Connect with us

क्राइम-कांड

यूपी एसटीएफ ने करोड़ों की ठगी करने वाले गिरोह का किया पर्दाफाश

Published

on

लखनऊ। एयरटेल की डीडीटीएम मशीन लगाने, टावर लगाने, बीमा पालिसी कैंसिल कराने, आईपीओ में इनवेस्ट कराकर रूपया कम समय में दोगुना करने का प्रलोभन देकर सिक्योरिटी, जीएसटी, स्टेट ट्रांजक्शन चार्ज आदि के नाम पर अब तक लगभग 200 लोगों से 5 करोड़ की ठगी करने वाले गिरोह के सरगना सहित दो सदस्य लगभग एक लाख ग्राहकों के अनाधिकृत डेटा के साथ यूपी एसटीएफ की टीम ने नोएडा से गिरफ्तार किया है। बताया गया कि डाॅक्टर अशोक कुमार दुबे पश्चिम टोला थाना पुरवा जनपद उन्नाव निवासी से उनकी छत पर डिजिटल डाटा मशीन लगाने हेतु उनसे लगभग 20 लाख रूपया की धोखाधड़ी के सम्बन्ध में थाना पुरवा जनपद उन्नाव में मुकदमा दर्ज हुआ था। मुकदमा दर्ज होने पर भी अब तक कोई भी कार्रवाई न होने के कारण पुलिस द्वारा एसटीएफ का सहयोग प्राप्त करने की अपेक्षा की गयी थी।

जिसके बाद ही एसपी विशाल विक्रम सिंह के पर्यवेक्षण में निरीक्षक विमलेश कुमार सिंह के निर्देशन मे मुख्यालय स्थित साइबर क्राइम टीम द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्रवाई शुरू की गयी। अभिसूचना संकलन के दौरान ज्ञात हुआ कि शुभम मिश्रा, जो एक फर्जी कालसेंटर संचालक है। नोयडा सेक्टर 6 में एक फर्जी काल सेंटर के माध्यम से एयरटेल की डीडीटीएम मशीन लगाने, टावर लगाने, बीमा पालिसी कैंसिल कराने, आईपीओ में इनवेस्ट कराकर रूपया कम समय में दोगुना करने का प्रलोभन देकर सिक्योरिटी, जीएसटी, स्टेट ट्रांजेक्शन चार्ज आदि के नाम पर भारत भर मे आईडी सैल्यूशन, वैल्यूएैडेड सर्विसेज एफडी सर्विस, आइटी सविर्सेज और आईबीएल इंडिया आदि फर्जी कम्पनी बनाकर ठगी कर रहा है व गोडैडी समेत अपबम/इींतजपंपतजमसण्बव का डोमेन खरीद कर लोगों को भारतीय एयरटेल के नाम से ईमेल कर विश्वास दिलाता है कि वह भारतीय एयरटेल कम्पनी का अधिकारी है।

यह भी पढ़ें :- पुलिस ने मॉब लिंचिंग से बचाकर परिवार को सौंपा, 10 साल से भटक रही थी महिला

जिसके बाद ही एसटीएफ ने मुखबिर के माध्यम से उपरोक्त सूचना को विकसित करते हुए साइबर टीम द्वारा आरोपियों को नोयडा से गिरफ्तार किया गया है। जिनसे लैपटाप, 4 मोबाइल, 3 एटीएम कार्ड, 9 चेक ठगी का शिकार हुए लोगों के जिनको कैश होने से रोका गया था जिसकी कीमत 16,20000 (सोलह लाख बीस हजार), पैन कार्ड, वाईफाई राउटर, 4 वाकी टाकी, लगभग एक लाख प्वाइंट अनाधिकृत डेटा (लाइफ इंश्योरेंश से सम्बन्धित), 300 पेज लगभग रिज्यूम, 50 पेज लेटर पैड फोरस्टार बिजनेस सैल्यूशन, एक प्रिंटर एचपी लेजरजेट, दो आधार कार्ड, दो डायरी जिसमे कस्टर से ठगे गये रूपयों का विवरण अंकित हैं, 15 रजिस्टर जिनमें कस्टमर से ठगे गये रूपयों का विवरण है, 100300 (एक लाख तीन सौ रूपया) नकद की बरामदगी हुई है।

एसटीएफ ने उपरोक्त मुकदमें के सम्बन्ध में पूछताछ पर गिरोह के मास्टरमांइड शुभम मिश्रा द्वारा डाॅक्टर अशोक दुबे से लगभग 20 लाख रूपये की ठगी किया जाना स्वीकार किया गया। शुभम मिश्रा द्वारा बताया गया कि 2014 में आईएमएस नोयडा से बीबीए की डिग्री प्राप्त करने के बाद इंडिया इंफोलाइन इंश्योरेंश ब्रोकर कम्पनी ज्वाइन किया। उसके बाद नेटअम्बेट, एसएमसी, डाॅक्टर हुड, श्रीधर, क्रासरोड, भ्ॅव्डच् मार्केटिंग प्रा.लि. आदि इंश्योरेंस ब्रोकर कम्पनियां ज्वाइन की। उन कम्पनियों से ही लोगों का बीमा कराकर उनको विश्वास दिलाकर अलग-अलग प्रलोभन देकर ठगी करता रहा है। इसके बाद जनवरी 2019 मे अपनी खुद की कम्पनी ऐडमायर बनाकर काल सेंटर का काम प्रारम्भ कर दिया, जहां पर सचिन, नितिन, पुरूषोत्तम, पंकज, सारदा आदि के माध्यम से अलग-अलग नामों व विभागों का बताकर कालिंग कराकर एयरटेल की डीडीटीएम मशीन लगाने, टावर लगाने, बीमा पालिसी कैंसिल कराने, आईपीओ में इनवेस्ट कराकर रूपया कम समय में दोगुना करने का प्रलोभन देकर सिक्योरिटी, जीएसटी, स्टेट ट्रांजक्शन चार्ज आदि के नाम पर भारत भर में आईडी सैल्यूशन, वैल्यूऐडेड सर्विसेज एफडी सर्विस, आइटी सविर्सेज और आईबीएल इंडिया फर्जी कम्पनी के 10-12 बैंक एकाउंट जो सरताज व करन द्वारा किराये पर दिये जाते थे। इन्ही बैंक एकाउंटों में लगभग 200 लोगों से ठगी कर चुके हैं।

जिसमें बताया कि मुख्य रूप से डाॅक्टर अशोक दुबे उन्नाव से 20 लाख, बीना त्रिपाठी ग्रेटर नोयडा से 24 लाख रूपये, दीपक पटना बिहार से 12 लाख रूपये, प्रदीप गोस्वामी असम से 13 लाख रूपये, रमेश गुप्ता मुम्बई से 11 लाख रूपये, पारस नाथ वर्मा इलाहाबाद से 163 लाख रूपये, राजन नेगी बैंगलूरू से 50 लाख रूपये उमाशंकर इलाहाबाद से 17 लाख रूपये आदि से ठगी की गयी है। इस गिरोह का जाल दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा, एनसीआर क्षेत्र में फैला हुआ है। वहीं गिरफ्तार आरोपियों की अन्य अपराधिक गतिविधियों के सम्बन्ध में जानकारी की जा रही है। साथ ही प्राप्त डेटा का एनालिसिस किया जा रहा है। डेटा ब्रीच किस इश्योरेंस ब्रोकर कम्पनी से हुआ है इस सम्बन्ध में भी जांच की जा रही है। साथ ही बताया गया है कि पकड़ा गए इस गैंग द्वारा अब तक लगभग 5 करोड़ की ठगी की जा चुकी है।http://www.satyodaya.com

क्राइम-कांड

बदमाशों ने शराब की दुकान पर बोला धावा, सेल्समैन को गोलीमार मारकर की लूटपाट

Published

on

सांकेतिक चित्र

लखनऊ। राजधानी में बदमाश पूरी तरह से बेखौफ होकर खुलेआम वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। ताजा मामला काकोरी थाना क्षेत्र में बुधवार को देखने को मिला है। जहां बेखौफ बदमाशों ने पुलिस को कड़ी चुनौती देते हुए शराब दुकान में धावा बोल दिया और सेल्समैन को गोलीमार कर लूटपाट की। गोली लगने से सेल्समैन हो गया, जिसके बाद बदमाशों ने लूटपाट की। बताया जा रहा है कि बदमाश इस सनसनीखेज वारदात को अंजाम देकर मौका-ए-वारदात से फरार हो गए।

