Connect with us

क्राइम-कांड

15 दिन पहले मांगी रंगदारी, न मिलने पर घर की महिलाओं पर किया जानलेवा हमला

Published

on

 

लखनऊ । राजधानी में एक बार फिर दिन दहाड़े बदमाशों ने पुलिस को खुली चुनौती देते हुए कैसरबाग थाना क्षेत्र के चाइना बाजार निवासी हफीज अहमद के घर पर उनकी पत्नी रजिया बेगम, बहू शहजादी और उनके बेटे नासिर पर हथियार बंद बदमाशों ने हेलमेट पहनकर चाकुओं से जानलेवा हमला किया और मौके से फरार हो गए । सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराया है जहां उनका उपचार कर ट्रामा रेफर कर दिया गया । वहीं लोगों का कहना है कि रजिया और शहजादी की हालत गम्भीर बनी हुई है ।

बता दें, लखनऊ पुलिस जहां हाईटेक होने की बात करती है वहीं अपराधियों द्वारा हर बार घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस को ललकारा जाता है और पुलिस के हाथ खाली रह जाते हैं । घायल मसिर के खालू कमाल ने बताया कि अभी 15 दिन पहले बाइक सवार तीन लोगों ने बारादरी पर रोककर नासिर से रंगदारी मांगी थी, साथ ही ना देने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी । जिसके बाद शुक्रवार की सुबह उनके घर पर सुबह तीन बदमाशों ने हेलमेट पहनकर जानलेवा हमला किया और कुछ पैसे भी लूटकर मौके से भाग निकले ।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाकर आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगालना शुरू कर दिया, जिससे आरोपियों की शिनाख्त कर उन्हें पकड़ा जा सके ।http://www.satyodaya.com

क्राइम-कांड

फिल्म का डायरेक्टर बनकर आया और 6 लाख रुपए का चूना लगाकर फरार

Published

on

लखनऊ। यूपी पुलिस कितना खुद को कितना भी हाईटेक और सक्रिय कर ले लेकिन ठग और अपराधी उससे दो कदम आगे ही हैं। अपराधियों में उसका कोई खौफ नहीं है। लखनऊ में आए दिन ऐसे मामले सामने आ रहे हैं कि ठग व टप्पेबाज लोगों को चूना लगा कर निकल जाते हैं और राजधानी पुलिस कुछ नहीं कर पाती। परिणाम स्वरूप पीडि.त जनता के पास हाथ मलने के अलावा कोई चारा नहीं बचता। ऐसा ही एक और मामला राजधानी में प्रकाश में आया है, जहां एक हिंदी फिल्म बनाने का झांसा देकर फर्जी डायरेक्टर लोगों को लाखों का चूना लगाकर फरार हो गया। अब इस फर्जी डायरेक्टर का न तो पता लग पा रहा है और न ही कोई कांटेक्ट हो पा रहा है। इस पूरे मामले की तहरीर पीड़ित रामेश्वर गिरी ने थाना गुडंबा में दी है जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।
पीड़ित रामेश्वर गिरी ने बताया कि मैं एक क्षेत्रीय हिंदी फिल्म बनाने जा रहा था। जिस क्रम में विक्रम सिंह नाम के एक व्यक्ति से मेरी मुलाकात हुई जो इस स्तर की फिल्मों में डायरेक्टर के रूप में कार्य का अनुभव बताकर मुझसे जुड़ा। मैंने विक्रम सिंह को अपनी फिल्म के डायरेक्टर के रूप में जोड़ लिया। गिरी ने बताया कि विक्रम सिंह ने तीन कलाकार और फिल्म के चार गानों का जिम्मा लिया। मेरे द्वारा विक्रम सिंह को तीन कलाकारों के लिए 1,85000 और चार गानों के लिए 1,25000 का नगद भुगतान किया गया। उन्होंने बताया कि विक्रम सिंह ने खुद के लिए ₹364500 चेक आरटीजीएस के द्वारा लिए है।

यह भी पढ़ें-फिल्म ‘आयशा’ को लेकर मुश्किल में फंसे वसीम रिजवी, पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

अब तक विक्रम सिंह को 6,73500 दिया जा चुका है। लेकिन बिना किसी विवाद के वह मोटी रकम लेकर फरार हो गया है। काफी दिन प्रयास करने के बाद संपर्क नहीं हो सका। उन्होंने यह भी बताया कि विक्रम सिंह का असली नाम वीरेंद्र पाल सिंह निवासी 162ध् 3 सिविल लाइन बरेली है। लोगों के माध्यम से यह भी पता चला है कि विक्रम सिंह लोगों को अपने झांसे में लेकर फिल्म पर पैसा लगवाता है और फिर मोटी रकम ऐठ कर फरार हो जाता है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

मुकदमा वापस लेने के लिए दबंगों ने घर में घुसकर की मारपीट, युवती के कपड़े फाड़े

Published

on

लखनऊ। आशियाना थाना क्षेत्र में रविवार शाम एक युवती के पड़ोस में रहने वाले दबंगों ने अपने खिलाफ दर्ज पुराने मुकदमे को वापस लेने का दबाव बनाने के साथ घर में जबरन घुसकर युवती के कपड़े फाड़ डाले और उसके परिजनों के साथ मारपीट भी की। शोरगुल सुनकर पड़ोसियों को जुटते देख आरोपी युवक मौके से भाग निकले। घटना की लिखित शिकायत पीड़िता ने स्थानीय थाना आशियाना पहुंचकर पुलिस से की। पीड़िता की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस जांच में जुटी है।
आशियाना थाना क्षेत्र स्थित 4/141 में रहने वाली युवती कोमल शर्मा पुत्री राम लखन शर्मा ने बताया कि वह आशियाना स्थित प्रियम प्लाजा में एक कपड़े की दुकान पर काम करती है। उसके पिता मेमोज की गाड़ी लगाते हैं। रविवार शाम करीब आठ बजे पड़ोस में रहने वाले युवक विकास दूबे और एम.पी. सिंह नशे की हालत में उनके घर में जबरन घुस आए। आरोपी पुराने दर्ज मुकदमे को वापस लेने के लिए युवती पर दबाव बनाने लगे। मुकदमा वापस लेने से इंकार करने पर दबंगों ने घर में मौजूद भाई बाबी, मां किरन संग मारपीट करने के साथ उसके कपड़े फाड. डाले। चीख-पुकार सुनकर पड़ोसियों ने बीच-बचाव किया तो दबंग युवक गाली गलौज कर जान से मारने की धमकी देते हुए भाग निकले। मारपीट में घायल पीड़िता ने स्थानीय थाना आशियाना पहुंचकर दबंग युवकों के खिलाफ नामजद लिखित शिकायत की।

यह भी पढ़ें-विवाद में बीच-बचाव करने गए किशोर की चाकू गोदकर हत्या

पीड़ित युवती का कहना था कि बीते एक मार्च वर्ष 2014 की रात दबंगों ने अपने साथियों संग मिलकर घर में घुसकर छेड़छाड़ व मारपीट की थी। जिसका मुकदमा आशियाना थाने में पहले से 354, 452, 323, 504, 506, आईपीसी में दर्ज है और कोर्ट में मुकदमा चल रहा है। जिसको वापस लेने का दबंग युवक आए दिन दबाव बनाते रहते हैं। जिसके चलते दबंगों ने रविवार की रात घर में जबरन घुसकर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाते हुए मारपीट करने के साथ कपड़े फाड़ जान से मारने की धमकी दी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

कड़ी सुरक्षा के बीच दफनाया गया बच्ची का शव, आरोपी को भेजा गया जेल

Published

on

लखनऊ: राजधानी में रविवार रात को थाना ठाकुरगंज में 6 साल की मासूम बच्ची के साथ रेप के बाद हत्या के मामले में एक नया मोड़ आया है, जिसमें बच्ची के परिजनों का आरोप है कि थाने की लापरवाही के चलते बच्ची की जान गई है, वहीं एसपी का कहना है कि पीड़ित परिवार साढ़े छह बजे थाने पर पहुंचा है। आरोप है कि पुलिस बच्ची के साथ हुए रेप पर पर्दा डालने की कोशिश कर रही है। वहीं पुलिस ने अंतिम संस्कार की जल्दबाजी में अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं देखी है। इसी क्रम में मासूम की बच्ची की मां का कहना है कि मेरी बच्ची की दरिंदगी के बाद हत्या हुई है।

वहीं सोमवार को बच्ची को दफनाने के लिए ऐशबाग कब्रिस्तान ले जाया गया। बच्ची के जनाजे में भारी संख्या में स्थानीय लोग शामिल हुए। घटना के प्रति लोगों में काफी रोष है। बच्ची का शव कब्रिस्तान ले जाने से लोगों व परिजनों ने मुआवजे की मांग की। सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए जनाजे के साथ एसपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी व कई थानों की फोर्स मौके पर मौजूद रही। इस बीच सोमवार सुबह पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया और वहां से जेल भेज दिया। कोर्ट में पेशी के दौरान वकीलों ने आरोपी की जमकर पिटाई भी की। बताया जा रहा है कि आरोपी बच्ची का मुंह बोला मामू लगता है।

ये भी पढ़ें: यमुना एक्सप्रेस-वे पर दिखा खौफनाक मंजर, पुल से लटकी बस, 10 लोग घायल

बता दें कि बाबा हजारी बाग निवासी 6 साल की खदीजा रविवार को अचानक लापता हो गयी थी। काफी देर तक बच्ची के न दिखने पर परिजनों ने खदीजा की खोज शुरू की। न मिलने पर परिजनों ने सहादतगंज पुलिस को घटना की जानकारी दी और बच्ची को ढूंढने की गुहार भी लगाई। वहीं देर रात बच्ची का गला रेता हुआ शव बरामद हुआ। बच्ची का शव मिलते ही परिजनों व स्थानीय लोगों में हड़कंप मच गया था। आक्रोशित क्षेत्र वासियों ने अम्बरगंज चैकी का घेराव भी किया था, जिसके बाद पुलिस ने मामले की कार्रवाई शुरू की थी।  http://www.satyodaya.com 

Continue Reading

Category

Weather Forecast

September 17, 2019, 9:22 am
Fog
Fog
28°C
real feel: 34°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 94%
wind speed: 2 m/s E
wind gusts: 2 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 5:22 am
sunset: 5:39 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending