन होते देख स्वयं गाड़ियों से काली फिल्म उतारी गई व गाड़ी के चालान करवाएं गए।

राजधानी के अति संवेदनशील पोलिंग बूथ को लेकर अतिरिक्त सतर्कता बरती गयी। इस दौरान लखनऊ पुलिस द्वारा वारंटियों की धरपकड़ अभियान में कई अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है तथा शराब के विरुद्ध एक कड़ा अभियान चलाकर शराब की अवैध बिक्री पर रोक लगाई गई है। एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी द्वारा राजधानी में भय मुक्त तथा निष्पक्ष चुनाव हेतु चुनाव हेल्पलाइन नं०:- 9454458080 व 9454405156 जारी किया गया था।

यह भी पढ़ें-LOKSABHA ELECTION LIVE: बच्चे, बूढ़े और जवान सब निकले करने मतदान, देखें तस्वीरें…

पुलिस के अधिकारी/कर्मचारियों ने अपनी ड्यूटी के दौरान सुरक्षा के लिए सतर्क दृष्टि रखते हुए अपने कर्तव्यों का अच्छी तरह निर्वहन/पालन किया गया। जिसके फलस्वरूप एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा पुलिस फोर्स को शाबाशी दी गई। साथ ही समस्त मीडिया बन्धुओं व लखनऊ वासियों को उनके सहयोग के लिए आभार/धन्यवाद प्रकट किया गया। उक्त चुनाव के संपन्न होने पर लखनऊ वासियों द्वारा लखनऊ पुलिस की प्रशंसा की गई।http://www.satyodaya.com

अपना शहर

कॅरियर डेंटल काॅलेज के मालिक पिता-पुत्र पर लखनऊ पुलिस ने लगाया गैंगस्टर

Published

on

सपा नेता व पूर्व राज्यमंत्री है इकबाल, काफी समय से है फरार

लखनऊ। अवैध निर्माण और सरकारी जमीनों पर कब्जा करने वालों के खिलाफ लखनऊ जिला प्रशासन ने सख्त कार्रवाई शुरू कर दी है। इसी क्रम में हाल ही में मड़ियांव स्थित आईआईएम रोड पर कॅरियर डेंटल काॅलेज का अवैध निर्माण ढहाया जा चुका है। शनिवार को लखनऊ पुलिस ने कॅरियर डेंटल काॅलेज के मालिक अजमत अली और उनके बेटे इकबाल के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा दर्ज किया है। मड़ियांव में इंस्पेक्टर विपिन सिंह ने दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। आरोपी पिता-पुत्र के खिलाफ मड़ियांव थाने में नौ मुकदमे दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें-लखनऊः युवक ने की आत्महत्या, दीवारों पर लिखा- मेरी मां को मेरा मुंह न दिखाना…

तहरीर में इंस्पेक्टर ने कहा है कि अजमत अली (65) अपने बेटे इकबाल (35) व अन्य साथियों के साथ मिलकर शहर की महंगी सरकारी जमीनों पर कब्जा करने का गिरोह चलाते हैं। इनका एक संगठित गिरोह है। गिरोह के आतंक के चलते जनता और अधिकारी इनका विरोध नहीं करते हैं। भय के चलते इनके खिलाफ कोई गवाही के लिए तैयार नहीं होता। इसीलिए इनके खिलाफ गैंगस्टर के तहत कार्यवाही की जाए। एफआईआर में अजमत का पता घैला, मड़ियांव और इकबाल का पता विकासनगर लिखाया गया है। कुछ तथ्य जुटाने के बाद पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने की कवायद में जुटेगी। मौजूदा समय में इकबाल फरार हैं।

फरार है इकबाल

बता दें कि इकबाल पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी सरकार में राज्य मंत्री रह चुका है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक गैंगस्टर का मुकदमा दर्ज होने के बाद अब दोनों की गिरफ्तार शुरू होगी। पिछले काफी समय से सपा नेता इकबाल फरार है।

23 जून को ढहाया गया था अवैध निर्माण

अभी कुछ दिन पहले ही आईआईएम रोड पर घैला मोड़ पर बने कॅरियर डेंटल काॅलेज का अवैध निर्माण जिला प्रशासन ने ढहाया था। इस काॅलेज का काफी हिस्सा सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा कर बनवाया गया था। फरवरी 2020 में नोटिस देने के बाद भी जब अजमत अली ने अवैध निर्माण नहीं हटवाया तो जिला प्रशासन की टीम ने 23 जून को बिल्डिंग का अवैध हिस्सा ढहा दिया था। बताया जा रहा है कि इस मामले में अभी और सख्त कार्रवाई की जानी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

लखनऊः युवक ने की आत्महत्या, दीवारों पर लिखा- मेरी मां को मेरा मुंह न दिखाना…

Published

on

लखनऊ। राजधानी की भोला खेड़ा पुलिस चौकी के पास एक युवक ने अपने परिवार को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराते हुए आत्महत्या कर ली। मृतक संजय पाल ने अपने कमरे की दीवारों पर लिखा है कि मेरे मरने के बाद मेरी मां को मेरा मुंह न दिखाया जाए। संजय पाल की शादी हो चुकी थी। लेकिन घटना के समय वह घर में मौजूद नहीं थी। संजय ने आत्महत्या से पहले दीवारों पर लिखा है कि उसकी मां, पिता और बहन उसकी ससुराल वालों पांच लाख रुपए मांग रहे थे।

यह भी पढ़ें-युवक पर नकाबपोश बदमाशों ने किया चाकू से हमला, हालत गंभीर, जांच में जुटी पुलिस

अपनी मांग पूरी कराने के लिए उसके परिजन संजय और उसकी पत्नी को परेशान कर रहे थे। मृतक संजय ने अपने पूरे परिवार को लालची बताया है। संजय ने लिखा है कि मेरे घर वाले मेरी ससुराल वालों से 5 लाख रुपए ले चुके हैं। अब और पैसे मांग रहे थे। मैं इज्जत से जीना चाहता था। मगर मेरे परिवार ने मुझे जीने नहीं दिया…मेरे मरने का कारण मेरा पूरा परिवार है। आत्महत्या की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ पूरे कमरे को सील कर संजय के आरोपों की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

पत्नी ने कहा, संजय को परेशान कर रहे थे उसके परिजन

पति की मौत की सूचना पाकर ससुराल पहुंची संजय पाल की पत्नी ने बताया कि ससुराल वाले हम दोनों को जीने नहीं दे रहे थे। हमें तरह-तरह से प्रताड़ित किया जा रहा था। संजय की मां अपने बेटे और मुझे रोज गालियां देती थी और झगड़ा करती थी। आरोप है कि संजय के परिवार वाले कार खरीदने के लिए संजय के ससुर से 5 लाख रुपए की मांग कर रहे थे। संजय के मना करने पर उनकी मां और बहन ने उनके कमरे की बिजली तक काट दी थी।

संजय के ससुर ने लगाए गंभीर आरोप

संजय के ससुर ने बताया कुछ महीनों पहले तक संजय और मेरी बेटी भोपाल में मेरे साथ रह रहे थे। लेकिन संजय के परिजनों ने दोनों को लखनऊ बुला लिया। यहां संजय पर ससुराल से पांच लाख रुपए लाने का दबाव बनाया जा रहा था। मना करने पर पिछले तीन महीनों से मेरी बेटी और दामाद को घर से निकाल दिया गया था। दोनों बच्चे किराए पर रह रहे थे। संजय कोई काम नहीं करता था, इसलिए पिछले तीन महीने मैं ही पूरा खर्चा उठा रहा था। संजय के परिजनों से उसे एक भी पैसा नहीं दिया।

संजय की मांग और बहन ने कहा-

वहीं संजय की मां और बहन का आरो है कि बेटा दिमागी रूप से कमजोर था। वह अपनी पत्नी और ससुराल वालों के कहने पर चलता था। हमारा उससे कोई विवाद नहीं हुआ है। बहन ने कहा कि मेरी उससे कोई बात-चीत नहीं होती थी। मैं यहां 26 साल से अपने बच्चों के साथ रहती हूं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

लखनऊः अवैध निर्माण ढहाने का विरोध, ग्रामीणों ने पुलिस पर बरसाए पत्थर

Published

on

लखनऊ। जिलाधिकारी के निर्देश पर राजधानी के सुशांत गोल्फ सिटी के युसुफनगर गांव में अवैध निर्माण ढहाने पहुंची टीम पर लोगों ने हमला कर दिया। जिला प्रशासन के अधिकारियों व पुलिस ने भागकर किसी तरह खुद को बचाया। इसके बाद भारी फोर्स के साथ पुलिस ने पथराव करने वाले ग्रामीणों को दौड़ा-दौड़ा पीटा।

पुलिस ने की सख्ती देखकर ग्रामीण भाग खड़े हुए। मौके पर मौके पर एसडीएम सरोजनीनगर, इंस्पेक्टर सुशान्त गोल्फ भारी पुलिस बल के साथ मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें-लाॅकअप में खुदकुशी : गोमतीनगर विस्तार थाने के चार पुलिसकर्मी निलंबित

ग्रामीणों को पुलिस ने हिरासत में लेकर थाने भेज दिया है। जिसके बाद अवैध निर्माण ढहाने का काम शुरू हो सका। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 5, 2020, 10:42 pm
Fog
Fog
29°C
real feel: 36°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 88%
wind speed: 1 m/s ENE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:49 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending