Connect with us

सर्राफ़ा

उपभोक्ता हितों की रक्षा के लिए IBJA ने जारी की एडवाइजरी

Published

on

लखनऊ। उपभोक्ताओं को कुछ ज्वैलर्स के कुचक्र में फंसने से बचाने के लिए, एपेक्स इंडस्ट्री बॉडी इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन (IBJA) ने उन्हें गैर-विश्वसनीय खुदरा विक्रेताओं से निपटने के लिए सलाह दी है।

आईबीजेए ने मंगलवार को उपभोक्ताओं के लिए दो सलाह जारी की। पहले, मासिक जमा योजनाओं पर, बॉडी ने उपभोक्ताओं से जौहरी की जमा योजना में भाग लेने से पहले संबंधित कंपनी और उसके निदेशकों की साख और सद्भावना के बारे में जांच करने के लिए कहा। साथ ही, आईबीजेए ने उपभोक्ताओं से इन योजनाओं में केवल चेक के माध्यम से निवेश करने का आग्रह किया

सलाहकार ने आभूषण विक्रेताओं से भी आग्रह किया कि वे इन योजनाओं को खोलने की तारीख से 12 महीने के भीतर समाप्त करें और इन पर किसी भी ब्याज की वसूली को रोकें। आम तौर पर, ज्वैलर्स पहली किस्त के 75 फीसदी के बराबर ब्याज के साथ नौ महीने के लिए डिपॉजिट स्कीम चलाते हैं। वे बिना किसी औपचारिक रसीद के छूट के रूप में ब्याज की पेशकश करते हैं।

आईबीजे की राष्ट्रीय सचिव सुरेंद्र मेहता ने बताया कि ‘ज्वैलर्स, सरकार के प्रतिनिधियों, उद्योग और मीडिया द्वारा हाल ही में चूक के बाद, स्व-विनियमन प्रथाओं के बारे में मीडिया ने सवाल उठाना शुरू कर दिया। सलाहकार एक स्व-विनियमन प्रक्रिया का हिस्सा है। यदि उपभोक्ता किसी भी योजना में निवेश करने से पहले हमसे पूछते हैं, तो हम उन्हें संबंधित आईबीजेए सदस्य और उसके निदेशकों की साख के साथ मदद करेंगे। लेकिन, निवेश पर निर्णय अभी भी निवेशकों का अपना होगा दूसरी सलाह में, IBJA ने आभूषण उपभोक्ताओं को ऐसे आभूषण नहीं खरीदने का निर्देश दिया जो भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) -हॉलमार्क न हों, और खरीदारी करने से पहले बायबैक नीति की जांच करें।’

ये भी पढ़ें: बीएचयू विवाद: डॉ. फिरोज खान के साथ संविधान, निजाम और कबीर, फिर भी विरोध!

दूसरी सलाह में, IBJA ने आभूषण उपभोक्ताओं को ऐसे आभूषण नहीं खरीदने का निर्देश दिया जो भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) -हॉलमार्क न हों, और खरीदारी करने से पहले बायबैक नीति की जांच करें। http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मार्केट

अमेरिका-ईरान के बीच तनाव से सहमा शेयर बाजार, सोना 42 हजार के पार

Published

on

लखनऊ। अमेरिका और ईरान के बीच बढ़े तनाव के चलते सोना (Gold) अब तक के अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है। शेयर बाजार में उथल-पुथल के चलते निवेशकों का रुझान सोने की तरफ बढ़ा है। सोमवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में प्रति 10 सोने की कीमत में 720 रुपए की बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी। जिसके बाद दिल्ली और लखनऊ सर्राफा बाजार में 10 ग्राम सोने की कीमत 42 हजार पर पहुंच गयी। सोने का यह भाव अब तक सबसे उच्चतम स्तर है। शुक्रवार रात अमेरिका द्वारा ईरान के ताकतवर सैन्य कमांडर कासिम सुलेमानी की हत्या के बाद से ही सोने के भाव में तेजी देखी जा रही है।

पिछले सप्ताहांत में शनिवार को भी सोने का प्रति 10 ग्राम भाव 41 हजार पर पहुंच गया था। सोने के साथ चांदी की कीमतों में भारी उछाल देखी जा रही है। सोमवार को प्रति किलो चांदी की कीमत में 1000 रुपए से ज्यादा की वृद्धि दर्ज की गयी। जिसके बाद अब दिल्ली व लखनऊ के सर्राफा बाजार में एक किलो चांदी की कीमत 49,430 रुपए हो गयी है। पिछले सत्र में चांदी 48,325 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी।

शेयर बाजार भी धड़ाम, निवेशकों को 3 लाख करोड़ का नुकसान

अमेरिका-ईरान के बीच बढ़ते तनाव के चलते दुनिया भर के शेयर बाजार भी सहमे हुए हैं। बाजार में भारी बिकवाली के चलते सोमवार को शेयर बाजार में भारी गिरावट दर्ज की गयी। सोमवार को सेंसेक्स 788 अंक टूटकर 40,676.63 पर और निफ्टी 234 अंक नीचे गिरकर 11,993 के स्तर पर बंद हुआ। शेयर बाजार में इस ऐतिहासिक गिरावट के चलते एक ही दिन में निवेशकों को 3 लाख करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ा। पश्चिम एशिया में बढ़ रहे तनाव के चलते निवेशक सुरक्षित निवेश को प्राथमिकता दे रहे हैं, जिसके चलते शेयर बाजार में भारी बिकवाली दिख रही है।

यह भी पढ़ें-नए साल की शुरूआत में सोने-चांदी ने बिखेरी चमक, 41 हजार पर पहुंचा Gold

45 हजार के पार भी जा सकता है सोने का भाव

जानकारों का कहना है कि बगदाद में ईरानी सैन्य कमांड की अमेरिकी एयर स्टाइक में हत्या के बाद ही पश्चिम एशिया में तनाव चरम पर पहुंच गया है। वैश्विक बाजार में छाई अनिश्चितता के चलते दुनिया भर के निवेशकों ने सेफ हैवन समझे जाने वाले सोने की तरफ किया है। जिसके चलते सोने में भारी बिकवाली दर्ज की जा रही है और सोना-चांदी का भाव आसमान छूने लगा है। जानकारों का कहना है कि अभी सर्राफा बाजार में और उछाल आएगी। कहा कि पश्चिम एशिया में तनाव और बढ़ा तो कोई ताज्जुब नहीं कि सोने का भाव 45 हजार के पार पहुंच जाए।

रुपए की कीमत में गिरावट जारी

अमेरिका और ईरान के बीच बढ़े तनाव का असर अंतरराष्ट्रीय बाजार में भारतीय रुपए पर भी दिख रहा है। सोमवार को रुपए में भारी गिरावट देखी गयी। डाॅलर के मुकाबले भारतीय रुपया सोमवार को कारोबार के दौरान 72.12 के स्तर को पार कर गया। रुपए में आज 31 पैसे तक की गिरावट दर्ज की गयी। हालांकि भारतीय रिजर्व बैंक के हस्तक्षेप के बाद थोड़ा सुधार आया और रुपए की कीमत प्रति डाॅलर 71.99 पर बंद हुई। रुपए में जारी इस गिरावट का असर सोने की कीमत पर भी पड़ रहा है।

लगातार पांचवें दिन पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी

रुपए में गिरावट के पीछे क्रूड ऑयल में तेजी भी जिम्मेदार है। पश्चिम एशिया में तनाव के चलते अंतरराष्ट्रीय व घरेलू बाजार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ गयी है। सोमवार को घरेलू बाजार में तेल की कीमत कच्चे तेल की कीमत में 3.53 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड की कीमत 70 डॉलर का स्तर पार कर गई। क्रूड ऑयल में तेजी का असर भारत में पेट्रोलियम कंपनियों पर भी दिख रहा है।

यह भी पढ़ें-इस बार लखनऊ महोत्सव में स्वच्छता अभियान व नारी सशक्तिकरण की दिखेगी झलक

भारत में लगातार पांचवें दिन पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि हुई। सोमवार को पेट्रोल की कीमतों में 15-16 पैसे और डीजल में 17-19 पैसे की बढ़ोतरी हुई है। सोमवार को पेट्रोल 15 पैसा प्रति लीटर और डीजल 17 पैसे प्रति लीटर तक महंगा हुआ है। पिछले पांच दिनों में पेट्रोल 55 पैसा और डीजल 72 पैसा प्रति लीटर तक महंगा हुआ है। जिसके बाद लखनऊ में अब पेट्रोल की कीमत 75.98 रुपए प्रति लीटर पहुंच गयी है। जबकि डीजल की कीमत 68.88 रुपए प्रति लीटर पर पहुंच गयी है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

सर्राफ़ा

नए साल की शुरूआत में सोने-चांदी ने बिखेरी चमक, 41 हजार पर पहुंचा Gold

Published

on

लखनऊ। पिछले वर्ष की तीसरी तिमाही में रिकार्ड 41 हजार प्रति 10 ग्राम पहुंचने के बाद चौथी तिमाही में सोने के भाव में कुछ नरमी आई थी। लेकिन नए साल 2020 की शुरूआत से ही एक बार फिर सोने (Gold) ने अपनी चमक बिखेरनी शुरू कर दी है। नए साल के तीसरे ही दिन गोल्ड का रेट 41 हजार रुपए प्रति 10 ग्राम के करीब पहुंच गया है। लखनऊ वायदा कारोबार में शुक्रवार को 10 ग्राम सोने की कीमत 40,975 रुपए हो गयी। इससे पहले 1 जनवरी को सोने के दामों में गिरावट दर्ज की गयी थी।

दिल्ली सर्राफा बाजार में नए साल के पहले दिन सोने के दाम में 131 रुपए की गिरावट दर्ज की गयी थी। 2 जनवरी को सोने के दामों में हल्की तेजी आई। गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में प्रति 10 ग्राम सोने का भाव 38 रुपए चढ़ा। जिसके बाद दिल्ली सर्राफा बाजार में 10 ग्राम शुद्ध सोने का रेट 39,892 रुपए पर पहुंच गया। इसके अगले दिन 3 जनवरी को गोल्ड रेट ऊंची छलांग लगाते हुए 41 हजार प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। गोल्ड के साथ चांदी के भाव में तेजी दर्ज की गयी है। शुक्रवार को लखनऊ में चांदी की कीमत 49,400 रुपए प्रति एक किलो हो गयी। इससे पहले बुधवार को चांदी के दामों में 590 रुपए प्रति किलोग्राम की बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी थी।

यह भी पढ़ें-नोएडा SSP से गोपनीय दस्तावेज लीक करने की होगी पूछताछ: डीजीपी

जानकारों का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में रुपए की कमजोरी के चलते सोने-चांदी के दामों में तेजी देखी जा रही है। शुक्रवार को डाॅलर के मुकाबले भारतीय रुपया 12 पैसे नीचे गिरकर 71.49 प्रति डालर पर पहुंच गया।

बगदाद पर अमेरिकी स्ट्राइक से सहमे शेयर बाजार

इराक और अमेरिकी के बीच तनातनी का असर शेयर बाजारों पर भी पड़ रहा है। शुक्रवार को दुनिया भर के शेयर बाजारों में हड़कंप मचा रहा। बगदाद एयरपोर्ट पर अमेरिकी स्ट्राइक से भारतीय शेयर बाजार भी काफी नीचे आ गया। बाॅम्बे स्टाॅक एक्सचेंज के सेंसेक्स में 119 अंकों की गिरावट दर्ज की गयी। दोपहर तक सेंसेक्स करीब 200 अंक गिरकर 41425 पर पहुंच गया। इससे पहले गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार ग्रीन सिग्नल पर पहुंच कर बंद हुए थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

लखनऊ के सर्राफा कारोबारियों को जागरूक करेगा भारतीय मानक ब्यूरो

Published

on

लखनऊ। सोने-चांदी के गहनों में अवैध हाॅल मार्किंग को रोकने और सर्राफा कारोबार में अधिक पारदर्शिता लाने के लिए भारतीय मानक ब्यूरो (बीएसआई) लखनऊ के सर्राफा व्यापारियों को जागरूक करेगा। 21 नवंबर को बीएसआई की तरफ से लखनऊ के चौक स्थित ढिंढोरा रेस्टोरेंज में एक अवेयरनेस प्रोग्राम का आयोजन किया जाएगा। जिसमें राजधानी के सभी सराफा कारोबारी शामिल होंगे।

इस संबंध में भारतीय मानक ब्यूरो ने 25 सितंबर को इंडिया बुलियन ज्वेलर्स एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष अनुराग रस्तोगी को एक पत्र भेजकर सहयोग की मांग की थी। उत्तर प्रदेश बुलियन एसोसिएशन ने बताया है कि 21 नवंबर को होने वाले अवेयरनेस प्रोग्राम में बीएसआई संबंधित सभी जानकारियां दी जाएंगी।

इस प्रोग्राम का आयोजन भारतीय मानक ब्यूरो करवा रहा है। बता दें कि भारतीय मानक ब्यूरो ने इंडिया बुलियन एसोसिएशन को भेजे पत्र में कहा है कि ऐसी खबरें आ रही हैं कि कुछ ज्वेलर्स बिना वैध पंजीकरण के ही बीएसआई हाॅलमार्क की ज्वैलरी बना और बेंच रहे हैं। यह एक गंभीर दण्डनीय अपराध है।

यह भी पढ़ें-श्री रामजन्मभूमि ट्रस्ट के नाम पर चंदा वसूल रहे तीन युवक गिरफ्तार

बीएसआई ने कहा है कि यदि कोई ज्वैलर्स बिना पंजीकरण के हाॅलमार्क ज्लैलरी बेचते हुए पाया गया तो उसके छापा मारा जा सकता है। जिसमें उसकी समस्त ज्लैलरी और कीमती धातु (सोना-चांदी) जब्त कर ली जाएगी। बीएसआई ने कहा कि यदि कोई ज्लैलर्स हाॅलमार्क ज्लैलरी बेंचना चाहता है तो पहले उसे निर्धारित प्रारूप पर पंजीकरण और शुल्क चुकाते हुए लखनऊ स्थित शाखा कार्यालय में आवेदन कर लाइसेंस लेना होगा। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 7, 2020, 2:31 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
21°C
real feel: 21°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 56%
wind speed: 1 m/s N
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 6:26 am
sunset: 4:59 pm
 

Recent Posts

Trending