Connect with us

मार्केट

उत्तर प्रदेश पूर्वी क्षेत्र में रिलायंस जियो ने जोड़े सबसे ज्यादा उपभोक्ता

Published

on

लखनऊ। एक बार फिर रिलायंस जियो ने अपनी बादशाहत कायम की है। ट्राई की नई रिपोर्ट के अनुसार नवंबर 2019 में जियो ने उत्तर प्रदेश पूर्वी क्षेत्र में सबसे ज्यादा नए ग्राहक जोड़े हैं। सस्ते व लोकप्रिय ऑफरों के चलते नवंबर माह में 4,82,839 लोगों ने रिलायंस जियो को अपनाया। वहीं दूसरी ओर टेलीकॉम क्षेत्र की दिग्गज कंपनी वोडा-आईडिया ने इसी समय में अपने काफी अधिक ग्राहक खो दिए। वोडा-आईडिया ने नवंबर माह में 61,73,708 उपभोक्ता खोए। ट्राई के आंकड़ों के अनुसार अब उत्तर प्रदेश पूर्वी क्षेत्र में वोडा-आईडिया को पछाड़ कर जियो नंबर दो पर आ गया है। इसी अवधि में एयरटेल ने 3,89,229 उपभोक्ता जोड़े हैं। सरकारी टेलीकॉम ऑपरेटर बीएसएनएल ने भी इसी अवधि में 14300 उपभोक्ता खोये हैं।

यह भी पढ़ें-तमिलनाडुः तंजावुर एयरफोर्स स्टेशन पर लड़ाकू विमान सुखोई-30 तैनात

ट्राई की इसी रिपोर्ट के अनुसार पूरे देश में भी जियो नवंबर 2019 में 36.9 करोड़ ग्राहकों के साथ सबसे बड़ा टेलीकॉम ऑपरेटर बन गया है। वोडा-आईडिया 33.62 ग्राहकों के साथ नंबर दो एवं एयरटेल 32.73 ग्राहकों के साथ नंबर तीन टेलीकॉम कंपनी बन गयी है।http://www.satyodaya.com

मार्केट

कोरोना का कहर: 6 दिन में निवेशकों के 11 लाख करोड़ रुपए डूबे

Published

on

खतरनाक वायरस के भय से सहमा वैश्विक शेयर बाजार

लखनऊ। मौत का दूसरा नाम बन चुका कोराना वायरस अब वैश्विक अर्थव्यवस्था को भी अपनी चपेट में ले रहा है। चीन के वुहान से शुरू होकर यह महामारी दुनिया के करीब दो दर्जन देशों में फैल चुकी है। कोरोना की तबाही देखकर दुनिया भर के निवेषक आशंकित हैं। उद्योग धंधे सहम गए हैं। जिसका असर शेयर बाजार सहित दुनिया भर के बाजार पर दिख रहा है। सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार में भी रिकार्ड गिरावट दर्ज की गयी। हालांकि बाजार में गिरावट का दौर पिछले एक सप्ताह से जारी है।

यह भी पढ़ें-मुख्यमंत्री से मिलने उनके आवास पहुंचे राम जन्मभूमि ट्रस्ट के सदस्य नृपेंद्र मिश्रा

लेकिन शुक्रवार को सेंसेक्स और निफ्टी ने साल की सबसे बड़ी गिरावट देखी गयी। जिसके चलते निवेशकों के 6 लाख करोड़ रुपए से अधिक की रकम डूब गयी। शुक्रवार को सेंसेक्स में करीब 1448 अंकों की गिरावट आई। कारोबार के आखिर में यह 38,297 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 432 अंक टूटकर 11,201 के स्तर पर बंद हुआ।

6 दिन में निवेशकों के 11 लाख करोड़ रुपए स्वाहा

शेयर बाजार में शुक्रवार को 11 साल की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गयी। वहीं सेंसेक्स में नवंबर 2016 के बाद सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गयी है। पिछले 6 कारोबारी दिनों में निवेशकों के 11 लाख करोड़ से अधिक डूब चुके हैं।

मुकेश अंबानी को भी लगी भारी चपत

शेयर बाजार में आई इस गिरावट से भारत के सबसे अमीर उद्योगपति रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी भी अछूते नहीं हैं। इस सप्ताह अंबानी को 5 अरब डॉलर की चपत लग चुकी है। 11 दिनों के अंदर रिलायंस इंडस्ट्रीज को करीब 54 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। अंबानी सहित अन्य भारतीय दिग्गज उद्योगपतियों को भी भारी नुकसान उठाना पड़ा है।

अमेरिकी शेयर बाजारों में भी हाहाकार

कोरोना से संक्रमित बाजारों में अमेरिकी शेयर बाजार भी शामिल है। अमेरिका के शेयर सूचकांक एसएंडपी 500 में गुरुवार को 4.4 फीसदी की गिरावट रही। अमेरिकी शेयर बाजार में गुरुवार को 2011 के बाद सबसे बड़ी एक दिवसीय गिरावट दर्ज की गयी। एक अन्य सूचकांक डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज भी करीब 1200 अंक नीचे आकर थमा। इन दोनों सूचकांकों में इतनी भारी गिरावट 2008 के आर्थिक संकट के दौरान अक्टूबर के बाद पहली बार दर्ज की गयी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

मार्केट

शेयर बाजार को पसंद नहीं आया बजट, सेंसेक्स-निफ्टी में रिकार्ड गिरावट

Published

on

लखनऊ। केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बजट शेयर बाजार को जरा सा भी पसंद नहीं आया है। वित्त मंत्री ने टैक्स स्लैब में बड़ा बदलाव करने के अलावां डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन टैक्स (डीडीटी) को भी खत्म करने का ऐलान किया है। इसके बावजूद बजट ने शेयर बाजार का मूड ऑफ कर दिया। कारोबारी सप्ताह के आखिरी दिन शनिवार को वित्त मंत्री के बजट पेश करने के बाद बाजार में बिकवाली बढ़ गयी और सेंसेक्स 900 अंकों से ज्यादा नीचे लुढ़क कर 40 हजार अंक के नीचे आ गया। वहीं निफ्टी भी 350 अंक नीचे आ गया और 11 हजार 650 अंक के स्तर पर आ गया। पिछले 10 वर्षों में यह पहली बार है कि बजट होने के तुरंत बाद शेयर बाजार में इतनी गिरावट दर्ज की गयी। #Budget2020 #JanJanKaBudget

यह भी पढ़ें-बाजार में बूम लाने के लिए वित्त मंत्री ने #IncomeTax में किया बड़ा सुधार

जानकारों के अनुसार निवेशकों को वित्त मंत्री से कुछ ज्यादा की उम्मीद थी, लेकिन वित्त मंत्री ने जैसे-जैसे बजट पेश किया, वैसे-वैसे शेयर बाजार की उम्मीदें भी धड़ाम होती गईं। सेंसेक्स जहां तीन महीने के सबसे निचले स्तर पर बंद हुआ वहीं निफ्टी में अक्टूबर 2018 के बाद आज पहली बार इतनी बड़ी गिरावट दर्ज की गयी।

जानिए क्या है डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन टैक्स!

डिविडेंड का अर्थ है लाभांश। जब कंपनियां अपने शेयरहोल्डर को कुल कमाई में से रकम बांटती हैं तो उसे डिविडेंड ( लाभांश) कहते हैं। सरकार कंपनियों से इस पर टैक्स वसूलती है। शनिवार को वित्त मंत्री ने इस टैक्स को खत्म करने का ऐलान किया है। इसका अर्थ है कि अब कंपनियां निवेशकों को ज्यादा रकम दे सकेंगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

मार्केट

टाटा मोटर्स ने लांच की प्रीमियम हैचबैक सेगमेंट की पहली कार, जानिए फीचर्स

Published

on

लखनऊ। टाटा मोटर्स ने अपनी बहुप्रतीक्षित प्रीमियम हैचबैक सेगमेंट की कार ऑल्ट्रोज को लखनऊ में लॉन्च कर दिया है। कम कीमत में बेहतर सुविधाओं वाली टाटा की यह कार 5 वेरियंट में उपलब्ध है। जिसका कीमत करीब साढ़े 5 लाख से लेकर 9.29 लाख रुपए (एक्स-शोरूम) तक जाती है। पेट्रोल वर्जन के लिए इसकी शुरुआती कीमत 5.29 लाख रुपये और डीजल वर्जन के लिए 6.99 लाख रुपये है। ऑल्ट्रोज नए अल्फा आर्किटेक्चर पर विकसित किया गया पहला और इम्पैपक्ट 2.0 डिजाइन लैंग्वेज दर्शाने वाला दूसरा वाहन है। अपनी आकर्षक डिजाइन, कई खूबियों और ग्लोबल एनसीएपी 5-स्टार रेटिंग की सबसे हाल में प्राप्त की गई उपलब्धि के साथ, ऑल्ट्रो्ज ने सुरक्षा, डिजाइन, ड्राइविंग डायनैमिक्स, टेक्नोलॉजी और ग्राहकों की खुशी में गोल्ड स्टैंडर्ड स्थापित किया है। ऑल्ट्रोज ग्राहकों को लुभाने के लिए पूरी तरह से तैयार है और यह 6 अलग-अलग फैक्ट्री -फिटेड कस्टिमाइज होने वाले ऑप्शंस में आयेगी।

यह भी पढ़ें-जियो और स्नैपचैट ने शुरू किया एक क्रिएटिव चैलेंज, इस तरह करें थाईलैंड की सैर

ग्लोबल डिजाइन, टाटा मोटर्स के वाइस प्रेसिडेंट प्रताप बोस ने इस मौके पर बताया कि ऑल्ट्रोज पहले से एक ऐसा प्रोडक्ट है जिस पर हमें गर्व है।यह टाटा एवं भारत की दूसरी कार है जिसे 5-स्टार ग्लोबल एनसीएपी की रेटिंग मिली है। सुरक्षा, डिजाइन, तकनीक, ड्राइविंग डायनैमिक्स और ग्राहकों की पसंद में गोल्ड स्टैंडर्ड का असली प्रतिनिधि है। यह प्रोडक्ट हमारे ग्राहकों को न सिर्फ बेहतरीन ड्राइविंग अनुभव देगा बल्कि नए मानक भी स्थापित करेगा। क्योंकि हम प्रीमियम हैचबैक सेगमेंट में कदम रखने के लिए तैयार हैं।

सेफ्टी का गोल्डि स्टैंडर्ड

ऑल्ट्रोज ने अपनी 5 स्टार ग्लोबल एनसीपीए रेटिंग के साथ सुरक्षा में गोल्ड स्टैंथ्डर्ड स्थापित किया है। इस कार की पेशकश श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ सेफ्टी फीचर्स के साथ की गई है, जैसे कि ऐडवांस्ड अल्फा आर्किटेक्चर, एबीएस और सीएससी स्टैंडर्ड तौर पर एवं ड्युअल एयरबैग्स दिए गए हैं। ऊर्जा का अवशोषण करने वाले अल्फा आर्किटेक्चर के साथ यह व्यापक सुरक्षातंत्र सुनिश्चित करता है कि टाटा ऑल्ट्रोज में बैठे व्यक्ति को विश्वंस्तरीय सुरक्षा मिले।

डिजाइन का गोल्डय स्टैंडर्ड

इम्पैक्ट 2.0 डिजाइन फिलॉसोफी पर आधारित, अल्ट्रोज की फ्यूचरिस्टिक डिजाइन में आधुनिक, इंटेलीजेंट और पसंद के अनुरूप तैयार किये गये इंटीरियर्स शामिल हैं। इसके 90 डिग्री तक खुलने वाले दरवाजे यह सुनिश्चित करते हैं कि यात्रियों को गाड़ी के अंदर जाने और बाहर निकलने के लिये पर्याप्त स्पेेस मिले। लेजर कट एलॉय व्हील्स और इंटीरियर्स पर प्रीमियम ब्लैक पियानो फिनिश इसे सड़क पर बेमिसाल आकर्षण देती है और ग्राहक को स्टाइल से आने में मदद करती है।

टेक्नोलॉजी का गोल्ड स्टैंडर्ड

17.78 सेमी के टचस्क्रीन हरमन इंफोटेनमेंट और श्रेणी में अग्रणी अकॉस्टिक्स के साथ सुसज्जित, ऑल्ट्रोज को वॉयस कमांड रिकॉग्निशन, एप्पल कार प्लें, एंड्रॉयड ऑटो और टर्न-बाइ-टर्न फीचर के साथ भी पेश किया है, जो बिना किसी परेशानी के बेहतरीन अनुभव सुनिश्चित करता है।

ड्राइविंग डायनैमिक्स का गोल्डर स्टैंडर्ड

एक फाइन-ट्यून्ड सस्पेंशन के साथ अपने दमदार पेट्रोल एवं डिजाइन इंजनों के साथ, ऑल्ट्रोज वाकई में ग्राहक को एक डायनैमिक ड्राइविंग अनुभव देता है। मल्ट्री ड्राइव मोड्स के साथ क्रूज कंट्रोज फीचर शहर और हाईवे पर सहज ड्राइविंग सुनिश्चित करता है।

कस्टमर डिलाइट का गोल्ड स्टैंरडर्ड

फ्लैट रियर फ्लोर, रियर एसी वेंट्स, केबिन स्पेंस और 24 यूटिलिटी स्पेस यह सुनिश्चित करते हैं कि ड्राइविंग एक्सपीरिएंस सुविधाजनक और आरामदायक हो। एक वियरेबल की फॉब के साथ स्पैशियस इंटीरियर्स ग्राहक को शानदार अहसास कराता है।

जानिए क्या है हैचबैक सेगमेंट?

हैचबैक मोटरगाड़ी किसी भी कार के बाहरी ढाँचे के निर्माण की एक लोकप्रिय शैली है। इस शैली की गाड़ियों में सामान्यतः पाँच दरवाजे होते है। दो दरवाजे चालक की तरफ एवं दो दरवाजे यात्रियों की बगल में होते हैं। पाँचवाँ दरवाजा गाड़ी के पृष्ठ भाग में होता है। इस प्रकार की कारें छोटे परिवारों के लिये उपयुक्त मानी जाती हैं। सेडान शैली की गाड़ियों के विपरीत इस प्रकार की गाड़ियों में सामान रखने के लिये अलग से स्थान नहीं होता। हैचबैक गाड़ियों में बैठने के लिये दो कतारों में जगह होती है। पिछली कतार को मोड़ कर समान रखने के लिये उपयोग में लिया जा सकता है। भारत में अधिकतम लोकप्रिय मोटर गाड़ियाँ हैचबैक शैली की हैं-जैसे मारुति 800, ऑल्टो, वैगन-आर, स्विफ्ट्, ह्युंडई सेन्ट्रो, टाटा इंडिका। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 29, 2020, 12:27 am
Fog
Fog
18°C
real feel: 17°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 82%
wind speed: 1 m/s E
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:01 am
sunset: 5:37 pm
 

Recent Posts

Trending