Connect with us

क्राइम-कांड

जॉगर्स पार्क में पानी की टंकी पर 24 घंटे से चढ़ा परिवार, जानिए पूरा मामला

Published

on

लखनऊ। राजधानी के आईआईएम रोड पर जॉगर्स पार्क में शुक्रवार दोपहर से ही सात लोग यहां स्थित पानी की टंकी पर चढ़े हुए हैं और कूदने की धमकी दे रहे हैं। टंकी पर चढ़े लोगों के साथ एक बच्चा भी है। यह परिवार 24 घंटे के बाद भी उतरने को तैयार नहीं है। पेट्रोल की बोतल लेकर आत्मदाह करने की धमकी दे रहे हैं। वे लोग अपहरण के मामले में आरोपियों के खिलाफ हरदोई पुलिस के कार्रवाई नहीं करने से नाराज है। वहीं मौके पर हरदोई के डीएम,एसपी और लखनऊ के एसपी ग्रामीण मौजूद हैं।

हरदोई से आये परिवार के सात लोग चार साल पहले ग़ायब हुए भाई के मामले में इंसाफ मांग रहे हैं। टंकी पर परिवार के चढ़ने की सूचना पर काकोरी पुलिस पहुंच गई। पुलिस अधिकारी परिवार से नीचे उतरने की मिन्नते कर रहे हैं। टंकी पर चढ़े लोगों पर नजर रखने के लिए फायर ब्रिगेड को भी मदद के लिए बुलाया गया। हरदोई ग्राम छोली बरिया निवासी विनय प्रताप सिंह अधिवक्ता हैं। उनका पुश्तैनी जमीन को लेकर करीबी रिश्तेदारों से विवाद है। विवेक का अपहरण करने के मामले में आरोपियों के खिलाफ थाना सुरसा में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इस वजह से बिना जांच किये ही फाइनल रिपोर्ट लगा दी गई। पुलिस की कार्रवाई से दबंगों को बल मिल गया। वे लोग विनय के परिवार को धमकाने लगे।

ये भी पढ़े- केजीएमयू में मिला स्वाइन फ्लू का पहला मरीज…

विपक्षियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने से विनय प्रताप सिंह डीएम पुलकित खरे और एसएसपी आलोक प्रियदर्शी से नाराज थे। विवश होकर शुक्रवार को वे पूरे परिवार को साथ लेकर टंकी पर चढ़ गये। पेट्रोल लेकर चढ़े परिवार ने चादर में आग लगाने का प्रयास भी किया। फिलहाल पुलिस और अन्य अधिकारी पीड़ित परिवार को समझा कर नीचे उतरने का अनुरोध कर रहे हैं।

परिवार संग टंकी पर चढ़े विनय प्रताप सिंह ने एक कागज पर अपना फोन नम्बर लिखकर नीचे फेंका। इसके बाद एएसपी ग्रामीण विक्रांतवीर और हरदोई के एएसपी ज्ञानंजय सिंह ने फोन पर विनय से बात की। अधिकारियों के मुताबिक विनय 50 लाख का मुआवजा, परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी और अपहरण के मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग कर रहा है। इसके साथ ही वकील ने डीजीपी ओपी सिंह को मौके पर बुलाने की शर्त भी रखी है।

लखनऊ में परिवार समेत अधिवक्ता विनय प्रताप के पानी की टंकी पर चढ़ने के मामले में पुलिस ने आरोपित प्रधान लल्लन सिंह को हिरासत में ले लिया है। रात में ही पुलिस ने लल्लन को पकड़ लिया। लल्लन का कहना है कि वे बेकसूर हैं। उन्हें बेवजह फंसाया जा रहा है। थाना पुलिस का कहना है कि पूछताछ की जा रही है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।http://www.satyodaya.com

क्राइम-कांड

सीतापुर: बोर्ड की परीक्षा देने जा रहे 2 छात्रों की सड़क हादसे में मौत

Published

on

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में सीतापुर जिले के इमलिया क्षेत्र में मंगलवार को इंटर की परीक्षा देने जा रहे बाइक सवार दो छात्रों की सड़क हादसे में मौत हो गई। जबकि एक छात्र के घायल होने की सूचना प्राप्त हुई है। पुलिस ने बताया कि मितौली इलाके के खंतादेसू निवासी गुरुप्रसाद का पुत्र नीरज(20), चन्द्रपुरवा निवासी पप्पू का पुत्र पुनीत (22) और पचदेउरा गांव निवासी राजकुमार का पुत्र उजाला राज इण्टर की परीक्षा देने के घर से निकले थे।

ये भी पढ़ें: लखनऊ कलेक्ट्रेट से सुरक्षा हटने पर DM ने पुलिस कमिश्नर को लिखा पत्र

तीनों छात्रों का परीक्षा केन्द्र हरगांव स्थित सुंदलाल स्मारक इण्टर कॉलेज में था। बाइक सवार तीनों छात्र करीब एक बजे इमलिया सुल्तानपुर क्षेत्र में नउवा अंबरपुर मोड़ के करीब पहुंचे ही थे। इस बीच अचानक तेज रफ्तार अज्ञात वाहन न्र बाइक सवार तीनों छात्रों को जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में दो छात्रों की मौत हो गई, जबकि एक छात्र घायल हो गया। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

समीक्षा अधिकारी के बेटे ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, होटल में मिला शव

