Connect with us

अपना शहर

गलत नस कटने से हुई थी महिला की मौत, राजेन्द्रनगर स्थित नर्सिंग होम पर लगा था आरोप

Published

on

सांकेतिक चित्र

लखनऊ। राजधानी में निजी अस्पतालों की मनमानी इसलिए नहीं रूकती है कारण या तो अधिकारियों की धीमी गति की जांच या फिर अपने ही मामहतों को बचाने की प्रतिबद्धता है। दोनों ही वजहों में एक आम इंसान को न्याय नहीं मिल पाता है। मामला राजेन्द्रनगर स्थित सुनीता चंद्रा नर्सिंग होम का है, जहां ऑपरेशन के दौरान गलत नस कटने की वजह से एक महिला की मौत हो गई थी। पीडि़त परिवार का आरोप है कि नर्सिंग होम की तरफ से लगातार जांच को प्रभावित करने की कोशिशें भी की जा रही हैं, जिसकी वजह से जांच अटकी हुई है।

क्या था पूरा मामला

सआदतगंज निवासी 26 वर्षीय दिव्या शुक्ला का बच्चेदानी का ऑपरेशन होना था। उसे 17 मार्च को राजेंद्र नगर स्थित सुनीता चंद्रा नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था, जहां डॉक्टरों ने ऑपरेशन करने का निर्णय लिया और परिजनों से 10 हजार रुपये भी जमा करवा लिये। वहीं ऑपरेशन के दौरान मरीज की गलत नस कट गई। जिसकी वजह से काफी ब्लीडिंग हुई और मरीज की मौत हो गई।

दिव्या के पति मोहित का आरोप है कि नर्सिंग होम के डॉक्टरों ने मामला बिगड़ने पर जबरन मरीज को दूसरे निजी अस्पताल के लिए रेफर कर दिया था। लेकिन अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने बताया कि मरीज की काफी देर पहले ही मौत हो चुकी है। जब परिजन सुनीता चंद्रा अस्पताल पहुंचे और ऑपरेशन में लापरवाही का आरोप लगाने लगे तो डॉक्टरों ने खुद ही माना कि ऑपरेशन के दौरान हमसे गलती से दूसरी नस कट गई है। इसीलिए हमने मरीज को दूसरे अस्पताल भेजा था। हम इलाज का पूरा खर्च भी उठाने को तैयार थे, लेकिन मरीज की मौत हो गई तो क्या कर सकते हैं।

डॉक्टरों ने गलत नस कटने की बात कबूल की थी

दिव्या के पिता दुर्गा प्रसाद अवस्थी का आरोप है कि ऑपरेशन के दिन अस्पताल के डॉक्टरों ने गलत नस कटने की बात कबूल की थी। उन्होंने मरीज के इलाज का सारा खर्च उठाने का वादा भी किया था, लेकिन जैसे ही मरीज के मौत की जानकारी मिली। अस्पताल प्रशासन ने अपनी गलती मानने से इंकार कर दिया। इतना ही नहीं इलाज का खर्च अस्पताल की तरफ से वहन करने की बात को भी नकार दिया।

नहीं मिली तीन दिन की जांच रिपोर्ट

पीड़ित परिवार ने मामले में न्याय के लिए सीएमओ लखनऊ से लिखित शिकायत कर जांच करवाने की मांग की थी। जबकि मृतका के पति मोहित और पिता दुर्गा प्रसाद का कहना है कि सीएमओ ने मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम का गठन किए जाने और तीन दिन में जांच रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए थे। इसके बावजूद अब तक न तो कोई रिपोर्ट आई और न ही अस्पताल के खिलाफ किसी प्रकार की कार्रवाई की गई।

यह भी पढ़े:  मायावती से एक कदम आगे निकले सिद्धू, भाषा की मर्यादा भी लांघे, चुनाव आयोग ने तलब की रिपोर्ट

इस मामले में नाका थाने में सुनीता चंद्रा नर्सिंग होम के खिलाफ तहरीर भी दी गई थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई । दिव्या के पिता दुर्गा प्रसाद अवस्थी ने बताया कि नर्सिग होम से लगातार फोन पर धमकी दी जा रही है । हमारे ऊपर शिकायत वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है। अभी तक इसकी कोई जांच रिपोर्ट नहीं आयी है। इससे पहले भी सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल ने मामले को गंभीर बताकर कहा था कि जांच के लिए नियुक्त टीम अपना काम कर रही है । जल्द ही आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अपना शहर

सैनिक वार्षिक मिलन समारोह में पहुंची महापौर, कहा- ‘सैनिक हमारे देश की रीढ़ हैं’…

Published

on

सैनिक की दृढ़ता से ही देश में अमन-चैन हैं

लखनऊ। आशियाना स्थित चांसलर्स क्लब में राष्ट्रीय पूर्व सैनिक मंच के तत्वाधान में पूर्व सैनिक वार्षिक स्नेह मिलन का कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसका शुभारंभ महापौर संयुक्ता भाटिया एवं कृषि अनुसंधान परिषद उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष रिटायर्ड कैप्टन विकास गुप्ता ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। महापौर ने भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्प सुमन अर्पित कर नमन किया।

इस अवसर पर महापौर ने कहा कि सैनिक हमारे देश की रीढ़ है। सैनिक जब सीमा पर देश की रक्षा के लिए दृढ़ता से डटे रहते हैं तभी हम अमन चैन से अपना जीवन व्ययतीत करते हैं। पूर्व सैनिकों के बीच आकर मुझे बहुत ही गर्व की अनुभूति हो रही है कि सेना से सेवानिवृत्त होने के पश्चात भी सैनिक विभिन्न सामाजिक कार्यों द्वारा समाज एवं देश की रक्षा करते हैं चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो, स्वास्थ्य का क्षेत्र हो, पर्यावरण का क्षेत्र हो या अन्य कोई क्षेत्र।

राष्ट्रीय पूर्व सैनिक मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि राष्ट्रीय पूर्व सैनिक मंच का उद्देश्य पूर्व सैनिकों के विभिन्न संगठनों को एक मंच पर लाकर देश की एकता, अखण्डता एवं संप्रभुता के लिए काम करना है।

यह भी पढ़ें- गरीबों के पेट पर पड़ रही है पुलिस की लात, हफ्ता ना देने पर तोड़-फोड़ के साथ दुकान लगाने से किया मना…

पूर्व वायु सैनिक राखी अग्रवाल ने ‘ए मेरे वतन के लोगों’ गीत गाकर सबके हृदय को छू लिया। इस अवसर पर मंच के उपाध्यक्ष अश्विनी कुमार, कर्नल हुकुम सिंह बिष्ट, भाजपा के लोकसभा क्षेत्र के सह संयोजक डॉ संजय शुक्ला, भाजपा सैनिक प्रकोष्ट के प्रदेश संयोजक कर्नल दया शकर दुबे, गौरव नेगी, हर्षित शर्मा, पुलकित शुक्ला आदि उपस्थित रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

कांग्रेस के बाद गठबंधन ने भी समर्थन के लिए मुस्लिम धर्मगुरुओं से लगायी आस…

Published

on

मौलाना कल्बे जव्वाद से मिलने पहुंची पूनम सिन्हा

लखनऊ। लखनऊ लोकसभा 2019 के तीसरे चरण के चुनाव के लिए पार्टियों ने कमर कस ली है।सपा-बसपा-रालोद ने संयुक्त तौर पर लखनऊ सीट से पूनम सिन्हा के नाम की घोषणा की है।ऐसे में अन्य पार्टियों की तरह पूनम सिन्हा भी अपनी पैठ मजबूत करने की कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं।

कांग्रेस प्रत्याशी आचार्य प्रमोद कृष्णम के बाद अब गठबंधन प्रत्याशी पूनम सिन्हा मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद से मिलने पहुंची। मौलाना कल्बे जव्वाद से मिलने उनके आवास पहुंची पूनम सिन्हा ने बताया कि वो सिर्फ और सिर्फ आशीष लेने आई हैं।साथ ही दुआ और आशीष लेकर ही वापस जाएंगी।

यह भी पढ़ें- रांची: डायन बताकर ओझा ने महिलाओं के उतरवाए कपड़े, किसी को गमछा पहनाकर घुमाया तो किसी की हत्या कर दी

वहीं मौलाना कल्बे जव्वाद ने कहा की हम सूफी मौलानाओं से बात करके ही किसी पार्टी का समर्थन करेंगे। इससे इतर बंद लब्जों में उन्होंने ये साफ़ कर दिया है कि वो उस पार्टी का ही समर्थन करेंगे जो मुसलमानों के हित और विकास के लिए काम करेगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

चिड़िया के कारण जा सकती थी दर्जनों यात्रियों की जान, अमौसी एयरपोर्ट पर टला बड़ा विमान हादसा

Published

on

लखनऊ। राजधानी के अमौसी एयरपोर्ट पर एक बड़ा विमान हादसा होते-होते टल गया । जानकारी के मुताबिक 6E-454 इंडिगो की फ़्लाइट में कुछ तकनीकी खराबी आने के कारण विमान हादसा होने से बच गया। ये पूरा मामला कल शाम जयपुर से लखनऊ आई फ़्लाइट का था ।

अमौसी एयरपोर्ट डायरेक्टर एसके शर्मा ने बताया कि विमान में तकनीकी खराबी आने से पहले विमान में एक चिड़िया टकराई थी लेकिन चिड़िया के टकराने से विमान को किसी भी प्रकार की कोई क्षति पहुंची और विमान में यात्रा कर रहे 138 यात्रियों की जान बच गई। जिसके  बाद जयपुर से लखनऊ आई फ़्लाइट के विमान में जांच के दौरान चिड़िया के पर इंजन में मिले और कुछ तकनीकी खराबी भी मिली, वहीं इस पूरे मामले की गंभीरता से जांच की गई।

यह भी पढ़े:  बाइक सवार लूटेरे घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस को दे रहे खुली चुनौती

अच्छी बात यह रही कि जयपुर से लखनऊ आने वाले सभी यात्रियों की लैंडिंग सुरक्षित तरह से हुई । बता दें कि विमान में तकनीकी खराबी आने के कारण आगे बेंगलुरु जाने वाली उड़ान को रात में रद्द किया गया था, जिसके कारण देर रात दूसरे विमान मंगा से यात्री बेंगलुरु भेजे गए थे।

http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

Failure notice from provider:
Connection Error:http_request_failed

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Trending