Connect with us

क्राइम-कांड

बंद कमरे में प्रेमी-युगल का खून से लथपथ शव मिलने से मचा हड़कम्प, जांच में जुटी पुलिस

Published

on

लखनऊ। राजधानी में अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहा है और अपराध चरम सीमा पर है। जिसमें बदमाश आये दिन हत्या, लूट की घटनाओं को अंजाम दे बदमाश पुलिस को चुनौती दे फरार हो जाते हैं। वहीं खुद को हाईटेक कहने वाली पुलिस इन बदमाशों के आगे नतमस्तक होती दिखाई दे रही है। राजधानी के कप्तान अब अपराध नियंत्रण में फेल होते नजर आ रहे हैं। एसएसपी की निष्क्रियता के चलते पिछले एक माह में आधा दर्जन से अधिक हत्या की घटनाएं हो चुकी हैं। लेकिन पुलिस की गस्त ना करने की वजह से बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। वहीं इन वारदातों से शहरवासी काफी दहशत में हैं। ताजा मामला लखनऊ के थाना गुड़म्बा इलाके का है जहां किराये के कमरे में रह रहे प्रेमी-युगल का खून से लथपथ शव मिलने की सूचना से इलाके में सनसनी फैल गई। वहीं घटना की सूचना पाकर पुलिस महकमे में भी हड़कम्प मच गया और डबल मर्डर की आशंका के चलते मौके पर लखनऊ एसएसपी सहित घटनास्थल पर अलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। वहीं पुलिस की मानें तो मौके से एक सुसाइड नोट मिला है। इस सुसाइड नोट में प्रेमी-युगल ने साथ जीने मारने की कसमें खाई हैं। वहीं घटना के बाद मौके पर डॉग स्क्वॉड, फिंगर प्रिंट दस्ता और फॉरेंसिक एक्सपर्ट टीम को बुलाकर मौके से साक्ष एकठा कर आगे की कार्रवाई की जा रही है, वहीं पुलिस की मानें तो प्रथम दृष्टया मामला प्रेम-प्रसंग का सामने आ रहा है। फिलहाल पुलिस ऑनर किलिंग और तमाम बिंदुओं को ध्यान में रखकर मामले की जांच मे जुट गई है।

यह भी पढ़ें :- 20 साल बाद एक बार फिर लखनऊ में होगा ऑल इंडिया पुलिस ड्यूटी मीट का आयोजन

जानकारी के अनुसार, लखनऊ के थाना गुड़म्बा इलाके के कल्याणपुर के आलोक नगर में किराये के मकान में बाराबंकी के रहने वाले राकेश यादव अपनी पत्नी शिवानी के साथ लगभग एक साल से रह रहे थे। बताया जा रहा है कि दोनों ने प्रेम विवाह किया था। युवती विकास नगर लखनऊ की रहने वाली है और कल्याणपुर में किराए के मकान में अपने पति के साथ रह रही थी। एसएसपी ने बताया कि प्रथम दृष्टया सुसाइड नोट मिलने के बाद आत्महत्या का पता चल रहा है। फिलहाल पुलिस की टीमें तमाम बिंदुओं पर जांच पड़ताल कर रही हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

वहीं मकान मालिक की मानें तो यह दोनों लोग पिछले छः सात महीने से यहां रह रहे थे। उन्होंने बताया कि करीब पुलिस को छः बजे सूचना दी थी और बताया कि मैं ऊपर गईं तो देखा कि कमरे का कूलर नहीं चल रहा था और बाहर गाड़ी भी नहीं थी उसके बाद मैंने कई आवाज दी जिसके बाद भी कोई आवाज नहीं आई तो मैंने दरवाजे से खोल कर देखा अंदर खून ही खून था जिसके बाद मैंने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी। वहीं मकान मालिक ने बताया कि दोनों ने कमरा लेने से पहले यह बताया था कि दोनों की शादी हो चुकी है और लड़का-लड़की को लेकर आता था।

यह भी पढ़ें :- भर्ती घोटाले के मुख्य आरोपी अपर चकबंदी आयुक्त सुरेश सिंह यादव गिरफ्तार

वहीं मौके पर मौजूद पुलिस की मानें तो पुलिस को सूचना मिली थी की खून से लथपथ शव कमरे में मिले हैं सूचना मिलते ही मौके पर सभी अधिकारी पहुंचे और कमरे का निरीक्षण किया तो पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला है। साथ ही बताया कि मौके पर पुलिस को चाकू भी बरामद हुआ है और जिस पेन से सुसाइड नोट लिखा था वह भी पुलिस को मौके से मिला है और वहीं ऑनर किलिंग के मामले पर सवाल किए जाने पर पुलिस ने बताया अभी तक सभी तथ्य उभर कर सामने नहीं आये हैं इस इसलिए अभी कुछ कहना बहुत कठिन होगा। साथ कहा जो कुछ भी मौके से मिला है उस से यह जाहिर होता है कि यह सुसाइड है। साथ ही बताया कि यह लोग पिछले छः सात महीने से इस किराये के मकान मे पति-पत्नी के रूप मंे रह रहे थे। फिलहाल पुलिस सभी बिन्दुवों को ध्यान मंे रख कर जांच कर रही है और जो भी है वह पोस्मार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा।

गौरतलब है कि शहर में पिछले दिनों से हो रही ताबड़तोड़ हत्याओं का पुलिस खुलासा नहीं कर पाई थी कि इस घटना ने फिर कानून-व्यवस्था पर सवाल लगा दिए हैं। स्थानीय लोगों ने इसे ऑनर किलिंग बताया है। वहीं लोगों का आरोप है कि पुलिस ने इस डबल मर्डर की वारदात को अपने ऊपर से बोझ हल्का करने के लिये आत्महत्या का रूप दे दिया। लोगों का दबी जुबान से कहना है कि कोई प्रेमी कमरे में आत्महत्या कैसे कर सकता है। हालांकि पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।http://www.satyodaya.com

क्राइम-कांड

पीएफ घोटालाः तत्कालीन सचिव पीके गुप्ता का बेटा अभिनव गुप्ता भी गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पाॅवर कारपोरेशन में करीब करीब 2300 करोड़ रुपए के घोटाले में जेल जा चुके सचिव पीके गुप्ता के बेटे अभिनव गुप्ता को भी ईओडब्ल्यू ने गिरफ्तार कर लिया। जांच एजेंसी कई दिनों से अभिनव गुप्ता को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही थी। जिसमें उसने कई अहम सुराग भी दिए हैं। जांच एजेंसी ने अभिनव के साथ ब्रोकर आशीष चौधरी को भी गिरफ्तार किया है। शुरूआती जांच में पता चला है कि अभिनव के कहने पर ही आशीष की फर्म में निवेश किया गया था। जिसके बदले में 60 लाख रुपये दिये गए थे। गुरुवार को अभिनव गुप्ता लखनऊ स्थित ईओडब्ल्यू कार्यालय में पीएफ घोटाले से संबंधित अपने बयान दर्ज कराने आया था।

खबरों के मुताबिक अभिनव के जरिए ही बिजली कर्मचारियों के पीएफ का पैसा डीएचएफएल में निवेश किया गया था। अभिनव गुप्ता का करीब ब्रोकर आशीष चौधरी फर्जी ब्रोकिंग कंपनी चलाता था। कुल 14 फर्जी ब्रोकरेज कंपनियों के जरिए डीएचएफएल में करोड़ों रुपए का निवेश किया गया। इस पूरे निवेश में जमकर कमीशनखोरी की गयी। यूपीपीसीएल में पीएफ घोटाले में अभिनव गुप्ता की चौथी बड़ी गिरफ्तारी है। अब तक घोटाले में कुल पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार ब्रोकर भी गाजियाबाद का रहने वाला है। उसने गाजियाबाद के ही एड्रेस पर इंफोलाइन नाम से शेयर ब्रोकर फर्म बनाई थी। डीएचएफएल में भविष्य निधि निवेश के लिए आशीष चौधरी की कंपनी इंफोलाइन को करोड़ों रुपए का कमीशन मिला। इसके लिए आशीष चैधरी को 50 लाख रुपये की दलाली भी मिली। इस पूरे खेल में अभिनव गुप्ता की भूमिका अहम है। अभिनव ने आशीष के साथ मिलकर फर्जी ब्रोकर कंपनियां बनाईं।

यह भी पढ़ें-युवा कवि अमन चांदपुरी की याद में संगोष्ठी व पुस्तक विमोचन कार्यक्रम आयोजित

बता दें कि बिजली कर्मचारियों के पीएफ घोटाले में अपने पिता की गिरफ्तारी के बाद से अभिनव गुप्ता फरार चल रहा था। अभिनव को पकड़ने के लिए पांच सदस्यीय टीम का गठन किया गया था। जांच एजेंसी ने अभिनव को हिरासत में लेकर जब पूछताछ शुरू की तो कई राज खुल गए। जिसके बाद गुरुवार को ईओडब्ल्यू ने अभिनव को गिरफ्तार कर लिया। अभी तक इस मामले में जांच एजेंसी ने तत्कालीन वित्त निदेशक सुधांशु द्विवेदी, इंप्लाइज ट्रस्ट के सचिव पीके गुप्ता, पाॅवर कारपोरेशन के पूर्व एमडी एपी मिश्र को गिरफ्तार किया जा चुका है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

बंद पड़े मकान को चोरों ने बनाया निशाना, हजारों की नकदी पर किया हाथ साफ

Published

on

लखनऊ। राजधानी के इंदिरानगर थाना क्षेत्र स्थित सुग्गामऊ त्रिदेव विहार फेस-2 में बीती रात चोरों ने एक बंद पड़े मकान को निशाना बनाया है। जिस समय चोरी हुई उस वक्त पीड़ित परिवार अपने पैतृक आवास सीतापुर गया हुआ था। चोर घर से जेवरात, घरेलू सामान समेत हजारों की नकदी लेकर फरार हो गए।

दरअसल, सुग्गमऊ त्रिदेव विहार फेस-2 में रहने वाले रंजीत कुमार अपने परिवार के साथ सीतापुर गए हुए थे। गुरुवार दोपहर जब वो लखनऊ स्थित अपने घर आए तो देखा कि दरवाजे का ताला टूटा हुआ है। अंदर गए तो पूरे घर का सामान बिखरा था। घर से कीमती सामान गायब था।

ये भी पढ़ें: लखनऊ से तय होगी शहरों के विकास की दिशा, अर्बन मोबिलिटी इंडिया सम्मेलन कल से

इस घटना की सूचना पीड़ित परिवार ने पुलिस को दी। पीड़ित परिवार की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

रोडवेज बस खड़े ट्रक से टकराई, 7 लोग घायल

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ। तेज रफ्तार का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार की सुबह में प्रयागराज-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर रोडवेज की बस अनियंत्रित होकर हाईवे पर खड़े ट्रक से टक्करा गई। हादसें मे बस चालक सहित 7 लोग घायल हो गए है।

जानकारी के मुताबिक थाने के प्यारेपुर चौराहे पर आज सुबह भोर में करीब 4 बजे प्रयागराज से लखनऊ जा रही चारबाग डिपो की बस वहां पर पहले से खड़े ट्रक के पिछले हिस्से से टकरा गई। बस मे सवार कई यात्री घायल हो गए हैं। ड्राइवर जय सिंह उम्र लगभग 49 वर्ष पुत्र मेवा लाल निवासी चिल्लावा निकट अमौसी एयरपोर्ट थाना सरोजनी नगर जनपद लखनऊ क्षतिग्रस्त केबिन में फस गया था। जिसे कड़ी मशक्कत के बाद बाहर  निकाला गया।   

यह भी पढ़ें: भारत के इस गांव में लड़के और लड़कियां एक-दूसरे पान खिलाकर करते हैं पसंद   

सूचना पाकर मौके पर पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंची। घायलों को 108 एंबुलेंस से सीएचसी पहुंचाया गया। बस चालक जय सिंह, अवधेश पांडे (27) ऋषभ मिश्र (20) विजय बहादुर सिंह (52) प्रवेश पांडे (30) सीपी (60) अखिलेश कुमार यादव (27) का आनन-फानन इलाज शुरू किया। गंभीर रूप से घायल बस चल चालक जयसिंह और विजय बहादुर सिंह को जिला अस्पताल रेफर किया गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 14, 2019, 9:44 pm
Fog
Fog
20°C
real feel: 22°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 93%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:55 am
sunset: 4:47 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending