Connect with us

मार्केट

विश्व की सबसे तेजी से बढ़ती डिजिटल सेवा कंपनी, Jio ने भारत को डेटा शाइनिंग बनाया

Published

on

मुंबई। जियो 340 मिलियन से अधिक ग्राहकों के साथ दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती डिजिटल सेवा कंपनी बनी हुई है। जियो ग्राहकों, राजस्व और मुनाफे के मामले में भारत का सबसे बड़ा टेलीकॉम इंटरप्राइज है। हर महीने जियो के साथ 10 मिलियन नए ग्राहक डिजिटल हो रहे हैं। जियो न केवल भारत में सबसे बड़ा ऑपरेटर बन गया है बल्कि दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा कंट्री ऑपरेटर भी है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज की वार्षिक आम बैठक को संबोधित करते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि जियो अब नई सेवाओं की पेशकश करने के लिए तैयार है।  जिनमें इंटरनेट ऑफ थिंग्स, होम ब्रॉडबैंड, एंटरप्राइज ब्रॉडबैंड के साथ ही छोटे और मध्यम व्यवसायों के लिए ब्रॉडबैंड शामिल है। इनमें से प्रत्येक सर्विस से राजस्व इस वित्तीय वर्ष के भीतर ही शुरू हो जाएगा।

जियो ने अपने पैन-इंडिया 4जी नेटवर्क पर एक इनोवेटिव सर्विस विकसित की है। जिसे नैरोबैंड इंटरनेट-ऑफ-थिंग्स कहा जाता है। कई बिलियन स्मार्ट सेंसर से एनबीआईओटी डेटा का उपयोग करते हुए क्या भारत में आवासीय, औद्योगिक या सार्वजनिक उच्चतम विश्वसनीयता और न्यूनतम लागत के साथ एकत्र किया जा सकता है। जियो का लक्ष्य जियो के आईओटी प्लेटफॉर्म पर इनमें से कम से कम एक बिलियन को जोड़ना है। यह जियो के लिए प्रति वर्ष 20,000 करोड़ रुपए के राजस्व अवसर को पैदा करता है। जियो का आईओटी प्लेटफॉर्म 1 जनवरी, 2020 से व्यावसायिक रूप से उपलब्ध होगा।

ये भी पढ़ें: निवेश की पटरी पर दौड़ेगी जम्मू-कश्मीर के विकास की गाड़ी, 12 अक्टूबर को पहला इन्वेस्टर समिट

जियोफाइबर, पिछले साल के 15 अगस्त से शुरू होकर लगभग 1,600 शहरों से 15 मिलियन से अधिक रजिस्ट्रेशन प्राप्त करने में सफल रहा है। इन रजिस्ट्रेशन के आधार पर  जियो की योजना इन 1,600 शहरों में 20 मिलियन निवास और 15मिलियन व्यावसायिक प्रतिष्ठानों तक पहुंचने की है।http://www.satyodaya.com

टेक्नोलॉजी

ग्राहकों की नाराजगी दूर करने के लिए jio ने पेश किया आकर्षक ऑफर

Published

on

नई दिल्ली: टेलीकॉम जगत में इस समय जबरदस्त Competition देखने को मिल रहा है। सभी कंपनियां अपने-अपने ग्राहकों को सस्ते ऑफर्स उपलब्ध कराकर खुश करने में लगी हुई हैं, ऐसे में भला जियो कैसे पीछे रहता। जियो द्वारा फ्री कॉल बंद किए जाने के बाद सभी ग्राहक कंपनी के खिलाफ हो गए थे। ऐसे में जियो ने अपने ग्राहकों को एक स्पेशल ऑफर पेश किया है। जिसमें ग्राहकों को ₹199 में 365 दिनों वाला ऑफर दिया जा रहा है।

199 में मिलेगा 365 दिनों वाला ऑफर…
इस नए ऑफर को जियो ने ऑनलाइन पेमेंट वॉलेट पेटीएम् से साझेदारी कर पेश किया है। जिसमें ग्राहकों को ₹1,500 का कैशबैक दिया जा रहा है। अगर आप जियो में ₹1,699 की कीमत वाला 365 दिनों वाला रिचार्ज पेटीएम के माध्यम से कराते हैं। तो आपको ₹1,500 का कैशबैक दिया जाएगा। जिसका इस्तेमाल आप अगले जियो रिचार्ज और शोपिंग के लिए कर सकते हैं। जिसके बाद आपको 365 दिनों वाला ऑफर ₹199 में पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड से किया हमला, 1 की मौत 20 गंभीर रूप से घायल

जियो के इस ऑफर में ग्राहकों को कॉल, इंटरनेट और एसएम्एस की सुविधा दी जा रही है। यानी इस ऑफर को कराने के बाद ग्राहकों को 365 दिनों के लिए बार-बार के रिचार्ज से छुटकारा मिल जाएगा। जिसमें अनलिमिटेड वॉयस कॉल, जियो से जियो पर, साथ ही प्रतिदिन 1.5 जीबी इंटरनेट डेटा और प्रतिदिन 100 फ्री एसएम्एस दिए जा रहे हैं । इसके अलावा ग्राहकों को इसमें जियो की प्रीमियम ऐप्स के सब्सक्रिप्शन मुफ्त मिल रहे हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

मार्केट

तेजी के साथ खुला शेयर बाजार, सेंसेक्स और निफ्टी ग्रीन ज़ोन पर

Published

on

नई दिल्ली: सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को शेयर बाजार हरे निशान पर खुला। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ही तेजी के साथ अपना-अपना कारोबार कर रहे हैं।
बीएसई के 31 कंपनियों के शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 150.62 (0.38%) अंकों की तेजी के साथ 40,315.65 अंकों के स्तर पर खुला है। वहीं नैशनल स्टॉक एक्सचेंज के 50 कंपनियों के शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक 53.20 (0.45%) अंक तेजी के साथ 11,943.80 के स्तर पर खुला है।

इन शेयरों में रही गिरावट और तेजी

दिग्गज शेयरों की बात करें, तो सोमवार को इंफ्राटेल, टाटा स्टील, वेदांता लिमिटेड, जेएसडब्ल्यू स्टील, भारती एयरटेल, ग्रासिम, गेल और बजाज फिन्सर्व के शेयर हरे निशान पर खुले हैं। गिरावट वाले शेयरों की बात करें, तो इनमें आईओसी, यस बैंक, जी लिमिटेड, इंफोसिस, टाटा मोटर्स, इंडसइंड बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो, बीपीसीएल, मारुति के शेयर शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: बिटकॉइन से ठगी करने वाले अंतराष्ट्रीय गिरोह के 3 जालसाज़ों को एसटीएफ ने दबोचा

ऐसा रहा सेक्टरों का हाल

मेटल, बैंकिंग, आईटी, एफएमसीजी और रियल्टी शेयरों में जोरदार खरीददारी देखने को मिल रही है। बीएसई का रियल्टी इंडेक्स 51 फीसदी चढ़ गया है, जबकि निफ्टी के आईटी इंडेक्स में 0.56 फीसदी और मेटल इंडेक्स में 2.5 फीसदी, फार्मा इंडेक्स में 0.30, एफएमसीजी इंडेक्स में 040 फीसदी की बढ़त देखने को मिल रही है।

बैंक निफ्टी बैंकिंग शयरों में हो रही जोरदार खरीददारी के दम पर बैंक निफ्टी 0.64 फीसदी की बढ़त के साथ 30,525 के आसपास नजर आ रहा है। हालांकि ऑटो और मीडिया शेयरों में कमजोरी देखने को मिल रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

मार्केट

एयरटेल, वोडा-आइडिया की ब्लैकमेलिंग के आगे न झुके सरकार: जियो

Published

on

लखनऊ। रिलायंस जियो ने गुरूवार को कम्युनिकेशन मिनिस्टर रवि शंकर प्रसाद को पत्र लिख कर आगाह किया कि सरकार एयरटेल और वोडा-आइडिया के ब्लैकमेल के आगे ना झुके। जियो ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के अनुसार ही सरकार इन कंपनियों से बकाया वसूल करे। COAI के खत का हवाला देते हुए जियो ने कहा कि COAI एयरटेल और वोडा-आइडिया के हाथों की कठपुतली बन चुका है। इन दोनों कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए COAI टेलीकॉम इंडस्ट्री की झूठी तस्वीर पेश कर रहा है।

इससे पहले मंगलवार को COAI ने सरकार से एयरटेल और वोडा-आइडिया को राहत देने के लिए खत लिखा था। कम्युनिकेशन मंत्री को लिखे खत में जियो ने कहा है कि वो COAI के इस तर्क से सहमत नहीं है कि यदि सरकार ने इन कंपनियों की मदद नहीं की तो टेलीकॉम सेक्टर ध्वस्त हो जाएगा। जियो ने आरोप लगाया कि COAI अपनी बात साबित करने के लिए धमकी भरे लहजे का इस्तेमाल कर रहा है। सरकार को इस तरह की धमकियों के आगे नहीं झुकना चाहिए।  

रिलायंस जियो का कहना है कि एयरटेल और वोडा-आइडिया सक्षम कंपनियां है। यह भारत और विदेश सहित कई देशों में अनेकों लाभदायक धंधे करती हैं। भारत में ही इन कंपनियों ने बहुत पैसा कमाया है। अब जब सुप्रीम कोर्ट ने बकाया भुगतान का आदेश पारित कर दिया है तो उन्हें मुकरना नहीं चाहिए। रिलायंस जियो ने सुझाव दिया कि भुगतान के लिए वे अपने लाभप्रद धंधों का कुछ हिस्सा बेच कर सरकारी बकाए को आसानी से चुका सकती हैं।

पत्र में रिलायंस जियो ने आरोप लगाया कि एयरटेल और वोडा-आइडिया ने अपने निवेशकों का भरोसा भी तोड़ा है। जब कंपनियों को AGR के बकाया पर सरकार, रेगुलेटर और सुप्रीम कोर्ट का रूख मालूम था तो कंपनियों ने बकाया को चुकाने का अग्रिम प्रावधान क्यों नही किया। इसके विपरीत कंपनियां अपने रूख पर ही अड़ी रहीं और अपने हिसाब से सरकार को भुगतान करती रहीं। वित्तीय हालात खराब होने का दावा करने वाली ये कंपनियां दरअसल अपने ही खराब ऑपरेशनल फैसलों का शिकार हैं।  

ये भी पढ़ें: नाबालिग दलित लड़की से रेप और हत्या मामले की जांच करेगी सपा कमेटी

रिलायंस जियो ने COAI और एयरटेल, वोडा-आइडिया के खराब वित्तीय हालात के बयान को पूरी तरह नकार दिया। रिलायंस जियो ने आरोप लगाया कि इन कंपनियों ने भारत में पैसा तो खूब बनाया पर नए निवेश से कन्नी काटती रहीं। यही वजह है कि आज यह कंपनियां पिछड़ी नजर आती हैं। इन कंपनियों के खराब कमर्शियल फैसलों का खमियाजा सरकार को नहीं भुगतना चाहिए।  http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 18, 2019, 11:11 am
Mostly sunny
Mostly sunny
23°C
real feel: 24°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 59%
wind speed: 3 m/s NW
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 5:58 am
sunset: 4:45 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending