Connect with us

अपना शहर

बलरामपुर अस्पताल में बिना टेंडर के रंगाई व पुताई में फूकें लाखों रूपए

Published

on

सीएम से शिकायत के बाद जांच के आदेश

लखनऊ। योगी सरकार के भ्रष्टाचार विरोधी अभियान की राजधानी में ही धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। बावजूद अफसरों की लीपापोती खेल से इन पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। यहां के बलरामपुर अस्पताल में बिना टेंडर के ही लाखों रुपए रंगाई, पुताई का काम एक फर्म को दे दिया गया। इस मामले को लेकर सीएम से शिकायत हुई। सीएम पोर्टल पर भेजी गई शिकायत के बाद जांच के भी आदेश हो गए हैं। वही जांच के आदेश से स्वास्थ्य विभाग से लेकर अस्पताल में हंगामा मचा हुआ है।

शिकायत में साफतौर पर आरोप लगाया है कि अस्पताल में पुनर्निर्माण और रंगरोगन के लिए एक चहेते ठेकेदार की फर्म को काम दिया गया है। बलरामपुर अस्पताल को करीब छह माह पहले शासन से 80 लाख रुपए का बजट जारी हुआ। अस्पताल प्रशासन में इस बजट से पुनर्निर्माण एवं रंगाई-पुताई का काम होना था। टेंडर करके यह काम किया जाना था। राजधानी के ज्ञानेश्वर ने सीएम पोर्टल पर शिकायत की कि अस्पताल प्रशासन ने बिना टेंडर के ही काम वर्क ऑर्डर पर ठेकेदार को बांट दिया। लाखों रुपए का काम वर्क ऑर्डर पर कराने का नियम नहीं है। इसके लिए टेंडर होना था। 

ये भी पढ़ें: लखनऊ: एलएसडी का नशा देकर दोस्त ने साथियों संग किया युवती का गैंगरेप

ज्ञानेश्वर ने इस मामले में सीएम पोर्टल पर शिकायत की है। इसके बाद जांच के आदेश भी हो गए हैं। अस्पताल प्रशासन से पूछा गया है कि बिना टेंडर के लाखों रुपए का काम कैसे कराया गया है। इस मामले में अब अस्पताल के आला अफसर कोई ठोस जवाब नहीं दे पा रहे हैं। अस्पताल के अफसर दबे आवाज में एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप करने में जुटे हैं। जिसके चलते हंगामा मचा हुआ है।

वहीं इस मामले में बलरामपुर अस्पताल निदेशक डॉ. राजीव लोचन ने कहा कि फर्म को काम देने में पूरी निष्पक्षता बरती गई है। टेंडर प्रक्रिया की बजाए सिविल अस्पताल में कराए जा रहे काम की दर के आधार पर ही ठेकेदार को पुताई आदि वर्क ऑर्डर पर दी गई।http://www.satyodaya.com

अपना शहर

कोरोना संकटः चौक सर्राफा बाजार 26 मार्च तक के लिए बंद

Published

on

लखनऊ। राजधानी का चौक बाजार अब गुरूवार (26 मार्च) तक बंद रहेगा। रविवार को चौक सर्राफा एसोसिएशन के अध्यक्ष कैलाश चंद जैन, महामंत्री विनोद महेश्वरी, कोषाध्यक्ष राहुल गुप्ता, प्रवक्ता राजकुमार वर्मा सहित अन्य सर्राफा व कारोबारियों ने सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया। अध्यक्ष कैलाश चंद जैन एक एडवाइजरी जारी करते कहा, इन दिनों हम सभी एक महामारी से लड. रहे हैं। यदि हम सभी पूरी तरह से लाॅक डाउन की तरफ नहीं बढ़े तो संक्रमण फैल सकता है।

इसलिए स्थिति को देखते हुए गुरूवार तक सभी दुकानें बंद रखना ही बेहतर होगा। सभी से अपील है कि घबराएं नहीं, धैर्य से काम लें। सभी लोग अपनी-अपनी दुकानें बंद रखें। घर पर ही रहें एवं प्रभु की पूजा एवं गुणगान करें। ताकि हम सब इस आपातकालीन स्थिति से बाहर निकल सकें।

यह भी पढ़ें-जनता कर्फ्यू: कांग्रेस प्रदेश अध्यश ने ऐसे गुजारा दिन, शाम को बजाई ताली

बता दें कि इससे पहले एसोसिएशन ने एक बैठक कर 21 व 22 को चौक की सभी दुकानें बंद रखने का निर्णय लिया था। था। जिसके बाद शनिवार और रविवार को यहां पूरी तरह से सन्नाटा पसरा रहा। आम दिनों में हर वक्त जाम रहने वाला चौक का गोल चौचैराहा रविवार को पूरी तरह खाली रहा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

कोरोना संकटः चौक सर्राफा व चिकन बाजार में बढ़ सकती है बंदी

Published

on

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम सब सरकार के साथ: दीपू खत्री

लखनऊ। कोरोना से निपटने में सरकार को जनता का भरपूर समर्थन मिल रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील का एक दिन पहले से ही असर दिखना शुरू हो गया था। लखनऊ में तमाम व्यापारिक संगठनों ने इस महामारी से निपटने में सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाने का ऐलान किया था। चौक सर्राफा व चिकन कारोबारियों ने 21 व 22 मार्च को सभी दुकानें और प्रतिष्ठान बंद रखने का निर्णय लिया था। चौक सर्राफा एसोसिएशन अध्यक्ष कैलाश चन्द्र जैन, महामंत्री विनोद माहेश्वरी, कोषाध्यक्ष राहुल गुप्ता, आदिश जैन, पंकज अग्रवाल व चिकन कारोबारी दीपू खत्री आदि ने एक बैठक कर यह निर्णय लिया था। वहीं उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के अध्यक्ष संजय गुप्ता ने भी सभी व्यापारियों से दो दिन तक बाजार बंद रखने की अपील की थी।

यह भी पढ़ें-जनता कर्फ्यू: लखनऊ की सड़कों पर पसरा है सन्नाटे का शोर, शहर दिख रहा वीरान

जनता कर्फ्यू के बीच रविवार को दीपू खत्री ने बताया कि दो दिन की इस बंदी के बाद आगे के बारे में जल्द हम निर्णय लेंगे। कोरोना वायरस से लड़ने के लिए हम सब तैयार हैं। स्थिति अगर न सुधरी तो हम बंदी को और बढ़ा देंगे। क्योंकि इस महामारी को खत्म करने के लिए इसके संक्रमण पर रोक लगाना जरूरी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

जनता कर्फ्यू: लखनऊ की सड़कों पर पसरा है सन्नाटे का शोर, शहर दिख रहा वीरान

Published

on

लखनऊ। चारों तरफ खामोशी और सन्नाटा है। जिन सड़कों पर दिन रात गाड़ियों की हुर्र- घुर्र और टीट-पों से गूंजती रहती थीं, वहां आज शांति है। शहर के बाजार बीरान हैं, बड़ी बड़ी रिहायशी बिल्डिंग बुत के मानिंद लग रहीं हैं। बीच बीच में पुलिस, अम्बुलेंस व एक्का-दुक्का गाड़ियों की आवाज इस सन्नाटे को चीरती हुई गुजर रहीं हैं। हजरतगंज चौराहे पर जहां हर रोज जाम जैसी स्थिति रहती है, वहां भी सन्नाटा है। आप चाहे जहां से कट मारकर घुस सकते हैं। चाहें तो अटल चौक गंज चैराहे पर गोल-गोल चक्कर भी लगा सकते हैं। महानगर और अमीनाबाद बाजार में मुश्किल से लोग दिख रहे हैं। आज यह नजारा लखनऊ ही नहीं देश के सभी प्रमख शहरों और महानगरों में एक जैसा है। #WhoCanSave_The_World

आज (22 मार्च) को जनता ने खुद से खुद पर कर्फ्यू लगा रखा है। जिसकी अपील प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले दिनों की थी। प्रधानमंत्री की इस अपील को जनता का भरपूर समर्थन मिल रहा है। यह शांति दुनिया भर में महामारी बन चुके कोरोना वायरस के खिलाफ हमारी लड़ाई का शंखनाद है। क्योंकि इससे निपटने का सबसे कारगर तरीका इसके प्रसार को रोकना ही है।

मानव जाति पर आया यह संकट इतना बड़ा है कि अमेरिका और दुनिया के कई बड़े देशों ने भी हाथ खड़े कर दिए है। मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है । पूरी दुनिया में अब तक 11000 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं, जबकि करीब 3 लाख लोग संक्रमित है। दहशत ऐसी है कि इटली, चीन, अमेरिका, जापान, ईरान और स्पेन जैसे देशों में लोग घरों में कैद हैं। पूरी दुनिया लॉक डाउन के दौर से गुजर रही है। #JantaCurfew

चारों दिशाओं में खौफ का आलम है। चीन और इटली में तो पूरा देश मरघट में तब्दील हो चुका है। जिसकी सिर्फ कल्पना करने के लिए ही काठ का कलेजा चाहिए। जिसे देखने के लिए बेहिसाब हिम्मत की जरूरत है। जिसकी सिर्फ सच्चाई जानने के लिए पत्थर सरीखा जिगर चाहिए। जिसे देखने के लिए बेहिसाब हिम्मत की जरूरत है। तबाही का ये वो तस्वीर है। जिसे सिर्फ समझने के लिए अन्त हीन धैर्य चाहिए। लोग हर साँस के साथ एक अनजाने खौफ को निगल रहे हैं। हर बीमार को संदेह की नजर से देखा जा रहा है। कोरोना संक्रमित मरीज लोगों को यमराज सरीखा लग रहा है। चीन से निकले इस वायरस ने पूरे विश्व में बदहवासी का आलम पैदा कर दिया है ।

यह भी पढ़ें-लखनऊ: जनता कर्फ्यू को लेकर रेलवे विभाग भी अलर्ट

भारत में भी बढ़ रहा प्रकोप

भारत में देश की स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है । अब तक 283 मरीज सामने आ चुके हैं, जबकि आधा दर्जन से ज्यादा लोग मर चुके हैं। up में अब तक 27 मरीज सामने आ चुके हैं। राहत की बात यह है की भारत में लोग ठीक भी हो रहे हैं । कोरोना के कहर से कराह रहे देश मैं मंदी की स्थिति हो चुकी है । दुकानें, मंदिर, मस्जिद, स्कूल कॉलेज, दफ्तर, फैक्ट्रियां खाली पड़ी है। लोग आज खुद के देश में बंदी बने हुए हैं। अपने घर से बाहर भी निकलने में भी महफूज नहीं महसूस कर रहे हैं। #JantaCurfew

शाम को बालकनी से बजाएं ताली-थाली

राष्ट्र के नायक ने इस मौत के खौफ से लड़ने के लिए तैयार रहने की अपील की है। इस कोरोना वायरस के साथ जहरीले फन से देश को बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील की थी ।  साथ यह भी कहा था कि शाम 5 बजे अपने खिड़की-दरवाजों पर खड़े होकर डॉक्टरों, पुलिस वालों, मीडिया कर्मियों, सफाई कर्मियों, होम डिलीवरी करने वालों का 5 मिनट तक आभार व्यक्त करेंगे। इसके लिए ताली, थाली या घंटी बजा सकते हैं।  यह ‘जनता कर्फ्यू’ रविवार सुबह 7 से रात के 9 बजे तक चलेगा। राज्य सरकारों से कहा है कि शाम 5 बजे सायरन के जरिए लोगों को इसकी सूचना भी दी जाए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

March 23, 2020, 4:11 am
Fog
Fog
21°C
real feel: 20°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 77%
wind speed: 1 m/s E
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:37 am
sunset: 5:49 pm
 

Recent Posts

Trending