Connect with us

नखलऊ ख़ास

महिला दिवस पर जानिये किस हद तक है, नवाबी लखनऊ महिलाओं के साथ

Published

on

आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के ख़ास मौके पर सर्वप्रथम सभी देश की सभी महिलाओं और लडकियों को ढ़ेरों बधाईयाँ । 8 मार्च को यह विशेष दिन अलग-अलग क्षेत्रों में काम कर रही महिलाओं का सम्मान करने और उनकी प्राप्त उपलब्धियों का उत्सव मनाने का दिन है। महिला दिवस के ख़ास मौके पर हम बात करेंगे नवाबों के शहर लखनऊ कि जो अपनी तहजीब के लिए मशहूर है यहाँ की महिलाएं और लडकियाँ अपने साहस और बेबाक़ अंदाज़ के लिए जानी जाती है । लखनऊ की महिलाओं में एक विशेष तरह की आत्मनिर्भरता है । जिससे की महिलाओं को समाज में अपनी जगह बनाने का अवसर प्राप्त हुआ है और इसी आत्मनिर्भरता को कायम रखने के लिए सरकार ने भी महिलाओं को प्रोत्साहित करने के कई तरह की सुविधाओं को लागू किया है । ताकि महिलाओं को समाज में उनकी सही जगह मिल सकें और अपने काम को पूरी निष्ठा के साथ पूरा कर सकें ।

आइये जानते है लखनऊ में महिलाओं को प्रदान की सुविधाओ के बारे में और उनकी आत्मनिर्भरता के साथ काम करने की कला को :

1090 वूमेन पॉवर लाइन सेवा :

राजधानी लखनऊ में उत्पीड़न की घटनाओं को सख्ती से रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वूमेन पॉवर लाइन 1090 की स्थापना की गयी है । 8 सालो से यह सेवा निरन्तर कार्य कर रही है। महिला सशक्तीकरण की दिशा में वूमेन पॉवर लाइन ने अपनी एक अलग पहचान बनायी है। वूमेन पावर लाइन 1090 सेवा को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए वर्ष 2014 में “Women Security App 1090” सेवा भी शुरू की गयी है । जिससे महिलाओं को मदद मिलने में आसानी हो सके । ये सेवा महिलाओं के लिए काफी लाभप्रद है ।

पिंक बस सेवा :

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार महिलाओं को एक खास तोहफा भी दिया है । परिवहन निगम ने लखनऊ के अवध डिपो से 17 एसी महिला स्पेशल पिंक एक्सप्रेस बसे चलाने का निर्णय लिया है इन बसों में सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे. सुरक्षा के लिहाज से हर सीट पर खास पैनिक बटन लगा होगा जो डायल 100 से कनेक्ट होगा । असुरक्षा महसूस होने पर जब कोई महिला इस पैनिक बटन को दबाएगी तो सीधे पुलिस कंट्रोल रूम में इसकी जानकारी हो जाएगी और वहां से नजदीकी पुलिस बेहद कम समय में आपकी सुरक्षा के लिए पहुंच जाएगी । ये सेवा महिलाओं के लिए सुच में एक बहुत बड़ा तोहफ़ा है ।

महिला बस ड्राइवर और कंडक्टर की सेवा :

योगी सरकार ने पिंक बस सेवा की शुरुवात की है इन बसों की खासियत ये होगी कि इनमें ड्राइवर और कंडक्टर महिला ही होगी । ये सुविधा देने का एक फ़ायदा ये भी है,की महिलाओं को एक ओर रोजगार की भी प्राप्ति होगी और वे आत्मनिर्भर बन कर किसी भी काम को कर सकती है । इसी के साथ साथ लखनऊ में बहुत सी ऐसी महिलाएं भी है जो ई -रिक्शा चला कर भी अपने परिवार का भरण पोषण करती हैं ।

पेट्रोल पंप पर काम करने की सुविधा :

लखनऊ में अब तो पुरुषो के साथ महिलाएं भी पेट्रोल पंप पर काम करती हुई नज़र आती है ।पहले ऐसी कोई वयवस्था नहीं थी पर अब महिलाओं को भी पेट्रोल पंप पर काम करने की छूट है । इससे भी महिलाओं को रोजगार के अवसर मिले है जिससे उनके अन्दर आत्मविश्वास जागृत हुआ है ।

परीक्षा के क्षेत्र में भी लड़कियां आगे :

अगर आजकल की लड़कियों पर नजर डालें तो हम पाते हैं कि ये लड़कियां आजकल पढाई के मामले में बहुत बाज़ी मार रही हैं । लडकियों ने पढाई में लड़को को अच्छी खासी मात दी है ।किसी समय में लडकियों को कमजोर समझा जाता था, किंतु इन्होंने अपनी मेहनत और मेधा शक्ति के बल पर हर क्षेत्र में प्रवीणता अर्जित कर ली है।

NGO की भी सुविधा :

लखनऊ में महिलाओं के लिए NGO सुविधा भी है । यहाँ पर कई तरह के NGO है जैसे : आली , एडवा आदि । ये सब NGO महिलाओं की हित की सुरक्षा के लिए बनाये गए हैं । ये संस्थाए ऐसी महिलाओं को सहायता प्रदान करती है,जो की लाचार है या जिनको घर वालों के द्वारा सहायता नही मिलती है । ऐसी संस्थाए महिलाओं को कार्य भी प्रदान करती हैं ।

अंत में बस ये कहना चाहती हूँ कि महिला एक ऐसी शक्ति होती है जो किसी भीं काम को निडरता के साथ पूरा करने का हुनर रखती है इसलिए महिलाओं को समझने का प्रयास करना चाहिए और उनको किसी से भी कम नहीं समझना चाहिए । http://WWW.SATYODAYA.COM

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्राइम-कांड

‘रंग में पड़ा भंग’, बहन की शादी में व्यस्त भाई के हाथों से पैसों भरा बैग ले उड़ा चोर…

Published

on

बैग में थें डेढ़ लाख रुपये

लखनऊ। खरमास के खत्म होते शादी-ब्याह जैसे शुभ कामों ने एक बार फिर जोर पकड़ लिया है।ऐसे में जहां घर-परिवार के लोग काम में व्यस्त रहते है, वहीं बदमाश मौके की तलाश में बैठे रहते है।ताजा मामला विकास नगर विकास नगर थाना क्षेत्र के सेक्टर-1 के कल्याण मंडप का है। जहां शादी के मंडप से चोरों ने डेढ़ लाख रुपए पार कर दिए।

 

जानकारी के अनुसार कल्याण मंडप दीन दयाल उपाध्याय पार्क में शादी हो रही थी। बहन की शादी में व्यस्त सुनील कुमार ने पैसों से भरा बैग अपने पास रखा था। काम में डूबे सुनील को ये पता भी नहीं चला की कब चोर ने उनका पैसों से भरा बैग उड़ा लिया। बैग खोने का एहसास होने के बाद सुनील ने पुलिस को सूचना दी।

यह भी पढ़ें- रांची: डायन बताकर ओझा ने महिलाओं के उतरवाए कपड़े, किसी को गमछा पहनाकर घुमाया तो किसी की हत्या कर दी

सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शक के बिनाह पर एक युवक को गिरफ्तार किया है। पैसों से भरा बैग खोने से शादी में आये लोगों में अफरा-तफरा मच गयी है। फिलहाल युवक को गिरफ्तार करने के साथ ही पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Featured

प्रभु यीशु के दोबारा जी उठने की खुशी में निकला ईस्टर जुलूस

Published

on

 

लखनऊ। प्रभु यीशु के दोबारा जी उठने की खुशी में रविवार को ईस्टर जुलूस निकाला गया। ढोल-मजीरे की थाप पर ईसाई समाज के लोग ईस्टर गान गा रहे थे वहीँ दूसरी ओर क्रॉस के साथ पादरियों की टोली चल रही थी। जुलूस लालबाग के सेंट्रल मेथोडिस्ट चर्च से निकला जो सेंट जोसेफ कैथेड्रल पहुंचकर धर्मसभा में बदल गया।

ईस्टर जुलूस में गिटार के साथ ईसाई समाज के लोग ‘वो तो जिंदा है, यीशु हमारा…’ गीत गाते हुए चल रहे थे। जुलूस के आगे क्रॉस के साथ कैथेड्रल विशप जेरॉल्ड जॉन मथायस, फादर इलियस राडरिक, डॉ.डोनाल्ड एचआर डिसूजा, राकेश चत्री, मॉरिस कुमार, संजय लांजरस व पादरी राजेंद्र सिंह सहित सभी गिरजाघरों के पादरी चल रहे थे। जुलूस में लोग ढोल ताशे की थाप पर डांडिया कर रहे थे। जुलूस कैसरबाग चौराहा, नूर मंजिल, नावेल्टी चौराहा होते हुए कैथेड्रल पर समाप्त हुआ। चर्च परिसर में आराधना गीत से माहौल भक्तिमय था। देर शाम सभी ने एक दूसरे को गले लगाकर प्रभु यीशु के दोबारा जी उठने की खुशी में एक दूसरे को बधाई दी। फादर डॉ.डोनाल्ड डिसूजा ने प्रभु यीशु के संदेशों को जनजन तक पहुंचाने और सबका भला करने का आह्वान किया। फादर डॉ.डोनाल्ड डिसूजा ने कहा कि बौद्ध धर्म तो अहिंसा का धर्म है फिर इतनी बड़ी आतंकवादी घटना कैसे हुई। यह तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा।

कांग्रेस के बाद गठबंधन ने भी समर्थन के लिए मुस्लिम धर्मगुरुओं से लगायी आस…

ईस्टर संडे से पूर्व पुण्य शनिवार को पास्का जागरण किया गया। इसमें विभिन्न दुआ घरों में मसीही समाज ने प्रभु के दोबारा जी उठने के इंतजार में प्रार्थना की और उनके प्रतीक के रूप में पवित्र अग्नि के दर्शन किए। मुख्य आयोजन हजरतगंज के कैथेड्रल चर्च में हुआ। यहां सैकड़ों की संख्या में लोगों ने पवित्र अग्नि से मोमबत्तियां रोशन की। इस मौके पर चर्च की ओर से चार फुट की मोमबत्ती को प्रभु के दिव्य प्रकाश के रूप में प्रज्ज्वलित किया गया। आगामी 50 दिनों तक चर्च में होने वाले आयोजनों में यही कैंडल प्रभु यीशु के प्रतीक के रूप में रोशन की जाएगी। इस दौरान प्रभु ईसा मसीह के शरीर के रूप में परम प्रसाद ब्रेड का भी पूजन किया गया। मसीही समाज ने ‘अल्लेलूया ख्रीस्त जी उठा, जी उठा मेरा मसीहा, जग को रोशन किया’ और ‘आज चलो मिल के गाये गीत न्यारा, जी उठा है जी उठा है येशु प्यारा’ गीत गाय। इस दौरान प्रभु के दोबारा जी उठने की झांकी भी सजाई गई।

कोलंबो में मुंबई जैसा सीरियल ब्लास्ट, हमले में अब तक 200 से ज्यादा की मौत, 400 से ज्यादा घायल

गौरतलब है कि शुक्रवार को 40 दिवसीय उपवास खत्म होने पर मसीही समाज ने पुण्य शनिवार को घरों में लजीज पकवान खाए। इसके साथ ही प्रभु ईसा मसीह के दोबारा जी उठने के पर्व ईस्टर संडे के लिए तरह-तरह के ईस्टर एग तैयार किए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

सैनिक वार्षिक मिलन समारोह में पहुंची महापौर, कहा- ‘सैनिक हमारे देश की रीढ़ हैं’…

Published

on

सैनिक की दृढ़ता से ही देश में अमन-चैन हैं

लखनऊ। आशियाना स्थित चांसलर्स क्लब में राष्ट्रीय पूर्व सैनिक मंच के तत्वाधान में पूर्व सैनिक वार्षिक स्नेह मिलन का कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसका शुभारंभ महापौर संयुक्ता भाटिया एवं कृषि अनुसंधान परिषद उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष रिटायर्ड कैप्टन विकास गुप्ता ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। महापौर ने भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्प सुमन अर्पित कर नमन किया।

इस अवसर पर महापौर ने कहा कि सैनिक हमारे देश की रीढ़ है। सैनिक जब सीमा पर देश की रक्षा के लिए दृढ़ता से डटे रहते हैं तभी हम अमन चैन से अपना जीवन व्ययतीत करते हैं। पूर्व सैनिकों के बीच आकर मुझे बहुत ही गर्व की अनुभूति हो रही है कि सेना से सेवानिवृत्त होने के पश्चात भी सैनिक विभिन्न सामाजिक कार्यों द्वारा समाज एवं देश की रक्षा करते हैं चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो, स्वास्थ्य का क्षेत्र हो, पर्यावरण का क्षेत्र हो या अन्य कोई क्षेत्र।

राष्ट्रीय पूर्व सैनिक मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि राष्ट्रीय पूर्व सैनिक मंच का उद्देश्य पूर्व सैनिकों के विभिन्न संगठनों को एक मंच पर लाकर देश की एकता, अखण्डता एवं संप्रभुता के लिए काम करना है।

यह भी पढ़ें- गरीबों के पेट पर पड़ रही है पुलिस की लात, हफ्ता ना देने पर तोड़-फोड़ के साथ दुकान लगाने से किया मना…

पूर्व वायु सैनिक राखी अग्रवाल ने ‘ए मेरे वतन के लोगों’ गीत गाकर सबके हृदय को छू लिया। इस अवसर पर मंच के उपाध्यक्ष अश्विनी कुमार, कर्नल हुकुम सिंह बिष्ट, भाजपा के लोकसभा क्षेत्र के सह संयोजक डॉ संजय शुक्ला, भाजपा सैनिक प्रकोष्ट के प्रदेश संयोजक कर्नल दया शकर दुबे, गौरव नेगी, हर्षित शर्मा, पुलकित शुक्ला आदि उपस्थित रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

Failure notice from provider:
Connection Error:http_request_failed

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Trending