Connect with us

क्राइम-कांड

हादसे में घायल हुए डीआईजी की इजाल के दौरान मौत, दी गई श्रद्धांजलि

Published

on

लखनऊ। होमगार्ड मुख्यालय में तैनात डीआईजी ने बुधवार को पीजीआई हाॅस्पिटल में आखिरी सांसे ली हैं। बता दें कि डीआईजी 4 फरवरी को जब जौनपुर से लखनऊ आ रहे थे तभी प्रतापगढ़ के पास डीआईजी सड़क हादसे में गम्भीर रूप से घायल हो गये थे। घायल अवस्था में उन्हें सहारा हाॅस्पिटल में भर्ती कराया गया था लेकिन हालत में कोई सुधार ना होने की वजह से उनको पीजीआई हाॅस्पिटल लाया गया जहां पर वह ज्यादातर तो कोमा में रहे और बुधवार को उनकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें :- खाकी को दर्द होता है साहब…

जिसके बाद ही गुरूवार को डीआइजी होमगार्ड संतोष सिंह का पूरे सम्मान के साथ हजरतगंज स्थित भैसाकुंड बैकुंडधाम में सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। साथ ही होमगार्ड विभाग की ओर से गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया, डीजी होमगार्ड गोपाललाल मीणा सहित तमाम होमगार्ड अधिकारियों ने पुष्प गुच्छ अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। साथ ही शोकाकुल परिवार सहित तमाम रिश्तेदारों ने भी श्रद्धांजलि दी। http://www.satyodaya.com

अपना शहर

तेज रफ्तार कार डिवाइडर से जा टकराई, युवक घायल…

Published

on

लखनऊ। राजधानी में तेज रफ्तार वाहनों से आए दिन एक्सीडेंट्स की घटनाएं हो रही हैं और यह थमने का नाम नहीं ले रही हैं। ऐसा ही एक मामला थाना चौक के रूमी गेट चौराहे पर देखने को मिला है, जहां एक तेज रफ्तार कार डिवाइडर से जा टकराई है। बताया जा रहा है कि डिवाइडर से टकराने पर कार सवार युवक को गंभीर चोट आई हैं।

ये भी पढ़े: ट्रक में मिला युवक का शव, मामा पर जताई हत्या की आशंका

वहीं इस घटना की सूचना मौके पर स्थानीय लोगों ने पुलिस को पहुंचाई। जिसके बाद घटनास्थल पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल युवक को ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया। वहीं पुलिस ने घायल युवक की कार में शराब की बोतल भी बरामद की है और साथ ही पुलिस के मुताबिक कार सवार युवक नशे में धुत था, जिसके कारणवश कार पर नियन्त्रण न रख पाने की वजह से वह डिवाइडर से जा टकराई। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Featured

खाकी में भी होता है साहब इंसान…

Published

on

थानों पर कैसा गुज़रता है पुलिसकर्मियों का दिन

आपको बता दिया जाए कि सुबह होते ही पुलिस पर परेशानियों का पहाड़ टूट पड़ता है वो मैं इसलिए कह रहा हूँ कि जहां एक आम आदमी एक परेशानी को नहीं झेल सकता वहीं पुलिस हज़ारों परेशानियों को दिन भर झेलती है। सुबह थाने पर पहुंचते ही फरियादियों की भीड़ उमड़ आती है। अगर किसी की परेशानी नहीं सुनी गई तो तुरंत ही कुछ न कुछ आरोप लगा दिया जाता है। जिससे दिन भर अधिकारियों का प्रेशर बना रहता है। आपको बता दिया जाए कि थाने पर जहां कांस्टेबलों से लेकर होमगार्डो की संख्या भी जितनी होनी चाहिए वो भी नहीं है। जिससे कारण पुलिस को कम संख्या में ही काम चलाना पड़ता है। अब आप सोचिए किसी प्राइवेट दफ्तर में जाईये। प्राइवेट दफ्तर में देखने को मिलता है कि अगर एक युवक छुट्टी पर है तो तुरंत ही दूसरा युवक रख लिया जाता है लेकिन पुलिस में ऐसा नहीं है।

यह भी पढ़ें :- खाकी को दर्द होता है साहब…

क्या कभी आपने सोचा है थाना कितने आदमियों के भरोशे चलता है नहीं सोचा है। वो इसलिए कह रहा हूं कि मैंने देखा है। थाना केवल तीन आदमियों के भरोशे चलता है। मुंशी, पहरा और एक दरोगा के भरोशे। अगर थाने पर बदमाशों द्वारा हमला कर दिया जाए तो ये अपनी ही रक्षा नहीं कर पाएंगे, क्योंकि थाने पर फोर्स ही नहीं है। फिर भी पुलिस अपनी सुरक्षा भूलकर लोगों की सुरक्षा करती है। जब किसी भी युवक को किसी फर्जी काम के लिए बोल दिया जाये तो युवक भड़क उठता है। पुलिस के पास कभी सोचा है थानों पर कितनी फर्जी सूचना मिलती है लेकिन फिर भी पुलिस मौके पर पहुंचती है। वो इसलिए कहीं कोई घटना न घट जाये जिससे लोगों को परेशानी ना हो।

यह भी पढ़ें :- पुलिस के जवानों का ‘दर्द’ भी समझिए साहब…

अब आपको थाने पर एक मुंशी की जुबानी सुनाता हूँ कि वह कितना डर कर काम करता है लेकिन किसी को जाहिर नहीं करता वो इसलिए कि अगर उसका डर दिख गया तो अपराधी निडर हो जाएगा। एक बार रात को मैं थाने पहुंचा तो मालूम चला थाने पर कोई नहीं सभी ड्यूटी पर लगे हैं। थाने पर बस रात के वक्त दो ही लोग मौजूद थे एक मुंशी व एक पहरा और अपराधी थे नौ। जब मैंने पूछा तुम दो और वो नौ तुम्हें डर नहीं लग रहा। तभी उसने धीमी आवाज़ में बताया डर तो लगता है लेकिन अपनी ड्यूटी की जिम्मेदारी से कैसे भागूं। थाने पर पहुंची पुलिस को दिनभर कैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है ये आप नहीं समझोगे।

यह भी पढ़ें :- हादसे में घायल हुए डीआईजी की इजाल के दौरान मौत, दी गई श्रद्धांजलि

सुबह जब पुलिस थाने पहुंचती है तब कैसे लिया जाता है इनसे काम मैं बताता हूँ। जब सभी पुलिसकर्मी थाने आते हैं जिनकी ड्यूटी 12 घंटे की होती है। अगर कोई वीआईपी प्रोग्राम लगा है तो उसको देखना। अगर सड़क जाम हो जाये उसको देखना। जंहा तक नगर निगम का भी काम पुलिस को देखना पड़ता है। आदमी दो घंटे भी खाली पेट नहीं रह सकता वहीं पुलिस कभी-कभी कह लें या ज्यादातर भी कह सकते हैं कि खाली पेट लोगों की सुरक्षा में बिता देती है। फिर भी पुलिस पर आरोप लगता है कि पुलिस काम नहीं करती साहब।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

ट्रक में मिला युवक का शव, मामा पर जताई हत्या की आशंका

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ। राजधानी में चिनहट थाना क्षेत्र के सेमरा इलाके में लोगों के बीच उस समय हड़कंप मच गया जब ट्रक में एक युवक का शव मिला। जिसकी जानकारी पाते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और घटनास्थल का मुआयना कर जांच में जुट गई है। वहीं ट्रक में मिले युवक के सिर पर चोट के निशान मिले हैं जिससे उसकी सिर पर वार कर मौत के घाट उतार दिया गया।

ये भी पढ़े: थम जाएगा आज शाम को अंतिम चरण का चुनाव प्रचार

मिली जानकारी के मुताबिक ट्रक के भीतर ट्रक चालक की सिर पर पाने से वार कर हत्या करके बदमाश मौके से फरार हो गया। इस पूरी घटना की सूचना स्थानीय लोगों ने पुलिस को पहुंचाई। जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जिसके बाद पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। वहीं पुलिस ने मृतक चालक की पहचान हेमंत नामक युवक के रूप में की है। साथ ही युवक की हत्या करने की आशंका उसके मामा पर जताई है क्योंकि घर से मामा और भांजे साथ निकले थे। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 17, 2019, 8:01 pm
Mostly clear
Mostly clear
35°C
real feel: 34°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 31%
wind speed: 1 m/s WNW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:48 am
sunset: 6:18 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 8 other subscribers

Trending