Connect with us

क्राइम-कांड

लखनऊः मामूली विवाद में पड़ोसी पर फाॅयरिंग करने के आरोपी पिता-पुत्र गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ। राजधानी के आशियाना थाना क्षेत्र में पड़ोसी के साथ मामूली विवाद में ताबड़तोड़ फाॅयरिंग करने वाले पिता-पुत्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। गुरुवार देर रात यहां दो पड़ोसियों के बीच हुई कहासुनी में एक पक्ष ने कई राउंड फाॅयर झोंके। गनीमत रही कि गोलियां किसी को नहीं लगी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने 4 खोखे भी बरामद किए हैं। जानकारी के अनुसार आशियाना के सेक्टर-एन में सुभाष द्विवेदी व उनके बेटे आकाश द्विवेदी का पड.ोस में रहने वाले बृजनाथ से विवाद हो गया।

कुछ लोगों के बीच-बचाव के बाद मामला शांत हो गया था। लेकिन कुछ ही देर बाद सुभाष द्विवेदी ने बृजनाथ को बाहर बुलाया। आरोप है कि जैसे ही बृजनाथ के घर के बाहर आते ही आकाश द्विवेदी ने रिवाल्वर से फाॅयरिंग करनी शुरू कर दी।

पीड़ित परिवार ने किसी तरह घर में घुसकर जान बचाई। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दो पक्षों को थाने तलब किया। बृजनाथ की तहरीर पर सुभाष द्विवेदी व उनके बेटे के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आशियाना पुलिस ने दोनों को जेल भेज दिया।

यह भी पढ़ें-लखनऊ का मौलवीगंज व निशातगंज की पांचवीं गली बनी कोरोना हॉट स्पॉट

थाने पहुंचे पीड़ित बृजनाथ ने बताया कि गुरुवार रात करीब 8 बजे आकाश द्विवेदी के घर आए एक व्यक्ति ने उनके भाई के साथ मारपीट की। विरोध करने पर उन्हें भी पीटा। पड़ोसियों के बीच-बचाव कराने पर मामला शांत हो गया। लेकिन थोड़ी ही देर में सुभाष द्विवेदी फिर से दरवाजे पर आ धमके। हम लोग जैसे ही घर के बाहर निकले, आकाश द्विवेदी ने रिवाल्वर से फाॅयरिंग शुरू कर दी। http://www.satyodaya.com

क्राइम-कांड

लखनऊः घर में अकेले बच्चों को बंधक बनाकर 30 लाख की लूट

Published

on

घटना के वक्त ब्यूटी पार्लर गई थी बच्चों की मां, पिता ड्यूटी पर थे

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का कहर जारी है। जिसे रोकने के लिए लॉकडाउन लागू है। इस वजह से सभी अपने घरों में कैद है और काम-धंधे बंद है। वहीं इस दौरान प्रदेश में हत्या व लूटपाट की घटनाएं भी जारी है। ऐसा ही एक घटना लखनऊ के मड़ियाव में देखने को मिली है। जहां परिवार को बंधक बनाकर लूटपाट किया गया है।

दिनदहाड़े हुई लूट की घटना से हड़कंप मच गया है। जानकारी के अनुसार दो नकाबपोश बदमाशों ने पहले परिवार को बंधक बनाया फिर नगदी और घर के जेवरात लेकर लुटेरे फरार हो गए। घर मालिक ड्यूटी पर गए थे। वहीं पत्नी कई दिन बाद खुले ब्यूटी पार्लर पर चली गई थी। घर में अकेले बच्चों को बदमाशों ने बंधक बनाया फिर घटना को अंजाम दिया।

यह भी पढ़ें-कायस्थ महासभा ने लखनऊ पुलिस को प्रोत्साहन स्वरूप भेंट किए 1 लाख रुपए

यह घटना मड़ियाव के अजीजनगर की है। घर मालिक स्वास्थ्य विभाग में कर्मचारी है। उन्होंने बताया कि दस लाख कैश के साथ तीस लाख की ज्वेलरी पर हाथ साफ किया। वहीं पीड़ित का आरोप है कि दर्ज तहरीर में पुलिस ने लूट की जगह चोरी की रिपोर्ट दर्ज की है। मामला मीडिया के संज्ञान में आने के बाद अधिकारियों में हड़कंप गया। 6 घंटे बाद मौके पर पहुंचे एडिशनल डीसीपी राजेश श्रीवास्तव व एसीपी रामकुमार शुक्ला पहुंच गए है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

संभल में सपा नेता और उसके बेटे की सरेआम गोली मारकर हत्या, क्षेत्र में फैली सनसनी

Published

on

लखनऊ। बहजोई थाना इलाके के शमशोई गांव में मंगलवार को सुबह समाजवादी पार्टी के नेता और उनके बेटे की सरेआम गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई। हत्या के पीछे मनरेगा के तहत बनाई जा रही सड़क का विरोध बताया जा रहा है। गांव के ही कुछ दबंग इस सड़क का विरोध कर रहे थे। दिन निकलते ही हुई सनसनीखेज दोहरे हत्याकांड के बाद पुलिस अधीक्षक के साथ ही आईजी भी मौके पर पहुंचे हैं, हालांकि हत्यारोपी अभी पुलिस पकड़ से दूर हैं।

समाजवादी पार्टी के नेता छोटे लाल दिवाकर की पत्नी गांव की प्रधान हैं। ऐसे में उनका भी ज्यादातर काम छोटेलाल दिवाकर ही देखते थे। छोटे लाल दिवाकर मंगलवार की सुबह अपने बेटे सुनील दिवाकर के साथ गांव की आबादी के बाहर मनरेगा से बन रही सड़क का जायजा लेने गए थे। आरोप है कि इसी दौरान गांव के ही कुछ दबंग वहां पहुंच गए और आगे अपने खेत होने का हवाला देते हुए सड़क निर्माण का काम आगे न बढ़ाने की हिदायत दी। जब छोटे लाल दिवाकर ने ऐसा करने से इंकार कर दिया तब दबंगों ने छोटे लाल दिवाकर की गोली मारकर हत्या कर दी।

इसे भी पढ़ें-UP: श्रमिकों से भरा ट्रक अनियंत्रित होकर पलटा, 3 महिलाओं की दर्दनाक मौत

बेटे सुनील ने जान बचाकर भागने का प्रयास किया, लेकिन हत्यारों ने उसे भी गिराकर मौत के घाट उतार दिया। छोटे लाल दिवाकर को समाजवादी पार्टी ने बीते विधानसभा चुनाव में चंदौसी विधानसभा क्षेत्र से अपना प्रत्याशी बनाया था। हालांकि बाद में यह सीट गठबंधन खाते में कांग्रेस के पास चली गई थी और छोटेलाल चुनाव नहीं लड़ पाए थे। छोटेलाल इस समय चंदौसी विधानसभा क्षेत्र में समाजवादी पार्टी प्रभारी के रूप में काम कर रहे थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

औरैया, आगरा के 26 मजदूरों की मौत के लिए सरकार जिम्मेदारः माले

Published

on

मृतकों के परिजनों व घायलों को मुआवजा देने की मांग, घायलों का सरकारी खर्चे पर हो समुचित इलाज

लखनऊ। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माले) की राज्य इकाई ने औरैया व आगरा में शनिवार को हुई सड़क दुर्घटनाओं में घर लौट रहे 26 प्रवासी मजदूरों की मौत पर शोक व घायलों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। पार्टी ने मौतों के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए मृतकों के परिजनों व घायलों को पर्याप्त मुआवजा देने और सरकारी खर्चे पर समुचित इलाज कराने की मांग की है।

पार्टी के राज्य सचिव सुधाकर यादव ने कहा कि ये मौतें लॉक डाउन जनित जनसंहार हैं। यह हादसा नहीं, सरकार निर्मित त्रासदी है। लॉकडाउन की परेशानियों के चलते घर वापसी के लिए विवश हुए प्रवासी मजदूरों को यदि उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने के लिए पर्याप्त ट्रेनों और बसों की व्यवस्था सरकार द्वारा की गई होती, तो इस जनहानि से बचा जा सकता था।

यह भी पढ़ें :- देश में 30 करोड़ से अधिक लोग पीड़ित, आज विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर विशेष

माले नेता ने कहा कि मजदूरों को घर लौटने के लिए पंजीकरण की जो ऑनलाइन व्यवस्था है, उससे इसका कुछ पता नहीं चलता कि किसका नंबर कब आएगा। तमाम अर्जियां लगाने के बावजूद संबंधित थाने या प्रशासन से भी यात्रा को लेकर उन्हें कोई निश्चित जवाब या अनुमति नहीं मिलती। कहीं सुनवाई न होती देख, अपनी अनिश्चित बारी के इंतजार से थक-हारकर और भूखमरी से परेशान होकर परिवार समेत मजदूर पैदल ही सैंकड़ों मील की यात्रा पर निकल पड़ने को विवश हो जाते हैं।http://www.satyodaya,com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 22, 2020, 3:36 pm
Sunny
Sunny
40°C
real feel: 41°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 19%
wind speed: 1 m/s ENE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 3
sunrise: 4:46 am
sunset: 6:21 pm
 

Recent Posts

Trending