Published

on

लखनऊ: शक्ति भवन के मुख्यालय में तैनात समीक्षा अधिकारी के बेटे का आज गुड़म्बा थाना क्षेत्र स्थित संदिग्ध परिस्थितियों में एक्सप्रेस होटल के तीसरे फ्लोर पर कमरा नंबर 304 में फंखे में लटका मिला।  क फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वहीं इस इस घटना की होटल कर्मचारियों से जानकारी पाते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

पुलिस को शव के पास से कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला है, साथ ही पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। बता दें कि, मृतक की अंशुमन तिवारी (21) पुत्र प्रतीक तिवारी का शव आज एक्सप्रेस होटल के तीसरे फ्लोर कमरा नंबर 304 में मिला है। जिसमें बताया जा रहा है कि मृतक अंशुमन अपनी खुद की निजी कंपनी में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट का काम करता था। 

ये भी पढ़ें: योगी सरकार का चौथा बजट जनता की उम्मीदों के साथ छलावा: मायावती

मृतक के पिता प्रतीक तिवारी का आरोप है कि मेरे बेटे का पार्टनर रजत खेमका व गोमती नगर थाने में तैनात दारोगा कौशलेंद्र सिंह की मिली भगत की वजह से उसने मौत को गले लगाया है। आरोप है कि अंशुमन के पार्टनर ने कंपनी की हिस्सेदारी में पैसे वसूलने को लेकर उसपर फर्जी मुकदमा लिखवा रखा था। पार्टनर रजत दारोगा कौशलेंद्र से मिलकर हमेशा मेरे बेटे अंशुमन पर पैसा वसूली का दबाव बनाते रहते थे, जिसको लेकर अंशुमन काफी तनाव में रहता था। लेकिन आये दिन उनके बेटे को प्रताड़ित किया जाता था जिसकी जानकारी दिये बिना ही उनके बेटे अंशुमन ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

वहीं इस पूरे ममाले पर सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी, डीसीपी उत्तरी ने बतया कि हमें मंगलवार को करीब 1 बजे जानकारी मिली कि होटल एक्सप्रेस इन के कमरा नंबर 304 में एक व्यक्ति ने सुसाइड कर लिया है। यह सूचना मिलते ही पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया। शव का पंचनामा करवाने के बाद उसे पोस्टमार्टम हाउस भेजा जाएगा। आगे बताया कि हमारी पुलिस टीम गहनता के साथ मामले की जांच-पड़ताल में लगी हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही युवक की मौत का खुलासा हो पाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

KGMU में युवक ने लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को मारी गोली…

Published

on

लखनऊ: राजधानी लखनऊ के चौक थाना क्षेत्र स्थित केजीएमयू में सोमवार को एक 45 वर्षीय एक व्यक्ति ने खुद को गोली मार ली। वहीं इस घटना से अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया। जिसके बाद घायल युवक को गंभीर अवस्था में ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया गया, जहां उसका इलाज जारी है। वहीं घटना की सूचना पर पहुंची चैक थाना पुलिस मामले की जांच-पड़ताल में जुट गई है। 

वहीं घायल व्यक्ति की पहचान थाना तालकटोरा, राजाजीपुरम सपना कॉलोनी निवासी विनोद कुमार रावत (45) के रूप में हुई है, जोकि बिजली विभाग का कर्मचारी है। विनोद कुमार ने आज मंगलवार को केजीएमयू के अंदर खुद के सिर में लाइसेंसी रिवॉल्वर से गोली मार ली। जिससे वह घायल हो गया। बताते चलें कि घायल व्यक्ति अपनी पत्नी व बेटे और बेटी की बीमारी से आहत रहता था। जिसके चलते वह तंत्र-मंत्र का सहारा लेकर रोजाना मंदिर व मस्जिद भी जाया करता था।

ये भी पढ़ें: लखनऊ: सड़क किनारे मिला नवजात का शव, जांच में जुटी पुलिस

आपको बता दें कि, केजीएमयू में स्थित मजार हाजी अरमान शाह में पिछले दो-तीन माह से लगातार यह परिवार जा रहा था, ताकि उसकी उसकी पत्नी व बच्चे जल्दी से स्वस्थ्य हो सकें। वहीं घायल युवक की पत्नी का कहना है कि मैंने अपने पति को काफी बार समझाने का प्रयास किया कि हम लोगों की बीमारी का इलाज डॉक्टर कर सकते हैं। तंत्र मंत्र के चलते हम लोगों के स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं लाया जा सकता है। हम लोग लोग करीब एक माह अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे हैं, लेकिन मेरे पति तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंस कर हम लोगों को जल्द से जल्द ठीक करना चाह रहे थे। वहीं पत्नी ने बताया है कि आज मजार पर ही उनके पति ने खुद को गोली मारने की बात कहते ही खुद को गोली मार ली।

वहीं एसीपी चौक दुर्गा प्रसाद तिवारी का कहना है कि, विनोद कुमार रावत नामक व्यक्ति ने केजीएमयू परिसर में मौजूद हाजी अरमान मजार पर आया था और उसने खुद को सिर में गोली मार ली। उनका कहना है कि पत्नी ने उन्हे बताया कि उनके पति अपने परिवार की बीमारी को लेकर काफी परेशान रहते थे और वो झाड़फूक भी करवा रहे थे। लेकिन कोई फायउा न होने के कारण आज उन्होंने खुद को गोली मार ली है। फिलहाल उनका ट्रामा में इलाज चल रहा है और उनकी हालत भी काफी गंभीर बनी हुई है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 18, 2020, 9:20 pm
Clear
Clear
18°C
real feel: 18°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 63%
wind speed: 0 m/s SW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:11 am
sunset: 5:30 pm
 

Recent Posts

Trending