Connect with us

क्राइम-कांड

आगरा: नकली नोट छापने वाले आरोपी ने जेल में की आत्महत्या

Published

on

प्रतिकात्मक फोटो

लखनऊ। आगरा के जेल में पकड़े गए कैदी ने आत्महत्या कर ली है। जहां यूपी एसटीएफ ने 5 सितंबर को जाली नोट बनाने में गिरफ्तार किया था। जिसके बाद नकली नोट बनाने वाला मास्टरमाइंड ओंकार झा ने जेल में सुसाइड कर लिया।

मिली जानकारी के मुताबिक आगरा में एसटीएफ ने आरोपी लैपटॉप और कलर प्रिंटर की मदद से ₹100 के पुराने नोट छापने का काम करता था। वह ₹10 के स्टांप पेपर की सिलवर थ्रेड निकाल कर ₹100 के नोट पर चिपका देता था। जहां गिरफ्तार गैंग के मास्टरमाइंड के तौर पर ओंकार झा की भी गिरफ्तारी हुई थी। इसके बाद यूपी एसटीएफ ने 6 सितंबर को आगरा के सदर बाजार से जेल भेज दिया था। जेल जाने के पांचवे दिन ही गैंग के मास्टरमाइंड ने जेल में ही आत्महत्या कर ली।

ये भी पढ़े- यूपी: बीजेपी प्रत्याशी नागर और संजय सेठ आज उपचुनाव के लिए दाखिल करेंगे नामांकन

बताया जा रहा है कि गिरोह के पास से 100-100 के नकली नोट के साथ उसके बनाने वाले उपकरण भी बरामद किए गए हैं। नकली नोटों का यह कारखाना सदर बाजार के शहीद नगर की एकता कॉलोनी में चल रहा था। http://www.satyodaya.com

क्राइम-कांड

लखनऊः जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में चले लाठी-डंडे, एक की मौत

Published

on

लखनऊ। लाॅकडाउन के बीच राजधानी में बुधवार को दो परिवारों में हुए खूनी संघर्ष में एक की मौत हो गयी। एक पक्ष के चार लोगों ने दूसरे पक्ष पर लाठी-डंडों हमला कर दिया। जिससे कई लोगों को गंभीर चोटें आई है। मारपीट में घायल एक व्यक्ति की मौत बुधवार को हो गयी। फरियादियों की तहरीर पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

इसे भी पढ़ें- सीएम योगी की टीम 11 के साथ बैठक, युद्ध स्तर पर हेल्थ प्रोटोकॉल का हो पालन

मामला राजधानी लखनऊ के गोल्फ सिटी के चैधरीखेड़ा गांव का है। मंगलवार देर रात राजकुमार और उसके परिवार पर पड़ोसी धनीराम, धनीराम की पत्नी, मुन्नू, अनुज और युवराज ने लाठी डंडों से हमला कर उन्हें घायल कर दिया है। इन दोनों परिवारों के बीच कई वर्षों से जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। मंगलवार देर रात को दोनों परिवार के बीच आपस में बहस होने लगी। विवाद इतना ज्यादा बढ़ गया कि दोनों परिवारों ने एक दूसरे पर लाठी-डंडे बरसाने शुरू कर दिए।

इस मारपीट के दौरान लाला राम यादव (55) गंभीर रूप से घायल हो गया। बुधवार सुबह उसे इलाज के लिए ट्रामा ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान घायल लाला राम यादव की मौत हो गई। जिसके बाद मृतक के भाई राजकुमार के द्वारा आरोपियों के खिलाफ मारपीट, गाली-गलौज व धमकाने की धाराओं के तहत मामला दर्ज करा दिया है। एफआईआर के बाद पुलिस ने नामजद आरोपियों में मुन्नू, अनुज और युवराज को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही अन्य आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

यूपी: नाले की सफाई के दौरान बाल्टी में मिला नवजात शिशु का शव, जांच में जुटी पुलिस

Published

on

लखनऊ। शायद हमारा समाज बेटियों के प्रति भेदभाव और उन्हें बोझ समझने की मानसिकता से उबर नहीं पा रहा। तभी तो उनके प्रति उसकी संवेदनहीनता कम होती नहीं दिख रही। ऐसे ही एक घटना ने फिर शहर-ए-तहजीब को शर्मसार कर दिया। राजधानी में एक बार फिर से मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है।

इसे भी पढ़ें-COVID-19: भारत में कोरोना के अब तक 1251 केस, देखें किस राज्य में कितनी मौतें

एक तरफ जहां कोरोना जैसी महामारी से पूरा देश लड़ रहा है केन्द्र सरकार ने इस महामारी से बचने के लिए देश के सभी राज्यों में लॉक डाउन कर घोषित दिया है। जिसको सफल बनाने के लिए चप्पे चप्पे पर पुलिस तैनात है इस सब सुरक्षा के बीच लखनऊ के जुबली इंटर कॉलेज के पास नाली में मंगलवार सुबह कूड़े के ढेर में अविकसित भ्रूण पड़ा मिला है। कूड़े के ढेर में नवजात शिशु मिलने के बाद पूरे क्षेत्र में हड़कम्प मच गया जिसके बाद आसपास के लोग मौके पर एकत्र हो गए लोगों ने आनन- फानन इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी पुलिस ने मौके पर पहुंचकर भ्रूण को कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने अज्ञात महिला के खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया है।

इसे भी पढ़ें-जानिए किन-किन राज्यों से कितने लोगों ने तब्लीगी जमात में की शिरकत…

यह घटना थाना वजीरगंज क्षेत्र के जुबली इंटर कॉलेज के पास की है जहां मंगलवार की सुबह बाल्टी के अंदर मृत अवस्था में नवजात शिशु का शव मिला है। पुलिस के अनुसार सुबह सफाई कर्मचारी सफाई कर रहा था तभी उसकी नजर नाली में पड़ी बाल्टी पर गई कर्मचारी ने बाल्टी को पलटा तो उसे उस बाल्टी में अविकसित भ्रूण पड़ा दिखाई दिया पुलिस के मुताबिक कि यह तकरीब 5 माह का भ्रूण है वजीरगंज पुलिस ने अज्ञात महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

जनता कर्फ्यू में मलिहाबाद भागवत कथा के आयोजक पर केस दर्ज

Published

on

ग्रामीणों ने कथा आयोजन की मलिहाबाद पुलिस को दी थी जानकारी

लखनऊ। जनता कर्फ्यू के बीच मलिहाबाद में भागवत कथा का आयोजन कराना मुसीबत साबित हुआ है। प्रधानमंत्री के आह्वान को अनदेखा कर भागवत कथा किए जाने की खबर ग्रामीणों ने मलिहाबाद पुलिस को दी थी। जिसके बाद पुलिस ने आनन-फानन में कथा आयोजक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

मीठे नगर निवासी विनोद यादव ने 22 मार्च को भागवत कथा का आयोजन रखा था। उन्होंने प्रशासन और पुलिस को कार्यक्रम की पूर्व सूचना दी थी। एसपी लखनऊ ग्रामीण आदित्य लंगेह के मुताबिक कोरोना को लेकर किए गए फैसले के कारण पूर्व के सभी कार्यक्रम रोक दिए गए थे। इसकी सूचना आवेदनकर्ताओं को दी गई थी।

यह भी पढ़ें :- घरेलू उड़ानों से विदेश से लखनऊ पहुचें यात्रियों की तलाश तेज

उन्होंने बताया कि विनोद यादव की अनुमति अर्जी को भी खारिज किया गया था लेकिन उसने बिना अनुमति भगवत कथा का आयोजन किया। जिसकी शिकायत स्थानीय लोगों ने की थी। इस मामले में मलिहाबाद कोतवाली में तैनात कांस्टेबल मदव कुमार की शिकायत पर विनोद यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

विनोद ने भागवत कथा के साथ ही भण्डारे का आयोजन किया था। ग्रामीणों के मुताबिक कथा में करीब पांच सौ लोग जुटे थे। वहीं, भण्डारे की तैयारियां भी जारी थी। रविवार को विनोद के घर पर हो रही कथा के बारे में 112 कंट्रोल रूम पर सूचना दी गई थी। पीआरवी पर तैनात पुलिस कर्मियों को कहने पर फौरी तौर पर कथा रोक दी गई थी। आरोप है कि पुलिस कर्मियों के वहां से जाते ही विनोद ने कथा दोबारा से आरंभ करा दी थी। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 2, 2020, 8:24 am
Hazy sunshine
Hazy sunshine
22°C
real feel: 25°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 82%
wind speed: 1 m/s NW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 5:26 am
sunset: 5:54 pm
 

Recent Posts

Trending