ये भी पढ़ें: 4 माह की बच्ची के साथ रेप व हत्या, पुलिस ने 7 दिन में दाखिल की चार्जशीट

जिसके बाद लोगों ने आनन-फानन में घायल सेल्समैन अनिल जायसवाल को ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया गया। डॉक्टर के अनुसार घायल सेल्समैन की हालत काफी गंभीर बनी हुई है। बता दें कि जहां एक ओर लुटेरों के फरार होने के बाद पुलिस केवल लकीर पीटती हुई नजर आ रही है। तो वहीं दूसरी ओर लापरवाह काकोरी इंस्पेक्टर सनसनीखेज वारदात को दबाने की कवायद में जुटे हुए हैं। अब देखना यह होगा कि काकोरी पुलिस इस मामले कितनी जल्द कार्रवाई कर बदमाशों की गिफ्तारी करती है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

4 माह की बच्ची के साथ रेप व हत्या, पुलिस ने 7 दिन में दाखिल की चार्जशीट

Published

on

सांकेतिक चित्र

लखनऊ: राजधानी में 4 माह की दुधमुंही बच्ची से दुष्कर्म व हत्या के मामले में पुलिस ने 7 दिन में चार्जशीट दाखिल कर दी है। राजधानी लखनऊ में ऐसा दूसरी बार हुआ है, जब पुलिस ने इतनी जल्दी चार्जशीट दाखिल की है। बता दें कि 16 फरवरी को मड़ियांव थाना क्षेत्र के फैजुल्लागंज में 35 वर्षीय चचेरे भाई पप्पू दीक्षित ने रेप के बाद अपनी चार माह की बहन की हत्या कर दी थी।

ये भी पढ़ें: लखनऊ: पुलिस ने सात गोवंश के साथ दो पशु तस्करों को दबोचा

आरोपी मासूम को खिलने के बहाने अपने साथ ले गया था और उसके साथ दुष्कर्म किया था। लेकिन 17 फरवरी को इलाज के दौरान बच्ची की मौत हो गई थी। वहीं पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए 12 घंटे में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी के खिलाफ  उसके खिलाफ रेप, हत्या और पॉक्सो एक्ट में कार्रवाई हुई। वहीं पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने कहा कि न्यायिक अधिकारी से अनुरोध कर आरोपी को जल्द सजा दिलाई जाएगी। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

क्राइम-कांड

लखनऊ: पुलिस ने सात गोवंश के साथ दो पशु तस्करों को दबोचा

Published

on

लखनऊ: राजधानी पुलिस ने बीकेटी थाना क्षेत्र के अस्ती रोड से बुधवार को गोवंश के साथ दो पशु तस्करों को दबोचा है। हृदेश कठेरिया, पुलिस क्षेत्राधिकारी बख्शी का तालाब ने बताया कि चेकिंग के दौरान हमें यह जानकारी मिली कि पशु तस्कर छोटा हाथी में कुछ गोवंश को ले जा रहे है। इस सूचना पर तत्काल कार्रवाई करते हुए अस्ती रोड से छोटा हाथी को पकड़ा गया और साथ ही दो पशु तस्करों को भी गिरफ्तार किया गया। वहीं गिरफ्तार पशु तस्करों की पहचान अमित व रूपचंद के रूप में हुई है।

ये भी पढ़ें: लखनऊ: संदिग्ध अवस्था में मिला युवक का शव, जांच में जुटी पुलिस

इसी कड़ी में पुलिस ने आगे बताया कि इन तस्करों के पास 7  गोवंश बरामद हुए हैं। वहीं बाइक से रेकी कर रहे दो आरोपी विजय व इकरार की भी गिरफ्तारी का प्रयास किया गया, लेकिन दोनों पुलिस को देखकर मौके पर फरार हो गए। जिनकी तलाश जारी है। फिलहाल पुलिस गिरफ्तार तस्करों से मामले की पूछताछ कर रही है।  http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 27, 2020, 9:28 pm
Fog
Fog
20°C
real feel: 19°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 77%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:03 am
sunset: 5:36 pm
 

Recent Posts

Trending