Connect with us

क्राइम-कांड

बलिया: दो सरकारी शिक्षक बर्खास्त, 14 साल से फर्जी डिग्री पर कर रहे थे नौकरी

Published

on

उत्तर प्रदेश। दुनिया में हर काम आसान हो गया है। बता दें कि फर्जी मार्कशीट बनवा लेना जितना आम हो चुका है, उतना ही आम उसी फर्जी मार्कशीट के दम पर नौकरी पाना हो गया है। बता दें कि ऐसी ही एक घटना बलिया जिले का है। जहां सरकारी स्कूल के दो शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया है। क्योंकि वे नकली प्रमाणपत्रों के दम पर नौकरी पाई थी। जिन दो महिला शिक्षकों को बर्खास्त किया गया उनके नाम मीना यादव और पूनम यादव हैं। इसकी जानकारी एक अधिकारी ने मंगलवार 10 सितंबर, 2019 को दी।

बता दें कि बेसिक शिक्षा अधिकारी सुभाष चंद्र गुप्ता ने बताया कि भीकमपुर गांव के प्राथमिक विद्यालय की टीचर मीना यादव ने नौकरी पाने के लिए 10वीं और 12वीं की नकली मार्कशीट जमा की थी। सोमवार को निष्कासित कर दी गई है। मीना गुप्ता 2005 से शिक्षिका के रूप में काम कर रही थीं। साथ ही उनसे नियुक्ति के दिन से वेतन की वसूली के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान में पेट्रोल से भी महंगा हुआ दूध, जानिए कीमत

बर्खास्त की गई दूसरी शिक्षिका पूनम यादव पिंडहारा गांव के प्राथमिक विद्यालय में पढ़ा रही थी। पूनम ने उनके ही नाम की किसी और महिला के शैक्षिक योग्यता प्रमाण पत्र जमा कर 2009 में नौकरी हासिल की थी। उसने जिस शिक्षिका के प्रमाण पत्र जमा किए थे। सोमवार को पूनम को भी बर्खास्त कर दिया गया है। अधिकारियों ने उनके भी नियुक्ति के बाद से भुगतान किए गए पूरे वेतन की वसूली के निर्देश दिए हैं। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली यूपी सरकार ने 20 साल पहले फर्जी डिग्री के इस्तेमाल से बने शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया। मूल शिक्षा अधिकारी सुभाष गुप्ता ने बताया कि  रेवती क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय में तैनात नारायणजी यादव की सेवाएं भी समाप्त कर दी गई है।http://www.satyodaya.com

Featured

एटीएस कमांडो ने संदिग्ध परिस्थितियों में गोली मारकर किया सुसाइड

Published

on

लखनऊ। राजधानी में आए दिन पुलिसकर्मी आत्महत्या कर रहे हैं लेकिन अभी तक पुलिसकर्मियों की संदिग्ध मौत पर आलाधिकारियों द्वारा आत्महत्या का जिक्र कर पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया जाता है। ऐसा ही एक ताजा मामला फिर सामने आया है जिसमें एटीएस मुख्यालय में तैनात कमांडो बृजेश ने मुख्यालय के सरकारी बैरिक में लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। वहीं बताया जा रहा है कि मृतक कमांडो को आज सुबह अपने घर गोरखपुर के लिए भी निकलना था लेकिन उससे पहले ही उसने अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। बताया जा रहा है कि मृतक की बीती रात उसकी पत्नी से फोन पर बातचीत हो रही थी और उसी बीच दोनों में काफी कहासुनी हुई थी। वहीं हर मामलों की तरह इस बार भी अधिकारियों का कहना है कि पारिवारिक कलह के चलते उसने सुसाइड किया है।

आपको बता दें कि 29 मई 2018 को भी उत्तर प्रदेश पुलिस के पीपीएस अधिकारी और उत्तर प्रदेश आतंकवाद निरोधक दस्ता (यूपी एटीएस) में अपर पुलिस अधीक्षक (ASP) के पद पर तैनात खुशमिजाज राजेश साहनी ने अज्ञात कारणों से अपने कार्यालय में गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। गोली चलने की आवाज सुनकर एटीएस कार्यालय में तैनात कर्मचारी कमरे की तरफ दौड़े तो लेकिन उनको किसी ने भी हॉस्पिटल नहीं पहुंचाया। वहीं अधिकारियों ने बताया है की उनको खून से लथपथ और तड़पते देख फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उनकी मौत हो गई। फिलहाल राजेश साहनी के आत्महत्या करने के कारणों का पता अभी तक नहीं चल पाया है। जबकि पुलिस ने घटना में प्रयुक्त सरकारी पिस्टल कब्जे में भी ले ली थी। जिसके बाद से ही मौत पर सवाल उठने लगे और इस मामले की जांच की मांग भी की गई थी। उसके बाद से इसकी जांच सीबीआई को सौंप दी गई।

इस बार भी एक एटीएस कमांडो बृजेश की संदिग्ध परिस्थितियों में अपने बैरिक में सुसाइड करने का मामला सामने है। साथ ही हर बार की तरह इस बार भी पुलिस मामले की जांच कर पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का भी इंतिजार करने की बात कर रही है। लेकिन देखने वाली बात तो होती है ऐसे मामलों में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद भी उसकी जांच नहीं होती केवल उस रिपोर्ट पर धूल जमती है। इससे जाहिर होता है कि कहीं न कहीं इन सभी आत्महत्याओं के पीछे अधिकारियों का प्रेशर तो नहीं है? जिसके कारण आए दिन कोई न कोई पुलिसकर्मी आत्महत्या कर रहा है। लेकिन अभी तक किसी भी पुलिसकर्मी के आत्महत्या करने का खुलासा नहीं हो पाया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

बच्चो में हुए विवाद के बाद दो परिवारों में जमकर हुई मारपीट

Published

on

लखनऊ। हज़रतगंज थाना क्षेत्र में बच्चों के मामूली विवाद को लेकर दो परिवारों के बीच जमकर मारपीट हुई। मारपीट के दौरान दोनों ओर से ईंट पत्थर चले और तीन लोगों के सिर फट गए। दोनों ही पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ थाना हज़रतगंज में तहरीर दी है। जिसपर पुलिस जांच कर आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है।

जानकारी के अनुसार, थाना हज़रतगंज के रविदास नगर 10 नम्बर गली गोखले मार्ग पर अचल यादव के परिवार व अरविंद कश्यप के परिवार के बच्चे साथ में खेल रहे थे। खेल रहे बच्चों के बीच किसी बात को लेकर आपस मे मामूली सा विवाद हो गया था। जो कि उसी वक़्त ख़त्म हो गया था। जिसके बाद रात को लगभग 10 बजे के करीब दिन में हुए बच्चों के बीच विवाद को लेकर राम अचल यादव के परिवार व अरविंद कश्यप के परिवार के बीच जमकर मारपीट हो गयी।

मारपीट के बीच ईंट पत्थर भी चल गए जिससे राम अचल यादव व उसकी पत्नी सरिता यादव का सिर फट गया। साथ ही दूसरे पक्ष की अरविंद कश्यप की पत्नी डॉली कश्यप का भी सिर फट गया। जिसके बाद दोनों परिवारों के लोग हज़रतगंज थाने पहुंचे और पूरी बात बताई। जिसके बाद ही पुलिस ने तीनों घायलों को मेडिकल जांच के लिए सिविल अस्पताल भेजा। वहीं दोनों की तरफ़ से हज़रतगंज थाने में एक दूसरे के खिलाफ मारपीट किये जाने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी गयी है। पुलिस ने दोनों की तहरीर लेकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

सुभासपा नेता अरविन्द राजभर को धमकी देने वाला युवक गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ। आज के समय में इंटरनेट और सोशल मीडिया लोगों की जिंदगी में इस तरह घुल-मिल चुका है जैसे दूध में पानी। बहुत से लोगों की पूरी दुनिया ही सोशल मीडिया में सिमट कर रह गयी है। सोशल मीडिया के इस बढ़े हुए उपयोग के बीच कुछ अराजक तत्व इसका गलत इस्तेमाल भी कर रहे हैं। भड़काऊ पोस्ट डालना, अश्लील मैसेज करना, ब्लैकमेल करने सहित तमाम आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है।
ऐसा ही एक मामला थाना हुसैनगंज में देखने को मिली है। जहां हाल ही में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अरविन्द राजभर को एक युवक ने सोशल मीडिया से उनका नंबर निकालकर जान से मारने की धमकी दी थी। इस मामले में अरविन्द राजभर ने कार्यकर्ताओं के साथ थाने पहुंचकर मुकदमा दर्ज करवाया था। पुलिस ने मामले की तफ्तीश करने के दौरान धमकी देने वाले आरोपी नीशू सिंह को गिरफ्तार कर लिया है।
दरअसल 30 सितम्बर से एक अनजान नंबर से अरविन्द राजभर को धमकी भरा कॉल आ रहा था। पुलिस ने पहले तो राजभर की शिकायत पर ध्यान नहीं दिया। लेकिन जब उन्होंने घटना की पूरी जानकारी ट्वीटर पर साझा की तो पुलिस हरकत में आयी। आनन-फानन में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू की। जिसके बाद पुलिस ने धमकी देने वाले युवक को धर दबोचा।

यह भी पढ़ें-गोमतीनगर में बदमाशों ने सरेराह अधेड़ पर झोंका फाॅयर, घटना को झुठला रही पुलिस

सूत्रों की मानें तो वाराणसी के पास चंदौली में एक गैंगेस्टर की हत्या हुई थी। इस मामले में राजभर के कार्यकर्ता ने फेसबुक पर एक पोस्ट डालकर एक टिप्पणी की थी। जिसको लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद आरोपी ने किसी तरह से अरविन्द राजभर का सोशल मीडिया से नंबर निकाल कर उन्हे फोन पर जान से मारने की धमकी दी। आरोपी ने वाराणसी वाली घटना दोहराने की भी धमकी दी थी। पुलिस की मानें तो आरोपी ने नशे की हालत में अरविंद राजभर को फोन पर धमकी दी थी। साथ ही आरोपी की पहचान नीशू सिंह थाना अलीनगर जनपद चंदौली के रूप में हुई है। पुलिस ने नीशू सिंह को बीती रात गिरफ्तार कर लिया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 8, 2019, 11:26 am
Hazy sunshine
Hazy sunshine
30°C
real feel: 36°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 58%
wind speed: 1 m/s SW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 6
sunrise: 5:32 am
sunset: 5:16 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending