Connect with us

अपना शहर

कुलपति आने पर ही हम प्रशासन से करेंगे बात, मांग न पूरी हुई तो अनिश्चित कालीन प्रदर्शन करने से रहेंगे बाध्य

Published

on

लखनऊ। अम्बेडकर विश्वविद्यालय के छात्राओं का प्रदर्शन अब विश्वविद्यालय प्रशासन के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। कुछ दिनों पूर्व छात्राओं ने कुलपति आवास के बाहर हास्टल की समय सीमा बढ़ाने सम्बंधित कई मुख्य मांग को लेकर प्रदर्शन किया था। वहीं प्रदर्शन की खबर मीडिया में आते ही प्रशासन ने सक्रियता दिखाई और विश्वविद्यालय कुलपति की बगैर मौजूदगी में छात्राओं की एक प्रतिनिधि मंडल से मांग को लेकर वार्तालाप करना चाहें पर छात्राओं ने साफ मना करते हुए कहा कि जबतक कुलपति नहीं आ जाते प्रशासन से और कोई वार्तालाप नहीं करेंगे।

यह भी पढ़े: शौच करने गई किशोरी से मनचले ने की छेड़छाड़, पुलिस पर लगा ये आरोप…

वहीं छात्रा ज्वोतिना सिंहा ने बताया कि प्रदर्शन को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन ने हम लोगों से बात करने की कोशिश की लेकिन हम सभी लोगोंनेसाफ तौर पर मना किया और कहा की कुलपति की मौजूदगी में ही वार्तालाप किया जाएगा। छात्रा ने मांग को लेकर बताया कि प्रदेश के केंद्रीय विश्वविद्यालय में हास्टल की समय सीमा नहीं बढ़ाया जा रहा है, बल्कि अन्य विश्वविद्यालय में महिला छात्रा वास का समय सीमा अधिक है। बताया कि कुलपति की अनुपस्थिति में प्रदर्शन किये थे, लेकिन उनके न होने की वजह से प्रशासन मांगों पर अमल नहीं किया। अभी तक हालांकि विश्वविद्यालय प्रशासन को कुछ समय दिया दिया गया है। अगर मांग पर अमल नहीं करते हैं तो आगे अनिश्चित कालिन प्रदर्शन करेंगे।

यह भी पढ़े:  GOOD WORK: एसटीएफ टीम ने असलहा तस्करी करने वाले 2 तस्करों को किया गिरफ्तार

गौरवतलब है कि बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय में कुछ दिनों पहले छात्राओं नें अपनी मुख्य मांगो को लेकर कुलपति आवास के बाहर देर शाम प्रदर्शन किया था| जहां कुलपति के न होने पर प्रशासन ने यह आश्वासन दिया था कि उनके आने पर आप सभी की मांगो पर अमल किया जाएगा और छात्राओं को प्रदर्शन करने से रोक दिया था।

http://www.satyodaya.com

अपना शहर

अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचे लखनऊ राजनाथ सिंह, राज्यपाल से की मुलाकात

Published

on

लखनऊ: राजधानी लखनऊ के सांसद और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह अपने तीन दिवसीय दौरे पर पहुंचे हैं। शुक्रवार को राजनाथ सिंह का अमौसी एयरपोर्ट पर बीजेपी नेताओं ने जमकर स्वागत किया। जबकि रक्षामंत्री कई अन्य कार्यक्रमों में भी शिरकत की। एयरपोर्ट से निकलकर राजनाथ सिंह सीधा छावनी क्षेत्र में मध्य कमान के वार मेमोरियल पहुंचे। स्मृतिका पर उन्होंने शहीदों को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। जिसके बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह राजभवन पहुंचे। जहां राज्यपाल आंनदी बेन पटेल से मुलाकात की।

ये भी पढ़े- वाराणसी में सीएम योगी ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का किया दौरा

राजनाथ सिंह का लखनऊ प्रवास में 24 अगस्त को यानी दूसरे दिन भी अभिनंदन होगा। सुबह में सुग्गामऊ गांव और फिर शाम को मोतीनगर अग्रवाल कॉलेज व सीतापुर रोड पर बृज की रसोई में उनका स्वागत होगा। 25 अगस्त को एक निजी आयोजन में शिरकत करने के बाद रक्षामंत्री दोपहर में दिल्ली रवाना हो जाएंगे। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

विधानसभा से कुछ मीटर दूरी पर महीनों से टूटा पड़ा शौचालय दुर्गंध से लोग परेशान

Published

on

लखनऊ। 2014 लोकसभा चुनाव जीतने के बाद से ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लगातार स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। केंद्र सरकार द्वारा स्वच्छ भारत अभियान के लिए करोड़ों का बजट भी जारी किया गया है। मगर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ नगर निगम की लापरवाही और उसके सुस्त रवैया से प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान के सपने पर पानी फिरता नजर आ रहा है।

आपको बता दें कि विधानसभा से कुछ ही मीटर की दूरी पर विधायक निवास के सामने बर्लिंगटन चौराहे पर कई माह से टूटा हुआ शौचालय पड़ा है। जिसके कारण वहां पर अत्यधिक गंदगी और दुर्गंध का सामना आने जाने वाले लोगों को करना पड़ रहा है। बता दें कि यह वीआईपी क्षेत्र है और यहां पर अक्सर की विविआईपी मूव्मेंट हुआ करता है उसके बाद भी नगर निगम इस तरह की लापरवाही बरत रहा है।

यह भी पढ़ें: मुंशी-मौलवी और आलिम की डिग्रियों पर अब भ्रम की स्थिति खत्म

वही इस संबंध में कई बार नगर आयुक्त को मामले से अवगत कराया गया मगर हमेशा की तरह उन्होंने कार्रवाई की बात कह कर टाल दिया। अब देखना यह होगा कि उत्तर प्रदेश की राजधानी कही जाने वाली लखनऊ शहर जो कि स्मार्ट सिटी में शामिल हो चुका है हकीकत में कब स्मार्ट सिटी बनेगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

शहर में ठप पड़े विकास कार्यों पर महापौर ने जतायी नाराजगी, महापौर को दिए सख्त निर्देश

Published

on

लखनऊ। राजधानी में ठप पड़े विकास कार्यों को लेकर महापौर संयुक्ता भाटिया ने सख्त नाराजगी जतायी है। महापौर ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया है कि तत्काल धनराशि की दो किश्तें जारी की जाएं। पार्षदों से प्रस्ताव लेकर तत्काल विकास कार्य शुरू कराए जाएं। महापौर ने कहा कि पिछले दिनों सदन में संशोधन सहित बजट पास किया गया था और दो किश्तें जारी कर शहर में विकास कार्यों को गति देने का भी निर्देश दिया गया था। लेकिन अभी तक न तो धनराशि की किश्तें जारी की गईं और न ही जनहित के कार्य शुरू हो सके। महापौर ने पूछा कि ऐसा क्यों हुआ? महापौर ने नगर आयुक्त को लिखे पत्र में स्पष्ट कहा है कि जनता के कार्यों में किसी तरह की हीलाहवाली बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

यह भी पढ़ें-अखिलेश यादव ने कहा, यूपी में पीड़ितों को नहीं मिल रहा न्याय

महापौर ने इसी सप्ताह की शुरूआत में विभागीय आख्या न होने के चलते नगर निगम की कार्यकारिणी बैठक को स्थगित कर दिया गया था। बजट पर कहीं किसी प्रकार का अवरोध अथवा संशय नहीं है। सदन ने संशोधनों के साथ 7 जुलाई को जो बजट पास किया था वही अंतिम बजट है। महापौर ने कहा कि नगर निगम अधिनियम में सदन द्वारा लिए गए निर्णयों को ही सर्वोच्च मान्यता दी गयी है। उसी के अनुरूप शहर का विकास किया जाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 23, 2019, 7:46 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
30°C
real feel: 37°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 88%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:11 am
sunset: 6:06 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending